झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 26 जून - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 26 जून 2019

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 26 जून

सात दिनों में ही तैयार हो जायेगा हवा डूंगरी का चैक डेम
केषव इंटरनेषनल स्कूल के छात्र छात्राओं ने श्रमदान करके अनुकरणीय कार्य को किया साकारपर्यावरण सरंक्षण एवं पानी बचाओं अभियान को दे रहे  मूर्त रूप
jhabua news
झाबुआ । सही मार्गदर्शन, सीखने की ललक, काम करने का जज्बा सब एक साथ दिखाई देवें तो किसी भी लक्ष्य को हांसील करना मुमकीन है। और यह सब ’’पानी बचाओं-अभियान’’ के तहत केशव इण्टर नेशनल स्कूल के 950 छात्र-छात्राओ ं ने चेक डेम निर्माण में अपनी सहभागिता करके दिखा दिया है कि पानी की बुंद बुंद को सहेज कर जहां भूमिगत जल स्तर को उपर लाने में सफलता प्राप्त की जासकती है, वही पर्यावरण के तहत अधिक से अधिक वृक्षों को पनपाया जा सकता है । हाथीपावी टेकरी की हवा डूंगरी पर केशव इंटरनेशन स्कूल के स्कूली बच्चों ने श्रमदान करके इस कठिन कार्य का करने में सफलता हांसील करके अन्यो ं के लिये भी अनुकरणीय उदाहरण प्रस्तुत किया है । स्कूल संचालक ओम प्रकाश शर्मा एवं मयंक रूनवाल द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार पिछले तीन दिनों से स्कूल भवन के नीचे ही हवा डूंगरी मेंस्कूल के छात्र-छात्राओं ने  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पर्यावरण सरंक्षण के लिये दिये गये मार्गदर्शन  तथा प्रदेश के मुख्यमंत्री  कमलनाथ के ट्वीट किये गये सन्देश तथा पद्मश्री एवं शिवगंगा प्रमुख महेश शर्मा की प्रेरणा से पर्यावरण सरंक्षण की प्रदत्त प्रेरणा को अमली जामा पहिनाने के तहत चैक डेम के निर्माण का कार्य प्रारंभ किया है । स्कूल के कक्षा 9 से 12 तक के छात्र-छात्राओं एवं अन्य बच्चों के सहयोग से  बरसात के पानी को संग्रहित करके, पानी बचाने एवं भूमिगत जलस्तर को बढाने के उद्देश्य से  प्रति दिन 40 मिनट के श्रमदान पीरियड में चैक डेम निर्माण का कार्य प्रारंभ किया है । आगामी 3-4 दिनों में यह चैक डेम पूरी तरह तेयार हो जायेगा तथा पहाडी से बहने वाला बरसात का पानी इस चैक डेम में संग्रहित हो सकेगा जिससे आसपास लगे सैकडो पौधों एवं वृक्षों को जहा नमी मिलेगी तथा पेड -पौधों को पनपने में अनुकुलता प्राप्त होगी ।  चैक डेम के निर्माण के लिये  140 ट्राली से अधिक काली मिट्टी भी लाई गई है  ताकि पथरिली जमीन को चैक डेम के मान से व्यवस्थित किया जासकेगा । करीब 2 हेक्टेयर जमीन में बरसात के पानी को संग्रहित किया जासकेगा जिसका दूरगामी परिणाम पर्यावरण संरक्षण एवं भूमिगत जल स्तर को बढाने में उपयोगी सिद्ध होगा । ज्ञातव्य है  कि पर्यावरण सरंक्षण एवं पानी बचाओं अभियान के सैद्धान्तिक ज्ञान की बजाय स्क्रूली बच्चों ने प्रायोगिक तौर पर इस कार्य को हाथ में लिया है तथा स्कूल द्वारा प्रतिवर्ष लगाये जाने वाले पौधे जिनमें पानी के अभाव में कई पौधे सुख जाते है, उनका सूखना बंद हो जावेगा वही इस बार भी 500 विभिन्न प्रजातियों के पौधे लगाये जावेगें जिन्हे शत प्रतिशत जीवित रखने की दिशा में यह चैक डेम काफी अहम भूमिका का निर्वाह करेगा । गौर तलब है  कि केशव इंटर नेशनल स्कूल के छात्र-छात्राओं ने हाथीपावा पहाडी पर रोपे गये 2500 से अधिक पौधों को नियमित रूप  से जाकर समय समय पर गर्मी के मौसम में पानी सिंचने एवं उनकी देखभाल आदि करने में अहम भूमिका निभाई थी जिसकी सर्वत्र प्रसंशा भी हुई हैे । आज भी ये सभी 2500 पौधे धीरे धीरे पनप कर वृक्ष के आकार को ग्रहण कर रहे है । केशव इण्टर नेशनल स्कूल के छात्र-छात्राओं का यह जज्बा एवं सराहनीय प्रयास अन्यो के लिये भी अनुकरणीय साबित होगा तथा जिले में पर्यावरण सरंक्षण एवं पानी बचाओं  तथा जल ही जीवन है -के बोधवाक्य को साकारता प्रदान करेगा । इस चैक डेम निर्माण के कार्य मे स्कूल की प्राचार्या श्रीमती अम्बिका टवली, उप प्राचार्य विनय डामोर सहित स्कूल के अध्यापक एवं शिक्षिकाओं का भी सराहनीय योगदान रहा है।ं

जिला कांग्रेस ने मुख्यमंत्री के एक दिवसीय दौरे पर किया आभार व्यक्त

झाबुआ। मप्र के मुख्यमंत्री कमलनाथ जिले के एक दिवसीय दौरे पर पधारकर कई शासकीय कार्यकमो में भाग लिया। इस दौरान उन्होने मुख्यमंत्री कन्या विवाह एवं मुख्यमंत्री निकाह योजना, किसान ऋण माफी योजना कार्यक्रम मे सम्मिलित हुये। साथ ही स्कूल चले अभियान एवं अन्य कार्यो में शिरकत की। इस दौरान उनके साथ आये उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी एवं जिले के प्रभारी मंत्री हनी बघेल ने झाबुआ जिले को करीब 140 करोड से अधिक रूपयो की सौगाते झाबुआ में पूर्व सांसद कांतिलाल भ्ूारिया के द्वारा रखाी गयी मांग को प्रस्ताव में लिया गया। जिला कांग्रेस निर्मल मेहता , विधायक जोबट कलावति भूरिया, विधायक वालसिंह मेडा, विरसिंह भूरिया, युवा नेता विंक्रांत भूरिया, श्रीमती शांति राजेश डामोर, नपा अध्यक्ष मन्नू डोडिया, सहित जिला कांग्रेस के पदाधिकारियो ने मुख्यमंत्री कमलनाथ , उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी, प्रभारी मंत्री सुरेन्द्र सिंह बघेल के द्वारा झाबुआ जिले के दौरे पर सौगात दिये जाने पर उनके प्रति आभार व्यक्त किया। उक्त जानकारी जिला कांग्रेस प्रवक्ता हर्ष भट्ट ने दी।

मप्र कर्मचारी कांग्रेस ने कर्मचारियों को विभिन्न समस्याओं एवं मांगांे को लेकर मप्र के मुख्यमंत्री कमलनाथ को सौंपा ज्ञापन, भव्य पुष्पामाला से किया स्वागत

jhabua news
झाबुआ। संपूर्ण मप्र में कर्मचारियों के हितार्थ कार्य करने वाले एवं उनकी मांगों तथा समस्याओं को शासन-प्रषासन स्तर पर रखकर निराकरण की पहल करने वाले संगठन मप्र कर्मचारी कांग्रेस द्वारा 25 जून, सोमवार को झाबुआ के दौरे पर आए मप्र के मुख्यमंत्री कमलनाथ से स्थानीय सर्किट हाऊस पर भेंटकर उन्हें कर्मचारियों की विभिन्न मांगों को लेकर ज्ञापन प्रस्तुत किया गया। साथ ही इस दौरान मुख्यमंत्री श्री नाथ का शहर में प्रथम आगमन पर उनका भव्य पुष्पामाला से स्वागत किया गया।  मप्र कर्मचारी कांग्रेस के जिलाध्यक्ष भेरूसिंह सोलंकी के नेतृत्व में मप्र षिक्षक कांग्रेस अध्यक्ष सुमेरसिंह कनेष, मप्र वन कर्मचारी संघ के राजेन्द्रसिंह अमलियार, सुषीलकुमार जायसवाल, नाहरसिंह रावत, रामबिहारी रायपुरिया, राजेन्द्र मंडोड़, प्रदीप भालेराव, फिरोज खान, प्रदीप मग, फ्रांसिस कटारा, श्रीमती शांति वसुनिया, नवीन पाठक, अषोक चैहान आदि ने सर्किट हाऊस पर 25 जून सोमवार को दोपहर 3.30 बजे मप्र के मुख्यमंत्री से मिलकर सर्वप्रथम उनका भव्य स्वागत किया। इस दौरान मप्र के उच्च षिक्षा मंत्री जीतू पटवारी, नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण एवं पर्यटन मंत्री तथा जिले के प्रभारी मंत्री सुरेन्द्रसिंह बघेल (हनी भैया), पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं पूर्व सांसद कांतिलाल भूरिया एवं जिला युवक कांग्रेस अध्यक्ष डाॅ. विक्रांत भूरिया का भी संगठनों द्वारा मिलकर स्वागत किया गया।

मांगों संबंधी सौंपा पत्र
बाद मप्र कर्मचारी कांग्रेस के बेनर तले मांगों संबंधी पत्र सौंपकर मुख्य 5 मांगों में मप्र लिपिक कर्मचारी संगठन द्वारा निम्न श्रेणी लिपिक वर्ष 1981 के समय निम्न श्रेणी षिक्षक के समान वेतनमान पर कार्यरत थे, शनेः-षने वेतन आयोग द्वारा वेतनमानों में निर्धारण के समय में अंतर आता आ गयाया। वर्तमान में लिपिक वर्गीय कर्मचारियांे को षिक्षकों के समान वेतनमान एवं ग्रेड-पे देने, मप्र वन कर्मचारी संघ द्वारा 24 मई 2018 से 6 जून 2018 तक हड़ताल पर रहे उक्त हड़ताल अवधि का वेतन निराकरण आज तक नहंी हुआ है। मप्र कर्मचारी कांग्रेस संगठन द्वारा अंषकालीन श्रमिक, अनुबंधित कर्मचारियों एवं दैनिक वेतनभोगी श्रमिकों को चुनावी घोषणा अनुसार कर्मचारियों को नियमित कर लाभ प्रदान करने, षिक्षा विभाग अंतर्गत वर्ष 2013 में गठित राज्य षिक्षा सेवा अंतर्गत विभागीय परीक्षा के माध्यम से चयनित एरिया एज्यूकेषन आॅफिसर (एईओ) की नियुक्ति की जाने एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं का मानदेय भुगतान समय-समय पर महीने की 5 तारिख तक करने की मांग रखी गई।

सर्व ब्राह्मण समाज ने दिया मुख्यमंत्री को ज्ञापन

jhabua news
झाबुआ। ब्राह्मण सदैव ही सर्वे भवन्तू सुखिनः बोध वाक्य में विश्वास रखता है। इस दृष्टि से स्र्वण समाज के प्रत्येक व्यक्ति को शिक्षा एवं रोजगार सहज उपलब्ध होना चाहिये ।हमे आरक्षण नही पर संरक्षण तो दिया जा सकता है। उक्त बात बा्रह्मण के के त्रिवेदी ने स्थानीय सर्किट हाउस में प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के समक्ष ज्ञापन सौपकर विचारार्थ रखी। सकल ब्राह्मण समाज की आंेर से सौंपे गये ज्ञापन को नगर अध्यक्ष हर्ष भट्ट जिला अध्यक्ष राकेश त्रिवेदी, संरक्षक डाॅ के के त्रिवेदी, सदस्य आचार्य नामदेव, विजय पांडे, लोकेश दवे, मनीष व्यास, गोपाल शर्मा, रामशंकर त्रिवेदी आदि ने ज्ञापन में मंांग की कि सकल बा्रह्मण द्वारा सामािजक संस्कारो संस्कृत भाषा के उन्नयन एवं संस्कृति की महान विरासत के संरक्षण के लिये नगर में परशुराम संस्कृति सदन का निर्माण प्रस्तावित हैं। इसके लिये बहुउद्देशीय आयोजना के लिये नगर मे कही भी प्रस्तावित की गई शासकीय भूमि को आंवटित करने का कष्ट करें। मुख्यमंत्री ने प्रतिनिधि मंडल से सौहार्द्रपूर्ण चर्चा कर आश्वस्त किया कि इस प्रस्ताव पर सकारात्मक रूप से विचार करेंगे।

शासकीय षिक्षक साख सहकारी संस्था मर्यादित का हुआ नवीनीकरण, नव निर्वाचित पदाधिकारियों का पुष्पमाला पहनाकर किया गया स्वागत

jhabua news
झाबुआ। स्थानीय थांदला गेट स्थित जिला पेंषनर्स कार्यालय पर 25 जून, मंगलवार को दोपहर शासकीय षिक्षक साख सहकारी संस्था मर्यादित जिला झाबुआ के नवीनीकरण हेतु निर्वाचन प्रक्रिया संपन्न हुई। निर्वाचन रिर्टनिंग अधिकारी अषोक जैन ने संपन्न करवाएं। सभी पदो ंके लिए एक-एक फार्म आने से सभी पदाधिकारी-प्रतिनिधि निर्विरोध निर्वाचित हुए। अध्यक्ष जयेन्द्र बैरागी चुने गए। रिर्टनिंग अधिकारी अषोक जैन ने जानकारी देते हुए बताया कि कुल चार पद अध्यक्ष, उपाध्यक्ष जिला सहकारी संघ प्रतिनिधि एवं जिला सहकारी बैंक प्रतिनिधि के लिए चुनाव प्रक्रिया की गई। चारो पदो ंके लिए एक-एक फार्म प्राप्त होने से सभी का निर्विरोध निर्वाचन हुआ। जिसके अनुसार अध्यक्ष जयेन्द्र बैरागी बने, उपाध्यक्ष नाथुलाल पाटीदार, जिला सहकारी संघ प्रतिनिधि जनार्दन शुक्ला एवं जिला सहकारी बैंक प्रतिनिधि जयेन्द्र बैरागी मनोनीत हुए। मनोनयन बाद सभी का पुष्पमाला पहनाकर स्वागत जिला पेंषनर्स एसोसिएषन के कोषाध्यक्ष समीउद्दीन सैयद, बीएसएनएल एम्पलाईज यूनियन के सचिव शरत शास्त्री एवं श्रीमती फिलोबाई वसुनिया आदि द्वारा किया गया। संचालन वरिष्ठ नागरिक फोरम के सचिव पीडी रायपुरिया ने किया एवं अंत में आभार श्री शास्त्री ने माना। इस अवसर पर संस्था के पूर्व अध्यक्ष विजयसिंह राठौर भी उपस्थित थे।

राष्ट्रीय पक्षी मोर को घायल अवस्था में इलाज हेतु ले जाया गया झकनावदा चिकित्सालय, मोर की संख्या करीब 400 होकर भी शासन-प्रषासन नहीं दे रहा ध्यान

jhabua news
झाबुआ। जिले के पेटलावद तहसील अंतर्गत आने वाले ग्राम झकनावदा में राष्ट्रीय पक्षी मोर झ बड़ी संख्या में है, लेकिन इनकी सुरक्षा और समुचित व्यवस्था की ओर शासन-प्रशासन का कोई ध्यान नहीं जा रहा है यहां आए दिन मोर दाना पानी के लिए सड़क किनारे आ जाते हैं, जिससे वह जंगली जानवरों के शिकार बन जाते है। ऐसा ही एक ओर दृष्य रविवार को श्रेणिक मनोहर लाल राठौर के घर के पास देखने को मिला। राष्ट्रीय पक्षी मोर दाना पानी के लिए सड़क किनारे आया, तो उसे एक कुत्ते ने झपट लिया जिससे मोर जान बचाकर उड़ा तो सहीं, लेकिन वह एक मकान के चद्दर पर जा बैठा,, जहां से दोबारा उड़ न सका यह देख श्रेणिक राठौर ने राष्ट्रीय पक्षी मोर को संभाला तो देखा कि मोर चलने में असक्षम होकर पूरी तरह घायल अवस्था में था, जिसके बाद उन्होंने यह जानकरी मनीष कुमट को दी। जिस पर मनीष कुमट ने वेटनरी चिकित्सक आवासीय को खबर की एवं मोर को चिकित्सालय ले जाकर उसका इलाज कर इंजेक्शन लगवाया। जिसके बाद समाजसेवी हरिराम परिहार, संजय व्यास चंद्रशेखर राठौर, शुभम कोटडिया ने मोर को सुरक्षित हाल में दाना पानी रखा गया।

जमीन का मुआयना किया है
श्री कुमट ने इस संबंध मंे झाबुआ डीएफओ मोहनलाल हरित से बात की तो उन्होंने बताया कि झकनावदा की मोर अभ्यारण केंद्र की मांग तेजी से उठने के कारण हमने झकनावदा में जमीन का मुआयना किया है। साथ ही हमारे उच्च अधिकारियों को इस हेतु प्रस्ताव बनाकर आगे भेज दिया है, जैसे ही आगे से जो भी आदेश आता है, हम उस पर कार्य करेंगे।

शिक्षक ने बदली सरकारी स्कूल की तस्वीर, एक ऐसी सरकारी स्कूल, जहां सरकारी स्कूल भी प्राइवेट स्कूल से कम नहीं

jhabvua news
झाबुआ। सरकारी स्कूल का ख्याल आते ही, हमे पुराने कमरे, फटी दरी एवं आंगन में बैठे छात्र, बदहाल पानी एवं बिजली की व्यवस्था और स्कूल परिसर में भ्रमण करते आवारा पशु की याद आ जाती है, लेकिन अगर आपको हम कोई एक सरकारी स्कूल से रूबरू करवाएं, जिसमें एडमिशन के लिए बच्चे प्राइवेट स्कूल छोड़कर शासकीय स्कूल आते हैं तो आप इस पर विश्वास नहीं करेंगे। जी हां हम आपको ऐसे ही एक झाबुआ जिले की शासकीय उत्कृष्ट बालक प्राथमिक विद्यालय झकनावदा की ओर ले चलते हैं, जहां कमरों एवं विद्यालय भवन की दीवारों पर शानदार पेंटिंग्स बनी हुई। जिसमें फ्लावर्स नेम, फल फ्रूट के नेम गिनती पहाड़ा आदि बनाए गए है। साथ ही स्कूल में आरो की मशीन लगाकर छात्रों के पीने के लिए साफ पानी, बच्चों के खेलने के लिए केरम बोर्ड, फुद्दी-बेड, बेट-बल्ला ,सोशल मीडिया एक्टिविटी के लिए कंप्यूटर प्रिंटर जैसी विशेष व्यवस्थाएं ह।ै तो एक बार इस और विश्वास करना मुश्किल होता है, लेकिन ऐसा ही कुछ हो रहा है झकनावदा शासकीय उत्कृष्ट बालक प्राथमिक विद्यालय, में यह संभवतः झाबुआ जिले के झकनावादा की सरकारी स्कूल में ही सुविधाएं है जहां यह प्राइवेट स्कूल को छोड़कर एडमिशन के लिए सरकारी स्कूल में होड़ लगी रहती है।

निजी स्कूल की तरह डेवलप
आपको बता दें कि इस विद्यालय को शासकीय स्कूल को प्राइवेट विद्यालय की तरह बनाने का प्रधान अध्यापक हेमेंद्रकुमार जोशी द्वारा ठान लिया गया था कि उक्त स्कूल प्राइवेट जैसा बनाना है और आज यह तस्वीर उभरकर जिले के झकनावदा में सामने हैं और आपको बता दें कि यहां शिक्षा के साथ सोश्यल एक्टिविटी, धार्मिक गतिविधि एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम संगीत की भी कई क्लास लगती है इस स्कूल को देख कई बार प्रशासन द्वारा सराहना भी की गई है।

स्कूल संस्था द्वारा स्टेषनरी सामग्री की भेंट
नवीन शैक्षणिक सत्र में स्कूल के शुभारंभ में समस्त स्कूल बच्चों को तिलक लगाकर अगवानी की गई। साथ ही स्कूल छात्रों के पालकों को स्कूल में बुलवा कर एवं साथी पूर्व सांसद प्रतिनिधि अजय वोहरा, मनीष कुमट गोपाल विश्वकर्मा ने संस्था द्वारा प्रदत्त स्कूल बैग कॉपी पेन आदि छात्रों को निशुल्क प्रदान किए। इस स्कूल की एक और विशेषता यह है कि इस वर्ष मप्र के भोपाल में शासन द्वारा शासकीय स्कूलों में जो नर्सरी स्कूल की शुरुआत की गई है, उसी तर्ज पर प्रधानाध्यापक हेमेंद्र जोशी द्वारा झाबुआ जिले के झकनावदा में भी प्राइवेट स्कूल जैसी नर्सरी स्कूल की शुरुआत की गई है। जिसमें बच्चों के खेलने पढ़ने की मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाई गई है। श्री जोशी ने बताया कि हमारा एक लक्ष्य है कि 1 वर्ष में हम छात्रों को 6 ड्राइंग बुक दे, जिससे कि वह चित्रकला में रुचि रखकर एक अच्छे पेंटर बन सके।

फिजियोथैराॅपी सेंटर के सुव्यवस्थित संचालन हेतु समिति का किया गया गठन, रोटरी सदन में दो नए ट्रस्टी बढ़ाने का प्रस्ताव पारित

jhabua news
झाबुआ। आगामी 1 जुलाई से रोटरी क्लब ‘मेन’ झाबुआ के नए सत्र के शुभारंभ के पूर्व वर्तमान पदाधिकारी एवं वरिष्ठ सदस्यों की आवष्यक बैठक स्थानीय रोटरी सदन में संपन्न हुई। अध्यक्षता रोटरी क्लब अध्यक्ष अमितसिंह जादौन (यादव) ने की। बैठक के प्रारंभ में रोटरी क्लब सचिव रो. हिमांषु त्रिवेदी ने बैठक के विषय के संबंध में अवगत करवाते हुए बताया कि गत 12 जून को रोटरी सदन में स्व. अनिता बसंल मेमोरियल फिजियोथैराॅपी सेंटर का गरिमामय शुभारंभ हो चुका है तथा शहर के नागरिकों द्वारा इसका लाभ भी लिया जा रहा है। इस सेंटर को सुव्यवस्थित चलाने हेतु एक समिति का गठन के लिए बैठक में चर्चा की गई। जिसमें सर्वानुमति से वरिष्ठ रोटेरियन यषवंत भंडारी, रोटरी डिस्ट्रीक्ट के आगामी सचिव उमंग सक्सेना एवं वर्तमान अध्यक्ष रो. अमितसिंह जादौन को संचालन समिति का स्थायी सदस्य मनोनीत किया गया। साथ ही रोटरी सदन के ट्रस्टी रो. नुरूद्दीनभाई बोहरा, मगनलाल गादिया, दिनेष सक्सेना, प्रदीप रूनवाल एवं क्लब के पदेन अध्यक्ष एवं सचिव को आमंत्रित सदस्य के रूप में अधिकृत किया गया।

दो नए ट्रस्टी बनाने का प्रस्ताव पारित
मंडल के आगामी सचिव रो. उमंग सक्सेना ने उपस्थित सदस्यों के समक्ष प्रस्ताव रखा कि वर्तमान में रोटरी सदन के ट्रस्टीयों में से तीन सदस्य की मृत्यु हो चुकी है तथा एक सदस्य बाहर चले गए। ऐसी स्थिति में रोटरी सदन में ट्रस्टीगणों में दो नए सदस्यों का मनोनयन किया जाए। उपस्थित सभी सदस्यों ने प्रस्ताव पर अपनी सहमति व्यक्त की। वरिष्ठ रोटेरियन श्री भंडारी ने सुझाव दिया कि नए सदस्यों के मनोनयन का अधिकार वर्तमान ट्रस्टीयों को दे दिया जाए। वे अपने स्व-विवेक से वरिष्ठ एवं अनुभवी सदस्यों का ट्रस्ट के ट्रस्टी के रूप में मनोनयन करे। जिसमें वर्तमान अध्यक्ष एवं सचिव की भी सहमति ली जाए। वरिष्ठ रोटेरियन एवं रोटरी सदन के ट्रस्टी रो. प्रदीप रूनवाल ने अपनी सहमति देते हुए इस विषय पर कार्रवाई करने का बात कहीं।

1 जुलाई से होगा नया सत्र प्रारंभ
बैठक में आगामी 1 जुलाई से नए सत्र के प्रारंभ में क्लब द्वारा आयोजित होने वाले कार्यक्रम के संबंध में भी चर्चा हुई। 1 जुलाई को नव मनोनीत अध्यक्ष रो. हिमांषु त्रिवेदी एवं सचिव रो. मनोज अरोरा ने आगामी कार्यक्रमांें की रूपरेखा प्रस्तुत की। जिसके अनुसार नए सत्र में पहले दिन रोटरी क्लब ‘मेन’ द्वारा ग्राम डूंगराधन्ना में शाला में नव प्रवेषित बच्चों का प्रवेषोत्सव का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। जिसमें स्कूल में प्रथम बार प्रवेष लेने वाले विद्यार्थियों का पुष्पामाला से स्वागत के साथ उन्हें शैक्षणिक सामग्री भेंट की जाएगी तथा सभी बच्चों का मिठाई खिलाकर मुंह मीठा करवाया जाएगा। 15 जुलाई के पश्चात् क्लब का अधिष्ठापन समारोह भी आयोजित करने के विषय में चर्चा हुई। बैठक में वरिष्ठ रोटेरियन पीके पाठक, जयेन्द्र बैरागी, प्रतापसिंह सिक्का, पंकज कर्नावट, अफजल खत्री सहित रोटरेक्ट क्लब के सदस्य उपस्थित थे। आभार रो. कोषाध्यक्ष कार्तिक नीमा ने माना।

जिला प्रषासन का पाॅलिटेक्निक काॅलेज प्रांगण में सामूहिक विवाह विधि-विधानपूर्वक गायत्री परिवार ने करवाया संपन्न, 250 कुंड़ों में प्रत्येक कुंड पर दो जोड़ों का हुआ विवाह, दो पालियों में रखा आयोजन

jhabua news
झाबुआ। जिला प्रषासन द्वारा स्थानीय पाॅलिटेक्निक काॅलेज प्रांगण में मुख्यमंत्री सहायता कन्या विवाह योजना-निकाह योजना अंतर्गत विवाह समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें स्वयं प्रदेष के मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा शामिल होकर विवाह के बंधन में जा रहे युवक-युवतियों को आर्षीवाद प्रदान करने के साथ उन्हें योजना अंतर्गत 51 हजार रू. से लाभान्वित करने की भी घोषणा की गई। संपूर्ण विवाह की रस्म विधि-विधानपूर्वक गायत्री शक्तिपीठ काॅलेज मार्ग झाबुआ से जुड़े गायत्री परिजनों द्वारा संपन्न करवाई गई। गायत्री शक्तिपीठ काॅलेज मार्ग से जुड़े एवं गायत्री परिवार के जिला समन्वयक पं. घनष्याम बैरागी द्वारा वैदिक पद्धति से विवाह संपन्न करवाएं गए। जिसमें गायत्री महा-मंत्रोच्चार के साथ पूरी रस्म विधि-विधानसे हवन कुंड बनाकर उसमें जोड़ों द्वारा बैठकर हवन कुंड में आहूतियां प्रदान कर शादी के पवित्र बंधन में बंधे। बाद उन्होंने विवाह संपन्न होने के बाद गायत्री परिवार के जिला समन्वयक पं. बैरागी का आर्षीवाद भी लिया।

करीब 1 हजार जोड़ों का विवाह
गायत्री परिवार के अनुसार जिला प्रषासन की ओर से विवाह स्थल पर कुल 250 कुंड बनाए गए। पहली पाली में प्रत्येक कुंड पर 2 जोड़ों अर्थात 500 जोड़े और पुनः फिर दूसरी पाली में प्रत्येक कुंड पर 2 जोडे़ अर्थात पुनः 500 जोड़े इस प्रकार कुल 1000 हजार जोड़ों का विवाह संपन्न हुआ। इसके बाद भी 100 से अधिक जोड़े आने पर उनका भी वैदिक पद्धति से गायत्री परिवार ने विवाह संपन्न करवाया।

इनका रहा सराहनीय सहयोेग
विवाह समारोह संपन्न करवाने में नारी जागरण अभियान की जिला संयोजिका श्रीमती नलिनी बैरागी के साथ महिलाओं में मनोरमा डावर, किरण निगम, रीना शर्मा, ललिता वर्मा, पूजन डावर, सुलोचना चैहान, राजकुमारी खंगारोत, कलाबेन पंचाल, श्रीमती चैहान के साथ पुरूषों में केके वर्मा, प्रकाष डावर, यषवंत व्यास, सुरेष निगम आदि का सराहनीय सहयोग रहा।

कम्प्युटर आपरेटर संघ ने अचन मांगो को लेकर मुख्यमंत्री को दिया ज्ञापन

झाबुआ । मध्य प्रदेश कंप्यूटर ऑपरेटर महासंघ अपनी मांगों को लेकर लगातार सक्रिय एवं संघर्षशील रहा है। झाबुआ जिले में बीते सोमवार को मुख्यमंत्री कमलनाथ जी का कार्यक्रम था जिसमे कम्प्यूटर ऑपरेटर महासंघ के जिला अध्यक्ष विजय राठौर एवम मीडिया प्रभारी दिनेश हटिला तथा महामंत्री विनोद पांचाल द्वारा माननीय मुख्यमंत्री महोदय से चर्चा की गई। माननीय मुख्यमंत्री महोदय ने महासंघ से मांगो के संबंध में निराकरण हेतु आश्वस्त किया एवं उनके द्वारा महासंघ से पूछा गया कि मांगो का निराकरण कैसे किया जा सकता है इसका प्रपोजल बनाकर उन्हें सौपे। जबकि महासंघ द्वारा विस्तृत प्रपोजल पूर्व में ही सौपा जा चुका है। उक्त प्रपोजल पर केवल समिति बनाई जाकर कार्य किया जाना शेष है। महासंघ का प्रपोजल के तहत दावा है कि प्रपोजल पर अगर समिति ध्यान देती है तो किसी भी प्रकार का वित्तीय भर सरकार को नही आएगा एवं 90 प्रतिशत कार्यरत कंप्यूटर आपरेटरों का भविष्य सुरक्षित हो जाएगा। शेष बचे निष्काषित कंप्यूटर आपरेटरों के लिए भी समिति विचार करते हुए उन्हें उनकी सेवाओ में वापस लगा सकती है जिसमे वित्तीय भर शून्य के बराबर होगा। माननीय मुख्यमंत्री महोदय का मध्य प्रदेश शासन के समस्त शासकीय अर्द्धशासकीय विभागो में कार्यरत सभी प्रकार के कंप्यूटर आपरेटरों के प्रति सकारात्मक रवैया है जिससे यह प्रतीत हो रहा है कि बहुत जल्द ही मध्य प्रदेश में कंप्यूटर आपरेटरों के भविष्य को लेकर कोई बड़ा फैसला किया जा सकता है।

अंतर्राष्ट्रीय नशा निवारण दिवस 26 जून को
              
झाबुआ । जनसामान्य में नशीले पदार्थो के दुष्परिणामों के बारे में जनजागरूकता लाने, नशीले पदार्थो के दुरूपयोग और अवैध व्यापार के विरूद्ध प्रति वर्ष 26 जून को अंतर्राष्ट्रीय नशा निवारण दिवस मनाया जाता है। अंतर्राष्ट्रीय नशा निवारण दिवस के अवसर पर 26 जून को नशामुक्ति रैली निकाली जाएगी। इस नशामुक्ति रैली के आयोजन के लिए सभी संबंधित अधिकारियों को दायित्व सौंपे हैं।

परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत ने की स्कूल-कॉलेज मालिक-प्रतिनिधियों से चर्चा
              
झाबुआ । परिवहन एवं राजस्व मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत ने मंत्रालय में प्रदेश के स्कूल-कॉलेज के मालिक प्रतिनिधियों से चर्चा की। प्रतिनिधियों द्वारा मंत्री जी से स्कूल-कॉलेज की बसों पर रियायती दर पर कर निर्धारण की माँग की गई। प्रदेश के स्कूल-कॉलेज बस मालिकों ने कहा कि इन बसों का उपयोग कममर्शियल वाहनों के रूप में न किया जाकर स्कूल कॉलेज के छात्र-छात्राओं एवं स्कूल स्टॉफ को लाने ले जाने के लिए किया जाता है। ये बसें उनकी संस्था के नाम पंजीकृत हैं। अतएव इन्हें परिवहन की परिधि में न रखकर रियायती दरों पर कर अधिरोपित किया जाना चाहिए। मंत्री श्री राजपूत द्वारा आश्वासन दिया गया कि इस संबंध में विभाग द्वारा लीज के लिए शीघ्र ही कैंप लगाये जायेंगे एवं पंजीयन सोसायटी/समिति से संस्था के नाम किये जाने की कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रकरण सीएजी से संबंधित होने के कारण विभागीय स्तर पर इस पर कोई कार्यवाही संभव नहीं है। इसके अलावा प्रबंधन की ओर से कोई समस्या संज्ञान में आने पर सहानुभूतिपूर्वक विचार किया जायेगा।

ग्राम पंचायतें बनायें पानी का बजट - ग्रामीण विकास मंत्री श्री पटेल
       
झाबुआ । पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल ने प्रदेश की 22 हजार 812 ग्राम पंचायतों के पंच-सरपंच को पत्र भेजकर आव्हान किया है कि पेयजल संकट का सामना करने के लिये जल-सम्मेलन आयोजित कर पानी का बजट बनायें। प्रत्येक ग्राम में जल-संरक्षण की रणनीति तैयार की जाये। ग्राम पंचायतें अपने कार्य-क्षेत्र में पेयजल और खेती के लिये पानी की आवश्यकता, उपलब्धता, परम्परागत जल-स्रोतों की स्थिति एवं जल-संग्रहण क्षमता का आकलन करें। जल-स्रोतों के संवर्धन के लिये जन-सहभागिता से श्रमदान करायें। किसानों को खेतों में मेड़-बँधान और चेकडेम जैसी संरचनाएँ बनाने तथा कम पानी की फसल बोने के लिये प्रेरित करें।  मंत्री श्री पटेल ने कहा कि राज्य सरकार परम्परागत जल-स्रोतों के संरक्षण और नवीन संरचनाओं के निर्माण के लिये निरंतर कार्य कर रही हैं। प्रदेश के 36 जिलों में 40 ऐसी नदियाँ हैं, जिनका प्रवाह बंद हो गया है अथवा रुक गया है। इन्हें पुनर्जीवित करने की वृहद कार्य-योजना पर कार्य प्रारंभ किया गया है। इससे 3621 ग्रामों के सवा लाख से अधिक किसानों की 2 लाख 129 हेक्टेयर कृषि भूमि सिंचित हो सकेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार पानी के संकट को दूर करने के लिये प्रतिबद्ध है।

जिले में 24 घण्टो मे 54.0 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज
             
झाबुआ । जिले में इस वर्ष अब तक औसतन 104.3 मि.मी. वर्षा दर्ज की गयी है। विगत 24 घण्टो मे औसत 54.0 मि.मी. वर्षा दर्ज की गई। वर्षामापक केन्द्र झाबुआ में 89.2, रामा में 22.0 मि.मी., पेटलावद मे 51.4, थांदला मे 45.4 मि.मी., मेघनगर मे 65.0, राणापुर मे 51.0मि.मी वर्षा दर्ज की गई।

कलेक्टर ने जनसुवाई में सुनी आमजन की समस्याएॅ जनसुनवाई में 57 आवेदन प्राप्त हुवे

jhabua news
झाबुआ । आज प्रातः 11 बजे जनसुनवाई कलेक्टर कार्यालय सभा कक्ष में आयोजित की गयी। जिसमें आवेदन कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा एवं एसडीएम श्री परते ने लिये। जनसुनवाई में विभिन्न विभागो के जिला अधिकारी भी उपस्थित थे। जनसुनवाई में भूरसिह वसुनिया सेवा निवृत सहायक ग्रेड-2 षासकीय संकुल केन्द्र मोरडुण्डिया ने सातवे वेतनमान के एरियर का भुगतान करवाने के लिए आवेदन दिया। जया वसावा,जूही वसावा एवं अक्षय वसावा निवासी ग्राम खजूरी तहसील थांदला ने जाति प्रमाण-पत्र जारी करवाने के लिए आवेदन दिया।  रामा पिता हीरजी निवासी मोहकमपुरा तहसील पेटलावद ने बहिन मडीबाई से जमीन की कीमत दिनवाने के लिए आवेदन दिया। धनजी पिता जवरा निवासी पाडाधामंजर तहसील थांदला ने भूमि का नक्षा सही करवाने के लिए आवेदन दिया। थांदला के पत्रकार कुन्दन अरोडा ने थांदला नगर पंचायत द्वारा किये जा रहे अवैध निर्माण कार्यो को रूकवाने के लिए आवेदन दिया। ईषाक मोहम्मद पिता अयूब निवासी सुभाष मार्ग झाबुआ ने गरीबी रेखा का राषन कार्ड बनवाने के लिए आवेदन दिया। सवसिह पिता बमदर निवासी बामनसेमलिया तहसील झाबुआ ने भण्डारी पेट्रोल पम्प के मालिक द्वारा पानी की पाईप लाईन निकाल लेने से खेत व मकान में पानी भर जाने की षिकायत की एवं रोड मे पाईप लाईन लगवाने तथा क्षति पूर्ति दिलवाने के लिए आवेदन दिया। देवा पिता लचका निवासी नल्दी छोटी तहसील झाबुआ ने रात्रि मे बरसात के कारण मकान गिर जाने से आर्थिक सहायता दिलवाने के लिए आवेदन दिया। बसु पिता ननु गेहलोत निवासी पिपलौदा बडा तहसील मेघनगर ने आवास ऋण एवं स्वरोजगार    हेतु ऋण दिलवाने के लिए आवेदन दिया।  जनसुनवाई में 57 आवेदन प्राप्त हुए थे। जिसमें  अधिकांष आवेदन पत्र जमीन संबंधी आपसी विवाद से संबंधित थे। दिव्यांगजनो एवं बुजुर्गो से कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने प्रथम तल पर आकर आवेदन लिये, ताकि उन्हे आवेदन देने के लिये सीढिया न चढना पडे। 

प्रायवेट स्कूलों की मान्यता नीवीनकरण के लिए आवेदन प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि 30 जून

झाबुआ । निःषुल्क और अनिवार्य बाल षिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 के अंतर्गत अषासकीय स्कूलों को विद्यालय संचालन के लिए विहित प्राधिकारी (जिला षिक्षा अधिकारी) से मान्यता प्राप्त करना एवं उसका समय पर नवीनीकरण के लिए आवष्यक है। कुछ विद्यालयों द्वारा नवीनीकरण के लिए आवेदन पूर्व निर्धारित समय सीमा में नही किया गया है। ऐसे विद्यालयों के द्वारा मान्यता नवीनीकरण के लिए आवेदन करने के लिए पोर्टल प्रारंभ किया गया है। मान्यता नवीनीकरण के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 30 जून 2019 निर्धारित है। जिन स्कूलों की मान्यता अवधि समाप्त हो चुकी है या 45 दिन पष्चात समाप्त होगी, उनके द्वारा मान्यता निरंतर रखने के लिए नवीनीकरण के लिए आवेदन किया जावे। जिन स्कूलों की मान्यता जिला षिक्षा अधिकारी द्वारा वर्तमान सत्र में निरस्त की गई है, ऐसे स्कूलों द्वारा पुनः आवेदन दर्ज नही किया जाएं। ऐसी स्थिति में ऐसे स्कूलों के लिए कलेक्टर के समक्ष अपील का प्रावधान है। मान्यता नवीनीकरण के लिए प्रक्रिया पूर्व जारी निर्देषानुसार ही होगी।

शिशु-मातृ मृत्यु दर पर नियंत्रण राज्य सरकार की प्राथमिकता - मंत्री श्री सिलावट
स्वास्थ्य सेवाओं के लिए धन की कमी नहीं
झाबुआ । स्वास्थ्य मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की गतिविधियों की समीक्षा करते हुए कहा कि स्वस्थ और विकसित मध्यप्रदेश निर्माण के लिए शिशु एवं मातृ मृत्यु दर को नियंत्रित करना आवश्यक है। स्वास्थ्य मंत्री श्री सिलावट ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के अमले की क्षमताओं का बेहतर उपयोग कर प्रदेश को स्वस्थ प्रदेश बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। राज्य सरकार ने वचन-पत्र में स्वास्थ्य सेवाओं के लिये 38 बिन्दु निर्धारित किये हैं। इनकी समय-सीमा में पूर्ति किया जाना है। श्री सिलावट ने कहा कि स्वास्थ्य कार्यक्रमों के लिये धन की कमी नहीं आने दी जायेगी। उन्होंने वर्षा के मौसम को ध्यान में रखते हुए मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया सहित अन्य संक्रमक बीमारियों पर नियंत्रण के लिए पूर्व से ही तैयारी करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि प्राणघातक बीमारियों का संक्रमण रोकने के लिए जन जागरूकता कार्यक्रम चलाये जायें। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि जागरूकता अभियान में 63,000 आशा कार्यकर्ताओं का सहयोग लेने के लिये संभाग-स्तर पर सम्मेलन आयोजित किये जायेगें। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य अमले की पूर्ति के लिए प्रयास जारी हैं। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन में मेडिकल आफिसर की नियुक्ति के लिए प्रति बुधवार वॉक-इन-इन्टरव्यू के माध्यम से तथा 4791 अन्य अमले की भर्ती प्रोफेशनल एक्जामिनेशन बोर्ड से करने की प्रक्रिया जारी है। अस्पतालों में दवाओं की आपूर्ति और गुणवत्ता पर नियंत्रण रखने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि जननी एक्सप्रेस और 108 एम्बुलेंस की निरंतर मॉनीटरिंग की जाये।

स्लम रिडेव्हलपमेंट पॉलिसी बनायी जायेगी - मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह
            
झाबुआ । नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री जयवर्द्धन सिंह ने कहा है कि प्रदेश में स्लम रिडेव्हलपमेंट पॉलिसी बनायी जायेगी। प्रत्येक शहर में कम से कम एक पार्क जरूर बनाया जायेगा। श्री सिंह ने बीएसएस रिदम ऑनलाइन रेडियो में साक्षात्कार के दौरान यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि सभी शहरों में 5 से लेकर 10 हजार तक पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया है। पौधे लगाने के साथ ही उनकी सुरक्षा की व्यवस्था करने के भी निर्देश दिये गये हैं। शहरों में अच्छी सडक, प्रतिदिन पानी की उपलब्धता, स्वच्छता, रोजगार के अवसर और युवाओं की काउंसलिंग की सुविधा हो। युवाओं के प्रशिक्षण के लिये मुख्यमंत्री युवा स्वाभिमान योजना प्रारंभ की गयी है। युवा सशक्तिकरण के प्रयास किये जा रहे हैं। कक्षा 10वीं, 11वीं और 12वीं में ही काउंसलिंग होना चाहिये।

मदरसा नवीनीकरण की आखरी तारीख 30 जून

झाबुआ । मदरसा मान्यता नवीनीकरण सत्र 2019-20 के लिए  आॅनलाईन आवेदन की आखरी तारीख 30 जून कर दी गई है। आॅनलाईन आवेदन करने से वंचित रहे मदरस¨ं के लिए एम.पी. आॅनलाईन के अधिकृत प¨र्टल पर 30 जून तक यह सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। विस्तृत जानकारी मदरसा ब¨र्ड की अधिकृत वेबसाईट ूूू.उचउइ.वतह एवं एम.पी. आॅनलाईन के प¨र्टल परश्मदरसा-ब¨र्डश् पेज पर देखी जा सकती है।

मध्य प्रदेश पुलिस (बैंड) के पद पर भर्ती

झाबुआ । जिला सैनिक कल्याण अधिकारी ने बताया है कि मध्य प्रदेश पुलिस विभाग के पुलिस बैंड में उप निरीक्षक (बैंड), प्रधान आरक्षक (बैंड) एवं आरक्षक (बैंड) के रिक्त पदों के विरुद्ध भूतपूर्व सैनिक (थल सेना, वायु सेना, नौ सेना) की सीधी भर्ती आयोजित की गई है। इन पदों पर नियुक्ति हेतु इच्छुक उम्मीदवारों से आवेदन पत्र 30 जून 2019 तक आमंत्रित किये गये हैं। इस संबंध में अधिक जानकारी हेतु जिला सैनिक कल्याण कार्यालय, रतलाम से संपर्क किया जा सकता है।

भारतीय थल सेना में रिलेषन के आधार पर सैनिकों की भर्ती

झाबुआ । जिला सैनिक कल्याण अधिकारी ने बताया है क़ि जिले के सभी भूतपूर्व सैनिकों/विधवाओं को सूचित किया गया है, कि भारतीय थल सेना में रिलेसन के आधार पर सैनिकों की भर्ती सेना मेडिकल कोर के सेंटर में 2 सितम्बर 2019 से 8 सितम्बर 2019 तक आयोजित की जा रही है। इसमें सभी टेªडों के लिये भर्ती की जायेगी। इस संबंध में उन्होंने जिले के सभी भूतपूर्व सैनिकों से अनुरोध किया है कि जो अपने बच्चों को सेना में भर्ती करना चाहते हैं, वह अधिक जानकारी हेतु जिला सैनिक कल्याण कार्यालय रतलाम से संपर्क कर सकते हैं।

हृदय रोग से पीडित अंजली अब पूर्णतः स्वस्थ बाल हृदय उपचार योजना में हुआ निःशुल्क आॅपरेषन

झाबुआ ।  जन्मजात विकृति से ग्रसित बच्चो का यदि समय पर उपचार कर विकृति को सुधार दिया जाये तो बडे होने तक बच्चो की विकृति एकदम ठीक हो सकती हैै। ऐसे माता-पिता जिनके पास पैसा होता है वे तो अपने बच्चो का इलाज करवा लेते है लेकिन निर्धन माता-पिता के लिए यह संभव नही होता हैं, ऐसे मे षासन के राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम ने कई निर्धन परिवार के बच्चो को जीवन दान दिया है। जिले के ग्राम जुलवानिया निवासी अंजली पिता प्रकाष उम्र 02 वर्ष 6 माह जन्मजात हृदय रोग से पीडित थी, किन्तु परिजनों को बीमारी की जानकारी नहीं थी। राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के दल द्वारा भ्रमण के दौरान अंजली का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। परीक्षण के दौरान अंजली के ह्रदय रोग से पीडित होने की बात सामने आई। दल द्वारा अंजली के माता पिता को उसके हृदय का आॅपरेषन करवाने के लिए षासन की योजना की जानकारी दी गई। अंजली का सफलतापूर्वक निःशुल्क आॅपरेषन मुम्बई के निजी अस्पताल मे करवाया गया। अब अंजली पूर्णतः स्वस्थ है एवं खुशहाली पूर्वक अपना जीवन जी रही है। अंजली के माता-पिता के आवागमन व्यय का भुगतान भी षासन द्वारा किया गया। अंजली के पिता प्रकाष ने बताया कि षासन की यह योजना गरीब परिवार के बच्चो के लिए वरदान हैं।

मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना अंतर्गत पमी का विवाह हुआ सम्पन्न
       
झाबुआ ।  जिले के जनपद पंचायत मेघनगर के ग्राम झापादरा की पमी का विवाह 24 जून को झाबुआ जिला मुख्यालय पर आयोजित मुख्यमंत्री कन्यादान विवाह सम्मेलन में संपन्न हुआ। विवाह सम्मेलन में मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने स्वयं उपस्थित होकर वर-वधू को आषीर्वाद दिया।पमी ने चर्चा के दौरान बताया कि उसके पिता मजदूरी करके अपने परिवार का भरण पोषण करते हैं। उनकी आर्थिक स्थिति इतनी अच्छी नही थी कि वे विवाह का खर्च उठा पाते।फिर हमे पता चला कि मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में ष्षासन द्वारा राषि बढाकर 51 हजार कर दी गई है। इस राषि में से 48 हजार रू. कन्या के बैक खाते में जमा किये जाएगे। फिर हमने मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना मे पंजीयन करवाया और 24 जून को पाॅलीटेक्नीक काॅलेज झाबुआ में आयोजित कार्यक्रम में विवाह अच्छे से हो पाया। प्रदेष के मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने स्वयं उपस्थित होकर हमे पौधा भेट कर सुखी दाम्पत्य जीवन के लिए आषीर्वाद दिया यह हमारा सौभाग्य है। इसके साथ ही कन्या के खाते में योजना अंतर्गत गृहस्थी प्रारम्भ करने के लिये 48 हजार रुपये की राशि प्रदाय की गई। पमी एवं उसके पति ने मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि आज मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ के कारण उनका विवाह का सपना पूरा हुआ है। साथ ही उन्हे गृहस्थी प्रारम्भ करने के लिये 48 हजार रुपये की राशि भी मिली है।

प्रवेशोत्सव में निःशुल्क पुस्तकें पाकर खिल उठे बच्चों के चेहरे 

झाबुआ । मध्यप्रदेश शासन बच्चों को गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा प्रदान करने के लिए कृत संकल्पित है। बच्चों के सर्वागीण विकास के लिए सरकार शिक्षा के क्षेत्र में कोई कमी नहीं रहने देना चाहती है। बच्चों की शिक्षा के लिए शासन द्वारा अनेक प्रयास किये जा रहे हैं। गरीब बच्चों की शिक्षा में आर्थिक तंगी बाधा न बने इसके लिए सरकार द्वारा उन्हें निःशुल्क पाठ्य पुस्तकें, छात्रवृत्ति, गणवेश, साइकिल आदि सुविधायें उपलब्ध कराई जा रही हैं। स्कूल चलें हम अभियान के तहत 24 जून को स्कूल प्रारंभ होने के दिन झाबुआ जिले में प्रवेशोत्सव कार्यक्रम आयोजित किये गये। जिला मुख्यालय पर आयोजित कार्यक्रम मे प्रदेष के मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री सुरेन्द्र सिह बघेल ने जिले के शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय में मुख्य अतिथि के रूप में हिस्सा लिया। उन्होंने निःशुल्क पाठ्य पुस्तकों का वितरण भी बच्चो को किया। स्कूल में पहले ही दिन निःशुल्क नई पाठ्य-पुस्तकें पाकर बच्चों में खुशी की लहर दौड गई। उनके चेहरे पर प्रसन्नता के क्षण नजर आ रहे थे। स्कूल के बच्चे मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ को अपने बीच पाकर भी बेहद खुश थे। उन्होंने बच्चों का उत्साह वर्धन कर प्रतिदिन स्कूल आने के लिए प्रेरित किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि शिक्षा ही विकास की कुंजी है। अपने जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए शिक्षा ग्रहण करना जरूरी है।

साईकिल पाकर खिले छात्र-छात्राओं के चेहरे 
        
झाबुआ ।  स्कूल चलें हम अभियान के तहत आयोजित प्रवेशोत्सव कार्यक्रम में जिला मुख्यालय पर आयोजित कार्यक्रम मे प्रदेष के मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ, ने जिले के शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय में मुख्य अतिथि के रूप में हिस्सा लिया। मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ, उच्च षिक्षा मंत्री श्री जितू पटवारी एवं जिले के प्रभारी श्री सुरेन्द्र सिह बघेल ने छात्र-छात्राओं को साईकिल वितरित की। साईकिल मिलने से खुश राहुल,अजय नेहा ,तथा प्रिती सहित अन्य छात्र-छात्राओं ने कहा कि अभी तक उन्हें पैदल ही स्कूल आना पड़ता था जिस कारण काफी समय खराब होता था। अब साईकिल मिल जाने से उन्हें पैदल स्कूल नहीं आना पड़ेगा और इससे उनका समय भी बचेगा जिसका उपयोग वे पढ़ाई में कर सकेंगे।छात्र-छात्राओं ने मुख्यमंत्री जी का तहेदिल से समक्ष मे धन्यवाद दिया एवं कहा कि साईकिल मिल जाने से अब वह आगे की पढ़ाई भी जारी रख सकेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...