पूर्णिया : तीन बोर्ड व तीन सशक्त स्थाई समिति की बैठकों में लिए गए निर्णयों पर लगी मुहर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 22 जून 2019

पूर्णिया : तीन बोर्ड व तीन सशक्त स्थाई समिति की बैठकों में लिए गए निर्णयों पर लगी मुहर

- पूर्व की बैठकों में छोटी बड़ी 455 योजनाओं पर जो विचार किया गया था उसे व वित्तीय वर्ष 2019-20 की बजट को इस बोर्ड बैठक में फाइनल टच दे दिया गया- 36 करोड़ रूपए की विभिन्न योजनाओं पर कार्य चल रहा है, 23 करोड़ रूपए की योजनाओं की लॉटरी 22 व 24 जून को कराई जाएगी जबकि 36 करोड़ की योजनाओं की टेंडरिंग प्रक्रिया पूरी की जा रही है : मेयर 
purnia-municiple-dissision
कुमार गौरव । पूर्णिया : नगर निगम सभागार में मेयर सविता देवी की अध्यक्षता में हुई बोर्ड बैठक में जहां कई अहम फैसले लिए गए वहीं गत दो बोर्ड बैठक व तीन सशक्त स्थाई समिति की बैठकों में लिए गए निर्णयों की संपुष्टि की गई। पूर्व की बैठकों में छोटी बड़ी 455 योजनाओं पर जो विचार किया गया था उसे व वित्तीय वर्ष 2019-20 की बजट को इस बोर्ड बैठक में फाइनल टच दे दिया गया। जिसके बाद शहर के सभी 46 वार्डों में सड़क, नाला, पार्क, बायो कम्पोस्टिंग प्लांट समेत साफ सफाई के लिए एनजीओ की तैनाती का भी रास्ता साफ हो गया है। बता दें कि आठ माह पूर्व बनी नगर सरकार के द्वारा कुल 95 करोड़ रूपए के विकास कार्यों को मंजूरी दी गई है। जिसमें 36 करोड़ रूपए की विभिन्न योजनाओं पर कार्य चल रहा है। 23 करोड़ रूपए की योजनाओं की लॉटरी 22 व 24 जून को कराई जाएगी जबकि 36 करोड़ की योजनाओं की टेंडरिंग प्रक्रिया पूरी की जा रही है। मेयर ने कहा कि पूर्व से स्वीकृत सभी वार्डों को विकास कार्य के लिए दिए जाने वाली 50-50 लाख रूपए की राशि के लिए सारी प्रक्रिया पूरी की जा चुकी है और ग्रुप नंबर 1-60 के लिए 22 जून को टेंडर होगा जबकि ग्रुप नंबर 61-124 के लिए 24 जून को टेंडर की प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी। जिसके बाद शहर के सभी गली मोहल्लों में सड़क व नाले का निर्माण का रास्ता साफ हो जाएगा। इस कार्य की निगरानी के लिए 4 कनीय अभियंताओं की टीम की तैनाती भी की गई है। मेयर ने कहा कि इसके अलावे इस वित्तीय वर्ष 2019-20 में स्वीकृत सभी वार्डों के लिए 75-75 लाख रूपए की योजनाओं के लिए जल्द ही टेंडर की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। इसके तहत शहर को चार हिस्सों में बांटकर विकास कार्य कराए जाएंगे ताकि शहर का समग्र विकास हो सके। 

...सफाई कार्य के लिए 29 जून को होगा टेंडर : 
वहीं दूसरी ओर शहर को चार हिस्सों में बांटकर सफाई कराने की योजना पर भी मुहर लग गई है। इसे लेकर 29 जून को टेंडर की प्रक्रिया की जाएगी। जिसके बाद तीन एजेंसियों को 12-12-12 वार्डों में सफाई की जिम्मेदारी दी जाएगी। वहीं शेष 10 वार्डों में निगम कर्मी स्वयं सफाई कार्य करेंगे। बोर्ड बैठक में नगर निगम के स्थाई संरचनाओं मसलन कार्यालय परिसर, मार्केट भवन के ऊपर मासिक किराये के आधार पर इच्छुक एजेंसी जिओ (jio) को मोबाइल टावर लगाने पर सभी पार्षदों ने असहमति दर्ज की। प्रधानमंत्री आवास एवं राजीव आवास याेजना की प्रगति को गति प्रदान करने के लिए दक्ष कर्मियों की सेवा आउटसोर्सिंग के जरिये लिए जाने को लेकर काफी हो हंगामा हुआ और अंत में दक्ष व पुराने कर्मियों को ही मौका दिए जाने पर विचार किया गया। इन मुद्दों को लेकर वार्ड पार्षद सरिता राय, पंकज यादव, पोलो पासवान, लीला देवी, रिंकू देवी, रीमा दास, अर्जुन सिंह ने आवाज बुलंद की। बैठक में मौजूद लीला देवी ने कबीर अंत्येष्ठि योजना को लेकर आवाज उठाई। उन्होंने कहा कि पिछले एक साल से इस मद की राशि सरकार के द्वारा मुहैया नहीं कराई जा रही है। जिस पर विधायक ने जल्द कार्रवाई कराए जाने का आश्वासन दिया। विधायक ने राज्य योजना के तहत होने वाले विकास कार्यों की फाइल तैयार कराने की भी दिशा निर्देश दिया। बता दें कि राज्य योजना के तहत पिछले दो वर्षों से नगर निगम के द्वारा डीपीआर तक तैयार नहीं कराया गया है। बैठक के दौरान विधायक ने शहर में सफाई व्यवस्था के लिए निजी कोष से 08 ई-रिक्शा दिए जाने की घोषणा की। 

...और गूंज उठी तालियों की गड़गड़ाहट :
बोर्ड बैठक के दौरान उस वक्त उत्साह का माहौल देखने को मिला जब पूर्व डिप्टी मेयर व वर्तमान पार्षद संतोष यादव ने अपने वार्ड के विकास मद की राशि 75 लाख रूपए 30, 39 व 40 वार्ड को दिए जाने की घोषणा की। जिस पर इन वार्डों के पार्षद रेणु कुमारी, विलास चौधरी व जानकी देवी ने संतोष यादव का धन्यवाद किया। सभी अन्य पार्षदों ने भी संतोष यादव के इस फैसले का स्वागत किया। इस संबंध में संतोष यादव ने कहा कि उनका वार्ड पहले से ही विकसित है और उन्होंने अपने वार्ड के विकास मद की राशि 75 लाख रूपए इन तीनों वार्ड में देने की घोषणा की। 

...बजट की प्रक्रिया संदेह उत्पन्न करती है : 
नगर निगम पूर्णिया की बोर्ड की बैठक में वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए बजट पारित के लिए सदन में प्रस्ताव रखा गया। जिस पर डिप्टी मेयर विभा कुमारी ने आपत्ति व्यक्त करते हुए कहा कि वित्तीय वर्ष 2019-20 का जो बजट सदन में पारित करने के लिए रखा गया है उस बजट की प्रक्रिया पर मेरी आपत्ति है। उन्होंने कहा कि बजट जिस पर साल भर का नगर निगम का आय व्यय निर्भर करता है उसे आनन फानन तरीके से पेश करना संदेह उत्पन्न करता है। साथ ही एक साथ पांच बोर्ड व सशक्त स्थाई समिति के निर्णय को संपुष्ट कराना नगर निगम की कार्यशैली पर प्रश्नचिन्ह उत्पन्न करता है। जब बजट में शीर्षवार  अंकित व्यय का पृष्ठ शून्य दिखाया जाता है तो लोक उपयोगी बजट पर स्वतः संदेह उत्पन्न होना लाजिमी है। उन्होंने कहा कि मैं विकास के सभी कार्यों में नियमवद्ध तरीके से सदन के साथ हूं। 

...आठ माह में 95 करोड़ रूपए का कराया विकास कार्य : 
शहर के विकास के लिए निगम सरकार प्रतिबद्ध है। आठ माह में अब तक 95 करोड़ रूपए की लागत से विकास कार्य कराए जा रहे हैं। बोर्ड बैठक में बजट की स्वीकृति मिल चुकी है जिसके बाद अन्य जितने भी पेंडिंग कार्य हैं उसे ससमय पूरा कर लिया जाएगा। सर्किट हाऊस के सामने व मेला ग्राउंड में पार्क के निर्माण के अलावा कई हिस्सों में सड़क व नाला निर्माण कार्य को हरी झंडी दिखा दी गई है। 
: सविता देवी, मेयर, नगर निगम, पूर्णिया। 

...रूके कार्यों को दी जाएगी गति : 
पूर्व से रूके विकास कार्यों को अब गति दे दी जाएगी। 29 जून को एनजीओ के लिए निविदा की प्रक्रिया की जाएगी। साथ ही 2-3 दिनों के अंदर सभी 46 वार्डों में घर घर डस्टबिन को बांटने का कार्य शुरू कर दिया जाएगा।   : विजय कुमार सिंह, नगर आयुक्त, नगर निगम पूर्णिया।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...