विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 06 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 6 फ़रवरी 2019

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 06 फ़रवरी

8 फरवरी को श्री राहुल गांधी जी की रैली में पहॅुचेगें हजारों कार्यकर्ता

विदिशाः-  अखिल भारतीय कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जी 8 फरवरी को जम्बूरी मैदान भोपाल में किसान रेली को संबोधित करेगे। इस रेली को सफल बनाने एवं ज्यादा से ज्यादा कार्यकर्ताओं को भोपाल पहुॅचाने को लेकर आज दुर्गानगर चैराहा स्थित चुनाव कार्यालय में ब्लाॅक कांग्रेस विदिशा शहर के अंदर किला एवं माधवगंज मण्डलम की बैठक रखी गई। बैठक में विधायक श्री शशांक श्रीकृष्ण भार्गव, कांग्रेस जिलाध्यक्ष शैलेन्द्र रघुवंशी, ब्लाॅक कांगे्रस विदिशा शहर अध्यक्ष श्री वीरेन्द्र पीतलिया ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर रेली में अधिक से अािधक कार्यकर्ता किसानों शामिल करने की रणनीती बनाई। विधायक शशांक भार्गव ने कहा कि म.प्र. में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद राहुल गांधी जी म.प्र. में पहला दौरा भोपाल में तय किया गया हैं। भोपाल के निकट होने के कारण हम सभी की जिम्मेदारी है कि हर कांगे्रस कार्यकर्ता अपने क्षेत्र से अधिक से अधिक योवाओं और किसानों के साथ शामिल हों। जिला कांग्रेस अध्यक्ष शैलेन्द्र रघुवंशी ब्लाॅक अध्यक्ष श्री वीरेन्द्र पीतलिया ने बताया कि विदिशा ब्लाॅक के कार्यकर्ता दिनंाक 8 फरवरी 2019 को प्रातः 9ः00 बजे विदिशा विधायक शशांक भार्गव जी के निवास पर एकत्रित होकर बस से भोपाल के लिये रबाना होगें। बैठक में वरिष्ठ कांगे्रस नेता मनोज कपूर, वृजेश शर्मा, अजय कटोर, मोहरसिंह रघुवंशी, दीवान किरार, अनुज लोधी, विजयकांत रैकवार, डालचंद अहिरवार, धर्मेन्द्र सक्सेना, मनोज कुशवाह, राजकुमार डिडोत, शैलेन्द्र पटेल, विप्पे रघुवंशी, अभिषेक मिश्रा, सुरेश शर्मा, सुनिल शर्मा, संजय बजाज, योगेन्द्र राय, नरेन्द्र शर्मा, रवि कपूर, आदि उपस्थित थे।

निर्वाचन मानदेय प्राप्ति हेतु जानकारी शीघ्र जमा करें

विधानसभा निर्वाचन प्रक्रिया को सम्पन्न कराने हेतुु जिन अधिकारियों, कर्मचारियों का आयोग के दिशा अनुरूप दायित्व सौंपे गए थे उन सभी अधिकारियों, कर्मचारियों को आयोग की मंशा के अनुसार निर्वाचन मानदेय दिया जाना है। जिन कर्मचारियों ने अब तक मानदेय प्राप्ति हेतु आवश्यक दस्तावेंज तदानुसार, बैंक खाते की जानकारी एवं निर्वाचन कार्यो का आदेश की छाया प्रति जमा नही की है वे शीघ्रतिशीघ्र जमा कराना सुनिश्चित करें। उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री लोकेन्द्र सरल ने बताया कि अभी तक जिन अधिकारी, कर्मचारियों के द्वारा निर्वाचन मानदेय प्राप्ति हेतु अब तक आवश्यक दस्तावेंज जमा नही किए है वे शीघ्रतिशीघ्र नवीन कम्पोजिट बिल्डिंग (कलेक्टेªट) परिसर में संचालित उप जिला निर्वाचन कार्यालय में कार्यालयीन दिवसों, अवधि में जमा करें ताकि नियमानुसार निर्वाचन मानदेय की राशि उनके बैंक खातो में जमा की जा सकें।  

जय किसान फसल ऋण माफी योजना हेतु कंट्रोल रूम गठित

कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह के द्वारा दिए गए निर्देशो के अनुपालन में जिला मुख्यालय पर जय किसान फसल ऋण माफी योजना के संबंध में किसानों की समस्याओं से अवगत होकर उनका शीघ्र निराकरण कराया जाए के उद्वेश्य से कंट्रोल रूम गठित किया गया है।  किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उप संचालक कार्यालय में संचालित होने वाले कंट्रोल रूम की जानकारी देते हुए विभाग के उप संचालक श्री पीके चैकसे ने बताया कि 07592-233153 दूरभाष पर कृषक योजना से संबंधित समस्याएं जैसे खातो में विसंगतियों आदि आने पर सम्पर्क कर उसका समाधान प्राप्त कर सकते है।  जय किसान फसल ऋण माफी योजना अंतर्गत सहकारी बैंक, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक तथा राष्ट्रीयकृत बैंक से फसल ऋण प्राप्त करने वालो को किसानो को अधिकतम दो लाख रूपए की सीमा तक पात्रतानुसार लाभ दिया जाना है। योजना क्रियान्वयन का दिनांकवार कार्यक्रम निम्नानुसार है। दस फरवरी तक पोर्टल में ऋण खातो की जानकारी का बैंको द्वारा सत्यापन, आधार कार्ड का अभिप्रमाण किया जाएगा। उक्त कार्य पांच फरवरी से जारी है। दस फरवरी से 17 फरवरी तक बैंको द्वारा पोर्टल पर दावा आपत्तियां दर्ज करने का कार्य सम्पादित किया जाएगा। 18 से 20 फरवरी तक जिला स्तरीय समिति द्वारा सूचियोें का अनुमोदन किया जाएगा। 22 फरवरी से लगातार संबंधित खातो में आॅन लाइन राशि जमा किया जाना, ऋण खाते में प्राप्त राशि का बैंक द्वारा ऋण समायोजन एवं किसानों को ऋण मुक्ति प्रमाण पत्र, किसान सम्मान पत्र वितरण का कार्य किया जाएगा। 

धूम्रपान, तम्बाकू के प्रति जनजागृत कार्यक्रम का आयोजन, टोल फ्री नम्बर 1800110456 पर सूचना दें 

vidisha newsअपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा की अध्यक्षता में आज राष्ट्रीय तम्बाकू नियंत्रण कार्यक्रम के तहत गठित जिला स्तरीय तम्बाकू नियंत्रण समिति की बैठक सम्पन्न हुई। कलेक्टेªट के सभाकक्ष में हुई इस बैठक में स्वास्थ्य, स्कूल शिक्षा, उच्च शिक्षा, खाद्य एवं औषधी निरीक्षक, पुलिस तथा स्वंयसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि मौजूद थे। अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा ने धूम्रपान और तम्बाकू के नियंत्रण पर बल देते हुए कहा कि प्रत्येक ग्राम स्कूल, काॅलेज में जनजागृति कार्यक्रमों का आयोजन किया जाए। उक्त चीजो का सेवन करने वालो को होने वाली बीमारियों से अवगत कराते हुए उपचार की विधा बताई जाए।  अपर कलेक्टर ने तम्बाकू नियंत्रण कानून 2003 के निहित बिन्दुओं का अक्षरशः पालन करने की समझाईश देते हुए उन्होंने सार्वजनिक स्थलों पर धूम्रपान करने पर लगे प्रतिबंधो पर प्रकाश डाला। सीएसपी श्री भारत भूषण शर्मा ने जनजागरूकता कार्यक्रमों को नितांत आवश्यक बताते हुए कहा कि काॅलेज और स्कूलों के हाॅकर कार्नरों पर पुलिस द्वारा नियंत्रित किया जा रहा है। जिले में धूम्रपान, तम्बाकू प्रतिबंधित क्षेत्रों में ना बिके इसके लिए पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में टीम गठित की गई है जो स्कूलों और काॅलेजो के परिसरों पर निगरानी रख रही है। उन्होंने कहा कि हम सब मिलजुलकर तम्बाकू और धूम्रपान पर अंकुश लगाने हेतु उठाए गए कदमों का अनुपालन करें। प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ केएस अहिरवार ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा धूम्रपान और तम्बाकू सेवनकर्ताओं को शारीरिक प्रतिकूल असर से अवगत कराने हेतु प्रचार प्रसार विभिन्न स्तरों पर किया जा रहा है उन्होंने तम्बाकू और धूम्रपान कैसे छोड़े पर बल देते हुए कहा कि उक्त के आदि व्यक्तियों को काउंसलरों की मदद से अभिप्रेरित किया जा रहा है ताकि वे नशीली वस्तुओं के सेवन को त्याग सकें। स्वयंसेवी संस्था की प्रतिनिधि श्रीमती इन्दिरा शर्मा ने जनजागरूकता हेतु अब तक सम्पादित किए गए कार्यो को रेखांकित करते हुए कहा कि हम सब उन व्यक्तियों को जानते है जो धूम्रपान तम्बाकू सहित अन्य नशीली पदार्थो का सेवन कर रहे है। उन्होंने सुझाव रखा कि सेवनकर्ताओं के घरो में पहुंचकर उनके पारिवारिकजनों से सम्पर्क कर मनोवैज्ञानिक दबाव बनाने की पहल की जाए का सदोउदाहरण प्रस्तुत किया। कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डाॅ राकेश सक्सेना ने काॅट्पा अधिनियम 2003 पर विस्तारपूर्वक प्रकाश डाला। उन्होंने धूम्रपान एवं तम्बाकू नियंत्रण हेतु टोल फ्री नम्बर 1800110456 पर जानकारी प्राप्त कर सकते है। उन्होंने बताया कि जिले की सभी स्कूलों में जनजागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा इसके लिए कार्ययोजना को अंतिम रूप दिया जा रहा है। उन्होंने तम्बाकू सेवन से शरीर के हर अंग पर प्रभाव पड़ता है कि जानकारी पावर प्रेजेन्टेशन के माध्यम से दी। सेवन से कैसे बचे पर उन्होंने गहन प्रकाश डाला। कार्यक्रम को डाॅ सुरेन्द्र सोनकर ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम का संचालन डाॅ प्रतिभा ठाकुर ने किया। 

भरण पोषण अधिनियम क्रियान्वयन की समीक्षा

माता-पिता और वरिष्ठ नागरिको के लिए क्रियान्वित भरण पोषण तथा कल्याण अधिनियम की निहित बिन्दुओं पर अब तक हुए क्रियान्वयन की समीक्षा अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा ने आज अपने चेम्बर में की। बैठक में सामाजिक न्याय विभाग के उप संचालक, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जिला पेंशन फोरम के अध्यक्ष, वृद्वाश्रम के संचालकगण तथा गणमान्य नागरिक मौजूद थे। अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा ने कहा कि वृद्वजनों एवं वरिष्ठ नागरिकों की सेवा हेतु जिला प्रशासन कृत संकल्पित है। वृद्वजन अपने आप को अकेला ना समझे का संदेश उन तक पहुंचे। शासन द्वारा उनकी मदद के लिए कानून में जो प्रावधान किए गए है की जानकारी वृद्वजनों के साथ-साथ उनके पृत्रो को भी हो।  राज्य सरकार द्वारा वृद्वजनो के समग्र कल्याण पुनर्वास हेतु मध्यप्रदेश माता-पिता और वरिष्ठ नागरिकों का भरण पोषण, कल्याण अधिनियम 2009 लागू किया गया है। प्रत्येक वरिष्ठ नागरिक जिनकी आयु 60 वर्ष या उससे अधिक है वे अपने संबंधियों से भी भरण पोषण की मांग कर सकते है। जिनका उनकी सम्पत्ति पर स्वामित्व है अथवा जो उनकी संपत्ति के उत्तराधिकारी हो सकते है वे अपने घर के वरिष्ठ की देखभाल हेतु उत्तरदायी होंगे। जिला एवं अनुविभाग से वृद्वजनों के प्रकरणों के निराकरण हेतु ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र में पदस्थ अनुविभागीय अधिकारियों की अध्यक्षता में समितियों का गठन किया गया है। इन समितियों के समक्ष भी वृद्वजन अपनी शिकायते दर्ज करा सकते है और यदि इस समिति के निर्णय से संतुष्ट नही होते है तो जिला स्तरीय समिति पर अपील कर सकते है।  अपर कलेक्टर श्री वर्मा ने बताया कि बच्चे अथवा संबंधियों ने अपने अभिभावकों तथा वरिष्ठ नागरिकों की उपेक्षा अथवा उनकी देखभाल करने से इंकार किया तो अपील अधिकरण उन्हें मासिक भरण पोषण दस हजार रूपए प्रतिमाह के आदेश दे सकते है। वरिष्ठ नागरिकों की उपेक्षा अथवा परित्याग एक संगीन अपराध है जिसके लिए पंाच हजार रूपए तक का जुर्माना या तीन महीने की सजा अथवा दोनो एक साथ हो सकते है। यदि कोई वरिष्ठ नागरिकों को डराता धमकाता है अथवा मारपीट करता है तो उसकी शिकायत पुलिस में दर्ज कराने की अपील संबंधितों से की गई है। इस दौरान बताया गया कि सामाजिक न्याय विभाग के दूरभाष क्रमांक 07592-234272 पर भी सूचनाएं दी जा सकती है। 

महिलाओं के लिए निःशुल्क ड्रायविंग लायसेंस शिविर आठ को

जिला परिवहन अधिकारी श्री गिरजेश वर्मा ने बताया यातायात सप्ताह अवधि के दौरान महिलाओं के लिए निःशुल्क ड्रायविंग लायसेंस जारी करने हेतु परिवहन विभाग द्वारा विशेष शिविर आठ फरवरी को आयोजित किया गया है। जिला परिवहन अधिकारी श्री वर्मा ने बताया कि जिला परिवहन कार्यालय विदिशा में एक दिवसीय शिविर आठ फरवरी को आयोजित किया जाएगा। जिसमें इच्छुक महिला आवेदकों को पूर्व ड्रायविंग लायसेंस हेतु आॅन लाइन आवेदन कर उस आवेदन का प्रिन्टआउट लेकर पांच जनवरी को कार्यालयीन दिवस में जिला परिवहन कार्यालय मुखर्जीनगर विदिशा में दस्तावेंजो के मूल एवं हस्ताक्षरित छाया प्रतियां स्वंय के दो पासपोट साइज के फोटोग्राफ्स सहित उपस्थित होना होगा। दस्तावेंजो में जन्म तिथि प्रमाण हेतु कोई भी मार्कशीट, जन्म प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण हेतु आधार कार्ड, वोटर कार्ड, पासपोर्ट, एलआईसी में से किसी एक दस्तावेंज को साथ लाना होगा।  आवेदक ड्रायविंग लायसेंस के लिए आॅन लाइन आवेदन करने हेतु विभाग की बेवसाइट ूूूण्उचजतंदचवतजण्वतह पर जाकर अथवा किसी एमपी आॅन लाइन पर कियोस्क की सहायता से आवेदन कर सकते है। इसके अलावा एड्रांयड मोबाइल उपयोग करने वाले आवेदक अपने मोबाइल फोन मंे एम-सेवा मोबाइल एप्लीकेशन एप को डाउनलोड कर उसके द्वारा आवेदन कर सकते है। महिला आवेदकों को ततसंबंध में किसी भी प्रकार की परेशानी आती है तो कार्यालयीन कर्मचारी श्रीमती पान कुशवाह के मोबाइल नम्बर 8109167943 पर सम्पर्क कर निदान प्राप्त कर सकते है। 

कारोबारी प्रतिष्ठान लायसेंस व रजिस्टेªश चस्पा करें

खाद्य एवं औषधि प्रशासन की उप संचालक ने विदिशा जिले में स्थित खाद्य कारोबारीकर्ताओं को पत्र प्रेषित कर उन्हंे अपने प्रतिष्ठान मंे निर्धारित कारोबार का लायसेंस व रजिस्टेªशन चस्पा कर रखे जाने के निर्देश प्रसारित किए है।  खाद्य एवं औषधि निरीक्षक एडनिल ई पन्ना ने विभाग के उप संचालक द्वारा जारी दिशा निर्देशो का हवाला देते हुए बताया कि प्रतिष्ठान अपने कारोबार अनुसार उचित साफ सफाई एवं स्वास्थ्यकर परिस्थितियों को पूर्ण रखे। प्रतिष्ठान में खुले तेल की ब्रिकी ना करें यदि कही खुले तेल का विक्रय पूर्व उल्लेखित निर्देशो का पालन नही पाया गया तो प्रतिबंधित्व कार्यवाही की जाएगी।  अपर कलेक्टर द्वारा जारी निर्देशो के अनुपालन में खाद्य एवं औषधी प्रशासन, नागरिक आपूर्ति, नगरपालिका एवं राजस्व विभाग के सक्षम अधिकारियों की टीम गठित की गई है जो जिले मंे स्थित खाद्य प्रतिष्ठानों का सघन एवं निरंतर निरीक्षण कर रही है। 

जिला परामर्शदात्री समिति की बैठक 11 को

कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह की अध्यक्षता में जिला परामर्शदात्री समिति की बैठक 11 फरवरी को आयोजित की गई है कि जानकारी देते हुए डिप्टी कलेक्टर श्रीमती आरती यादव ने बताया कि दोपहर एक बजे से कलेक्टेªट सभाकक्ष में आहूत की गई उक्त बैठक में विभिन्न विभागों में कर्मचारियों से संबंधित लंबित प्रकरणों की समीक्षा की जाएगी।  डिप्टी कलेक्टर श्रीमती यादव ने समस्त विभागों के जिलाधिकारियो को पत्र प्रेषित कर उन्हें आठ फरवरी तक कर्मचारियों से संबंधित जानकारियां उपलब्ध कराने के निर्देश देते हुए उन्हें जिला परामर्शदात्री समिति की बैठक में नियत समय व स्थल पर उपस्थित होने हेतु भी पत्र प्रेषित किए गए है।

पेयजल समस्या निदान हेतु कंट्रोल रूम गठित

कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह के द्वारा दिए गए निर्देशो के अनुपालन में लोक स्वास्थ्या यंात्रिकीय विभाग के द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल संबंधी समस्याओं की जानकारियां प्राप्ति हेतु जिला एवं विकासखण्ड स्तरों पर पृथक-पृथक कंट्रोल रूम स्थापित किए गए है लोक स्वास्थ्य यांत्रिकीय विभाग के कार्यपालन यंत्री श्री अविनाश दिवाकर ने विकासखण्ड और जिला मुख्यालयों पर गठित कंट्रोल रूम के संबंध में बताया कि प्रातः आठ बजे से रात्रि आठ बजे तक संचालित किए जाएंगे। उक्त अवधि में ग्रामीणजन हेण्डपंपो के संबंध में अपनी शिकायते दर्ज करा सकते है। प्रत्येक शिकायत की जानकारी रजिस्टर में अंकित की जाएगी ताकि वरिष्ठ अधिकारियों के औचक निरीक्षण के दौरान इस बात का भलीभांति पता लगाया जा सकें कि कुल कितनी शिकायते प्राप्त हुई है। विकासखण्ड स्तर के कंट्रोल रूम पर प्राप्त होने वाली शिकायतो का निराकरण तीन दिवस के भीतर कराया जाएगा यदि नियत अवधि में शिकायत का समाधान नही किया जाता है तो जिला स्तर के कंट्रोल रूम का दूरभाष क्रमांक 07592-250663 एवं 408554 पर कार्यालयीन अवधि में शिकायत दर्ज कर सकते है। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकीय उपखण्ड कार्यालय स्थलों पर संचालित होने वाले कंट्रोल रूमों के सम्पर्क नम्बर इस प्रकार से है। विदिशा एवं नटेरन विकासखण्ड की शिकायते 07592-490844 पर, ग्यारसपुर विकासखण्ड की पेयजल संबंधी समस्याएं 9993834991 पर, बासौदा एवं कुरवाई विकासखण्ड क्षेत्र की पेयजल शिकायते 07594-221430 पर तथा सिरोंज एवं लटेरी विकासखण्ड क्षेत्र के अंतर्गत पेयजल की समस्याओं की सूचनाएं गठित कंट्रोल रूम 07591-253036 पर दर्ज करा सकते है।

आपराधिक प्रकरणांे के लोकहित हेतु पुर्ननिर्धारण आवेदन 13 तक प्रस्तुत करें

गृह विभाग द्वारा जारी पत्र का हवाला देते हुए कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि आपराधिक प्रकरणों के लोकहित में (प्रकरणवार) प्रत्याहरण की प्रक्रिया का पुर्ननिर्धारण नीति तैयार की गई है जिसके अधीन प्रकरणों के प्रत्याहरण हेतु जिला स्तरीय समिति गठित की गई है।  डिप्टी कलेक्टर एवं नोडल अधिकारी श्रीमती आरती यादव ने बताया कि जो भी व्यक्ति अपने विरूद्व ऐसे प्रकरण जो कि लोकहित में वापिस लिए जाने चाहिए के संबंध में अपने विरूद्व कार्यवाही शून्य कराना चाहते है तो शासन स्तर पर वह मुख्यमंत्री, गृहमंत्री के अलावा जनप्रतिनिधियों के अलावा जिला दण्डाधिकारी को अपना आवेदन प्रस्तुत कर सकते है।  ऐसे व्यक्ति जो जिला दण्डाधिकारी को अपना आवेदन प्रस्तुत करना चाहते है वे सभी अपना आवेदन 13 फरवरी बुधवार तक अपर कलेक्टर विदिशा के स्टेनो श्री आलोक नामदेव के पास जमा सकते है। 


जय किसान फसल ऋण माफी योजना, पोर्टल पर दो लाख 52 हजार आवेदन दर्ज 

जय किसान फसल ऋण माफी योजना के तहत जिले में पात्रताधारी सभी किसानों के आवेदन पत्र दर्ज कराने का कार्य क्रियान्वित है।  कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम ंिसह ने संबंधितों को निर्देश दिए है कि दो दिवस के भीतर जय किसान फसल ऋण माफी योजना के सभी पात्रताधारियों के आवेदनों का पंजीयन शत प्रतिशत करा लिया जाए। जिले में अब तक दो लाख 52 हजार 525 किसानो के आवेदन आॅन लाइन पोर्टल पर दर्ज किए जा चुके है शेष 28 हजार 392 आवेदनों को दो दिवस के भीतर दर्ज करने के निर्देश कलेक्टर द्वारा संबंधित जनपदों के सीईओ को दिए गए है।  लोक सेवा गारंटी केन्द्र के जिला प्रबंधक श्री अमित अग्रवाल ने जय किसान फसल ऋण माफी योजना के पोर्टल पर दर्ज आवेदनों की विकासखण्डवार जानकारी देते हुए बताया है कि बासौदा विकासखण्ड में अब तक 20633 हरा आवेदन एवं 11313 सफेद आवेदन एवं पिंक 1216, ग्यारसपुर में 23179 हरा तथा 15369 सफेद, पिंक 1241, कुरवाई में 22261 हरा, 7707 सफेद, 500 पिंक, लटेरी में 11039 हरा, 4192 सफेद, जनपद पंचायत नटेरन में 14085 हरा और 15255 सफेद, 1580 ंिपंक, सिरोंज जनपद पंचायत में 15562 हरा, 7012 सफेद, 14 ंिपंक, विदिशा जनपद पंचायत में 34132 हरा तथा 16272 सफेद, 1571 पिंक रंग के आवेदनों का पोर्टल पर आॅन लाइन पंजीयन किया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...