लोकगीतों के नाम पर अश्लीलता परोस रहा भोजपुरी संगीत : राज महाजन - Live Aaryaavart

Breaking

सोमवार, 3 सितंबर 2018

लोकगीतों के नाम पर अश्लीलता परोस रहा भोजपुरी संगीत : राज महाजन

बहु-भाषाओं में गाने बना रहे हैं संगीतकार राज महाजन
raj-mahajan
3 सितम्बर, 2018. नई दिल्ली. अभी तक अपने संगीत कैरियर में 450 से भी अधिक म्यूजिक एल्बम बना चुके संगीतकार राज महाजन अब कई भाषाओं में संगीत बना रहे हैं. इस सीरीज में महाजन पंजाबी, हरियाणवी, बंगाली, भोजपुरी, आसामी, तमिल, तेलुगु, डोगरी और गढ़वाली भाषाओं गाने बनाकर मोक्ष म्यूजिक कंपनी के बैनर तले कई गाने रिलीज़ कर चुके हैं. आगामी रेकोर्डिंग में कन्नड़, मलयालम, गुजरती, राजस्थानी, हिमाचली, मराठी, ओड़िया और अन्य भारतीय भाषाएँ पर काम होगा. आजकल संगीतकार राज महाजन एक्सप्रेस स्पीड में गाने बना रहे हैं. अपने संगीत कैरियर के इतिहास में जुलाई और अगस्त 2018 में संगीतकार राज महाजन ने सबसे अधिक गाने निकाले और वो भी कई भाषाओं में. इस प्रकार कई भाषाओं में संगीत बनाने वाले राज महाजन की फैन-फोल्लोविंग कई राज्यों में बढ़ने लगी है. इन सब में अच्छी बात यह है कि अपने म्यूजिक एलबम्स में राज महाजन ने कई नई प्रतिभाओं को मौका देकर आगे बढ़ाया है. जिस दौर में दुसरे संगीतकार और म्यूजिक कंपनियां नए कलाकारों का शोषण कर चांदी काट रही हैं, वहीँ राज महाजन नई प्रतिभाओं को बिना किसी लालच के प्लेटफार्म देकर प्रोत्साहित कर रहे हैं. इसमें कोई शक नहीं है कि राज महाजन कलाकारों के गॉडफादर बन गए हैं. राज महाजन कहते हैं, “मैं भारत के सभी क्षेत्रों की भाषाओं और बोलियों में काम करना चाहता हूँ. हिंदुस्तान के हर क्षेत्र में अपने संगीत को पहुँचाना चाहता हूँ. भोजपुरी जैसी भाषाओं में संगीत का लेवल बहुत ही गिर चुका है. लोकगीतों के नाम पर भोजपुरी गानों में फूहड़ता परोसी जा रही है. इस प्रकार के राज्यों में संगीत के उत्थान पर भी काम करना चाहता हूँ.”
एक टिप्पणी भेजें