विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 25 जून - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 25 जून 2019

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 25 जून

जनसुनवाई से आपरेशन हेतु हुई सहूलियत अधिकांश आवेदनों का मौके पर निराकरण

vidisha news
कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह के द्वारा मंगलवार को आहूत जनसुनवाई कार्यक्रम में 182 आवेदकों ने अपने आवेदन प्रस्तुत कर व्यक्तिगत और सार्वजनिक समस्याओ की ओर ध्यान आकर्षित कराया।  कलेक्टर श्री सिंह के द्वारा मौके पर 110 आवेदनों का निराकरण किया गया हैै शेष लंबित आवेदन पर समय सीमा में कार्यवाही कर आवेदकों को अवगत कराने के निर्देश संबंधित विभागों के जिलाधिकारियों को दिए गए है।  जिला पंचायत के सभागार कक्ष में हुई जनसुनवाई में जिला पंचायत सीईओ आइएएस श्री मयंक अग्रवाल, एसडीएम श्री लोकेन्द्र सरल , डिप्टी कलेक्टर द्वय श्री अनिल कुमार जैन, श्री बृजेन्द्र सिंह यादव के अलावा विभिन्न विभागों के अधिकारियों ने पंक्तिबद्व-रो में बैठकर आवेदको की समस्याओं को सुना है।  कलेक्टर श्री सिंह को विदिशा नगर के मोहनगिरी में निवासरत वयोवृद्व आवेदक श्री परसारी ने अपनी आर्थिक स्थिति का हवाला देते हुए बताया कि प्रोस्टेट ग्रंथी बढ़ जाने के कारण पेशाब करने में तकलीफ हो रही है। डाक्टरों द्वारा शीघ्र ही आपरेशन कराने की सलाह दी है।  कलेक्टर श्री सिंह ने मौके पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ किशोर नागवंशी को निर्देश दिए कि आवेदक जब भी अपना आपरेशन कराना चाहे तो निःशुल्क जिला चिकित्सालय में कराए जाने के प्रबंध सुनिश्चित किए जाएं। कलेक्टर ने आवेदक को आश्वस्त कराया कि आप जब भी आपरेशन कराए तो जिला प्रशासन के संज्ञान में जरूर लाएं ताकि किसी भी प्रकार की समस्याओं का सामना ना करना पडे़।  जतरापुरा की आवेदिका राधाबाई ने पट्टे की भूमि पर कब्जा दिलाए जाने का आवेदन प्रस्तुत किया था जिस पर विदिशा तहसीलदार को कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया था। ग्राम सांकलखेडा की आवेदिका श्रीमती गीताबाई ने आवास निर्माण की किश्त प्राप्त ना होेने से अवगत कराया। उक्त प्रकरण जनपद सीईओ विदिशा को प्रस्तुत किया गया है। ग्राम गोलना की आवेदिका संध्या बाई अहिरवार ने आवेदन प्रस्तुत करते हुए बताया कि उनके पति की अज्ञात वाहन से सड़क दुर्घटना में मृत्यु हो गई है उक्त प्रकरण को हिट एण्ड रन के तहत आर्थिक सहायता उपलब्ध कराए जाने हेतु पंजीबद्व किया गया है। ग्राम धनोरा चैबीसा के इस्लाम खां ने शौचालय निर्माण की शेष राशि दिलाए जाने हेतु आवेदन प्रस्तुत किया। जिला पंचायत सीईओ द्वारा परीक्षण कर पात्रता अनुसार राशि दिलाए जाने से आश्वस्त किया। ग्राम पिपलधार के आवेदक कन्हईलाल ने फसल बीमा की राशि दिलाए जाने हेतु आवेदन प्रस्तुत किया। उक्त प्रकरण पर सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित विदिशा शाखा शमशाबाद से पत्राचार कर बीमा राशि आवेदक को दिलाए जाने हेतु लीड़ बैंक आफीसर श्री दिलीप सीरवानी को अधिकृत किया गया है। ग्राम पड़रिया की वयोवृद्व आवेदिका श्रीमती प्रेमबाई ने वृद्वावस्था पेंशन दिलाए जाने हेतु आवेदन प्रस्तुत किया था उक्त प्रकरण पर कार्यवाही करने हेतु नटेरन जनपद सीईओ को प्रकरण प्रेषित किया गया है।  ग्राम हिनोता के दिव्यांग आवेदक प्रेम सिंह ने शासकीय योजना के तहत स्वरोजगार संचालन हेतु ऋण दिलाए जाने का आग्रह किया। मौके पर आवेदक का प्रकरण तैयार कर बैंक को प्रेषित करने हेतु सामाजिक न्याय विभाग के अधिकारी को निर्देशित किया गया है। ग्राम हैदरगढ़ के बृजेश कुमार विश्वकर्मा ने बिजली बिल की राशि कम कराए जाने हेतु आवेदन प्रस्तुत किया। उक्त प्रकरण में अधीक्षण यंत्री मध्यप्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड को कार्यवाही करने हेतु सौपा गया है।

स्वरोजगार हेतु योजनाओं के तहत आवेदन आमंत्रित

विदिशा जिले के अनुसूचित जाति वर्ग के ऐसे युवक-युवतियां जो शासकीय योजनाओं के मार्फत से स्वरोजगार का संचालन करना चाहते है। उनसे आवेदन आमंत्रित किए गए है कि जानकारी देते हुए जिला अन्त्यावसायी सहकारी विकास समिति मर्यादित के कार्यपालन अधिकारी श्री किशन लड़िया ने बताया कि मध्यप्रदेश राज्य सहकारी अनुसूचित जाति, वित्त एवं विकास निगम भोपाल के द्वारा जिला ईकाई को 460 का लक्ष्य प्राप्त हुआ है।  अनुसूचित जाति वर्ग के आवेदकों से मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के तहत पांच, मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना में तीस, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में दो सौ, मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना में 125 तथा सावित्री बाई फुले स्व-सहायता समूह योजना के अंतर्गत एक सौ का लक्ष्य प्राप्त हुआ है। पात्रता अनुसार स्वंय का उद्योग (विनिर्माण) सेवा उद्यम, व्यवसाय क्षेत्र अंतर्गत स्वरोजगार के संचालन हेतु बैंको के माध्यम से ऋण मुहैया कराया जाएगा। जिसमें शासन की ओर से विभाग द्वारा मार्जिन मनी, अनुदान सहायता नियमानुसार उपलब्ध कराई जाएगी। 

पात्रता
कार्यपालन अधिकारी श्री लड़िया ने बताया कि योजनाओं से लाभांवित होने के लिए जो पात्रता शर्ते निर्धारित है उनमें आवेदक अनुसूचित जाति वर्ग का सदस्य हो, विदिशा जिले का निवासी हो, शैक्षणिक योग्यता एवं आयु योजना अंतर्गत नियमानुसार हो। सिर्फ एक ही बार योजनांतर्गत सहायता के लिए पात्रता होगी। योजना उद्योग सेवा व्यवसाय क्षेत्र के लिए होगी।  सभी योजनाओं में ऋण आवेदन फार्म आॅन लाइन पद्वति के द्वारा एमपी आॅन लाइन के माध्यम से लक्ष्य पूर्ण होने तक आमंत्रित किए गए है। पहले आएं पहले पाएं की तर्ज पर आवेदन बेवसाइट https://scwelfare.mponline.gov.in पर आॅन लाइन दर्ज किए जा सकते है। ततसंबंध में अन्य विस्तृत जानकारी के लिए कार्यालयीन दूरभाष क्रमांक 07592-232360 पर कार्यालयीन दिवसों अवधि में सम्पर्क कर प्राप्त की जा सकती हैै। 


रीडर निलंबित

कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम ंिसह के मागदर्शन में विदिशा निकाय क्षेत्र में साफ सफाई हेतु विशेष अभियान क्रियान्वित किया जा रहा है। उनके द्वारा हर रोज अधिकारियों को भ्रमण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए है।  विदिशा एसडीएम श्री लोकेन्द्र सिंह सरल तथा मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री सुधीर सिंह ने आज प्रातः संयुक्त रूप से भ्रमण कर विभिन्न वार्डो में जारी साफ सफाई का मौके पर पहुंचकर जायजा लिया।  साफ सफाई के दायित्व निर्वहन हेतु नगरपालिका के रीडर श्री जसवंत चैकसे सौंपे गए कार्य क्षेत्र में निरीक्षण के दौरान अनुपस्थित पाए जाने पर तथा संबंधित क्षेत्र में व्यापक गंदगी एवं नालियां गंदगी से भरी परलिक्षित होने पर रीडर जसवंत चैकसे को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने की कार्यवाही मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री सुधीर सिंह के द्वारा की गई है। जारी निलंबन आदेश में उल्लेख है कि निलंबन अवधि में श्री चैकसे को अपनी उपस्थिति राजस्व शाखा में दर्ज कराने के निर्देश दिए गए है। 

112 नमूने परीक्षण हेतु भेजे गए

कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम ंिसह के द्वारा दिए गए निर्देशो के अनुपालन में जिले में खाद, बीज के विक्रेताओ के यहां औचक निरीक्षण कर गुणवत्तापूर्ण परलिक्षित नही होने वाले खाद, बीजों के सेम्पल संग्रहित कर प्रयोगशाला को  परीक्षण कराए जाने हेतु विशेष अभियान जिले में कृषि विभाग के माध्यम से क्रियान्वित किया जा रहा है। किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उप संचालक श्री पीके चैकसे ने बताया कि अब तक जिले की सातो तहसीलो कें कुल 112 सैम्पल संग्रहित किए गए है जिसमें बीज के 51 तथा उर्वरक के 61 सैम्पल शामिल है। विकासखण्डवार अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं कृषि विभाग के अधिकारियों का दल गठित कर विशेष अभियान तहत विकासखण्डवार संग्रहित सेम्पल तदानुसार विदिशा में बीज के छह व उर्वरक के पांच, ग्यारसपुर में बीज के सात व उर्वरक के चार, बासौदा में बीज के आठ, उर्वरक के दस, नटेरन में बीज के दो, उर्वरक के तीन, सिरोंज में बीज के 13, उर्वरक के नौ, कुरवाई में उर्वरक के 14 तथा लटेरी में बीज के 15 व उर्वरक के 16 सेम्पल संग्रहित कर परीक्षण हेतु प्रयोगशाला को विभाग के माध्यम से प्रेषित किए गए है। 

पटवारी निलंबित

नटेरन एसडीएम श्री अनिल सोनी ने आज पटवारी श्री मुन्ना लाल रोहित को शासकीय कार्यो में लापरवाही बरतने पर तत्काल प्रभाव से निलंबित करने का आदेश जारी कर दिया है। निलंबन अवधि में इनका मुख्यालय तहसील कार्यालय नटेरन नियत किया गया है। नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता की पात्रता होगी।  एसडीएम श्री सोनी के द्वारा जारी आदेश में उल्लेख है कि पटवारी हलका नम्बर 13 के पटवारी श्री मुन्ना लाल रोहित के द्वारा सीमांकनएवं पीएम कृषक सम्मान निधि के कार्य नही करने के फलस्वरूप शासकीय कार्यो में लापरवाही बरतने के फलस्वरूप पटवारी श्री रोहित के खिलाफ निलंबन की कार्यवाही की गई है। पटवारी हलका नम्बर 13 का प्रभार श्री संजू सोनी पटवारी हलका नम्बर 16 को सौंपा गया है। 

बीएलबीसी की बैठक सम्पन्न

vidisha news
विदिशा एसडीएम श्री लोकेन्द्र सिंह सरल की अध्यक्षता में आज बीएलबीसी की बैठक आज जनपद पंचायत के सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई। बैठक में एलडीएम श्री दिलीप सीरवानी के अलावा समस्त बैंकर्स एवं विभिन्न विभागों के खण्ड स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।  बैठक में हितग्राहीमूलक योजनाओं के वित्त पोषण हेतु निर्धारित लक्ष्यों की पूर्ति हेतु की गई कार्यवाही के अलावा बैंको की ऋण वसूली की समीक्षा की गई है।  एसडीएम श्री सरल ने खण्ड स्तरीय अधिकारियोें से कहा कि हितग्राहीमूलक योजनाओं में शत प्रतिशत वित्तीय फायनेंस दो माह के भीतर कराया जाना सुनिश्चित करें ताकि इसी वित्तीय वर्ष में हितग्राही अपना यूनिट स्थापित कर स्वरोजगार का संचालन कर सकें। उन्होंने आरसीसी के प्रकरणों में संबंधितों को नोटिस के माध्यम से सूचित कर राशि जमा कराने से अवगत कराया गया यदि ऋणधारक के द्वारा राशि जमा कराने में आनाकानी की जाती है तो आरसीसी प्रकरण के तहत वसूली कार्यवाही की जाए। बैठक में बताया गया कि विदिशा विकासखण्ड में 68 प्रकरणों में आरसीसी जारी की गई है।  लीड़ बैंक आफीसर श्री सीरवानी ने बैंकर्स प्रतिनिधियों से कहा कि हितग्राहीमूलक योजनाओं एवं कार्यक्रमों में बैंकर्स वित्त पोषण करते ही है फिर इस कार्य में देरी क्यों। उन्होंने कहा कि एसडीएम की मंशा के अनुरूप हम वित्तीय वर्ष के भीतर ही हितग्राही अपनी यूनिट का संचालन कर सकें ऐसे प्रबंध कर हम प्रेरणा स्त्रोत की भूमिका निभा सकते है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...