विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 11 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 11 फ़रवरी 2019

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 11 फ़रवरी

विधायक शषांक भार्गव के प्रयासों से जिले की 137 सोसायटीयों में होगी गेहॅू खरीदी जल्द होगें किसानों के पंजीयन

विदिषाः विदिषा विधायक शषांक भार्गव ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया है कि विदिषा जिले के किसानों की खरीदी जिले की सभी 137 सोसायटीयों पर गेहॅू की खरीदी होगी। जिले में गेहॅू, की सरकारी खरीदी के लिए 154 सोसायटीयाॅ पंजीकृत हैं पिछले वर्ष 137 सोसायटीयों पर गेहॅू की खरीदी की गई थी। इस वर्ष खाद्य विभाग के आला आधिकारियों ने सोसायटीयों पर 0.25 प्रतिषत नुकसान बताकर 70 सोसायटियों को अमान्य घोषित कर दिया गया था, व बची हुई 67 सोसायटीयों पर किसानों के पंजीयन कराने का आदेष जारी किया था जिसकी वजह से किसानों को 30 से 40 कि.मी. दूर जाकर अपना पंजीयन कराने के लिए बाध्य होना पड रहा था। किसानों की इस परेषानी को दूर करने के लिए सभी 137 सोसायटीयों पर गेहॅू खरीदी के पंजीयन एवं तुलाई सुनिष्चित कराने के लिए विदिषा विधायक शषांक भार्गव ने इस विषय में म.प्र. शासन के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री प्रधुम्नसिंह तोमर एवं संचालक खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग म.प्र शासन से फोन पर चर्चा कर किसानों की समस्याओं से अवगत कराया जिस पर उन्होंने अमान्य सोसायटीयों को मान्य कर पूर्व की तरह गेहॅू खरीदी पंजीयन एवं गेहॅू खरीदी सुनिष्चित करने का आष्वासन दिया है। श्री भार्गव ने बताया कि शीघ्र ही इस विषय में विभागीय आदेष जारी होगें इसके बाद सभी किसान भाईयों के पंजीयन संबंधित सोसायटियों में होगें और वहीं पर उनकी गेहॅू खरीदी की जायेगी।  

राज्य सरकार के जनहितैषी निर्णयों का रथ के माध्यम से प्रचार प्रसार
विधायक ने हरी झंडी दिखाकर रथ को रवाना किया 
vidisha news
राज्य सरकार द्वारा जय किसान फसल ऋण माफी योजना के साथ-साथ अन्य जनहितैषी निर्णयों का प्रचार-प्रसार करने हेतु जनसम्पर्क माध्यम के द्वारा तैयार कराए गए प्रचार-प्रसार रथ का आज विदिशा विधायक श्री शशांक भार्गव ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इससे पहले प्रचार रथ के माध्यम से प्रदर्शित की जाने वाली वीडियो क्लिपिंग का भी अवलोकन उनके द्वारा किया गया।   कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने प्रचार रथो का अवलोकन किया और उसमें उपलब्ध कराई शासन की योजनाओं पर आधारित वीडियो जो मोबाइल वैन प्रदर्शनी के प्रचार रथ में एलईडी पर प्रसारित किया जाएगा। इसके अलावा प्रचार वाहन में र्हा रिसाल्यूवेशन फ्लैक्स लगाए गए है उनको देखा। प्रत्येक प्रचार वाहन में पांच हार्स पाॅवर का जनरेटर एवं लाइट की व्यवस्था की गई है।  विधायक श्री भार्गव एवं कलेक्टर श्री सिंह को अवगत कराया गया कि जिले के प्रत्येक विकासखण्ड हेतु एक-एक प्रचार रथ मुहैया कराया गया है। मोबाइल प्रदर्शनी एक माह की अवधि में तीन हजार किलोमीटर के दायरे में प्रचार प्रसार करेंगी। इस हेतु रथ के आपरेटरों को रूटचार्ट उपलब्ध कराया गया है।  

गौशाला परियोजना के प्रभावी क्रियान्वयन की समीक्षा

vidisha news
कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने जिले में गौशाला परियोजना के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु निर्धारित बिन्दुओं की समीक्षा आज टीएल बैठक में की। कलेक्टेªट के सभाकक्ष में इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ डाॅ पंकज जैन, अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा, समस्त एसडीएम, जनपदों के सीईओ के अलावा विभिन्न विभागों के जिलाधिकारी मौजूद थे।  कलेक्टर श्री सिंह ने गौशाला परियोजना के संबंध में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा भेजे गए दिशा निर्देशों की बिन्दुवार जानकारी प्राप्त करते हुए कार्यो का सम्पादन हेतु अधिकारियों को अधिकृत किया है। कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि 20 फरवरी से गौशालाएं क्रियाशील हो जाए इस हेतु आवश्यक भूमि का चिन्हांकन कर की गई कार्यवाही से जिला कार्यालय को अवगत कराने के निर्देश समस्त एसडीएम एवं तहसीलदारों को दिए है। कलेक्टर श्री सिंह ने जिला स्तर पर गौशाला परियोजना समन्वय समिति के गठन व कार्यो की बिन्दुवार जानकारी प्राप्त की इसी प्रकार अनुविभाग स्तर पर गठित होने वाली क्रियान्वयन समिति का गठन करने के निर्देश उन्होंने दिए है।  कलेक्टर श्री सिंह ने पशु चिकित्सा सेवाएं के उप संचालक को गौशालाओं के संचालन हेतु एमओयू अनुबंध पत्र तैयार करने के निर्देश दिए है। संचालन करने वाली ऐजेन्सी के लिए निर्धारित मापदण्डों से अवगत कराने के भी निर्देश दिए है।  कलेक्टर श्री सिंह ने गौशाला परियोजना के कंसेप्ट को रेखांकित करते हुए कहा कि निराश्रित गौवंश को सुरक्षित स्थल पर रखा जा सकें। खासकर सड़को पर विचरण करने वाले पशुधन को इन गौशालाओं में रखा जाएगा। गौशाला के पशुधन को पर्याप्त चारा, पानी की व्यवस्था सुनिश्चित करने की व्यवस्था, संधारण तथा अनुरक्षण आदि के लिए आवश्यक राशि पंच परमेश्वर पोर्टल के माध्यम से ग्राम पंचायतांे को उपलब्ध कराई जाएगी।  जिले की तीस ग्राम पंचायतों में गौशाला इस वित्तीय वर्ष में क्रियाशील हेतु तमाम प्रबंध सुनिश्चित किए जा रहे है। गौशाला के चयन करते समय जिन बिन्दुओं का ध्यान रखा जाए के संबंध मंे विस्तारपूर्वक बताया गया। गौशाला एवं चारागाह के लिए भूमि की उपलब्धता, 100 गौवंश की गौशाला के लिए लगभग एक एकड़ भूमि पर गौशाला का निर्माण किया जाएगा तथा न्यूनतम पांच एकड़ भूमि चारागाह के लिए आवश्यक होगी। गौशाला राज्य, राष्ट्रीय मार्ग के नजदीक होना चाहिए। मार्च माह में गौशाला प्रबंधक ऐजेन्सी संचालन एवं सदस्यों के लिए प्रशिक्षण आयोजित किया जाएगा। गौशाला परियोजना के संचालन हेतु जिला योजना अधिकारी के मार्गदर्शन में संस्था, व्यक्तियों से सहयोग के लिए ली जाने वाली राशि चैक, ड्राप के रूप में संग्रहित कर गौपालन एवं पशुधन संवर्धन समिति के खाते में जमा करने हेतु अधिकृत किया गया है। 

पेयजल प्रबंधो की समीक्षा

कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने ग्रीष्मकाल हेतु जिले में पेयजल हेतु किए जाने वाले प्रबंधो की समीक्षा टीएल बैठक में की। उन्होंने समस्त एसडीएमों एवं जनपदों के सीईओ को निर्देश दिए है कि जिले मेें पेयजल परिवहन की आवश्यकता ना पडे़ इस हेतु पूर्व में ही वैकल्पिक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं। कलेक्टर श्री सिंह ने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकीय विभाग के कार्यपालन यंत्री को निर्देशित किया है कि ग्रामीण क्षेत्रों की नलजल योजनाएं सतत क्रियाशील बनी रहें। ऐसी नलजल योजनाएं स्त्रोत के कारण बंद हो जाती है कि पूर्व जानकारी अनुसार उन स्त्रोंतो की साफ सफाई कर गहराई बढ़ाने के निर्देश दिए है। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि जिन हैण्ड पंपो में जल की  प्रचुर मात्रा है वे ग्रीष्मकाल में बंद ना हो के पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित किए जाएं। आवश्यकता पडे़ तो सिंगल फेस की मशीन उसमें डालकर जल की आपूर्ति की जाए। प्रत्येक विकासखण्ड पर गठित किए गए कंट्रोल रूमों पर प्राप्त होने वाली हेण्ड पंपो की शिकायतों का निदान शीघ्रतिशीघ्र किया जाए। इसके लिए अभी से कार्ययोजना तय कर आवश्यक जबावदेंही संबंधितों को सौपी जाए।  कलेक्टर श्री सिंह ने निकाय क्षेत्रों में भी पेयजल आपूर्ति की सतत पूर्ति होती रहे इसके लिए फिल्टर प्लांटो में जल की सप्लाई सतत बनी रहें इस हेतु जलभराव क्षेत्रों पर नजर रखने के निर्देश दिए है।  कलेक्टर श्री सिंह ने समस्त एसडीएमों से कहा कि पेयजल आपूर्ति में किसी भी प्रकार की कोताही ना बरतें। ऐसे क्षेत्र जहां परिवहन करके ही जल की आपूर्ति की जा सकती है। उन क्षेत्रों का चिन्हांकन कर प्रतिवेदन के माध्यम से अवगत कराएं। 

नायब तहसीलदारों के कार्य विभाजन में आंशिक संशोधन

कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने प्रशासकीय कार्यो की सुविधाओं को दृष्टिगत रखते हुए जिले में पदस्थ नायब तहसीलदारों के पूर्व जारी कार्य विभाजन आदेश में आंशिक संशोधन करते हुए नवीन कार्य विभाजन के आदेश जारी कर दिए है।  कलेक्टर श्री सिंह के द्वारा जारी कार्य विभाजन आदेश अनुसार नायब तहसीलदार श्री हेमंत शर्मा को प्रभारी तहसीलदार नवीन नगरीय तहसीलदार विदिशा  का दायित्व सौंपा है। इसके अलावा नायब तहसीलदार यशवर्धन सिंह को ग्यारसपुर का प्रभारी तहसीलदार, नायब तहसीलदार श्री दिलीप कुमार जड़िया को त्यांेदा का प्रभारी तहसीलदार, नायब तहसीलदार श्री एनएस परमार की नवीन पदस्थापना नायब तहसीलदार बासौदा में तथा नायब तहसीलदार श्री जीवन लाल जैन को सशक्त नायब तहसीलदार ग्यारसपुर में पदस्थापना की गई है। 

अधिकारी, कर्मचारियों के शासन हितार्थ निर्णय का पालन करें-अपर कलेक्टर

अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा ने आज संयुक्त परामर्शदात्री समिति की बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिए कि कर्मचारियों के संबंध में शासन द्वारा लिए गए हितार्थ निर्णय का पालन समय सीमा में करें। उन्होंने कहा कि कर्मचारी अपने अधिकारो के लिए इधर-उधर ना भटके का ध्यान रखते हुए उनके तमाम क्लेम्प समय सीमा में उन्हें मिल सकें की नैतिक जबावदेंही संबंधित विभागों के जिलाधिकारियों की है।  कलेक्टेªट के सभाकक्ष में हुई उक्त बैठक में कर्मचारियों के मान्यता प्राप्त विभिन्न संघो के पदाधिकारी मौजूद थे। बैठक में कर्मचारियों के लिए अर्जित एवं मेडीकल अवकाश समय पर स्वीकृत करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दिए गए। इसी प्रकार कर्मचारियों के प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय समयमान वेतनमान स्वीकृत कर वेतन में लगाने एवं विसंगतियों को दूर करने के निर्देश सिविल सर्जन सह अधीक्षक को दिए गए। पूरे माह ड्यूटी करने के उपरांत भी वेतन काटकर भुगतान करने की परिस्थितियों में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को गंजबासौदा सिविल अस्पताल के उक्त प्रकरण की जांच कर कार्यवाही करने हेतु अधिकृत किया गया है। बैठक में कर्मचारियेां की डीए, एरियर्स, सातवें वेतनमान का एरियर्स संबंधी विभिन्न विभागो खासकर स्वास्थ्य विभाग, स्कूल शिक्षा विभाग में लंबित कर्मचारियों को शीघ्र उपलब्ध कराए जाने के निर्देश दिए गए है।  अपर कलेक्टर श्री वर्मा ने जिलाधिकारियो को निर्देश दिए है कि कर्मचारियों को विभागो के माध्यम से पेय स्लिप दिया जाना अनिवार्य है उक्त कार्य में किसी भी प्रकार की कोताही ना बरती जाए। उन्होंने समय-समय पर मेडीकल क्लेम्प करने वाले कर्मचारियो के प्रति बजट उपलब्धता होेने पर उनके देयक शीघ्र आहरण करने के निर्देश दिए है।  अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा ने जिला चिकित्सालय मंे पदस्थ कलेक्टेªट दर पर कर्मचारियों को विगत नौ माह से वेतन नही मिलने पर असंतोष जाहिर करते हुए उक्त सभी कर्मचारियो को शीघ्र वेतन दिलाए जाने के निर्देश दिए है। बैठक में मध्यप्रदेश वन कर्मचारी संघ, मध्यप्रदेश पटवारी संघ, मध्यप्रदेश सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्र अधिकारी संघ, मध्यप्रदेश लघु वेतन कर्मचारी संघ, न्यू बहुउद्वेशीय स्वास्थ्य कर्मचारी संघ, मध्यप्रदेश कर्मचारी कांग्रेस तथा मध्यप्रदेश शिक्षक संघ के द्वारा कर्मचारियों के संबंध में रखे गए सुझावों पर अमल करने के निर्देश दिए गए है।

वाराणसी-प्रयागराज हेतु आज जाएंगे तीर्थ यात्री
  • विदिशा स्टेशन पर 4.40 बजे आएंगी स्पेशल टेªन

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत विदिशा जिले के 118 तीर्थ यात्री 12 फरवरी को स्पेशल टेªन से वाराणसी प्रयागराज तीर्थ दर्शन हेतु रवाना होंगे। रेल्वे पीआरओ ने बताया कि स्पेशल टेªन हबीबगंज स्टेशन से दोपहर 3.35 बजे रवाना होगी तथा विदिशा स्टेशन पर 4.40 पहुंचेगी और सायं 4.50 बजे विदिशा से रवाना होगी। डिप्टी कलेक्टर एवं योजना की नोडल अधिकारी श्रीमती आरती यादव ने बताया कि मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत वाराणसी प्रयागराज हेतु जिले को दो सौ का लक्ष्य प्राप्त हुआ था किन्तु अंतिम तिथि पांच फरवरी तक कुल 118 आवेदको के द्वारा आवेदन किए  गए है लक्ष्य से कम आवेदन प्राप्त होने पर सभी तीर्थ यात्रियों का चयन उल्लेखित तीर्थ यात्रा हेतु किया गया है उनके साथ 12 अनुरक्षक भी साथ जाएंगे।  मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के सभी चयनित 118 तीर्थ यात्रियों की सूची विदिशा तहसील कार्यालय के साथ-साथ जिले की अन्य सभी तहसील कार्यालयों में चस्पा कराई गई है।

राज्य खाद्य आयोग के सदस्य सचिव का भ्रमण कार्यक्रम

राज्य खाद्य आयोग के सदस्य सचिव श्री आरबी प्रजापति 14 एवं 15 फरवरी का विदिशा भ्रमण कार्यक्रम प्राप्त हुआ है कि जानकारी देते हुए अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा ने बताया कि आयोग के सदस्य सचिव श्री प्रजापति 14 फरवरी की प्रातः 11 बजे से दो बजे तक जनप्रतिनिधियों से चर्चा एवं सुझाव प्राप्त करने हेतु कलेक्टेªट कार्यालय के सभाकक्ष में बैठक आहूत की है।  द्वितीय सत्र अपरान्ह तीन बजे से साढे पांच बजे तक बैठक में योजनाओं की समीक्षा श्री प्रजापति द्वारा की जाएगी तथा 15 फरवरी को सदस्य सचिव द्वारा योजनाआंे से संबंधित संस्थाओं का निरीक्षण  विदिशा एवं ग्यारसपुर विकासखण्ड मंे किया जाएगा। एनआरसी केन्द्र, आंगनबाडी केन्द्र, उचित मूल्य दुकान, मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम का भी निरीक्षण उनके द्वारा किया जाएगा और हितग्राहियों से चर्चा करेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...