विश्व की तीसरी आर्थिक शक्ति बनने के लिये करेंगे काम : मोदी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 28 मई 2019

विश्व की तीसरी आर्थिक शक्ति बनने के लिये करेंगे काम : मोदी

will-work-to-become-world-s-third-economic-power-modi
वाराणसी, 27 मई, लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को मिले प्रचंड बहुमत को ‘वोट बैंक की राजनीति’ के विनाश का परिचायक करार देते हुये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा कि उनकी सरकार भारत को दुनिया की तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था बनाने के लिए काम करेगी। श्री मोदी ने अपने सम्मान में आयोजित अभिनंदन समारोह को संबोधित करते हुए कहा “ हमने दुनियां की 11वीं अर्थव्यवस्था के तौर पर यात्रा शुरू की और छठे स्थान पर पहुंच गए। पांचवें स्थान पर पहुंचने वाले हैं जबकि लक्ष्य तीसरी बड़ी आर्थिक शक्ति बनने का है जिसके लिये हम काम कर रहे हैं। ” उत्तर प्रदेश में वर्ष 2014 एवं 2019 के लोक सभा एवं 2017 के विधान सभा चुनावों में मिली भाजपा की जीत को ‘हैट्रिक’ बताते हुए उन्होने कहा कि लोकसभा के दो और विधान सभा के एक चुनाव परिणामों ने राजनीतिक पंडितों के गुणा-भाग को गलत साबित किया है। जनता ने भाजपा की ‘सबका साथ, सबका विकास’ की राजनीति को समझते हुए वोट के माध्यम से यह साबित कर दिया के ‘सामाजिक केमिस्ट्री’ गुणा-भाग से ऊपर होती हैं। उत्तर प्रदेश और देश के सामान्य आदमी ने राजनीतिक पंडितों के गुणा-भाग को उलटपुलट कर यह साबित किया अनपढ़ व्यक्ति भी राजनीतिक पंडितों से कहीं अधिक सामाजिक समझ रखता है। पंडित दीन दयाल हस्तकला संकुल में आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए श्री मोदी ने भाजपा कार्यकर्ताओं को हाथ जोड़कर धन्यवाद दिया और कहा कि देश ने भले ही उन्हें प्रधानमंत्री चुना है, लेकिन काशीवासयों के लिए वह एक कार्यकर्ता मात्र हैं और इसी भाव के साथ वह आगे भी काम करते रहेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...