सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 11 जून - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 11 जून 2019

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 11 जून

दुष्कर्मियों को नहीं दी जा रहीं है खतरनाक सजा  जनवादी महिला समिति ने दिया राष्ट्रपति के नाम  ज्ञापन 

sehore news
सीहेार। जनवादी महिला समिति ने मासूम बच्च्यिों के साथ दरिंदगी को अंजाम देने वाले हत्यारों को कठौर सजा देने की मांग की। महिलाओं ने जनवादी महिला समिति महासचिव श्रीमति संतोष प्रजापति ने नेतृत्व में राष्ट्रपति के नाम का ज्ञापन अपर कलेक्टर बीके चतुर्वेदी को दिया।  जनवादी महिला समिति ले राष्ट्रपति से पांच सूत्रीय मांग बच्चियों की सुरक्षा के लिए की। समिति महासचिव श्रीमति प्रजापति ने कहा की सरकार बच्चियों के साथ कुकर्म और जघन्य हत्याओं को रोक नहीं पा रहीं है। महिलाओं के साथ भेदभाव किया जा रहा है। महिलाओं युवतियों और बच्चियों के साथ दुष्कर्म करने वाले अपराधियों को खतरनाक सजा नहीं दी जा रहीं है जिस कारण देश की बहु बेटी और बच्चियां असुरक्षित हो गई है। इस तरह के अपराधियों को किसी भी हालत में जमानत नहीं दी जाए। दुष्कर्म के अपराधियों को फांसी पर लटका दिया जाए या ताउर्म जेल में रखा जाए। बिना भेदभाव बिना किसी वीआईपी के दबाव के पीडि़तों को न्याय दिया जाए। ज्ञापन सौपते समय जनवादी महिला समिति की मधु जैन, संगीता जैन, सुनीता पाटीदार, प्रिया ठाकुर, राजबाला तोमर, सहित अन्य महिलाए मौजूद रहीं। 

प्रभारी मंत्री श्री आरिफ अकील आज आएंगे सीहोर जिले के ग्राम पंचायत माथनी

गैस त्रासदी, राहत एवं पुर्नवास, पिछडा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण, सुक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग विभाग मध्यप्रदेश शासन तथा सीहोर जिले के प्रभारी मंत्री श्री आरिफ अकील 12 जून को सीहोर आएंगे। जारी दौरा कार्यक्रम अनुसार प्रभारी मंत्री श्री आरिफ अकील 12 जून को प्रात:9 बजे भोपाल से कार द्वारा प्रस्थान कर प्रात: 10:30 बजे सीहोर जिले की रेहटी तहसील के ग्राम माथनी पंचायत (सलकनपुर) पहुंचेंगे। जहां जन सामान्य से चर्चा करेंगे।  प्रात: 11:30 बजे ग्राम माथनी से भोपाल के लिए प्रस्थान करेंगे। 

कृषकों के पुत्र-पुत्रियां अपना उद्योग स्थापित करने के लिए कर सकते हैं आवेदन

जिला अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति सीहोर के कार्यपालन अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि जिला अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति जिला सीहोर को मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी, युवा उद्यमी, स्वरोजगार, आर्थिक कल्याण एवं सावित्री बाई फूले समून योजनाओं के अन्तग्रत वार्षिक लक्ष्य प्राप्त हुए हैं। आवेदक एमपीऑनलाईन पोर्टल के माध्यम से WWW.SCWELFARE.MPONLINE.GOV.IN पर आवेदन पत्र जमा कर सकते हैं। मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना अन्तर्गत कृषक पुत्र-पुत्रियों को उद्योग स्वरोजगार स्थापना सहायता के लिए 50 हजार से 1 करोड़ रुपये तक का बैंक ऋण राशि पर मार्जिनमनी सहायता 12 लाख रुपये प्रदाय किया जाएगा। मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना अन्तर्गत आवेदक की उम्र 18 से 40 वर्ष के मध्य हो शैक्षणिक योग्यता 10 वीं उत्तीर्ण हो स्वयं का उद्योग सेवा उद्यम स्थापित करने के लिए बैंक के माध्यम से ऋण उपलब्ध कराना है। आवेदक 10 लाख से 2 करोड़ रुपये तक ऋण एवं 12 लाख रुपये तक का अनुदान प्राप्त कर सकता है। आय का बंधन नहीं है बैंक का चूककर्ता डिफाल्टर न हो। मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के अन्तर्गत उद्योग, सेवा की स्थापना हेतु आवेदक की क्षैक्षणिक योग्यता 5 वीं उत्तीर्ण हो आवेदक की उम्र 18 से 45 वर्ष के मध्य हो बैंक का चूककर्ता न हो आय को कोई बंधन नहीं है। आवेदक 10 लाख तक का ऋण एवं 2 लाख रुपये तक की मार्जिनमनी सहायता प्राप्त कर सकता है। मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना अन्तर्गत आवेदक 18 से 55 वर्ष के मध्य हो बैंक का चूककर्ता न हो बीपीएल कार्डधारी/पी.डी.एस. कार्डधारी  50 हजार तक का ऋण एवं 15 हजार रुपये तक का अनुदान प्राप्त कर सकता है। सावित्री बाई फूले स्वसहायता समूह योजना अन्तर्गत लघु, कुटीर उद्योग आवेदिका 18 से 55 वर्ष के मध्य हो, बीपीएल कार्डधारी हो, बैंक का चूककर्ता न हो, प्रत्येक समूह में 5 से 10 या अधिक का समूह हो सकता है। 50 हजार पर प्रत्येक को 15 हजार रुपये तक का अनुदान देने का प्रावधान है। अधिक जानकारी के लिये नवीन कलेक्ट्रेट भवन कक्ष क्रमांक 122 में कार्यालयीन समय में संपर्क कर सकते हैं।

जिला पंचायत की सामान्य प्रशासन समिति की बैठक 13 जून को

मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अरुण कुमार विश्वकर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि जिला पंचायत सीहोर की सामान्य प्रशासन समिति की बैठक 13 जून 2019 को शाम 4 बजे जिला पंचायत सभाकक्ष में आयोजित की जाएगी। बैठक की अध्यक्षता जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती उर्मिला मरेठा करेंगी। बैठक में जिला पंचायत के प्रथम तल एवं द्वितीय तल के शौचालयों के पार्टीशन एवं मरम्मत पर होने वाले अनुमानित व्यय के संबंध में, वित्तीय वर्ष 2018-19 एवं वर्ष 2019-20 में केन्द्र शासन एवं राज्य शासन प्राप्त राशि के आय-व्यय पर चर्चा की जाएगी।

निपाह वाइरस को लेकर अलर्ट जारी

निपाह वाइरस को लेकर स्वास्थ्य विभाग द्वारा अलर्ट जारी किया गया है। निपाह वाइरस एक संक्रामक एवं उभरती हुई जूनोटिक बीमारी है। पिछले वर्ष केरल से भी निपाह के कुछ प्रकरण तथा मृत्यु दर्ज की गई थी। बीमारी का संक्रमण चमगादड़ द्वारा कुतरे हुए फल को सुअर द्वारा ग्रहण करने पर सुअरों को हो जाती है एवं मनुष्यों में यह बीमारी दूषित कच्ची ताड़ी पीने से एवं संक्रामित चमगादड़ और सुअर के संपर्क में आने से होती है।   मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ प्रभाकर तिवारी ने बताया कि निपाह वाइरस बीमारी के लक्षणों में तेज बुखार, सिर दर्द, बदन दर्द, खांसी, सांस लेने में तकलीफ, बेचैनी, सुस्ती, बेहोशी और उल्टी दस्त शामिल है। वर्तमान में संबंधित बीमारी की जांच की सुविधा नेशनल इंस्टीट्यूट आफ वायरोलाजी पुणे में है। जांच के लिए थ्रोट स्वाब, पेशाब, रक्त एवं सीएसएफ के नमूने लिए जाते हैं। निपाह वायरस बीमारी से बचाव हेतु चमगादड़ के द्वारा खाऐ हुए अपशिष्ट फलों का सेवन न करें। ताड़ी का सेवन ना करें। केवल अच्छी तरह धोकर फलों का सेवन करें। लम्बे समय से उपेक्षित कुओं में प्रवेश ना करें। चमगादड़ों एवं सुअरों के संपर्क से बचें। संभावित निपाह वाइरस बीमारी के रोगी से दूर रहे। संदिग्ध लक्षणों वाले मरीज मिले तो तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्रों में संपर्क करें। सिविल सर्जन सहित समस्त बीएमओ को निर्देशित किया गया है कि संदिग्ध मरीज मिलने पर तत्काल इसकी सूचना जिला एवं राज्य सर्विलेंस इकाई को तत्काल देवें।   

दस्तक अभियान के लिए विकासखण्ड स्तरीय नोडल अधिकारी नियुक्त

sehore news
दस्तक अभियान प्रथम चरण की शत प्रतिशत सफलता तथा मानीटरिंग के लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा विकासखण्ड स्तरीय जिम्मेदारी विभागीय महकमे के जिला स्तर के अधिकारियों को दी गई है। इछावर ब्लाक की जिम्मेदारी जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.टी.आर.उईके को सौंपी गई है वहीं श्यामपुर एवं सीहोर शहरी क्षेत्र के लिए जिला परिवार कल्याण अधिकारी डॉ.आनंद शर्मा को जिम्मेदार बनाया गया है। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ.एम.चंदेल को नसरूल्लागंज, जिला क्षय नियंत्रण अधिकारी डॉ.नमीता नीलकंठ को बुदनी तथा जिला मलेरिया अधिकारी श्रीमती क्षमा बर्वे को आष्टा ब्लाक की जिम्मेदारी सौंपी गई है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा जारी निर्देशों में कहा गया है कि दस्तक अभियान में शत प्रतिशत लक्ष्य की उपलब्धि सुनिश्चित करने तथा ब्लाक मुख्यालय पर सांयकालीन बैठक आयोजित कर प्रतिदिन के लक्ष्य एवं उपलब्धि की समीक्षा किए जाने के निर्देश दिए गए है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...