पीएम मोदी ने कोलंबो में हुए आतंकवादी हमले में मारे गए लगों को श्रद्धांजलि दी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 9 जून 2019

पीएम मोदी ने कोलंबो में हुए आतंकवादी हमले में मारे गए लगों को श्रद्धांजलि दी

बीजेपी के अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश मंत्री राजन क्लेमेंट साह ने कहा कि 2014 से प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदर मोदी ‘ सबका साथ और सबका विकास‘ करने में लगे हैं। अब 2019 में प्रधानमंत्री जी ‘सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास हासिल करने में जुट गए हैं। जो शुभ सकेंत है।
modi-tribute-in-sri-lanka-terror-death
पटना, 09 जून। अपने विदेश दौरे के दूसरे दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदर मोदी श्रीलंका की राजधानी कोलंबो पहुंचे। इस दौरान श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपल सिरिसेना ने एयरपोर्ट पर पीएम मोदी का स्वागत किया। पीएम मोदी ने कोलंबो में हुए आतंकवादी हमले में मारे गए लगों को श्रद्धांजलि दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी श्रीलंका की राजधानी कोलंबो के सेंट एंटनी चर्च में हुए सीरियल ब्लास्ट में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि दी। कोलंबो के चर्च पहुंचे पीएम मोदी, सीरियल ब्लास्ट में मारे गए लोगों को दी श्रद्धांजलि। पीएम मोदी ने कोलंबो के सेंट एंटनी चर्च में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों में मारे गए लगों को श्रद्धांजलि दी। श्रीलंका की राजधानी कोलंबो में इस साल अप्रैल में आतंकवादी हमला हुआ था। श्रीलंका के पीएम रानिल विक्रमसिंघे ने एयरपोर्ट पर पीएम मोदी का स्वागत किया। हाल ही में हुए सिलसिलेवार बम धमकों के बाद किसी भी विदेशी राष्ट्राध्यक्ष का यह पहला श्रीलंका दौरा है।

इस दौरान दोनों देशों के बीच आतंकवाद समेत कई अहम मुद्दों पर चर्चा हो सकती है। बता दें कि पीएम मोदी की यह तीसरी श्रीलंका यात्रा है। इससे पहले पीएम मोदी साल 2015 और 2017 में श्रीलंका के दौरे पर गए थे। बता दें कि श्रीलंका में बीते 21 अप्रैल को ईस्टर के मौके पर भीषण आतंकी हमले में 257 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 500 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे। मरने वालों में 11 भारतीय नगरिक भी शामिल थे। हमले की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट (आइएस) ने ली थी, लेकिन श्रीलंका की सरकार ने इसमें स्थानीय संगठन का हाथ बताया था। शनिवार को अपने दौरे के पहले दिन पीएम मोदी मालदीव पहुंचे। इस दौरान भारत और मालदीव के बीच छह समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए।  मालदीव ने प्रधानमंत्री मोदी को विदेशियों को दिए जाने वाले अपने सर्वोच्च सम्मान ‘रूल ऑफ निशान इज्जुद्दीन‘ से सम्मानित किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार प्रायोजित आतंकवाद हमारे समय की सबसे बड़ी चुनौती है। यह खतरा एक देश या एक क्षेत्र के लिए नहीं, यह खतरा पूरी मानवता के लिए है।  पीएम मोदी ने मालदीव की संसद श्मजलिसश् को भी संबोधित किया। पीएम मोदी ने कहा कि यह दुर्भाग्य है कि लोग अब भी अच्छा आतंकी और बुरा आतंकी का भेद करने की गलती कर रहे हैं। कृत्रिम मतभेदों में पड़कर हमने बहुत समय गवां दिया है। पानी अब सिर से ऊपर निकल रहा है। प्रधानमंत्री ने साफ कहा कि आतंकवाद की चुनौती से निपटने के लिए सभी मानवतावादी शक्तियों का एकजुट होना जरूरी है।  बीजेपी के अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश मंत्री राजन क्लेमेंट साह ने कहा कि 2014 से प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदर मोदी ‘ सबका साथ और सबका विकास‘ करने में लगे हैं। अब 2019 में प्रधानमंत्री जी ‘सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास हासिल करने में जुट गए हैं। जो शुभ सकेंत है। वहीं अमित राज ने कहा कि प्रधानमंत्री जी श्रीलंका में जाकर ईसाइयों का विश्वास प्राप्त कर रहे हैं। प्रधानमंत्री जी भारतवर्ष में ही ईसाई समुदाय रहते हैं। उनपर विश्वास करने की जरूरत है। इनका साथ और इनका विकास करवाने पर ध्यान देने की जरूरत है। वहीं डिम्फना बेनेडिक्ट का कहना है कि प्रधानमंत्री की श्रद्धांजलि देने वाले कृत्य पर यकीन नहीं कर पा रही है। 

कोई टिप्पणी नहीं: