झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 09 जून - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 9 जून 2019

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 09 जून

सासंद डामोर ने गा्रमीणो की समस्यायें गंभीरता सुनी, समस्याओं का शीघ्र ही निराकरण किया जावेगा ।

jhabua news
झाबुआ । भारतीय जनता पार्टी के नव निर्वाचित सांसद गुमानसिंह डामोर ने रविवार को स्थानीय सर्कीट हाउस में थांदला, मेघनगर, कल्याणपुरा, रानापुर, झाबुआ क्षे त्र से आये गा्रमीणों ने अपने अपने क्षे त्र मे ं व्याप्त समस्याओं से अवगत कराते हुए इन समस्याओं के निराकरण के लिये अनुरोध किया । सांसद डामोर ने प्रत्येक गा्रमीण की बातों को गंभीरता से सुना - समस्याओं में मुख्य रूप से हेंड पंप खनन, सडक निर्माण, पेय जल की व्यवस्था के साथ ही बीज, खाद आदि को लेकर सांसद को आवेदन देकर इनका त्वरित निराकरण करने का आग्रह किया । सांस गुमानसिंह डामोर ने प्रत्येक गा्रमीण से व्यक्तिगत चर्चा करके उन्हे आश्वस्त किया कि  सभी समस्याओं के निराकरण के लिये वे तत्काल कार्यवाही करे उनकी मांगों को पूरा करने में अपनी प्रखर भूमिका का निर्वाह करेगें । सांसद गुमानसिंह के साथ जिला भाजपा अध्यक्ष ओम प्रकाश शर्मा के अलाव जिला स्तरीय भाजपा पदाधिकारीगण एवं कार्यकर्तागण भी उपस्थित थे ।

झाबुआ के मुख्य बाजारों का जिला एवं पुलिस प्रषासन के अधिकारियों के साथ सकल व्यापारी संघ अध्यक्ष ने किया भ्रमण, शहर की यातायात व्यवस्था को सुधारने एवं अतिक्रमण हटाने की कवायद

jhabua news
झाबुआ। शहर के मुख्य बाजारों की लचर यातायात व्यवस्था एवं पसरा स्थायी के साथ अस्थायी अतिक्रमण पैदल चलने वाले राहगीरों और दो पहिया वाहन चालकों के लिए पिछले लंबे समय से भारी परेशानियों का सबब बना हुआ है। वहीं यह अव्यवस्थाएं लगातार मीडिया की सुर्खियां भी बनी रहती है। जिस पर लंबे समय से जिला प्रषासन एवं पुलिस प्रषासन का ध्यान नहीं दिए जाने के समाचार और फोटो मीडिया में प्रकाषित होते आए है। जिसके बाद बीती 7 जून, शुक्रवार रात्रि जिला प्रषासन एवं पुलिस प्रषासन के साथ सकल व्यापारी संघ अध्यक्ष ने मिलकर मुख्य बाजारों का भ्रमण किया और यहां की व्यवस्थाएं देखी। जिला प्रषासन की ओर से एसडीएम झाबुआ केसी परते, नगरपालिका सीएमओ एलएस डोडिया, पुलिस प्रषासन की ओर से अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजयसिंह डावर के साथ सकल व्यापारी संघ अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर ने शहर के मध्य राजवाड़ा से लेकर नेहरू मार्ग, आजाद चैक, बाबेल चैराहा, थांदला गेट, मेन बाजार, फव्वारा चैक, बस स्टेंड, रूनवाल बाजार, राधाकृष्ण मार्ग आदि मार्गों में घूमकर यहां की व्यवस्थाएं देखी  इस दौरान मुख्य बाजारों में स्थायी दुकानदारों, जिन्होंने नालियों एवं फुटपाथ पर अतिक्रमण कर सामान रख रखा था, उन्हें सामान हटाने की हिदायत देने के साथ अस्थायी अतिक्रमण के रूप में चाय-नाष्ते की ठेलगाड़ी व्यवसाईयांे से कहा गया कि वे उपयुक्त स्थान पर जहां लोगों को परेषानी ना हो, वहां अपनी ठेलागाड़ियां लगाएं। 

सब्जी वालों के लिए चाचा नेहरू बालोद्यान और फल-फ्रूटस के लिए हाकर्स जोन
इस दौरान प्रषासनिक अधिकारियों ने निर्णय लिया कि शहर के मेन बाजार, थांदला गेट, कमल टाॅकिज गली, रूनवाल बाजार, फव्वारा चैक पर लगने वाली सब्जी की सभी दुकानों को चाचा नेहरू बालोद्यान में लगवाया जाएगा। साथ ही फल-फ्रूट्स ठेलागाड़ियां बस स्टेंड के पीछे हाकर्स जोन में लगेगी। इसके अतिरिक्त रूनवाल बााजर, राधाकृष्ण मार्ग, जो पूर्व से ही एकांकी मार्ग है, यहां इस नियम का वाहन चालकों से कड़ाई से पालन करवाया जाएगा।

पहले मुनादी फिर कार्रवाई
निरीक्षण में उपस्थित सकल व्यापारी संघ अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर ने कहा कि शहर की यातायात व्यवस्था को सुधारने एवं बेतरतीब अतिक्रमण को हटाने की मुहीम में व्यापारी संघ जिला प्रषासन एवं पुलिस प्रषासन को पूरा सहयोग प्रदान करेगा। वहीं इस संबंध में नगरपालिका सीएमओ एलएस डोडिया से चर्चा करने पर उन्होंने बताया कि शहर के मुख्य बाजारों की व्यवस्थाएं देखी गई है। दुकानदारों को अपना अतिक्रमण हटाने एवं लिए गए निर्णय पर अमल हेतु आगामी दिनों में मुनादी (एलाउंस) करवाया जाएगा, फिर भी यदि कोई सार्थक परिणाम सामने नहीं आते है तो सख्ती से कार्रवाई भी की जाएगी।

युवा ज्योतिषाचार्य पं. द्विजेन्द्र व्यास को ज्योतिष षिरोमणी की उपाधि प्रदान की गई, गोल्डन अवार्ड से भी नवाजा गया
अभा ज्योतिष एवं वास्तु परिषद् छत्तीसगढ़ द्वारा रायपुर में आयोजित दो दिवसीय समारोह में हुआ गरिमामय सम्मान
jhabua news
झाबुआ। अखिल भारतीय ज्योतिष एवं वास्तु परिषद् द्वारा छत्तीसगढ़ राज्य की राजधानी रायपुर में देषभर के ज्योतिषाचार्यों एवं विद्वानों के लिए ़6 एवं 7 जून को दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया गया। जिसमें झाबुआ जिले से ज्योतिष जन कल्याण समिति के राष्ट्रीय संगठन मंत्री एवं युवा ज्योतिषाचार्य पं. द्विजेन्द्र व्यास ने षिरकत की और झाबुआ जिले का नाम रोषन करते हुए उन्हें समापन अवसर पर छत्तीसढ़ सरकार के मंत्री एवं छत्तीसगढ़ विधानसभा अध्यक्ष सहित ख्याति प्राप्त ज्योतिषों द्वारा ‘ज्योतिष षिरोमणी’ की उपाधि प्रदान करने के साथ इस दौरान गोल्डन अवार्ड से भी नवाजा गया। राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन आषीर्वाद भवन बेरन बाजार रायपुर में हुआ। जिसमें प्रथम दिन उद्घाटन सत्र में मुख्य अतिथि के रूप में छत्तीसगढ़ शासन के षिक्षा मंत्री डाॅ. प्रेमसायसिंह, अध्यक्षता नगरपालिका निगम रायपुर प्रमोद दुबे, विषिष्ट अतिथि के रूप में प्रदेष कांग्रेस कमेटी के प्रदेष सचिव गोपाल थवाईत, कान्य कुब्ज ब्राम्हण अरूण शुक्ला, ज्योतिष एवं वास्तु परिषद् के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्याम मनोहर शर्मा, श्री लक्ष्मीनारायण मंदिर, रामकुंड रायपुर मंहत वेद प्रकाषाचार्य द्वारा सम्मिलित होकर शुभारंभ किया गया। प्रथम दिन देष के करीब 18 राज्यों से आए ज्योतिष, विद्वानों का व्याख्यान एवं समस्या समाधान बाद दूसरे दिन समापन समारोह में मुख्य अतिथि छत्तीसगढ़ के विधानसभा अध्यक्ष डाॅ.चरणदास महंत, अध्यक्षता रायपुर ग्रामीण विधायक सत्यनारायण शर्मा, विषिष्ट अतिथि प्रदेष कांग्रेस कमेटी के प्रदेष सचिव गोपाल थवाईत, श्री लक्ष्मीनारायण मंदिर, रामकुंड रायपुर के महंत श्री वेद प्रकाषचार्य के साथ तांत्रिकाचार्य, नई दिल्ली स्वामी भवानी महाराज ने षिरकत की। दूसरे दिन पहले व्याख्यान हुआ।

ज्योतिष षिरोमणि की उपाधि के साथ गोल्डन अवार्ड
बाद आयोजित सम्मान समारोह के क्रम में झाबुआ जिले से युवा ज्योतिषाचार्य पं. द्विजेन्द्र व्यास द्वारा ज्योतिष एवं वास्तु के क्षेत्र में किए गए शोध एवं उत्कृष्ट कार्यों के लिए उन्हें ‘‘ज्योतिष षिरोमणी’’ की मानद उपाधि से उक्त अतिथियों द्वारा विभूषित किया गया। जिसमें उन्हें उक्त उपाधि का प्रषस्ति-पत्र एवं मोमेंटों प्रदान किया। बाद उन्हें एक ओर सम्मान के रूप में ज्योतिष विज्ञान की विधाओं से समाज सेवा में संलग्न होने से गोल्डन अवार्ड से भी नवाया गया। इस अवसर पर अखिल भारतीय ज्योतिष वास्तु एसोसिएषन के राष्ट्रीय अध्यक्ष पाटन वाले गुरूजी द्वारा उन्हें संस्था मंे संयोजक पद पर भी नियुक्ति की गई। रायपुरिया मंे यह संपूर्ण आयोजन अभा ज्योतिष एवं वास्तु परिषद् छत्तीसगढ़ के प्रांत अध्यक्ष अनिल तिवारी के मार्गदर्षन एवं संयोजन में संपन्न हुआ।

झाबुआ जिले की विभिन्न संस्थाओं ने शुभकामनाएं प्रेषित की
पं. द्विजेन्द्र व्यास को उक्त दो बड़े सम्मान राष्ट्रीय स्तर के ज्योतिष सम्मेलन में भव्य एवं गरिमामय रूप से प्राप्त होने पर जिलेभर के ज्योतिष एवं विद्वानों द्वारा शुभकामनाएं प्रेषित करने के साथ आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट झाबुआ की आजीवन अध्यक्ष श्रीमती वंदना व्यास, संस्थापक अध्यक्ष राजेष नागर, मेनेजिंग ट्रस्टी यषवंत भंडारी, संस्थापक सचिव नीरजसिंह राठौर, सेवा प्रकल्प परामर्षदाता सुधीरसिंह कुषवाह, अध्यक्ष रविराजसिंह राठौर, सचिव सुनिल चैहान, वरिष्ठ सदस्य डाॅ. पीके पाठक, अषोक शर्मा, इंदरसेन संघवी, राजकुमार पाटीदार, नवटर सोनी, मीडिया प्रभारी दौलत गोलानी, अतिषय देषलहरा, महिलाओं में श्रीमती सुषीला भट्ट, सीमा चैहान, पद्मावती त्रिवेदी, चंचला सोनी, पाविनी व्यास, सकल व्यापारी संघ अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर, सचिव पंकज जैन मोगरा, उपाध्यक्ष कमलेष पटेल, श्री मनकामेष्वर महादेव मदिर समिति, श्री उमापति महादेव मंदिर समिति, पं जैमिनी शुक्ला आदि ने भी भावभरी बधाई प्रेषित की है।

जब हम भगवान के रास्ते पर चलते हैं तो वह स्वंय संभाल करते हैं- भागवत कथा में कहा पण्डित सतीष शर्मा षास्त्री ने
नौका विहार मनोरथ के दर्षन के लिये उमडी श्रद्धालुओं की भीड
अस्पताल मे भरती मरीजो को पूज्य के हाथो वितरित किये गये बिस्किट,फल एवं दुध पाटोत्सव के दौरान प्रतिदिन हो रहे मनोरथ एवं आध्यात्मिक आयोजन
jhabua news
झाबुआ । श्री गोवर्धननाथजी की हवेली के दिव्य 151 वें पाटोत्सव में प्रतिदिन आध्यात्मिक,धार्मिक आयोंजनों ने नगर को पूरा धर्म मय कर दिया है। 7 जून को दोपहर को पण्डित सतीश जी शर्मा शास्त्री के मुखारबिन्द से भागवत कथा के दूसरे दिन धु्रव चरित्र का वर्णन किया गया । हजारों की संख्या में उपस्थित श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए व्यास पीठ पर बिराजित पण्डित सतीश शर्मा शास्त्री ने कहा कि किसी भी स्थान पर बिना निमंत्रण जाने से पहले इस बात का ध्यान जरूर रखना चाहिए कि जहां आप जा रहे है वहां आपका, अपने इष्ट या अपने गुरु का अपमान हो। यदि ऐसा होने की आशंका हो तो उस स्थान पर जाना नहीं चाहिए। चाहे वह स्थान अपने जन्म दाता पिता का ही घर क्यों हो। उन्होने कथा में उत्तानपाद के वंश में ध्रुव चरित्र की कथा को सुनाते हुए समझाया कि धु्र्रव की सौतेली मां सुरुचि के द्वारा अपमानित होने पर भी उसकी मां सुनीति ने धैर्य नहीं खोया जिससे एक बहुत बड़ा संकट टल गया। परिवार को बचाए रखने के लिए धैर्य संयम की नितांत आवश्यकता रहती है। भक्त ध्रुव द्वारा तपस्या कर श्रीहरि को प्रसन्न करने की कथा को सुनाते हुए बताया कि भक्ति के लिए कोई उम्र बाधा नहीं है। भक्ति को बचपन में ही करने की प्रेरणा देनी चाहिए क्योंकि बचपन कच्चे मिट्टी की तरह होता है उसे जैसा चाहे वैसा पात्र बनाया जा सकता है। कथा के दौरान उन्होंने बताया कि पाप के बाद कोई व्यक्ति नरकगामी हो, इसके लिए श्रीमद् भागवत में श्रेष्ठ उपाय प्रायश्चित बताया है। धु्रव के चरित्र के बारे में उन्होने कहा कि ये है भगवान की भक्ति का प्रभाव- धु्रव जी को इस लोक में भी सफलता मिली और परलोक में भी ऐसा पद मिला जो आज तक किसी को नहीं मिला। धु्र्रव ने वन में निराहार रहकर भजन किया। भजन में रस आता है तो वो शक्ति मिलती है जो भोजन से भी नहीं मिलती। जब हम भगवान के रास्ते पर चलते हैं तो वह स्वंय संभाल करते हैं। धु्रव जी को भी नारद जी मिल गये और उन्होंने बिना मांगे दीक्षा दी। सच्ची शांति और सुख केवल भगवद् भजन में है। श्रीमद भागवत कथा के दौरान स्वयं गोस्वामी दिव्येशकुमारजी उपस्थित रहे ।कथा के अंत में महामंगल आरती स्वयं गोस्वामी दिव्येशकुमार के अलावा उपस्थित श्रद्धालुओं में माताओं तथा नागरिकजनों ने की । प्रसादी का वितरण किया ।

नौका विहार मनोरथ के लिये उमडी भक्तों की भीड
शुक्रवार रात्री में श्री गोवर्धननाथ जी की हवेली बृजधाम जैसी नजर आई । पूरा मंदिर श्रद्धाल्रुजनों से खचाखच भरा था । नगर मे पहली बार श्री गौवर्धननाथजी, भगवान श्रीकृष्ण एवं राधै मैया के नौका विहार मनोरथ के दर्शन एवं एक झलक पाने के लिये लम्बी कतारे लगी तथा बारी बारी से प्रत्येक श्रद्धालु ने भगवान के नौका विहार के दर्शन का लाभ उठा कर अपने आप को कृतार्थ महसूस किया । आकर्षक साज सज्जा के साथ बनाये गये यमुना जलाशय में नौका में बिराजित भगवान को गोस्वामी दिव्येशकुमारजी एवं लक्ष्मी बहूजी मसा. दिव्य श्री बहूजी,  एवं प्रियव्रजराजजी द्वारा जलाशय में नौका को चलाया जारहा हे । पूरा मंदिर भगवान गोवर्धननाथजी , जमुना महारानी, के जय जय कारो से गुंज उठा वही’8 बैठे घनश्याम युंदर खेवत है नाव’’ के भजनों के साथ नौका विहार मनोरथ नगर के इतिहास में पहली बार आयोजित हुआ । हर कोई दर्शन लाभ लेकर आन्न्दित मह सूस कर रहा था । दर्शन करने के बाद श्रद्धालुजनों को प्रसादी का वितरण किया गया । शनिवार रात्री में पनघट मनोथ का आयोजन हुआ।

मरीजों  को फल,बिस्कीट एवं दुध थैली का किया वितरण-
शनिवार को प्रातः 9-30 बजे पूज्य दिव्येशकुमार जी की उपस्थिति में जिला चिकित्सालय में विभिन्न वार्डो में भरती 150 से अधिक मरीजों को पूज्य श्री के हाथों फल, बिस्कीट एवं दुध की थौलियों का सम्मानपुवर्क वितरण किया ।  इस अवसर पर सिहविल सर्जन डा. बारएस प्रभाकर, महिला चिकित्सक डा. सविता यादव, शिशु रोग विशेषज्ञ डा. आईएस चैहान, गोपाल हरसौला, लक्ष्मीनारायण शाह, हरिश शाह प्रदीप शाह, अजय रामावत, राधेश्याम पटेल, जितेन्द्र शाह, लालसिंह चैहान, मनीष कोठारी, राजेन्द्र सोनी, एडवोकेट राजेन्द्र अग्निहौत्री, सहित बडी संख्या में वैष्णवजनों ने भरती मरीजों को बिस्किट, फल एवं दुध की थैलियों का वितरण किया । 9 जून को मंदिर में  पूज्य दिव्येशकुमारजी द्वारा तुलसी पौधों का वितरण किया जावेगा ।तथा प्रातः राजभोग समय में नन्द महोत्सव एवं शयन समय में कमल तलाई मनोरथ का आकर्षक धार्मिक आयोजन होगा ।

तीन दिवसीय भव्य प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव का होगा आयोजन, मंदिर में श्री सच्चियायमाता ओसियाजी एवं श्री सोनाणा खेतलाजी भैरव महाराज की प्रतिमा होगी विराजमान

jhabua news
झाबुआ। जिले के सेठो की नगरी बामनिया में 12 से 14 जून तक 3 दिवसीय भव्य प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव का आयोजन होगा। जिसमें मप्र में प्रथम मंदिर में ओसवाल वंश की कुलदेवी राजराजेश्वरी श्री सच्चियायमाताजी ओसियाजी व 36 कोम के कुलदेवता भैरूजी श्री सोनाणा खेतलाजी बामनिया की भव्य प्रतिष्ठा 14 जून को होगी। जानकारी देते हुए खेतलाजी महाराज के परम भक्त विवेक लुणावत ने बताया कि,आयोजन की शुरुआत 12 जून को को ज्योत एवं ध्वजा आगमन से होगी। दोपहर में भोजन प्रसादी एवं शाम को सोनू सिसोदिया, लहरुदास वैष्णव एंड पार्टी एवं सृष्टि बीकानेर (नृत्य कलाकार) द्वारा दी जाएगी। आयोजन के दूसरे दिन 13 जून को प्रातः 09 बजे भव्य विशाल कलश यात्रा (भीनमाल लेझिम पार्टी) हाथी, घोड़ा, ऊंट, बग्गी, बैंड बाजो के साथ नगर में निकाली जाएगी। दोपहर में भोजन प्रसादी एवं शाम 8 बजे सरिता खारवाल एंड पार्टी पंचपदरा, रमेश माली (पाली), दिलीप गवैया (जोधपुर), नृत्य कलाकार धर्मेंद्र, हेमा जोड़ी नंबर वन राजस्थान द्वारा रंगारंग प्रस्तुतियां दी जाएगी। आयोजन के तीसरे दिन 14 जून शुक्रवार को प्रातः शुभ बेला में देवों का प्रसाद, प्रवेश तथा शिखर,ध्वज, कलश आदि देव प्रतिष्ठा स्थापना, प्रसाद प्रबोधन, उत्तर पूजन, दिगपाल पूजन, बलिदान, पूर्णाहुति, महाआरती, महाप्रसादी, ब्राह्मण पूजन, घट चालान होगा। दोपहर में विशाल भंडारे (फले चुंदडी) प्रसादी का आयोजन होगा।

पहले दर्षन के लिए जाना पड़ता था राजस्थान, अब बामनिया में ही होंगे दर्षन
श्री लुणावत ने आगे बताया कि कार्यक्रम आयोजन श्री सांचला सोनाणा तीर्थ धाम, पेटलावद रोड़ बामनियापर भव्य रूप से संपन्न होगा। आयोजन के पूर्व आयोजन स्थल पर समस्त कार्यकताओं द्वारा भव्य तैयारियां की जा रही है। साथ ही आमंत्रक समिति श्री सोनाणा खेतलाजी भैरूजी ट्रस्ट 36 कौम सेवार्थ बामनिया ने समस्त माता ,भैरव भक्तो को सादर आमंत्रित किया है। अपील की है कि सभी अधिक से आधिक तादात में पधार कर आयोजन को सफल बनाएं और अपनी प्रभु भक्ति का परिचय दे। खेतलाजी के परम भक्तो ने बताया कि उक्त आयोजन में राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र, निमाड़ सहित कई स्थानों ने बड़ी संख्या में भक्तगण पधार कर हिस्सा लेंगे। ज्ञातव्य है कि पहले माता भैरव भक्तो को अपने कुल देवी, कुल देवता के दर्शन हैतु राजस्थान जाना पड़ता था अब वही स्थान के नाम से बामनिया में ही यह तीर्थ मशहूर होगा। भक्तो को दर्शन हेतु भी बड़ी आसानी होगी। 

पोल्यूषन बोर्ड इंदौर की टीम ने नगरपालिका झाबुआ की टीम के साथ मिलकर पाॅलिथीन बेन को लेकर अभियान चलाया, व्यापारियों को समझाईष देने के साथ जप्ती भी की

jhabua newsझाबुआ। मप्र शासन सामान्य प्रषासन विभाग भोपाल के निर्देष के परिपालन में पोल्यूषन (प्रदूषण) बोर्ड इंदौर की टीम ने नगरपालिका झाबुआ की टीम के साथ मिलकर गत 7 जून, शुक्रवार को दोपहर शहर के बाजारों मे पाॅलिथीन बेन को लेकर अभियान संचालित किया। जिसमें व्यापारियों को इसके हानिकारक प्रभाव की जानकारी देते हुए इसका उपयोग नहीं करने ही हिदायत दी गई। साथ ही अवगत करवाया कि यदि फिर भी प्लास्टिक का उपयोग करते पाया गया, तो संबंधित के विरूद्ध कार्रवाई भी की जाएगी। अभियान में पोल्यूषन बोर्ड इंदौर की टीम में वैज्ञानिक अतुल कोटिया, जूनियर वैज्ञानिक संतोषसिंह चैहान, केमिस्ट राजेन्द्र दोहरे के साथ नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती मन्नूबेन डोडियार एवं सीएमओ एलएस डोडिया के निर्देष पर सेनेट्री प्रभारी कमलेष जायसवाल, सहायक स्वच्छता निरीक्षक टोनी मलिया एवं उनकी टीम शामिल थी। अभियान नगरपालिका परिसर से आरंभ किया गया। जिसमें बस स्टेंड के पीछे स्थायी एवं अस्थायी दुकानों पर टीम द्वारा पहुंचकर इंदौर से आए वैज्ञानिकों ने व्यापारियों को बताया कि प्लास्टिक का उपयोग करने से वेस्टेज प्लास्टिक को खाने से प्रतिवर्ष बड़ी संख्या में पशु काल के गाल में समां जाते है। यह वेस्ट पालिथीन जलाने से पूरी तरह नष्ट भी नहीं होती है एवं यह अत्यधिक कचरा फैलाकर इससे पर्यावरण को भी काफी नुकसान पहुंचता है, इसलिए समझाईष दी गई कि पाॅलिथीन का उपयोग ना करे एवं प्रदूषण को रोकने में सहयोग प्रदान करे।

5 किलोग्राम पाॅलिथीन जप्त भी की
टीम ने यह अभियान नगरपालिका परिसर, बस स्टेंड, मेन बाजार एवं थांदला गेट पर संचालित करते हुए होटल, किराना व्यापारी, फल-फ्रूटस ठेलागाड़ी, श्रृंागर सामग्री, सब्जी व्यवसायी, रेस्टोरेंट जहां पाॅलिथीन का उपयोग अधिक होता है, इन दुकानों पर पहुंचकर इनके संचालकों को समझाईष देने के साथ इस दौरान 5 किलोग्राम पाॅलिथीन जप्त भी की।

समझाईष नहीं मानी तो की जाएगी कार्रवाई
प्रदूषण बोर्ड इंदौर से आए दल और नगरपालिका टीम ने इस दौरान व्यापारियों को यह भी साफ तौर पर हिदायत स्वरूप कहा गया कि यदि समझाईष के बाद भी व्यापारियो द्वारा पालिथीन के उपयोग पर बेन नहीं लगाया तो कार्रवाई करने से भी परहेज नहीं किया जाएगा। इस संबंध में नगरपालिका के सेनेट्री प्रभारी कमलेष जायसवाल ने बताया कि शुक्रवार को अभियान चलाकर व्यापारियों को मुख्य रूप से समझाईष देने का कार्य किया गया है। आगामी दिनों में पालिथीन बेन संबध्ंाी एलाउंस भी करवाया जाएगा, फिर भी यदि बाजारों में इसका उपयोग पाया जाता है, तो बड़ी मात्रा मंे पाॅलिथीन जप्ती एवं चालान बनाने संबंधी कार्रवाई भी की जाएगी।

निःषुल्क मोतियाबिंद निवारण एवं लेंस प्रत्यारोपण षिविर 9 जून से

झाबुआ। चोइथराम नेत्रालय धार रोड़ इंदौर द्वारा आदिवासी चेतना षिक्षण सेवा समिति एवं जिला अंधत्व निवारण समिति झाबुआ के सहयोग से 9 जून से निःषुल्क मोतियाबिंद निवारण एवं लेंस प्रत्यारोपण षिविर का आयोजन किया जा रहा है। यह षिविर जिले में जगह-जगह संचालित होगे। षिविर में सभी नेत्र रोगियों का निःषुल्क परीक्षण करने के साथ चोईथराम नेत्रालय में ले जाकर अत्याधुनिक मषीनों से अनुभवी चिकित्सकों द्वारा आॅपरेषन की सुविधा भी प्राप्त होगी। यह जानकारी देते हुए आदिवासी चेतना षिक्षण सेवा समिति के डायरेक्टर बेनेडिक्ट डामोर ने बताया कि षिविर 9 जून से प्रारंभ होकर 30 जून तक संचालित होंगे। 9 जून को आंगनवाड़ी केंद्र रायपुरिया, 11 जून को शासकीय चिकित्सालय कल्याणपुरा, शासकीय चिकित्सालय जामली एवं शासकीय चिकित्सालय बरवेट, 14 जून को शासकीय चिकित्सालय रामा, 17 जून को ग्राम पंचायत रंभापुर, 20 जून को उप स्वास्थ्य केंद्र पिथनुपर, 22 जून को शासकीय चिकित्सालय पारा, 22 जून को आंगनवाड़ी कंद्र पिटोल, 27 जून को शासकीय चिकित्सालय थांदला एवं शासकीय चिकित्सालय खवासा एवं 30 जून को आंगनवाड़ी केंद्र काकनवानी मंे षिविर का आयोजन होगा।

यह रहेगी सुविधा
षिविर में सभी नेत्र रोगियों का नेत्र परीक्षण निःषुल्क किया जाएगा। चयनित मरीजों का मोतियाबिंद निवारण एवं लेंस प्रत्यारोपण निःषुल्क होगा। सभी आॅपरेषन अत्याधुनिक मषीनों से अनुभवी चिकित्सकों द्वारा किए जाएंगे। मरीजों को आॅपरेषन के बाद की समस्त दवाईयां एवं चष्मा निःषुल्क दिया जाएगा। चयनित मरीजों का मोतियाबिंद आॅपरेषन चोइथराम नेत्रालय श्री राम तलावली इंदौर ले जाकर किया जाएगा। पूर्व ज्ञात मोतियाबिंद आॅपरेषन वाले मरीज आॅपरेषन की तैयार से आए। मरीज एवं एक साथी के भोजन की व्यवस्था आॅपरेषन स्थल पर निःषुल्क की गई है। मरीजों को आॅपरेषन स्थल तक ले जाने एवं षिविर स्थल तक वापस छोड़ने के लिए वाहन व्यवस्था निःषुल्क रहेगी। आधार कार्ड, समग्र आईडी, आयुष्मान भारत कार्ड या अन्य कोई कार्ड उपलब्ध हो तो, अनिवार्य रूप से साथ लेकर आना होगा। नेत्रदान कर महादान करने के इच्छुक व्यक्ति चोइथराम नेत्रालय से संपर्क कर सकते है।

प. पू. आचार्य देवेष श्री ऋषभचन्द्र सूरीष्वरजी म. सा. की जन्म जयन्ति गौषाला पर मनाई

jhabua news
झाबुआ। परम पूज्य गच्छाघिपति ज्योतिष सम्राट जीव प्रेमी श्रीमद विजय श्री ऋषभचन्द्र सूरीष्वरजी म. सा. का 62 वा जन्म दिन ऋषभ भक्तों ने सद-गुरू गौ शाला पर मनाया। इस अवसर पर विटामीन मुक्त मिक्स दाल चूर्ण के साथ केल्षियम की विषेष खुराक गायों को दी गई। अंपग और बुढ़ी गायो के लिये विषेष परामर्ष विषेषज्ञ डाॅक्टरों द्वारा लिया गया। भीषण गर्मी को देखते हुऐ भक्तों द्वारा जम्बो कूलर लगाने का निर्णय लिया जो की अति शीघ्र लगाये जायेगे। चन्दकान्ता नगीनलाल संजय काठी परिवार एवं श्रीमती श्यामुबाई रतनलाल मुकेष रूनवाल परिवार द्वारा 30 जुन तक मुक प्राणी के लिये स्पेषल आहार खिलाने का निर्णय लिया है। इस अवसर पर वरिष्ठ समाज सेवी राजेन्द्र लालन, विरेन्द्र सकलेचा, नरेन्द्र पगारिया, मुकेष रूनवाल, संजय कुमार कांठी, रौनक घोड़ावात, श्रीमती समता कांठी, श्रीमती निर्मला पगारिया, श्रीमती सरोज सकलेचा, श्रीमती संघवी एवं वरिष्ठ समाजसेवीयो उपस्थित थे। उपस्थित समाज सेवियों ने समय-समय पर गौषाला पर अपनी सेवाये देने की शपथ भी ली।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...