पूर्णिया : एक सप्ताह के अंदर सभी विक्रेता संघ को सर्वेक्षित वेंडरों की सूची समर्पित करने का दिया था आदेश - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 10 जून 2019

पूर्णिया : एक सप्ताह के अंदर सभी विक्रेता संघ को सर्वेक्षित वेंडरों की सूची समर्पित करने का दिया था आदेश

corporation-order-purnia
कुमार गौरव । पूर्णिया : नगर निगम के सभागार में 30 अप्रैल को मेयर सविता देवी की अध्यक्षता व नगर आयुक्त विजय कुमार सिंह की मौजूदगी में फुटपाथी विक्रेता संघ के सदस्यों की बैठक हुई थी। जिसमें अपर नगर प्रबंधक, नगर मिशन प्रबंधक, पूर्णिया शहर स्तरीय फुटपाथ विक्रेता संघ के अध्यक्ष राजकुमार गुप्ता, फुटपाथ विक्रेता संघ के अधिकारी एवं सदस्यगण भी शामिल हुए थे और विक्रेता संघ के सदस्यों ने अपनी समस्याएं मेयर व नगर आयुक्त के समक्ष रखी थी। मेयर ने सभी वेडर्स को यह आश्वासन दिया था कि पूर्व से प्रस्तावित वेंडिंग जोन को जल्द ही शहर में उनकी सुविधा के लिए डेवलप किया जाएगा। जिसके बाद उन्हें विस्थापित होने की समस्या से जूझना नहीं पड़ेगा और अतिक्रमण हटाओ अभियान का खामियाजा भी नहीं भुगतना पड़ेगा। इसके अलावे नगर आयुक्त द्वारा गत बैठक में सभी विक्रेता संघ को एक सप्ताह के अंदर वेंडर की सर्वेक्षित सूची निगम को समर्पित करने का भी दिशा निर्देश दिया गया। लेकिन अब तक शहर के विभिन्न विक्रेता संघ के सदस्यों के द्वारा सूची नहीं दी गई है। जिससे वेंडिंग जोन का मामला अधर में लटकता नजर आ रहा है। 

...इन मांगों पर हुई थी चर्चा : 
- टीवीसी की बैठक दो सालों से नहीं हो रही है, पूर्व टीवीसी की बैठक के द्वारा सभी वेंडिंग जाेन पारित किया जा चुका है 
- डीपीआर पत्र के माध्यम से विभाग द्वारा बार बार मांगा जा रहा है, नहीं हो सका उपलब्ध 
- सभी यूएलबी में पहचान पत्र वितरण किया जा रहा है पर पूर्णिया नगर निगम में नहीं हो रहा है
- अभी यह पहचान पत्र (नगर निगम) द्वारा प्रिंट कर वितरण कराया जाना है
- अमीन के द्वारा कार्य में लापरवाही बरती जा रही है जबकि पूर्व नगर आयुक्त द्वारा जमीन को पूर्व में पत्र के माध्यम से आदेश निर्गत है
- स्ट्रीट वेंडर एक्ट 2014  में साफतौर पर निर्देर्शित है कि टीवीसी ही हटा सकती है और बसा सकती है यदि किसी और के द्वारा तोड़ा जाता है तो संविधान के खिलाफ है और उच्च न्यायालय के निर्देश की अवहेलना है 
- नगर आयुक्त के द्वारा बैठक के दौरान वेंडरों को व्यवस्थित कराने के लिए लाइन बाजार स्थित मार्केट कमेटी में पाइप के द्वारा घेराबंदी कर उसके अंदर (सर्वेक्षित) वेंडरों को व्यवस्थित करवाया जाएगा 
- बैठक में यह भी कहा गया कि (एनएचएआई) को एनओसी के लिए पत्र भेजा गया है, वहां से स्वीकृति मिलने पर जल्द ही वेंडिंग जोन निर्माण कार्य प्रारंभ कर दिया जाएगा 
- हर कमेटी से नगर आयुक्त के द्वारा (सर्वेक्षित) वेंडरों की सूची एक सप्ताह के अंदर मांगी गई है जिसमें वेंडरों को तत्काल व्यवस्थित कराया जाएगा। आने वाले समय में जाम से मुक्ति संभव हो सकेगी।

...शहर को सुंदर बनाने की जिम्मेवारी वेंडर्स की भी :  
शहर को व्यवस्थित और सुंदर बनाने में वेंडर्स का भी सहयोग अपेक्षित है। 30 अप्रैल को हुई बैठक में सभी वेंडर्स से सर्वेक्षित सूची उपलब्ध कराने को कहा गया था लेकिन अब तक यह सूची निगम को उपलब्ध नहीं हो सकी है। वेंडर्स के कारण भी शहर में जाम लगने व गंदगी फैलने की समस्या बनी रहती है। इसलिए जरूरी है अनुशासित होकर वे अपना रोजगार करें। एनएचएआई का एनओसी अब तक प्राप्त नहीं हुआ है। एक भी वेंडिंग जोन के लिए यदि एनओसी मिल जाता है तो बेशक शहर के सभी हिस्सों में इसे डेवलप किया जाएगा।  : विजय कुमार सिंह, नगर आयुक्त, नगर निगम पूर्णिया। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...