देश में घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या में वृद्धि लगातार 45वें दहाई अंक पर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 6 जुलाई 2018

देश में घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या में वृद्धि लगातार 45वें दहाई अंक पर

नयी दिल्ली , पांच जुलाई,  भारत में घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या में वृद्धि मई में लगातार 45 वें महीने दहाई अंक में रही। हालांकि , हाल के महीनों इसमें संख्या में कुछ गिरावट दिखी।  अंतरराष्ट्रीय हवाई यातायात संघ (आईएटीए) ने कहा कि मई में भारत में नागर विमानन सेवा क्षेत्र में राजस्व यात्री किलोमीटर (आरपीके) में 16.6 प्रतिशत की वृद्धि हुई।  इसमें कहा गया है कि देश में यात्रियों की संख्या में हाल के कुछ महीनों में मौसम और आर्थिक मोर्चे पर मिले जुले संकेतों के बीच यात्रियों की संख्या में गिरावट आई है फिर भी , बड़ी बात यह है कि मई में देश का आरपीके वृद्धि लगातार 45 वें महीने दहाई अंक में रहा।  आईएटीए ने कहा , " देश के अंदर हवाई अड्डों के बीच संपर्क में मजबूत वृद्धि से यात्री मांग को समर्थन मिला। 2018 में इससे पिछले वर्ष की तुलना में 22 प्रतिशत अधिक हवाई अड्डों के बीच परिचालन होगा । "  संघ को 2018 में भी यात्रियों की संख्या में तेजी का रुख रहने की उम्मीद है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...