स्वस्थ्य भारत यात्रा : तमिलानाडू पहुंचे स्वस्थ भारत यात्री, कोयंबटूर और त्रिपुर में लोगों किया सेहत के लिए जागरूक - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 10 फ़रवरी 2019

स्वस्थ्य भारत यात्रा : तमिलानाडू पहुंचे स्वस्थ भारत यात्री, कोयंबटूर और त्रिपुर में लोगों किया सेहत के लिए जागरूक

  • ·       स्वस्थ भारत यात्रियों ने तमिलनाडू के लोगों से की अपील, शराबबंदी के समर्थन में बनाएं माहौल
  • ·       पांच राज्यों में अभूतपूर्व स्वागत से यात्रियों का बढ़ा हौसला, 11 दिनों में करीब 4 हजार किमी की दूरी नापी
  • ·       प्रदेश भाजपा ने भी दिया समर्थन, लोगों से की यात्रा को सहयोग देने की अपील
  • ·       व्यवसायी भी गरीब मरीजों की मदद में आगे आए, मात्र 50 रुपये में कर रहे हैं इलाज  
swasthy-bharat-yarta-reaches-tamilnadu
कोयंबटूर, 9 फरवरी,  कर्नाटक दौरे के बाद स्वस्थ भारत यात्री तमिलनाडू में आए और इस राज्य में आबादी की दृष्टि से दूसरे बड़े और विभिन्न बातों के लिए प्रख्यात कोयंबटूर के कई जनऔषधि केन्द्रों पर पहुंचे और उनकी स्थिति का जायजा लिया। डॉक्टरों से मिले और मरीजों का हाल जानने की कोशिश की। स्वस्थ भारत यात्रा के प्रमुख आशुतोष कुमार सिंह ने तमिलनाडू के लोगों से अपील की कि वे शराबबंदी के लिए आगे आएं तभी हमारा भारत स्वस्थ होगा। श्री सिंह ने तमिलनाडू में शराब के कारण आम लोगों कि खासकर महिलाओं कि दुर्गति पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि केवल दवा से ही स्वस्थ समाज का निर्माण नहीं हो सकता बल्कि इसके लिए हमें कई तरह की बुराई के खिलाफ भी खड़ा होना होगा। शराब भी एक बहुत बड़ी बुराई है जिससे सेहत के साथ-साथ आर्थिक नुकसान होता है और नई पीढी के विकास में भी अनेक बाधाएं आती हैं।

swasthy-bharat-yarta-reaches-tamilnadu
तमिलनाडू में स्वस्थ भारत यात्रादल मैनचेस्टर ऑफ द साउथ कहे जाने वाले कोयंबटूर में सर्वप्रथम पहुंचा। मैसूर से चला यह दल कोयंबटूर पहुंचकर स्थानीय कई जनऔषधि केन्द्र संचालकों, फार्मासिस्टों, डॉक्टरों व सामाजिक कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे जनऔषधि के मसले को जनआंदोलन बनाएं। श्री सिंह ने यह अपील सरोजिनी नायडू स्ट्रीट पर सिद्धपुडूर में ईवीएस क्लीनिक एंड फार्मेसी में मरीजो और चिकित्सकों से बातचीत के दौरान की। यह क्लीनिक बिजनेसमैन स्रिल बालाकृष्णन ने स्थापित किया है। इस बावत श्री बालाकृष्नन ने बताया कि मेरा ध्येय गरीबों की सेवा करना है। इस क्लीनिक में कंसल्टिंग फीस मात्र 50 रुपये है। इतना ही नहीं जाँच आदि भी बहुत कम कीमत में की जाती है। इसके साथ ही चिकित्सक मरीजों को जनऔषधि लेने की ही सलाह देते हैं। फार्मासिस्ट दिव्यालक्ष्मी ने बताया कि तमिलनाडू के अन्य शहरों से भी हमारे पास इस तरह की क्लीनिक खोलने के प्रस्ताव आ रहे हैं। हम गरीबो को सस्ता इलाज देने के लिए प्रतिबद्ध हैं। इस मौके पर स्वस्थ भारत यात्रा-2 के प्रमुख आशुतोष कुमार सिह ने ईवीएस क्लीनिक की सराहना करते हुए कहा कि आपका प्रयास अनुकरणीय है। मैं अपील करता हूँ कि देश के अन्य शहरो-कस्बों आदि में भी ऐसे क्लीनिक खुले ताकि गरीबो को लाभ मिल सके।

त्रिपूर में मिला प्रदेश बीजेपी का समर्थन
swasthy-bharat-yarta-reaches-tamilnadu
विगत 30 जनवरी से शुरू स्वस्थ भारत यात्रा-2 को देश के हर कोने से समर्थन मिलना शुरू हो गया है। इसी कड़ी में तमिलनाडू के त्रिपूर में प्रदेश भाजपा के बड़े नेताओं का समर्थन प्राप्त हुआ। त्रिपूर पहुंचे यात्री दल का प्रदेश भाजपा महासचिव  वनथी श्रीनिवासन गर्मजोशी के साथ स्वागत किया और उन्हें सफल यात्रा के लिए शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि स्वस्थ भारत (न्यास) की यह पहल सराहनीय है। इससे देश के आम गरीबों को जेनरिक दवाइयों के फायदे के बारे में जानकारी मिल सकेगी। केन्द्र सरकार द्वारा शुरू किए गए प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि इससे देश की आम जनता को बहुत मदद मिलेगी। श्रीमती श्रीनिवासन ने तमिलनाडू के लोगों से अपील की है कि वे स्वस्थ भारत यात्रा को कामयाब करने में हर संभव मदद करें।

पूर्व सांसद सी.पी. राधाकृष्णन ने भी यात्रा के मकसद की प्रशंसा की और देश की जनता से अपील की कि वे इस नेक काम में तन-मन-धन से यात्रा दल की मदद करें। इस अवसर पर चेन्नई भाजपा की मीडिया टीम के प्रभारी सुरेश कुमार, कोयंबटूर भाजपा के सचिव पलनीकुमार, तथा बीपीपीआई के  तमिलनाडू और पुड्डुचेरी के मार्केटिंग ऑफिसर शक्तिश्वर सिंह भी मौजूद थे। अपने सहयात्रियों- गांधीवादी चिंतक प्रसून लतांत, वरिष्ठ पत्रकार अशोक प्रियदर्शी, आयुर्वेदाचार्य डाँ. सोम शेखर, विवेक शर्मा, प्रियंका सिंह, विनोद रोहिल्ला, पवन कुमार और शंभू कुमार के साथ त्रिपुर पहुंचे यात्री दल के प्रमुख आशुतोष कुमार सिंह ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि हमारा ध्येय वाक्य है- स्वस्थ भारत के तीन आयाम- जनऔषधि, पोषण और आयुष्मान।

स्वास्थ्य के क्षेत्र में 7 वर्षों से सक्रिय है स्वस्थ भारत
swasthy-bharat-yarta-reaches-tamilnadu
विगत 7 वर्षों से स्वास्थ्य एडवोकेसी के क्षेत्र में काम कर रहे  स्वस्थ भारत (न्यास) ने महात्मा गांधी के 150 वीं जयंती वर्ष में उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित करने की अनूठी पहल की है। संस्था ने गांधी को याद करते हुए स्वस्थ भारत अभियान के अंतर्गत स्वस्थ भारत के तीन आयामः जनऔषधि पोषण और आयुष्मान विषय पर देश की आम जनता को जागरूक करने का मैराथन संकल्प लिया है। 'कंट्रोल मेडिसिन मैक्सिमम् रिटेल प्राइस', 'जेनरिक लाइए पैसा बचाइए', 'नो योर मेडिसिन', तुलसी लगाइए रोग भगाइए', 'नो योर डॉक्टर नो योर फार्मासिस्ट' एवं 'स्वस्थ बालिका स्वस्थ समाज' सहित दर्जनों जागरुकता अभियानों के माध्यम से लोगों को स्वास्थ्य के प्रति सचेत एवं जागरूक करने का न्यास ने प्रयास किया है। संस्था ने 'स्वस्थ बालिका स्वस्थ समाज' विषय को लेकर 2017 में देशव्यापी स्वस्थ भारत यात्रा की। इस दौरान लाखों बालिकाओं से प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष संवाद स्थापित कर बालिका स्वास्थ्य के मसले को एक दिशा एवं गति देने का काम किया है। इसी कड़ी में एक बार फिर से संस्था स्वस्थ भारत यात्रा-2 लेकर निकली है। इस यात्रा का ध्येय वाक्य है- 'स्वस्थ भारत के तीन आयाम जनऔषधि, पोषण और आयुष्मान'।

यात्रा के सहयोगी
स्वस्थ भारत यात्रा के राष्ट्रीय संयोजक अनिल सौमित्र ने बताया कि इस यात्रा में तमाम सरकारी व गैर-सरकारी संस्थाओं का सहयोग एवं समर्थन मिल रहा है। 'प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना', ब्रेन बिहैवियर रिसर्च फाउंडेशन ऑफ इंडिया, मेवाड़ विश्वविद्यालय, कस्तूरबा हेल्थ सोसाइटी, स्पंदन, हीलिंग सबलाइम फाउंडेशन, सोशल रिफॉर्म्स एवं रिसर्च ऑर्गनाइजेशन, सर्च फाउंडेशन, हिन्दुस्थान समाचार समूह सहित तमाम जनसरोकारी गैर-सरकारी संस्थाओं, साइनोकेम फार्मास्यूटिकल्स लिमिटेड, क्योरटेक स्कीनकेयर, मस्कट हेल्थ सीरीज प्रा. लिमिटेड, और सनकेयर फार्मास्यूटिकल्स प्रा.लिमिटेड जैसी गुणवत्तायुक्त जेनरिक दवा बनाने वाली फार्मा कंपनियों के साथ-साथ देश के कई शिक्षण संस्थानों का सहयोग एवं समर्थन प्राप्त हो रहा है।

इस यात्रा में वरिष्ठ पत्रकार एवं इंदिरा गांधी कला केन्द्र के अध्यक्ष रामबहादुर राय,  कनेरी मठ के श्री काडसिद्धेश्वर स्वामी जी, कर्नाटक हेल्थ इंस्टिट्यूट के प्रमुख और प्रख्यात चिकित्सक डाँ. घनश्याम वैद्य,  वरिष्ठ शिक्षाविद एवं पूर्व प्रधानमंत्री चन्द्रशेखर की पदयात्रा के संयोजक रहे एचएन शर्मा, मेवाड़ विश्वविद्यालय के चेयरमैन अशोक गदिया, देश-दुनिया के जाने-माने हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. अनुराग अग्रवाल, वरिष्ठ न्यूरो सर्जन डॉ. मनीष कुमार, वरिष्ठ ब्रेन एनालिस्ट डॉ. आलोक मिश्रा, वरिष्ठ पत्रकार अरविंद कुमार सिंह, उमेश चतुर्वेदी, ओमप्रकाश अश्क, ओमप्रकाश तिवारी सहित सैकड़ों पत्रकार मित्रों का सहयोग प्राप्त हो रहा है। इसके साथ ही लाइफ एवं वेलनेस कोच डॉ. अभिलाषा द्विवेदी, वरिष्ठ स्तंभकार शशांक द्विवेदी एवं स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. ममता ठाकुर का विशेष मार्गदर्शन एवं सहयोग प्राप्त हो रहा है। स्वस्थ भारत के संरक्षक मंडल एवं मार्गदर्शक मंडल के वैचारिक सहयोग ने इस यात्रा को परिकल्पित करने में विशेष मदद की है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...