झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 22 जून - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 23 जून 2019

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 22 जून

देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पूरे विष्व में योग का बजाया डंका -ः भाजपा जिलाध्यक्ष ओमप्रकाष शर्मा, भाजपा नगर मंडल ने अंर्तराष्ट्रीय योग दिवस पर किया आयोजन

झाबुआ। देष के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज पूरे विष्व के योग का डंका बजाया है। आयुष मंत्रालय के निर्देष पर आज पूरे देष हीं नहीं अपितु पूरे विष्व में 21 जून को योग दिवस के रूप में मनाया गया। योग करने से हमारा तन स्वस्थ रहने के साथ मन में भी सकारात्मक विचारों का संचार होता है। योग 100 रोगों की एक दवा है। हमे केवल एक दिन योग ना करते हुए पूरे वर्ष करना चाहिए। उक्त प्रेरणादायी बात भाजपा जिलाध्यक्ष ओमप्रकाष शर्मा ने भाजपा नगर मंडल झाबुआ द्वारा भाजपा जिला कार्यालय के पीछे 21 जून अंर्तराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर आयोजित किए गए कार्यक्रम में कहीं। इस अवसर पर भाजपा नगर मंडल अध्यक्ष दीपेष बबलू सकलेचा ने भी योग की महत्वता को प्रतिपादित करते हुए कहा कि नियमित योग करने से हमारे शरीर का संतुलन बना रहता है और इसके कई प्रकार की बिमारियों से मुक्ति मिलने के साथ इसका आयुर्वेद में विषेष महत्व है। इस दौरान सभी पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं ने मिलकर योग के कठिनतन आसान एवं प्रणायाम कर अपने शरीर के अंदर स्फूर्ति महसूस की।

एक घंटे तक चला आयोजन
उपस्थित सभी पदाधिकारी एवं सदस्यों को योगाभ्यास भाजपा जिला उपाध्यक्ष अजय पोरवाल द्वारा करवाया गया। यह कार्यक्रम सुबह 7.30 से 8.30 बजे तक चला। इस अवसर पर भाजपा ने अन्य पदाधिकारियों में जिला महामंत्री प्रवीण सुराना, जिला उपाध्यक्ष ओपी राय, स्वच्छता अभियान के संयोजक कल्याणसिंह डामोर, किर्ती भावसार, मंडल महामंत्री हेमेन्द्र नाना राठौर, भूपेष सिंगोड़, अंकुर पाठक, महेष वार्मा, अमरू डामोर, पार्षद जुवानसिंह गुंडिया, शेखर, वर्धमान, चेतना चैहान, योगेन्द्र ब्रजवासी, कार्तिक हटिला, आईटी सेल संयोजक अर्पित कटाकानी आदि सहित अनेक कार्यकर्ता उपस्थित थे।

झाबुआ की बेटी गरिमा जायसवाल ने श्रीनगर (उत्तराखंड) यूनिवर्सिंटी में योग दिवस पर करवाया सभी को योग

झाबुआ। झाबुआ की बेटी सुषीमकुमार जायवाल की पुत्री गरिमा जायसवाल योग में पूरे देष में पहचान बनाने के साथ अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर भी ख्याति हासिल कर रहीं हे। 21 जून को अंर्तराष्ट्रीय योग दिवस पर गरिमा जायसवाल ने हेमवती नंदन बहुगुणा विष्वविद्यालय श्रीनगर (उत्तराखंड) में सभी को सामूहिक योगाभ्यास करवाया। 5वें अंर्तराष्ट्रीय योग दिवस पर योग विभाग की शोध छात्रा गरिमा जायसवाल ने यूनिवर्सिटी के समस्त प्रोफेसर एवं छात्र-छात्राओं को योगाभ्यास करवाया। गरिमा वर्तमान में योग में पीएचडी कर रहंी है। जिसमें वह महिलाओं को होने वाली स्वास्थ्य समस्याओं पर योग के प्रभाव का अध्ययन कर रहंीं है। कु. गरिमा अब तक झाबुआ सहित देष के कई शहरों में योग की प्रस्तुति देने के साथ अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर होने वाली योग काॅम्पिटिषन में भी हिस्सा लेकर सम्मानित एवं पुरस्कृत हो चुकी है।

अंर्तराष्ट्रीय योग दिवस पर विषेष: महिला पतंजलि योग समिति बारह मासी योग का करती है आयोजन, योग गुरू एवं प्रषिक्षक सुश्री रूक्मणी वर्मा अपनी महिला टीम के साथ योग से जिले के प्रत्येक नागरिक को जोड़ने का कर रहीं प्रयास

jhabua-news
झाबुआ। 21 जून अंर्तराष्ट्रीय योग दिवस पर हम झाबुआ की एक ऐसी महिला से परिचय करवाना चाहते है, जिनकी योग के क्षेत्र. में ख्याति ना केवल झाबुआ शहर अपितु संपूर्ण जिले में है। एक दषक से भी अधिक समय से वह योग के क्षेत्र में सक्रिय होकर बारह मासी लोगों को योग के तहत कठिन से कठिनतम प्रणायाम एवं आसन करवाकर योग की महत्वता बताने के साथ योग कर लोग स्वस्थ एवं तंदरूस्त रहने के साथ अनेकों प्रकार की बिमारियों का भी क्षय हो रहा है। इसी के चलते वह अब जिले में योग गुरू एवं प्रषिक्षक के रूप में पहचानी जाने लगी है। महिलाओं की एक वृहद समिति बनाकर अपनी टीम के साथ ना केवल शहर अपितु पूरे जिले के सभी लोगों को योग से जोड़ने का निरंतर प्रयास कर रहंी है। उक्त महिला का नाम है झाबुआ के सुभाष मार्ग निवासी सुश्री रूक्मणी वर्मा। सुश्री रूक्मवी वर्मा आज वह नाम है, जो जिले में योग के क्षेत्र में एक प्रसिद्ध नाम के रूप में लिया जाता हे। सुश्री रूक्मणी वर्मा ने बताया कि उनका सपना जिले के प्रत्येक व्यक्ति को योग से जोड़ना है, इसके पीछे उनका उद्देष्य है कि योग करने से हर व्यक्ति स्वस्थ एवं तंदरूस्त रहने के साथ इससे कई प्रकार के रोगों का क्षय होता है। मन शांत और निर्मल बनता है। सुश्री वर्मा ने बताया कि वे अपनी युवा अवस्था से ही योग के क्षेत्र में कदम रखकर अपनी सक्रियता का परिचय दे रहीं है। योग को उन्होंने अपनी नियमित दिनचर्या में शामिल किया है। इस कारण वे स्वयं स्वस्थ रहने के साथ आज अधिक उम्र होने के बाद भी वे पूर्णतः निरोगी है।

महिला पतंजलि योग समिति का किया गठन
सुश्री रूक्मणी वर्मा अखिल विष्व शांतिकुंज हरिद्वार से जुड़कर उन्होंने जिले में महिला पतजंलि योग समिति का गठन किया और वर्तमान में वे उक्त समिति की जिला प्रभारी होकर उन्होंने समिति का विस्तार पूरे जिले में कर इसमें महिलाओं की टीम बनाई है, जो प्रतिदिन सुबह एवं शाम षिविर का आयोजन कर षिवरार्थी, जिसमें बच्चे, बड़े, बुजुर्ग एवं युवाओं को योग करवाकर उन्हें इसके लाभ के बारे में भी जानकारी दी जाती है।

झाबुआ शहर में सभी महिलाएं सक्रिय
झाबुआ शहर में भी सुश्री वर्मा के साथ पूरी महिला ब्रिगेड सक्रिय होकर योग का झंडा गाड़ने में लगी है। महिला पंतजलि योग समिति की शहर के प्रत्येक वार्डों में महिला टीम गठित है। इन महिला टीम को प्रषिक्षण सुश्री वर्मा द्वारा प्रदान करने के बाद ये महिलाएं स्वयं अपने-अपने वार्डों में आने वाले षिवरार्थियों पूरे उत्साह और उमंग के साथ प्रतिदिन सुबह एवं शाम योग करवाती है।

योग केवल एक दिन ना कर बारह मासी करना चाहिए
योग गुरू सुश्री रूक्मणी वर्मा के अनुसार योग हमे केवल एक दिन अंर्तराष्ट्रीय योग दिवस पर ना करते हुए पूरे वर्ष ही योग के तहत प्रणायाम, आसन एवं कठिन से कठिन योग क्रियाएं करना चाहिए। हम आज एक ओर जहां गंभीर बिमारियों का षिकार होकर लाखों रूपए उपचार एवं दवाईयों में खर्च कर देते है। हमारा काम में मन नहीं लगता है एवं शरीर फिट आदि रखने के लिए योग एक कारगर उपाय है। योग निःषुल्क रूप से सिखाएं एवं किए जाने से हम कई गंभीर रोगों से बचने के साथ शरीर को स्वस्थ और तंदरूस्त महसूस करते है। योग प्रातःकाल एवं सांयकाल दो समय करने से काफी लाभ मिलता है। सुश्री वर्मा के साथ महिला पतंजलि योग समिति की महिलाएं बारह मासी लोगांे को योग करवाती है।

महिला टीम में ये शामिल
महिला पतंजलि योग समिति में सुश्री वर्मा जिला प्रभारी होने के साथ समिति में सक्रिय महिलाओं में ज्योति जोषी, जरीना अंसारी, मधु जोषी, भावना जैन, कृष्णा शेखावत, रीना जैन, भावना टेलर, नीलम जैन, विनीता टेलर, ममता जैन, प्रमिला भंडारी, सोनल कटकानी, चंदा भंडारी, साधना चैहान, संध्या पटेल, आषा पंवार प्रतिदिन अपने-अपने वार्डों में रहवासियों को योग करवाने के साथ उनके द्वारा जिले के स्कूलों, आंगनवाड़ी केंद्रों, प्रजापिता ब्रम्हकुमारी ईष्वरीय विष्वविद्यालय संस्था पर जाकर भी षिविर लगाकर लोगांे को योगाभ्यास करवाया जाता है।

कम्प्यूटर आपरेटर ने सरकार से लगाई गुहार निकाले गए आपरेटर को पुनः सेवा मे रखा जाए

झाबुआ । विगत दिनाँक 17 एवं 18 जून को मध्य प्रदेश कंप्यूटर ऑपरेटर महासंघ द्वारा मध्य प्रदेश शासन के समस्त कंप्यूटर को बन्द करने का आह्वान किया गया था जिसमे महासंघ साठ प्रतिशत सफल रहा। शासन के बहुत से कार्य प्रभावित रहे। सत्ता परिवर्तन के बाद से ही शासन के अनेको विभागों से कंप्यूटर आपरेटरों को लगातार निकाला जा रहा है बेरोजगार किया जा रहा है जबकि मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ को महासंघ के आपरेटरों द्वारा विधान सभा चुनाव के पूर्व पूर्ण रूप से समर्थन दिया गया था। मध्य प्रदेश कंप्यूटर ऑपरेटर महासंघ द्वारा सरकार से गुहार लगाई गई है कि जिन विभागों में आपरेटरों को निकाल गया है उन्हें दोबारा कार्य पर रखे एवं अनेको विभागों में कंप्यूटर आपरेटरों के पक्ष में जो फाइलें अटकी पड़ी है उन्हें जल्द से जल्द फाइनल करते हुए लाभ प्रदान करे। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग में सेटअप की फाइल आज दिनाँक तक अपूर्ण है, वन विभाग की फाइल का कोई अता पता नही है, इसी प्रकार अन्य विभागों में कंप्यूटर आपरेटरों से कार्य लिया जा रहा है लेकिन उनका शोषण लगातार होता जा रहा है। बिजली विभाग में माननीय मंत्री महोदय ने इंटरेस्ट दिखाया है, बाकी विभागों में आज दिनाँक तक कोई प्रक्रिया शुरू नहीं की गई है। शासन से गुहार है कि जल्द से जल्द रोजगार पर प्रहार करने वाला जो अमानवीय कृत्य किया जा रहा है उसे रोकते हुए कंप्यूटर आपरेटरों का भविष्य सुरक्षित करें ऐसा ना किये जाने पर आने वाले समय मे मध्य प्रदेश कंप्यूटर ऑपरेटर महासंघ भोपाल में वृहद धरना प्रदर्शन एवं सरकार से सिधे संवाद कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।    

हाथीपावा को समय पर पानी उपलब्घ करवाने एवं विकसित करने में महत्वपूर्ण सहयोग देने वाले पीएचई कार्यपालन यंत्री जितेन्द्र मावी को दी गई पर्यावरण मित्र की उपाधि
मार्निंग क्लब हाथीपावा ने पीएचई ईई के स्थानांतरण पर उनका विदाई एवं सम्मान समारोह रखा
झाबुआ। शहर से सटे हाथीपावा पर जो सुंदर एवं मनोहारी दृष्य आज हमे देखने को मिल रहा है। उसमें मार्निंग क्लब हाथीपावा से जुड़े समस्त सदस्यों का सराहनीय सहयोग रहा है। समस्त सदस्यों ने सेवा भावना के साथ हाथीपावा को हरियालीमय एवं जिले के पर्यटल स्थल के रूप में तब्दील रखने हेतु दिन-रात सेवाएं दी है। इसमें से ही एक है, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन यंत्री जितेन्द्र मावी, जो मार्निंग क्लब हाथीपावा के सक्रिय सदस्य होकर समय-समय पर हाथीपावा पर पानी की समुचित व्यवस्था करने के साथ इसके विकास में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रहंी है। श्री मावी के झाबुआ जिले से भिंड स्थानांतरित होने पर मार्निंग क्लब हाथीपावा के सदस्यों द्वारा उनके हाथीपावा पर किए गए अमूल्य सहयोग को ताजा करते हुए हाथीपावा पर ही उनका विदाई एवं सम्मान एक साथ रखा गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में जिले के कलेक्टर प्रबल सिपाहा, पुलिस अधीक्षक विनीत जैन के साथ स्थानांतरित जिला पंचायत सीईओ श्रीमती जुमना भिड़े, डिप्टी कलेक्टर पराग जैन, जिला आबकारी अधिकारी अभिषेक तिवारी शामिल हुए। बैठक के प्रारंभ में अतिथियों का स्वागत मार्निंग क्लब के सदस्यों में राजेषसिंह गोतम, अषोक शर्मा, अजय रामावत, नीरजसिंह राठौर, कमलेष पटेल, राजेष शाह, हरिष शाह लालाभाई, सुषील शर्मा, नीतिन सांकी, सचिन बैरागी, पंकज जैन मोगरा, अजय शर्मा, आषीष डोषी, श्री मिश्रा, भव्य जैन, अमित जैन, करिष रामावत आदि द्वारा किया गया। पीएचई विभाग के दिनेष जैन ने स्थानांतरित हुए ईई जितेन्द्र मावी के कार्यकाल पर प्रकाष डाला। बाद उनके हाथीपावा में दिए गए योगदान को मार्निंग क्लब हाथीवा के सदस्यों मंें नीरजसिंह राठौर, कमलेष पटेल, राजेषसिंह गौतम, अजय रामावत, अषोक शर्मा आदि द्वारा प्रतादित किया गया। कु. भूमिका डोषी ने पर्यावरण पर अति सुंदर गीत ‘‘वर्षा बहुत सुहानी है, पेड़ो के ये हिलते पत्ते, मोती सी जल की बंूदे, कन्याओं के भीगते आंचल, खूषबू मिट्टी की दीवानी है ....’’ प्रस्तुत किया गया।

हाथीपावा पर सभी लोगों का आत्मीय सहयोग सराहनीय
कलेक्टर प्रबल सिपाहा एवं पुलिस अधीक्षक विनीत जैन ने इस अवसर पर कहा कि हाथीपावा के सौंदर्यीकरण को बरकरार रखने में एवं इसे ओर अधिक मनोहारी बनाने में मार्निंग क्लब हाथापावा का सहयोग सरानीय है। अलसुबह सूरज की पहली किरण के साथ ही मार्निंग क्लब के सभी सदस्य हाथीपावा पहुंच जाते है और पौधांे को पानी देना, श्रमदान करना, साफ-सफाई करने आदि जैसे कार्य प्राथमिकता से उनके द्वारा किए जाते है। पीएचई के कार्यपालन यंत्री श्री मावी ने भी हाथीपावा पर पानी की व्यवस्था सुचारू रखने एवं अन्य सहयोग निरंतर दिया है, उसके लिए वे साधुवाद के पात्र है। जिला आबकारी अधिकारी अभिषेक तिवारी ने जितेन्द्र मावी के साथ उनके रहे विभागीय तालमेल पर प्रकाष डाला।

पर्यावरण मित्र की उपाधि प्रदान की गई
बाद सभी अतिथियों द्वारा मिलकर स्थानांतरित कार्यपालन यंत्री श्री मावी का पुष्पामाला, पुष्प गुच्छ भेटकर भावभरा सम्मान किया गया। साथ ही उनका अभिनंदन-पत्र देकर भावभरा सम्मान अतिथियों ने किया। वहीं मार्निंग क्लब हाथीपावा एवं समस्त सामाजिक संस्थाओं की ओर से उन्हें पर्यावरण मित्र की उपाधि देते हुए उक्ताषय का अभिनंदन-पत्र भी प्रदान किया। सभी ने बारी-बारी से श्री मावी का स्वागत एवं सम्मान करते हुए साथ ही उन्हें भिंड में स्थानांतरित होने पर विदाई भी की। इस दौरान पीएचई विभाग की ओर से समस्त अधिकारी-कर्मचारियों ने भी उपस्थित रहकर श्री मावी का सम्मान कर उन्हें आत्मीय विदाई दी। वन विभाग के भी समस्त अधिकारी-कर्मचारियों ने स्थानांतरित कार्यपालन यंत्री का भव्य स्वागत कर उनके हाथीपावा पर सराहनीय सहयोग का उल्लेख किया।

सभी का योगदान है
अपने सम्मान के प्रति उत्तर में श्री मावी ने कहा कि ‘‘अकेला चना भाड़ नहीं फोड़ सकता’’ हाथीपावा को विकसित सभी का योगदान है, जो अविस्मरणीय है। समारोह का सफल संचालन मार्निंग क्लब हाथीपावा के सदस्य शैलेन्द्रसिंह राठौर ने किया एवं अंत में आभार युवा सदस्य विपुल पंचाल ने माना। इस अवसर पर हाथीपावा से जुड़े आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों के लोग भी बड़ी संख्या में उपस्थित थे। अंत में अतिथियों सहित समस्तजनों ने सहभोज का आनंद लिया।

21 जून अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर जिले भर में हुए सामूहिक योग के कार्यक्रम मंडी प्रांगण में हुआ जिला स्तरीय कार्यक्रम

jhabua news
झाबुआ ।  अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर 21 जून को जिले भर में सामूहिक योग के कार्यक्रम आयोजित किये गये। कार्यक्रम जिला, विकासखंड और पंचायत स्तर तक आयोजित किये गये। योग दिवस का मुख्य कार्यक्रम कृषिउपज मंडी प्रंागण झाबुआ में हुआ। कार्यक्रम का आयोजन जिला प्रशासन एवं स्कूल शिक्षा विभाग के तत्वावधान में किया गया। सामूहिक योग कार्यक्रम की शुरूआत प्रार्थना से हुई। इसके बाद योग प्रशिक्षकों ने उपस्थित लोगों को चालन क्रियायें, योगासन, प्राणायाम एवं ध्यान का अभ्यास कराया। योगासनों में ताड़ासन, वृक्षासन, पादहस्तासन, अर्द्ध चक्रासन, त्रिकोणासन, दंडासन, भद्रासन, वज्रासन, अर्द्ध उष्ट्रासन, उष्ट्रासन, शशकासन, उत्थानमंडूकासन, वक्रासन, मकरासन,भुजंगासन, शलभासन, सेतुबंधासन, उत्थानपादासन, अर्द्धहलासन, पवनमुक्तासन, शवासन का अभ्यास कराया गया। इसके पश्चात कपालभाती, अनुलोम- विलोम, शीतली और भ्रामरी प्राणायाम कराया गया। फिर ध्यान, संकल्प एवं शांतिपाठ किया गया। कार्यक्रम में योग करने के लाभ बताये गये। योग करने से तन- मन और बुद्धि स्वस्थ रहती है। कार्यक्रम मे कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा, पुलिस अधीक्षक श्री विनीत जैन , जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती षंाति डामोर, सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिंडे, नगरपालिका अध्यक्ष झाबुआ श्रीमती मन्नू डोडियार  सहित जनप्रतिनिधि, षासकीय अधिकारी कर्मचारी एवं आमजन  उपस्थित थे।

वर्षा को देखते हुए किसानो को दी गई सलाह
          
झाबुआ । कृषि विज्ञान केन्द्र झाबुआ द्वारा किसानो को सलाह दी गई है कि आगामी पांच दिनो के लिये जिले मे आसमान मे मध्यम से घने बादल रहने ,तापमान सामान्य रहने व वर्षा 20.0 मि.मि.होने की संभावना है। बादलयुक्त मौसम , तापमान मे कमी व आर्द्रता प्रतिषत मे वृद्वि को देखते हुए धान के रोपा की 8 से 10 दिन के अंतराल से ंिसचाई करें। ग्रीष्मकालीन भिण्डी व कद्दूवर्गीय सब्जियो की 8 से 10 दिन के अंतराल से सिंचाई कर अनुसंषित उर्वरक की मात्रा दें। नया बगीचा लगाने  हेतु उचित  दूरी पर तैयार गड्ढे को गोबर की खाद /वर्मी कंपोष्ट - मिट्टी ़वालू के मिश्रण से भरे। इस वर्ष मानसून आने मे हो रही देरी को देखते हुए षीघ्र / मध्यम अवघि की जातियो / फसलो के बीज की व्यवस्था करे। खरीब फसलो की खेती हेतु आदान की व्यवस्था अभी से करें। खुद के द्वारा तैयार किए बीज को भण्डार गृह से निकालकर सफाई करें। टमाटर ,भिण्डी ,बैगन ,पालक , ग्वारफली , कद्दूवर्गीय सब्जियो एवं हरी मिर्च की समय पर तुडाई कर ग्रेडिग कर बाजार मे बेचे। बादलयुक्त मौसम तापमान में कमी व आर्द्रता प्रतिषत मे वृद्वि को देखते हुए ग्रीष्मकालीन सब्जियो की 8 से 10 दिन के अंतराल से सिचाई कर अनुष्ंासित उर्वरक की मात्रा दे। टमाटर ,मिर्च ,बैगन , अगेती , खरीफ प्याज की नर्सरी लगाए।

दत्तकग्रहण हेतु मुक्त करने के लिए दावे आपति आमंत्रित
         
झाबुआ । जिला बाल संरक्षण अधिकारी द्वारा सर्व संबंधितो को सूचित किया हैे कि जिला झाबुआ मे थाना रायपुरिया क्षेत्रान्तर्गत समर्पित नवजात षिषु संस्था से दिये गये नाम षिषु निरूद्व (नवीन नाम ) पुरूष 14.10.2018 को समय 8.45 रात्रि में नेषनल पेट्रोलियम झाबुआ में पाया गया-थाना झाबुआ 7.1/2 माह उपरोक्तानुसार षिषु को प्रावधानो के अंतर्गत वैधानिक संरक्षण प्रदान कर दत्तक ग्रहण एजेंसी मे प्रवेषित कराया गया है। उसके बाद विधिक रूप से दत्तक ग्रहण हेतु षिषु को मुक्त किया जाना है तद्नुसार षिषु के जैविक माता-पिता एवं अन्य संबंधितो द्वारा सुपुर्दगी प्राप्त करनें हेतु विज्ञप्ति प्रकाषित होने के 7 दिवसीय कार्यालयीन अवधि एवं समय में दावा आपति कार्यालय जिला संरक्षण अधिकारी झाबुआ ,बाल सम्प्रेक्षण गृह परिसर झाबुआ कें उपस्थित होकर प्रस्तुत कर सकते हैं उसके बाद षिषु को दत्तकग्रहण हेतु मुक्त कर दिया जावेगा।

विद्युत कम्पनिय¨ं के आउटस¨र्स कर्मचारिय¨ं की भर्ती में अनियमिता पर ह¨गी कड़ी कार्रवाई

झाबुआ । ऊर्जा मंत्री श्री प्रियव्रत सिंह ने कहा कि विद्युत वितरण कम्पनिय¨ं के आउटस¨र्स कर्मचारिय¨ं के संबंध में नीतिगत निर्णय लिया जायेगा। आउटस¨र्स कर्मचारिय¨ं की भर्ती में अनियमितता करने वाले अधिकारिय¨ं के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जायेगी। ऊर्जा मंत्री श्री सिंह ने कहा कि 7वें वेतन आय¨ग से संबंधित विसंगतिय¨ं का निराकरण किया जायेगा। अनुकम्पा नियुक्ति के प्रकरण¨ं पर जल्द निर्णय लेने के साथ ही कर्मचारिय¨ं के लिये स्वास्थ्य बीमा य¨जना बनाने पर भी विचार किया जायेगा। विद्युत वितरण कर्मचारिय¨ं की सुरक्षा के लिये सुरक्षा अधिनियम बनाने के संबंध में चर्चा के बाद निर्णय लिया जायेगा। कम्पनी के स्ट्रक्चर के संबंध में कर्मचारी संगठन¨ं से भी बात की जायेगी। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि घर-घर बिजली पहुँचाने में कर्मचारिय¨ं का य¨गदान सराहनीय है।

निपाह वायरस को लेकर मध्यप्रदेष में अलर्ट जारी

झाबुआ । निपाह वायरस को लेकर मप्र सरकार ने भी अलर्ट जारी कर दिया है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियो को भी इस बीमारी के लक्षण पहचानने और निगरानी के लिए कहा है। मप्र मे इसके मरीज नही मिले है। लेकिन एहतियात के दौर पर एक गाइडलाइन हर जिले को जारी  कर दी है। निपाह वायरस में भी तेज बुखार, सिर व बदन दर्द , खंासी ,संास लेने मे तकलीफ , बैचेनी, सुस्ती और उल्टी- दस्त होता है। चमगादड द्वारा कुतरे गए फलो से इसके फैलने की आषंका ज्यादा होती है। किसी के षारीरिक संपर्क मे आने पर भी इसके संक्रमण की आषंका बढ जाती है। इस अलर्ट मे कहा गया है कि निपाह वायरस प्रभावित क्षेत्रो से आने वाले लोगो पर निगरनी रखी जाए । नगर निगम को भी पत्र लिखने के  लिए कहा गया है। पीएचई विभाग को भी चमगादडो और सूअरो से दूषित हुए जल की जाॅच के लिए कहा गया है। गौरतलब है कि इस बीमारी का सबसे पहला मरीज सिंतबर 1998 से मई1999 के बीच मलेषिया और सिंगापुर में मिला था। 2001 में भारत में इसके मरीज मिले। सन् 2007 मे पष्चिम बंगाल और आसपास के देषो मे भी इसके केस रिपार्ट हुए।

प्ंाचायत की फोटोयुक्त मतदाता सुची के वार्षीक पुनरीक्षण हेतु कार्यक्रम निर्धारित

झाबुआ । मध्यप्रदेष पंचायत निर्वाचन के लिए मध्यप्रदेष राज्य निर्वाचन आयोग ्द्वारा पंचायतों के पुनरीक्षण हेतु कार्यक्रम निर्धारित किया गया है। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार मतदान केन्द्रो के युक्तियुक्तकरण के संबंध मे प्रस्ताव तैयार कर रजिस्ट्रीकरण अधिकारी को सौंपने का कार्य  21 जून 2019 तक किया जायेगा। मतदान केन्द्रो के युक्तियुक्तकरण के संबंध मे प्राप्त प्रस्तावो का परीक्षण कर उन्हे अंतिम करना ओर कंट्रोल टेबल में यथासंषोधित करने का कार्य  28 जुन 2019 तक किया जायेगा। कंट्रोल टेबल का परीक्षण कर  संषोधन होने पर निर्देषानुसार यथोचित हस्ताक्षर करने का कार्य रजिस्ट्रीकरण अधिकारी द्वारा  19 जून  से 28 जून 2019 तक किया जायगा। कंट्रोल टेबल का डिजिटल हस्ताक्षर से वेरिफिकेषन 01 जुलाई 2019 को किया जायगा। षिफिटग सूची के विलोपन वेरिफिकेषन सुची ओर संषोधन वेरिफिकेषन सुची म्त्डै से जेनरेट कर रजिस्ट्रीकरण अधिकारी को उपलब्ध कराने का कार्य वेण्डर 05 जुलाई 2019 तक किया जायेगा। षिफिटग सूची विलोपन वेरिफिकेषन सूची ओर संषोधन वेरिफिकेषन मे मार्किग कर रजिस्ट्रीकरण अधिकारी को प्रदान करना।08 जुलाई 2019 षिफिटग सुची विलोपन वेरिफिकेषन सुची ओर संषोधन वेरिफिकेषन मे मार्किग कर रजिस्ट्रीकरण अधिकारी को  11 जुलाई 2019 तक प्रस्तुत की जायेगी षिफिटग सुची विलोपन वेरिफिकेषन सुची ओर संषोधन वेरिफिकेषन मे प्राधिकृत कर्मचारी द्वारा की गई मार्किग की रजिस्ट्रीकरण अधिकारी द्वारा जाॅच एवं वंरिफिकेषन का कार्य 15 जुलाई 2019 तक किया जायेगा। षिफिटग संबंधी विवादांे के निराकरण के लिए बैठक का आयोजन कर  बैठक का कार्यवाही विवरण रजिस्ट्रीकरण अधिकारी को उपलब्ध कवाने के लिए  15 जुलाई 2019 से 22 जुलाई  2019 के मध्य की तिथि नियत की गई है। षिफिटग सबंधी विवादो के निराकरण के लिए आयोजित बैठक के कार्यवाही विवरण अनुसार यथोचित कार्यवाही 23 जुलाई 2019 तक की जायेगी। मार्कड षिफिटग सुची विलोपन वेंरिफिकेषन सुची ओर संषोधन वेरिफिकेषन सुची म्त्डैे में प्रविष्टि हेतु वेण्डर को 26 जुलाई 2019 तक प्रदाय की जायेगी षिफिटग विलोपन ओर संषोधन की कार्यवाही म्त्डैे के माध्यम से पूर्ण कर चेकलिस्ट रजिस्ट्रीकरण अधिकारी को 02  अगस्त 2019 तक उपलब्ध करवाई जायेगी। चेकलिस्ट की जाँच करना ओर जाॅच उपरात परिलक्षित त्रुटियो को सुधारने के लिए चेकलिस्ट वेण्डर को वापस करने के लिए  05 अगस्त 2019 तक तिथि नियत की गई है। त्रुटियो को सुधार कर एकीकरण कर फोटोरहित ओर फोटोयुक्त प्रारूप मतदाता सुची जेनरेट करने का कार्य  13 अगस्त 2019 तक किया जायेगा।फोटोरहित प्रारूप मतदाता सूची वेबसाईट पर 14 अगस्त तक अपलोड की जायेगी।  फोटोयुक्त प्रारूप मतदाता सुची का मुद्रण कर वेण्डर द्वारा रजिस्ट्रीकरण अधिकारी को प्र्रदाय करने का कार्य  19 अगस्त 2019 तक सपन्न होगा। फोटोयुक्त प्रारूप मतदाता सुची का गा्रम पंचायत एंव अन्य विहित स्थानो पर सार्वजनिक प्रकाषन 21 अगस्त 2019 को किया जायेगा।प्रारूप मतदाता सुची का सार्वजनिक प्रकाषन किए जाने संबंधी प्रमाण पत्र स्केन कर अपलोड करने का कार्य   26 अगस्त 2019 तक किया जायेगा। 1. स्टेण्डिग कमेटी की बैठक का आयोजन  21 अस्गत 2019 से 26 अगस्त 2019 के मध्य किया जायेगा।रजिस्ट्रीकरण अधिकारी को जाॅच सुची ओर डुप्लिकेट सुची प्रदान करने का कार्य  19 अगस्त 2019 तक किया जायेगा। 1.दावे आपति प्राप्त करने के लिए प्राधिकृत कर्मचारीयो का द्वितिय प्रषिक्षण एवं उन्हे आवष्यक सामग्री प्रदाय करने ,. दावा आपति केंद्रो के पर्यवेक्षण हेतू नियुक्त अधिकारीयो का प्रषिक्षण 14 अगस्त 2019 से 19 अगस्त 2019 के मध्य आयोजित किया जायेगा।  दावा आपति केंद्र पर दावे आपति प्राप्त करने का कार्य 21 अगस्त 2019 से 30 अगस्त 2019 को  अपराह 03.00 बजे तक किया जायेगा। दावा आपति आवेदन पत्रो के निराकरण की अंतिम तिथि 05 सितंबर 2019 नियत की गई है। निराकृत दावा आपति आवेदन पत्रो की म्त्डैे मे प्रविष्ट की अंतिम तिथि  09 सितंबर 2019 नियत की गई है। अंतिम मतदाता सुची की चेकलिस्ट जाॅच हेतु रजिस्ट्रकरण अधिकारी को उपलब्ध कराने का कार्य वेण्डर द्वारा 12 सितंबर 2019 तक किया जायेगा। चेकलिस्ट की जाच कर त्रुटि सुधार उपरांत वंेण्डर को वापस करने का कार्य  16 सितम्बर 2019 तक किया जायेगा। फोटोरहित  औेर फोटोयुक्त  अंतिम मतदाता सूची जेनरेट करने का कार्य  18 सितम्बर 2019 तक किया जायेगा। फोटोरहित अंतिम मतदाता सूची को वेबसाईट पर अपलोड करने का कार्य 20 सितम्बर 2019 तक किया जायेगा। फोटोयुक्त अंतिम सुची को मुद्रित कर रजिस्ट्रकरण अधिकारी को उपलब्ध कराने का कार्य वेण्डर द्वारा 23 सितम्बर 2019 तक किया जायेगा। फोटोयुक्त अंतिम मतदाता सुची का ग्राम पंचायत तथा अन्य विहित स्थानो पर सार्वजनिक प्रकाषन  25 सितम्बर 2019 को किया जायेगा।  फोटोयुक्त अंतिम मतदाता सुची विक्रय के लिए  26 सितम्बर 2019 से उपलब्ध होगी। फोटोयुक्त अंतिम मतदाता सूची के सार्वजनिक प्रकाषन का प्रमाणपत्र स्केन कर अपलोड करने का कार्य रजिस्ट्रीकरण अधिकारी द्वारा 30 सितम्बर 2019 तक किया जायेगा।

दस्तक अभियान के तहत कार्यकर्ता घर-घर जाकर दे रही है स्वास्थ्य सेवाएं

  झाबुआ । वर्ष 2019-20 में ‘‘दस्तक अभियान’’ का प्रथम चरण सोमवार 10 जून से जिले में चलाया जा रहा है स्वास्थ्य कार्यकर्ता, आशा एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व्दारा जन्म से पांच वर्ष तक के बच्चे वाले परिवारों के घर-घर जाकर दस्तक अभियान अंतर्गत दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवायें बच्चों को दी जा रही है। साथ ही स्वास्थ्य कार्यकर्ता व ग्राम की आशा व आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व्दारा महिलाओ को एकत्रित करके अभियान संबंधी व स्वास्थ्य की जानकारी देकर परिवारों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक किया जा रहा है।

मदरसा नवीनीकरण की आखरी तारीख 30 जून
      
झाबुआ । मदरसा मान्यता नवीनीकरण सत्र 2019-20 के लिए में आॅनलाईन आवेदन की आखरी तारीख 30 जून कर दी गई है। आॅनलाईन आवेदन करने से वंचित रहे मदरस¨ं के लिए एम.पी. आॅनलाईन के अधिकृत प¨र्टल पर 30 जून तक यह सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। विस्तृत जानकारी मदरसा ब¨र्ड की अधिकृत वेबसाईट ूूूण्उचउइण्वतह एवं एम.पी. आॅनलाईन के प¨र्टल पर मदरसा-ब¨र्ड पेज पर देखी जा सकती है।

सभी महाविद्यालयों में लगेंगे विद्यार्थियों के लिए संचालित योजनाओं के फ्लेक्स
        
झाबुआ । प्रदेश के सभी शासकीय, अशासकीय, अनुदान प्राप्त अशासकीय महाविद्यालयों में कॉलेज चलो अभियान के अन्तर्गत उच्च शिक्षा की विभिन्न योजनाओं के फ्लेक्स लगाए जायेंगें। फ्लेक्स से महाविद्यालयों में नवीन प्रवेशित विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा विभाग की विभिन्न छात्र-हित की योजनाओं की जानकारी आसानी से मिल सकेगी। विद्यार्थियों के लिए संचालित योजनाएँ  गाँव की बेटी योजना - गाँव की पाठशाला से प्रथम श्रेणी में 12 वीं परीक्षा उत्तीर्ण छात्राओं के लिए प्रति वर्ष रू. 5,000/- प्रोत्साहन राशि। प्रतिभा किरण योजना- शहर की पाठशाला से प्रथम श्रेणी में 12 वीं परीक्षा उत्तीर्ण एवं बी.पी.एल. कार्डधारी छात्राओं के लिए प्रति वर्ष रू. 5,000/- प्रोत्साहन राशि। मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना - मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना सभी वर्गों के लिए हैं। पिताध्पालक की वार्षिक आय 6 लाख से कम। 12वीं कक्षा माध्यमिक शिक्षा मंडल से उत्तीर्ण होने पर न्यूनतम 70 प्रतिशत, सी.बी.एस.सी.,आई.सी.एस.सी. से उत्तीर्ण होने पर न्यूनतम 85 प्रतिशत होना अनिवार्य है। मुख्यमंत्री विद्यार्थी जनकल्याण योजना - मुख्यमंत्री विद्यार्थी जनकल्याण शिक्षा प्रोत्साहन योजना के अन्तर्गत मध्यप्रदेश शासन के श्रम विभाग में असंगठित कर्मकार के रूप में पंजीयन हो। सभी वर्गों के विद्यार्थियों के लिए, जो स्नातक या स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में प्रवेश प्राप्त करते हैं, तो उनका शिक्षण शुल्क राज्य शासन द्वारा वहन किया जायेगा। विदेश में उच्च शिक्षा - विदेश में उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए अनारक्षित वर्ग के प्रतिभाशाली विद्यार्थियों के लिए स्नातकोत्तर एवं पी-एच.डी. उपाधि के लिए छात्रवृत्ति योजना अधिकतम 02 वर्ष तक 40 हजार डॉलर प्रतिवर्ष का प्रावधान है।

वचन-पत्र के सहकारी संस्थाओं के मुद्दों पर कार्यवाही के लिए समिति गठित
        
झाबुआ । राज्य सरकार द्वारा वचन-पत्र में सहकारी संस्थाओं के कर्मियों को पृथक कैडर गठित कर बेहतर सुविधाएँ देने के मुद्दे पर कार्यवाही के लिये समिति गठित की है। सहकारिता विभाग द्वारा जारी आदेशानुसार इस दस सदस्यीय समिति में श्री भगवान सिंह यादव ग्वालियर, श्री नन्हे सिंह धुर्वे जबलपुर, श्री दीपक सक्सेना छिन्दवाड़ा, श्री यादवेंद्र सिंह टीकमगढ़, श्री रामेश्वर पटेल इंदौर, श्री उदय प्रताप सिंह भिण्ड, श्री चन्द्रिका द्विवेदी छतरपुर और अपर पंजीयक (स्थापना) सहकारी संस्थाएँ भोपाल, प्रबंध संचालक अपेक्स बैंक शामिल हैं। संयुक्त पंजीयक सहकारी संस्थाएँ, (साख) मुख्यालय भोपाल समिति के संयोजक होंगे।यह समिति पंजीयक और आयुक्त सहकारी संस्थाओं को प्रतिवेदन प्रस्तुत करेगी। समिति की पहली बैठक 22 जून को समन्वय भवन में होगी।

आदिम जाति कल्याण की स्वरोजगार योजना में आॅनलाईन लिये जायेंगे आवेदन
         
झाबुआ।  मध्यप्रदेश आदिवासी वित्त एवं विकास निगम भोपाल के निर्देशानुसार निगम द्वारा संचालित मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना, मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री कृषक युवा उद्यमी योजना के क्रियान्वयन के लिये एमपी आॅनलाईन पोर्टल के माध्यम से आवेदन प्राप्त किये जाने के निर्देश हैं। आवेदनकर्ता स्वरोजगार योजनाओं के आवेदन एमपी आॅनलाईन पोर्टल के माध्यम से जमा कर  आवेदन पत्र की हार्ड काॅपी की एक प्रति कार्यालय जिला संयोजक अनुसूचति जाति, जनजातीय कार्य विभाग में जमा करें।

संविदाकर्मियों की माँगों और अभ्यावेदनों का परीक्षण करेगी तीन सदस्यीय समिति
मंत्री डॉ. गोविंद सिंह की अध्यक्षता में मंत्रि-परिषद समिति की बैठक सम्पन्न
झाबुआ ।  सामान्य प्रशासन मंत्री डॉ. गोविंद सिंह की अध्यक्षता में कर्मचारी कल्याण के लिये गठित मंत्रि-परिषद समिति की बैठक मंत्रालय में आयोजित की गई। समिति द्वारा अतिथि शिक्षकों, रोजगार सहायकों और अन्य संविदाकर्मी संगठनों से प्राप्त अभ्यावेदन और माँगों पर विचार-विमर्श किया गया।  मंत्रि-परिषद समिति ने निर्णय लिया कि अधिकारियों की तीन सदस्यीय समिति विभिन्न कर्मचारी संगठनों से प्राप्त सभी ज्ञापन, माँग-पत्र और अभ्यावेदन का परीक्षण कर दो सप्ताह में रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी। मंत्रि-परिषद की अगली बैठक में समिति की रिपोर्ट पर विचार-विमर्श के बाद कर्मचारी हितैषी निर्णय लिये जायेंगे।

प्रदेश में 6 महीने में 1300 कि.मी.सडकों का उन्नयन हुआ
  
झाबुआ ।  लोक निर्माण मंत्री श्री सज्जन सिंह वर्मा ने बताया है कि प्रदेश में पिछले 6 माह में 602 करोड खर्च कर 1300 किलोमीटर सडकों का उन्नयन और 1550 सडकों का नवीनीकरण कराया गया है। इसी अवधि में 186 करोड लागत के 27 पुलों का निर्माण भी पूर्ण कराया गया है। प्रदेश में सडक सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए लोक निर्माण विभाग ने सडक की ज्योमेट्रिक डिजाइन, रोड मार्किंग और रोड फर्नीचर का प्रावधान करने के बारे में मैदानी अधिकारियों को दिशा-निर्देश जारी किये हैं। कौन-सी सडक किस विभाग द्वारा बनाई जायेगी, इसके संबंध में स्टेट रोड पॉलिसी तैयार करने का निर्णय लिया गया है। मध्यप्रदेश रोड डेव्हलपमेंट कॉर्पोरेशन द्वारा 74 करोड खर्च कर नवी मुम्बई स्थित मध्यलोक भवन का निर्माण पूरा किया गया है। भोपाल-इन्दौर एक्सप्रेस-वे फोरलेन सडक को सिक्स लेन में परिवर्तित किये जाने के प्रस्ताव पर केन्द्र सरकार के सडक परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय से अनुमोदन प्राप्त कर लिया गया है। परियोजना की लंबाई 142.63 किलोमीटर है। प्रदेश में सडक यातायात को सुगम बनाने के लिए आगामी पाँच वर्षो में वृहद एवं मध्यम पुल, आर.ओ.बी. और फ्लाई ओवर्स के निर्माण की कार्य-योजना क्रियान्वित की जा रही है। इसमें 200 करोड लागत के 400 बडे एवं मध्यम पुल,1600 करोड के 55 आर.ओ.बी. और 1940 करोड के 17 फ्लाई ओवर्स शामिल हैं। एनडीवी परियोजना अन्तर्गत प्रदेश में 56.45 किलोमीटर बैरसिया-नरसिंहगड मार्ग, भोजापुरा-अहमदपुर एवं दोराहा-अहमदपुर का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। इस पर 108 करोड 49 लाख रूपये की राशि खर्च की गई। सिवनी-कटनी टू-लेन राजमार्ग लंबाई 78.30 किलोमीटर को पूरा किया गया है। इसके निर्माण पर 92 करोड रूपये खर्च किये गये। मध्यप्रदेश सडक विकास निगम के अन्तर्गत एशियन डेव्हलपमेंट बैंक (एडीबी) के छठवें ऋण के अन्तर्गत 1638 किलोमीटर सडकों के लिये 3595 करोड के कार्यों की निविदाएँ स्वीकृत की गई हैं।

जेलों की बेहतरी के सभी इंतजाम किये जायेंगे
     
झाबुआ । प्रदेश के गृह, जेल, तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास मंत्री श्री बाला बच्चन ने कहा कि जेलों की बेहतरी के सभी इंतजाम किये जायेंगे। जेलों की क्षमता वृद्धि के लिए जेल काम्पलेक्स, नई जेल व अतिरिक्त बैरकों के निर्माण की कार्यवाही करायी जायेगी। जेल मंत्री ने कहा कि जेलों की सुरक्षा व्यवस्था को और अधिक मजबूत करने के लिए बाउण्ड्रीबाल निर्माण कराते हुए उसमें फेंसिंग व इलेक्ट्रिक वायरिंग फेंसिंग तथा सीसीटीवी कैमरा की भी व्यवस्था सुनिश्चित करायी जायेगी। उन्होंने कहा कि बंदियों को चिकित्सालय तक लाने ले जाने के लिए पुलिस बल के अतिरिक्त स्टाफ की सुनिश्चितता के प्रयास होंगे साथ ही जेल अधिकारियों के जेल परिसर में ही भवन निर्माण के कार्य प्राथमिकता के आधार पर किये जाने हेतु कार्ययोजना बनायी जायेगी।

प्रायवेट स्कूल¨ं की मान्यता नवीनीकरण, आॅनलाईन आवेदन की अंतिम तिथि 30 जून
    
झाबुआ । शिक्षा का अधिकार कानून के तहत संचालित प्रायवेट स्कूल¨ं की मान्यता नवीनीकरण के लिए आवेदन 30 जून 2019 तक आॅनलाईन प्राप्त किये जाएंगे। राज्य शिक्षा केन्द्र के प्रस्ताव पर एनआईसी द्वारा ढूूू.मकनबंजपवदचवतजंस.उच.हवअ.पद/तजमझ पर निजी विद्यालय¨ं के लिए यह सुविधा प्रारंभ की गई है। संबंधित बीआरसीसी के द्वारा आवेदन तिथि के 15 दिन में स्कूल¨ं का भ©तिक सत्यापन किया जाकर आॅनलाईन निरीक्षण रिप¨र्ट जिला शिक्षा अधिकारी क¨ प्रेषित की जायेगी। जिला शिक्षा अधिकारिय¨ं द्वारा प्राप्त मान्यता आवेदन¨ं का 30 दिन में निराकरण किया जायेगा। प्रायवेट स्कूल¨ं की मान्यता नवीनीकरण की यह आॅनलाईन प्रक्रिया एजुकेशन प¨र्टल ढूूू.मकनबंजपवदचवतजंस.उच.हवअ.पदझ के आरटीई प्रभाग से संचालित ह¨गी।

सोयाबीन कृषकों के लिए उपयोगी सलाह

झाबुआ । किसान कल्‍याण एवं कृषि विकास विभाग के उप संचालक श्री त्रिवेदी ने सोयाबीन कृषकों के लिए उपयोगी सलाह दी है। उन्‍होंने बताया कि उत्पादन में स्थिरता की दृष्टि से 2 से 3 वर्ष में एक बार खेत की गहरी जुताई करना लाभप्रद होता है। अतः जिन किसान भाईयों ने खेत की गहरी जुताई नही की हो कृपया अवश्‍य करें। उसके बाद बख्खर, कल्टीवेटर एवं पाटा चलाकर खेत को तैयार करें। उपलब्धता अनुसार अपने खेत में 10 मीटर के अंतराल पर सब-सॉयलर चलाए जिससे मिट्टी की कठोर परत को तोडने से जल अवशोषण नमी का संचार अधिक समय तक बना रहे।  खेत की अंतिम बखरनी से पूर्व अनुशंसित गोबर की खाद (10 टन हे.) या मूर्गी के मल की खाद (2.5 टन हे.) की दर से डालकर खेत में फैला दें। अपने क्षेत्र के लिये अनुशंसित सोयाबीन किस्मों में से उपयुक्त किस्म का चयन कर बीज की उपलब्धता सुनिश्चित करें। उपलब्ध सोयाबीन बीज का अंकुरण परीक्षण (न्यूनतम 70 प्रतिशत) सुनिश्चित करें। बोवनी के समय आवश्‍यक आदान जैसे उर्वरक,  खरपतवारनाशक,  फुंदनाशक, जैविक कल्चर आदि का क्रय कर उपलब्धता सुनिश्चित करें। पीला मोजाईक बीमारी की रोकथाम हेतु अनुशंसित कीटनाषक थायोमिथाक्सम 30 एफ.एस. (10 मि.ली., कि.ग्रा. बीज) या इमिडाक्लोप्रिड 48 एफ.एस. (1.2 मि.ली., कि.ग्रा. बीज) से बीज उपचार करने हेतु क्रय उपलब्धता सुनिष्चित करें। वर्षा के आगमन पश्‍चात,  सोयाबीन की बौवनी हेतु मध्य जून से जुलाई के प्रथम सप्ताह का उपयुक्त समय है। नियमित मानसून के पश्‍चात लगभग 4 इंच वर्षा होने के बाद ही बुवाई करना उचित होता है। मानसून पूर्व वर्षा के आधार पर बोवनी करने से सूखे का लंबा अंतराल रहने पर फसल को नुकसान हो सकता है।

पुलिस सेवा में भर्ती हेतु बालिकाओ को निःषुल्क प्रषिक्षण दिया जाएगा 29 जून तक महिला सषक्तिकरण कार्यालय में आवेदन जमा किये जा सकते है
   
झाबुआ । राज्य मे महिलाओ के प्रति सकारात्मक वातावरण निर्मित करने हेतु पुलिस के प्रति महिलाओ मे विष्वास जगाने हेतु पुलिस विभाग मे महिलाओ की नियुक्ति पर्याप्त संख्या मे आवष्यक है इस उदेष्य से सषक्त वाहिनी अभियान चलया जा रहा है अभियान के तहत् पुलिस भर्ती प्रक्रियाओ मे म.प्र. षासन के निर्देषानुसार महिलाओ को 33 प्रतिषत आरक्षण का प्रावधान है पुलिस विभाग मे भर्ती / प्रषिक्षण हेतु बालिकाओ को निःषुल्क प्रषिक्षण दिया जायेगा । उक्त प्रषिक्षण हेतू बालिका कम से कम 12 वी पास हो इच्छूक बालिकाओ जिसकी लम्बाई 158 सेन्टी मीटर या उससे अधिक हो व 18 से 28 वर्ष की आयु हो । विषय सामान्य ज्ञान, सामान्य विज्ञान व गणित से परीक्षा पास की हो आवेदन कर सकती है। प्रषिक्षण प्रतिदिन दो घण्टे दिया जायेगा। इच्छुक बालिकाये  अपना आवेदन बाल सम्प्रेक्षण परिसर कार्यालय जिला महिला एवं बाल विकास कोर्ट के सामने फोन नं. 73922423452 झाबुआ मे जमा कर सकती है।

जिले में 24 घण्टो मे 2.1 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज

झाबुआ । जिले में इस वर्ष अब तक औसतन 11.5 मि.मी. वर्षा दर्ज की गयी है। विगत 24 घण्टो मे औसत 2.1 मि.मी. वर्षा दर्ज की गई। वर्षामापक केन्द्र झाबुआ में नील, रामा में 0.0 मि.मी., पेटलावद मे नील, थांदला मे 0.0 मि.मी., मेघनगर मे नील, राणापुर मे 13.0 मि.मी वर्षा दर्ज की गई।

ग्राम पंचायत की पहल पर तालावपाडा के चार फलियो के रहवासियों की बुझी प्यास
   
jhabua news
झाबुआ । ग्रीष्मकाल में पानी के लिए जहां चहुंओर हाहाकार मचा हुआ था ऐसे समय झाबुआ जिले के ग्राम तलावपाडा के चार फलियो सिगंार फलिया, माल भूरीया फलिया, जाम फलिया,वसुनिया फलिये केे स्थानीय रहवासियों को सुगमता से आवश्यकतानुसार पानी की पूर्ति संभव हुई है। ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल की समस्या के निदान हेतु झाबुआ जिले मे पूर्वं से ही विशेष कार्ययोजना तैयार की गई थी,जिसका लाभ ग्रामीणजनों को अविलम्ब मिला है। सूचनाओं की प्राप्ति के आधार पर पेयजल आपूर्ति के लिए लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग एवं ग्राम पंचायत द्वारा किए गए प्रयासों से लाभांवित हितग्राही धन्यवाद ज्ञापित करने से नही चूक रहे है। गांव के सिराज बंगराला ने बताया कि ग्राम के सभी हेण्डपंपो का जल स्तर नीचे चले जाने से हेण्ड पंप ड्राय हो गए थे और पेयजल पूर्ति के लिए डेढ़ से दो किलोमीटर दूर तक रहवासियों को पानी लेने जाना पड़ रहा था ऐसे समय शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं के मार्फत से ग्राम पंचायत द्वारा गांव में ही पेयजल आपूर्ति के लिए टेंकर माध्यम से पानी की उपलब्धता सुनिश्चित की गई। ग्रामीण विजेन्द्र डामोर, नेवु भुरीया ,मुनसिह ने बताया कि गांव के हेण्डपंप सूख जाने से खेती बाडी के काम छोडकर दिनभर पानी का इन्तजाम करने मे लग जाता था। ग्राम पंचायत द्वारा अब निःशुल्क पानी उपलब्ध करा देने से बडी राहत मिली है अब हम पानी कि चिंता से मुक्त होकर अपनी खेती बाडी के काम कर रहे है। वसुनिया फलिये की महिला संगीता डामोर, अन्नु जामणीया ने बताया कि खाना बनाने ,कपडे धोने एवं मवेशियो को पानी पीलाने के लिए दिनभर में 100-200 लिटर तक पानी प्रतिदिन लगता है ऐसे मे हेण्डपंपो मे पानी सूख जाने से दिनभर पानी की जुगाड करने मे लग जाता था।इससे हमारे लिए बडी समस्या हो गई थी तेज धुप मे दिनभर  पानी ही भरना पडता था। ग्राम पंचायत द्वारा अब टेंन्कर से पानी उपलब्ध करा देने से हमारी समस्या का समाधान हो गया है।

पी.एन.डी.टी. की बैठक 22 जून को
       
झाबुआ । पी.सी.पी.एन.डी.टी. अंतर्गत गठित जिला सलाहकार समिति की बैठक दिनाक 22 जून 2019 को प्रातः 11ः00 बजे से मुख्य चिकित्सा  एव स्वास्थ अधिकारी के कार्यालयीन कक्ष में आयोजित की जावेगी।

आर्थिक गणना के लिए निकली वाहन रैली
बाइक रैली को कलेक्टर प्रबल सिपाहा ने हरी झंडी दिखाकर कलेक्ट्रेट परिसर से रवाना किया
झाबुआ । सातवी आर्थिक गणना की जागरूकता के लिए षुक्रवार को सीएससी ई गवर्नेन्स सर्विसेस इंडिया लिमिटेड द्वारा निकानी गई बाइक रैली को कलेक्टर प्रबल सिपाहा ,जिला पंचायत सीईओ जमुना भिडे, आदिवासी विभाग के आयुक्त प्रषांत आर्य और जिला योजना और सांख्यकीय प्रभारी वसुनिया मेडम ने हरी झंडी दिखाकर कलेक्ट्रेट परिसर से रवाना किया। साथ ही जिला ई गवर्नेस प्रबंधक धर्मेद्र मीणा और जिला लोकसेवा प्रबन्धक संत कुमार चैबे उपस्थित थे। सीएससी जिला प्रबंधंक राहुल वाघेला एवं रंजीत नियमा ने बताया कि रैली झाबुआ षहर के प्रमुख मार्गा से होती हुई स्थानीय अम्बेडकर गार्डन मे समापन किया गया। रैली के माध्यम से आम लोगो मे आर्थिक गणना के फायदे के नारे लगाते रहे। रैली में जिले के 150 से ज्यादा वीएलई एनिमेटर उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...