सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 11 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

शनिवार, 11 अगस्त 2018

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 11 अगस्त

सहकारिता के माध्यम से आर्थिक विकास में महिलाओं की भूमिका

sehore-news-11-august
सीहोर । दिनांक 10.08.2018 को जिला सहकारी संघ मर्यादित सीहोर द्वारा प्राथमिक दुग्ध सहकारी संस्था एवं प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति के सहयोग से मुहाली, मुंगावली बड़ी व सेमरादांगी में महिला सहकारी संगोष्ठी का आयोजन किया गया । कार्यक्रम की मुख्य अतिथि माननीय श्रीमती उषा सक्सेना अध्यक्ष जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित सीहोर विशेष अतिथि श्रीमती सरोज ठाकुर पूर्व पाषर्द एवं भाजपा महिला मोर्चा महामंत्री सीहोर, श्रीमती अरूणा हर्षे सेवानिवृत्त व्याख्याता एवं श्री धरमसिंह वर्मा अध्यक्ष जिला सहकारी संघ मर्यादित सीहोर द्वारा कार्यक्रम अध्यक्षता की गई । मुख्य अतिथि द्वारा कहाकि सहकारिता एक जन आन्दोलन है अर्थात जनता का जनता के लिए जनता द्वारा चलाया गया एक आन्दोलन है, आज सम्पूर्ण देश में सहकारी संस्थाओं का जाल बिछा हुआ है। सहकारिता के माध्यम से श्वेत क्रांति ने उल्लेखनीय सफलता हासिल करने का गौरव पाया तथा ग्राम के आर्थिक विकास में चार चांद लगा दिए हैं । एसमें महिलाओं की विशेष भूमिका है। महिलाऐं पुरूषों के बराबर कार्य कर रही है, छोटी—छोटी बचत भी आर्थिक विकास में सहायक होती है । महिलाओं को हमेशा बचत करते रहना चाहिए साथ ही स्वास्थ्य पर ध्यान दें, बच्चों में अच्छे संस्कार दें और अन्त में वृक्ष लगाने पर जोर दिया । श्री धरमसिंह वर्मा द्वारा अध्यक्षता करते हुए कहाकि ग्रामों में दुग्ध सहकारी समिति के अतिरिक्त औद्योगिक, व्यवसायिक, सिलाई—कड़ाई आदि कई प्रकार की महिला समिति बनाई जा सकती हैं । सहकारिता न तो दानशील संस्था हैख् न ही मुनाफा खोर संगठन है। यह दोनों के बीच का संगठन है जिसमें सदस्यों के आर्थिक, सामाजिक हित को ध्यान में रखा गया है, यह संगठन विधि अनुरूप है । सहकारिता के माध्यम से शासन द्वारा महिलाओं के लिए भी कई योजनाऐं संचालित की जा रही है। बेटी—बचाओ, बेटी है तो कल है के बारे में उपस्थित महिलाओं को समझाया गया । श्रीमती सरोज ठाकुर विशेष अतिथि द्वारा बच्चयिों के साथ भेदभाव नहीं करने तथा बच्चों के बराबर समान अधिकार देने पर जोर दिया, श्रीमती अरूणा हर्षे विशेष अतिथि द्वारा ग्राम विकास में बालक'बालिकओं को अच्छी शिक्षा संस्कार पर जोर दिया गया । श्री तेजसिंह ठाकुर मुख्य कार्यपालन अधिकारी द्वारा सहकारिता के जन्म, सिद्धांत बताये गये तथा सहकारिता के द्वारा शिक्षा प्रशिक्षण के माध्यम से संस्थाओं को क्या लाभ है उस पर प्रकाश डाला । कार्यक्रम का शुभारम्भ अतिथियों द्वारा माँ सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर किया तथा अतिथियों का स्वागत मुहाली में श्री जगदीशचन्द्र चन्द्रवंशी दुग्ध संस्था सचिव, श्री कैलाशचन्द्र चन्द्रवंशी सेवा संस्था अध्यक्ष, श्री महेशचन्द्र, श्री सुरेशचन्द्र उप सरपंच, श्री लक्ष्मीनारायण चन्द्रवंशी सेवा संस्था प्रबंधक, श्रीमती मानकुवंरबाई, श्रीमती राजकुवंर बाई, श्रीमती रामप्यारीबाई, ग्राम मुंगावली बड़ी में श्री दौलतराम निगोदिया, श्री नरेश कुमार पाटीदार सचिव दुग्ध संस्था, श्रीमती उषा पाटीदार, श्री मनोहर पाटीदार, श्री भैयालाल पाटीदार,श्री सुनील कुमार विश्वकर्मा सरपंच, श्री अभिषेक निगोदिया, श्री सुभाष पाटीदार, ग्राम सेमरादांगी में श्रीमती सुन्दरबाई, श्रीमती रज्जोबाई, श्रीमती गोकलबाई, श्रीमती जमनाबाई, श्रीमती दोलतीबाई, श्री बाबूलाल पटेल, श्री रघुवर सिंह पूर्व सरपंच, श्री गिरवर सिंह जनपद सदस्य, श्री दौलतराम वर्मा, श्री कुवंरजी धनगर, श्री बादामी लाल, श्री जगदीश मेवाड़ा प्रबंधक सेवा संस्था, श्री जसवंतसिंह राणा द्वारा पुष्पगुच्छ एवं पुष्पमालाओं से किया तथा सभी जगह प्रतिभाशाली बालक—बालिकाओं को दुग्ध समिति के सहयोग से पुरूस्कार वितरण किए इस अवसर पर सभी जगह वृक्षारोपण किया गया । अन्त में आभार श्री तेजसिंह ठाकुर मुख्य कार्यपालन अधिकारी द्वारा प्रकट किया गया ।

विद्यार्थियों के हित में एनएसयूआई ने सौंपा ज्ञापन, 10 प्रतिशत सीटें बढ़ाई जाए और प्रवेश से वंचित विद्यार्थियों को मौका दिया जाए

sehore news
सीहोर। भारतीय छात्र संगठन की जिला इकाई के द्वारा विद्यार्थियों के हित में एक ज्ञापन कालेज प्राचार्य को सौंपा गया। इस संबंध में जानकारी देते हुए एनएसयूआई जिलाध्यक्ष आनंद कटारिया ने बताया कि नवीन सत्र में एडमीशन की प्रक्रिया पूर्ण होने के पश्चात भी कई विद्यार्थी प्रवेश से वंचित रहे गए है एवं पूरक परीक्ष में उत्तीर्ण विद्यार्थियों को प्रवेश का मौका नहीं मिल रहा है। जिसके कारण विद्यार्थी प्रवेश के लिए इधर-उधर भटकने को विवश है। उन्होंने बताया कि शासन के नियमानुसार महाविद्यालय स्तर पर प्राचार्य द्वारा 10 प्रतिशत सीटें बढ़ाने का प्रावधान है, इस नियम को कालेज लेवल पर रखते हुए तत्काल 10 प्रतिशत सीटें बढ़ाई जाए और प्रवेश से वंचित रह गए विद्यार्थियों को भी महाविद्यालय में प्रवेश का मौका दिया जाएगा। मांग करने वालों में एनएसयूआई जिलाध्यक्ष आनंद कटारिया, प्रदेश सचिव देवेंद्र ठाकुर, अनुराग परिहार, कमलेश यादव, दीपक सिसोदिया, मनीष मेवाड़ा, सूरज यादव, अनुभव सेन, यश यादव, मयंक जाट, अमित पटेल मोहित सिंह आदि शामिल है। 
एक टिप्पणी भेजें
Loading...