बिहार : मंगल पांडेय ट्रेबलेट एवं बायोमेट्रिक डिवाइस का वितरण करेंगे - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 9 जून 2019

बिहार : मंगल पांडेय ट्रेबलेट एवं बायोमेट्रिक डिवाइस का वितरण करेंगे

  • 10 जून को 11 बजे से अधिवेशन भवन,पुराना सचिवालय,पटना के मुख्य सभागार कक्ष में

किसी भी जिला, क्षेत्र, राज्य के पिछड़ेपन के लिए उसकी भौगोलिक स्थिति व भू-संरचना सबसे अधिक जिम्मेदार होते हैं। भौगोलिक स्थिति से सामाजिक कारण जुड़े रहते हैं। नीति आयोग ने इन पिछड़े जिलों को एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट नाम दिया है। 
mangal-pandey-distribute-divice
पटना,07 जून। अब राज्य स्वास्थ्य समिति, बिहार की ओर से ए. एन. एम.को हाईटेक करने का प्रयास शुरू कर दिया गया है। इसमें प्रथम चरण में 13 एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट को शामिल किया गया है। किसी भी जिला, क्षेत्र, राज्य के पिछड़ेपन के लिए उसकी भौगोलिक स्थिति व भू-संरचना सबसे अधिक जिम्मेदार होते हैं। भौगोलिक स्थिति से सामाजिक कारण जुड़े रहते हैं। नीति आयोग ने इन पिछड़े जिलों को एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट नाम दिया है। 10 जून को आयोजित वितरण समारोह में ट्रेबलेट एवं बायोमेट्रिक डिवाइस ए.एन.एम.को दिया जाएगा। इस बात की जानकारी मनोज कुमार, कार्यापालक निदेशक ने जिला स्वास्थ्य समिति,पटना,भोजपुर एवं वैशाली के सिविल सर्जन-सह-सदस्य सचिव को दी है। विगत वर्ष में बिहार राज्य में मातृ-मृत्यु,शिशु-मृत्यु एवं प्रजनन दर को नियत्रिंत करने में आशातीत सफलता प्राप्त की है। इस कार्य में आशा एवं ए.एन.एम. कार्यकर्ताओं की भूमिका महत्वपूर्ण हे और उनके द्वारा किये जा रहे कार्यों के कारण ही राज्य में जन स्वास्थ्य के आंकड़ों में सकारात्मक वृद्धि हो रही है। तथापित यह आलोकित किया जा रहा है कि ए.एन.एम.  के द्वारा स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराने के साथ ही, उनके द्वारा 15 से 18 रजिस्टरों का संधारण भी करना पड़ रहा है, परिणामस्वरूप उनके द्वारा गृह-भ्रमण की गतिविधि ससमय एवं गुणवत्तापूर्ण संपादित नहीं हो पा रही है। गृह-भ्रमण के अभाव में ससमय मां और बच्चों की समस्याओं की पहचान नहीं हो पाती है,जो अंततः मां और बच्चों के स्वास्थ्य को प्रभावित करता है। अतः स्वास्थ्य उपकेन्द्र पर कार्यरत ए.एन.एम.  के कार्यों को सुगम एवं पारदर्शी बनाने के उद्देश्य से स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय,भारत सरकार के निदेशानुसार राज्य के सभी ए.एन.एम.  को अनमोल कार्यक्रम अन्तर्गत टैबलेट एवं बायोमेट्रिक दिवाइस उपलब्ध कराने का निर्णय लिया गया है,ताकि ए.एन.एम.  के द्वारा दी जा रही स्वास्थ्य सेवाओं से संबंधित आंकड़े ए.एन.एम. के द्वारा स्वयं टैबलेट डिवाइस में ससमय अंकित किया जा सके। साथ ही टैबलेट डिवाइस के माध्यम से ए.एन.एम.  प्रत्येक दिन दिये जाने वाले स्वास्थ्य सेवाओं का वर्क प्लान ( डू लिस्ट) स्वयं जनित कर सके एवं वर्क प्लान (डू लिस्ट) के अनुसार ससमय स्वस्थ्य सेवाएं दी जा सके तथा मातृ-मृत्य दर एवं शिशु मृत्यु दर को यथा संभव कम किया जा सके। साथ ही बायोमेट्रिक डिवाइस के माध्यम से ए.एन.एम. एवं लाभार्थियों का आधार कर डेमोग्राफिक सूचना प्रणाली में स्वतः प्राप्त हो जायेगा एवं किसी भी प्रकार का डुप्लिकेसन नहीं हो पायेगा। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय,भारत सरकार के द्वारा प्रथम चरण में 13 एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट के 50 प्रतिशत ए.एन.एम. के लिए टैबलेट एवं बायोमेट्रिक डिवाइस उपलब्ध कराया गया है। शेष 25 एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट के ए.एन.एम. के लिए टैबलेट एवं बायोमेट्रिक डिवाइस का क्रय करने की प्रक्रिया की जा रही है। क्रय करने के उपरांत उपलब्ध करा दी जायेगी। 13 एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट के 50 प्रतिशत ए.एन.एम. के लिए स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय,भारत सरकार द्वारा उपलब्ध कराये गये टैबलेट एवं बायोमेट्रिक डिवाइस को माननीय मंगल पांडेय, मंत्री स्वास्थ्य विभाग, बिहार सरकार के कर-कमलों द्वारा वितरण हेतु 10.06.2019 को पूर्वाह्न 11ः00 बजे अधिवेशन भवन,पुराना सचिवालय,पटना के मुख्य सभागार कक्ष में टैबलेट एवं बायोमेट्रिक डिवाइस वितरण समारोह आयोजित किया गया है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...