सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 06 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 6 फ़रवरी 2019

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 06 फ़रवरी

जीवविज्ञान के प्रश्न पत्र में थे कोर्स के विपरीत सवाल  प्रोफेशनल एक्जामिनेशन ने की बढ़ी गलती
कलेक्ट्रेट पहुंचे शिक्षक वर्ग एक के परीक्षार्थी  पुन: ऑनलाईन परीक्षा आयोजित करने की मांग 
sehore news
सीहोर। उच्च माध्यमिक शिक्षक वर्ग एक की ऑनलाईन परीक्षा के प्रश्र पत्र में प्रोफेशनल एक्जामिनेशन के द्वारा की गई गलती से पीडि़त परीक्षार्थी बुधवार को कलेक्ट्रेट पहुंचे। परीक्षार्थियों ने मुख्यमंत्री कमलनाथ और कलेक्टर गणेश शंकर मिश्रा के नाम ज्ञापन संयुक्त कलेक्टर राजीव रंजन पाण्डे को दिया। परीक्षार्थियों ने कहा की प्रोफेशनल एक्जामिनेशन की गलती के कारण भविष्य अंधकारमय हो रहा है। जीव विज्ञान वर्ग एक की परीक्षा कोर्स के मुताबिक पुन: ऑनलाईन आयोजित करने की मांग परीक्षार्थियों के द्वारा की गई।  शिक्षित बेरोजगारों ने शिक्षक बनने के लिए प्रोफेशनल एक्जामिनेशन के द्वारा आयोजित ऑनलाईन परीक्षा में हिस्सा लिया। कोर्स के मुताबिक जीव विज्ञान विषय की तैयारी उच्च माध्यमिक वर्ग एक के अभ्यार्थियों ने की। जबकी कोर्स के विपरीत प्रश्र तीन फरवरी को ऑन लाईन जारी प्रश्र पत्र में प्रोफेशनल एक्जामिनेशन के द्वारा पूछे गए। जिस से परीक्षार्थियों में असमंजस की स्थिति बन गई। परीक्षार्थी प्रश्र पत्र को हल हीं नहीं कर सकें और शिक्षक बनने से पहले हीं प्रोफेशनल एक्जामिनेशन की गलती के कारण अपात्र घोषित कर दिए गए।  प्रोफेशनल एक्जामिनेशन के द्वारा की गई गलती से पीडि़त जितेंद्र वर्मा, महेंद्र सिंह, विनोद कटारे, रजनी, ज्योति शाक्य, ललिता रेकवार, मनीषा राजपूत, पूजा इटावदिया, ज्योति शर्मा, राजेंद्र वर्मा, अनिल परमार, राजेश राठौर, गजराज पंचलानिया, आदित्य मेवाड़ा, हरिनारायण वर्मा, दिनेश वामनिया, कमल पोरवाल, नीलिमा, कविता मालवीय, रजनी कटारे, मोना रधुवंशी सहित अन्य परीक्षार्थी ज्ञापन देने वालों में शामिल है। 

शसकीय कस्तूरबा हायर सेकेण्ड्री स्कूल में  विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन 

राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार जिला एवं सत्र न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री ऋषभ कुमार सिंघई के मार्गदर्शन में विधिक साक्षरता शिविर की श्रृंखला में शासकीय कस्तूरबा हायर सेकेण्ड्री स्कूल सीहोर में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश/सचिव जिला विधिक प्राधिकरण श्री एस.के. नागोत्रा एवं स्कूल प्राचार्या श्रीमती तसनीम गौरी सहित अन्य शिक्षक एवं छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।   साक्षरता शिविर में सचिव द्वारा स्कूल के छात्राओं को नालसा की विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत ’’एसिड हमले की पीड़िता के लिए विधिक साक्षरतां एवं पाक्सो एक्ट’’के संबंध में बताया गया साथ ही दिल्ली में  घटित निर्भया कांड का उदाहरण देकर समझाया और लोक अदालत के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई।  उन्होंने कानून की विभिन्न धाराओं की जानकारी देने के साथ-साथ उनको कानूनी पहलूओं के बारे में समझाया गया एवं समाज में घटित होने वाले अपराधों से किस प्रकार दूर रहना है एवं किस प्रकार समाज में लोगों को अपराधों से बचने के उपाय एवं सुझाव देने चाहिए इत्यादि छात्राओं को समाज में व्याप्त विभिन्न अपराध, जघन्य क्रियाकलापों से बचने के उपाय एवं सायबर क्राइम, पारिवाकि विवाद, बालिकाओं के अधिकार एवं खेलकूद के बारे में अंतरिक्ष यात्री सुनिता विलियम, खेल के क्षेत्र की पी.व्ही.सिंधु, सायना नेहवाल सानिया मिर्जा एवं पर्वतारोही बछेन्द्री पाल जी का उदाहरण खेल एवं विज्ञान जैसे क्रियाकलापों में भाग लेकर आगे बढ़ने और अपना तथा अपने स्कूल के शिक्षक, शिक्षिकाओं के साथ माता-पिता का नाम रोशन करने के बारे में बताया। शिविर में स्कूल की छात्राओं द्वारा विभिन्न क्षेत्रों के संबंध में एवं कानूनी पहलूओं व विधिक सहायता एवं सलाह किस प्रकार मिल सकती है, के बारे में सचिव से प्रश्न  पूछे गये जिन प्रश्नो के उत्तर भी सचिव द्वारा उदाहरण के साथ समझाते हुए दिये गये।  कार्यक्रम के अंत में अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश/सचिव  श्री एस.के. नागौत्रा एवं स्कूल प्राचार्या द्वारा प्रतिभाशाली बच्चों को पढ़ाई एवं खेल में अव्वल आये बच्चों को प्रमाण पत्र वितरित कर प्रोत्साहित किया गया।

राष्ट्रीय वायरल हेपेटाइटिस कंट्रोल प्रोग्राम के अन्तर्गत सुरक्षित
पेयजल का परीक्षण एवं वितरण करने के संबंध में निर्देश  
sehore news
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ प्रभाकर तिवारी ने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग कार्यपालन यंत्री एवं मुख्य नगरपालिका अधिकारी सीहोर, आष्टा, बुधनी, इछावर, नसरुल्लागंज, रेहटी, जावर, शाहगंज को निर्देशित करते हुए कहा कि हेपेटाइटिस कंट्रोल प्रोग्राम के अन्तर्गत हेपेटाइटिस ए एवं ई की रोकथाम हेतु सुरक्षित पेयजल प्रादन किया जाना अति आवश्यक है। नगर पालिका क्षेत्र के समस्त वार्डों में नलजल योजना के तहत जल वितरण किया जा रहा है, जिसे शुद्धीकरण कर वितरित किया जाए, क्योंकि दूषित जल वितरण के हेपेटाइटिस एक एवं ई बीमारी फैलने की संभावना रहती है। क्लोरीन की गोलिया भी वितरित की जाकर उसके उपयोग की जानकारी परिवारों को दी जाए एवं पेयजल के सभी स्त्रोतों में क्लोरीनेशन का कार्य करवाया जाए। समस्त मुख्य नगरपालिका अधिकारी अपने-अपने अधीनस्थ क्षेत्रों में पेयजल के सभी स्त्रोंतों का परीक्षण करवाकर उचित कार्यवाही करते हुए परीक्षण की रिपोर्ट से इस मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय को भी अवगत करवाएं। जिससे परीक्षण की रिपोर्ट से वरिष्ठ कार्यालय को अवगत करवाया जा सके।

कलेक्टर ने पेयजल प्रबंधन हेतु बैठक ली दिये आवश्यक निर्देश  

कलेक्टर श्री गणेश शंकर मिश्रा की अध्यक्षता में पेयजल प्रबंधन हेतु बैठक आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर द्वारा संपूर्ण जिले में संचालित पेयजल व्यवस्थाओं की जानकारी एवं आगामी गर्मी के मौसम में आने वाली पेयजल की कमी को दूर करने के लिये किये जाने वाले कार्यों एवं इसके लिये आवश्यक संसाधनों की पूर्ति के लिए जानकारी शीघ्र उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने निर्देशित किया कि हमें हर हाल में पानी का अपव्यय रोकना है। इसके तहत उन्होंने एसडीएम को निर्देशित किया कि यदि शासकीय बोर करवाना है तो अभी करें क्यों कि अचार संहिता लगने के बाद अनुमति लेने में दिक्कतें आएगी और बोरिंग नहीं हो पाएंगे। किसी भी परिस्थिति में लोग परेशान न हो। पेयजल पूर्ति के लिए समय से पहले एडंवास तैयारियां करके रखें। शासकीय टैंकर से ही पानी उपलब्ध कराएं। जहां तक हो सके परिवहन न के बराबर हो। कलेक्टर ने जावर में चार दिन में पानी देने पर नाराजगी जताते हुए कहा कि जल्दी ही व्यवस्थाओं में सुधार लाएं। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अरुण कुमार विश्वकर्मा, अपर कलेक्टर श्री विनोद कुमार चतुर्वेदी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

300 वाहन चालकों, कंडेक्टर्स व क्लीनर्स ने कराई स्वास्थ्य जांच
सड़क सुरक्षा सप्ताह के अंतर्गत आयोजित किया गया था स्वास्थ्य शिविर
sehore news
सड़क सुरक्षा सप्ताह के अंतर्गत जिला परिवहन विभाग एवं स्वास्थ्य विभाग के संयुक्त प्रयासों से आयोजित वाहन चालकों के स्वास्थ्य परीक्षण शिविर में करीब 300 वाहन चालकों, कंडेक्टर एवं क्लीनर्स के स्वास्थ्य का परीक्षण किया गया। इस दौरान बस, आटो, ट्रक सहित शासकीय वाहनों के चालकों ने भी अपना स्वास्थ्य परीक्षण कराया। स्वास्थ्य विभाग की ओर से एड्स नियंत्रण कार्यक्रम, अंधत्व निवारण कार्यक्रम, नशा मुक्ति एवं राष्ट्रीय तम्बाकू नियंत्रण कार्यक्रम, परिवार कल्याण के विषयों पर जागरूकता प्रदर्शनी भी शिविर स्थल पर लगाई गई थी। जिला परिवहन अधिकारी श्री अनुराग शुक्ला ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग एवं जिला परिवहन विभाग के समन्वय से आयोजित उक्त स्वास्थ्य शिविर में बड़ी संख्या में वाहन चालकों, कंडेक्टर्स एवं क्लीनर की भागीदारी रही वहीं शासकीय वाहन चालकों ने भी स्वास्थ्य परीक्षण कराया। स्वास्थ्य विभाग की ओर से सिविल सर्जन डॉ.भारत भूषण आर्य, नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ यू.के.श्रीवास्तव, नेत्र सहायक चिकित्सक डॉ.सोलंकी, मेडिकल विशेषज्ञ डॉ आर.के.वर्मा ने स्वास्थ्य परीक्षण किया। इस दौरान शुगर टेस्ट, नेत्र परीक्षण, ब्लड जांच, ब्लड प्र्रेशर जांच की गई थी तथा उपचार के संबंध में उचित सलाह दी गई। शुभारंभ समारोह में डॉ आर.के.वर्मा ने उपस्थित वाहन चालकों से कहा वाहन चालकों का जीवन हमेशा खतरों से भरा रहता है इसलिए नशा करके वाहन नहीं चलाना चाहिए वहीं आंखों की भी नियमित जांच कराते रहना जरूरी है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से प्रदर्शनी का आयोजन जिला आई.ई.सी.यूनिट के कर्मचारी डिप्टी मीडिया अधिकारी सुश्री उषा अवस्थी,जिला आईईसी सलाहकार श्री शैलेश कुमार एवं श्री आरके तुली द्वारा किया गया। शिविर में आभार प्रदर्शन जिला परिवहन अधिकारी श्री अनुराग शुक्ला द्वारा किया गया।

बस स्टेंड पर आरटीओ ने की 292 ड्राइवरों की आंखों की जांच 

sehore news
सीहेार। राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत बुधवार को बस स्टेंड पर शासकीय एवं व्यावसायिक वाहन चालकों के लिए नि:शुल्क नेत्र परीक्षण शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में 292 शासकीय एवं व्यावसायिक वाहन चालकों को नेत्र परीक्षण कराया गया । शिविर के दौरान जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ भरत आर्य के नेतृत्व में नेत्र रोग विशेषज्ञों ने ड्राइवरों क्लीनरों की आंखों की जांच की। शिविर के दौरान जिला परिवहन अधिकारी अनुराग शर्मा, ऋषभ बस सर्विस के सुनील शर्मा,राठौर ट्रेवल्स के विवेक राठौर,  जितेंद्र राठौर सहित अन्य लोग मौजूद रहे।  

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...