चार लाख 79 हजार करोड़ से मिलेगी यूपी के विकास को रफ्तार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 7 फ़रवरी 2019

चार लाख 79 हजार करोड़ से मिलेगी यूपी के विकास को रफ्तार

4-lakh-79-thousand-crores-will-increase-the-growth-of-up
लखनऊ 07 फरवरी, लोकसभा चुनाव से पहले ‘सबका साथ सबका विकास’ के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के स्लोगन को चरितार्थ करते हुये उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने गुरुवार को वर्ष 2019-20 के लिये चार लाख 79 हजार सात सौ एक करोड़ 10 लाख रुपये का बजट पेश किया। सूबे के वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने राज्य विधानसभा के पटल पर अपनी सरकार के कार्यकाल के तीसरे बजट को प्रस्तुत किया जो पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में 12 फीसदी अधिक है। अपने बजट भाषण में वित्त मंत्री ने कहा कि विकास को रफ्तार देने के साथ साथ गरीब,नौजवान और किसान समेत समाज के सभी तबकों के लिये बजट में व्यवस्था की गयी है। उन्होने कहा कि सरकार की विकासपरक योजनाओ का नतीजा है कि राज्य मे प्रति व्यक्ति आैसत आय में 5500 रूपये की बढोत्तरी हुयी है।  उन्होने कहा कि बजट में 21 हजार 212 करोड़ 95 लाख रूपये की नई योजनाये शामिल की गयी है। उन्होने कहा कि 2019-20 के दौरान चार लाख 70 हजार 684 करोड़ 48 लाख रूपये की कुल प्राप्तियां अनुमानित हैं जिनमें तीन लाख 91 हजार 734 करोड़ 40 लाख रूपये की राजस्व प्राप्तियां और 78 हजार 950 करोड आठ लाख रूपये की पूजींगत प्राप्तियां शामिल है। वित्त मंत्री ने कहा कि बजट में कृषि क्षेत्र के विकास,कानून व्यवस्था,स्वरोजगार,शिक्षा,स्वच्छता,आवास जैसी तमाम बुनियादी सुविधाओं को तरजीह दी गयी है वहीं गरीब किसान और नौजवान के जीवन को बेहतर करने के उपायों के क्रियान्वयन पर जाेर दिया गया है। उन्होने कहा कि ‘सबका साथ सबका विकास’ की तर्ज पर यह बजट गरीब, वंचित और शोषित वर्ग के चेहरों पर मुस्कान लाने में सफल होगा वहीं उद्योग जगत को भी बजट से फायदा होगा। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...