लोकसभा चुनाव में मतों के मिलान में गड़बड़ी की खबरें बेबुनियाद : आयोग - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 2 जून 2019

लोकसभा चुनाव में मतों के मिलान में गड़बड़ी की खबरें बेबुनियाद : आयोग

vote-mismatch-fake-news-ec
नयी दिल्ली, 01 जून, चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव के मतों के मिलान में गड़बड़ी की ख़बरों को बेबुनियाद बताया है और कहा है कि इस चुनाव के अंतिम आंकड़े अभी तक सार्वजानिक नहीं किये जा सके हैं इसलिए मतों के मिलान के बारे में कोई सही निष्कर्ष अभी नहीं निकला जा सकता। आयोग ने शनिवार को यहाँ जारी बयान में कहा कि उसकी वेबसाइट पर जो आंकड़े दिखाए गये हैं वे अभी अंतिम नहीं हैं बल्कि अंतरिम हैं, इसलिए उनके आधार पर कोई निष्कर्ष नहीं निकाला जा सकता है। बयान में कहा गया है कि पहले चुनाव के बाद निर्वाचन अधिकारियों से चुनाव के अभिप्रमाणित आंकड़े एकत्र होने में दो से तीन माह लग जाते थे लेकिन नयी प्रौद्योगिकी के अनुसार सभी राज्यों से सभी निर्वाचन क्षेत्रों से मतदाताओं के आंकड़े एकत्र कर लिए गये हैं और सभी 542 सीटों के इंडेक्स फॉर्म जल्द ही आने वाले हैं। उन आंकड़ों की जांच के बाद उसे सार्वजानिक कर दिया जायेगा इसलिए अभी निष्कर्ष निकलना सही नहीं है। आयोग ने कहा है कि उसकी वेबसाइट पर लिखा है, ये आंकड़े गलत भी हो सकते हैं। आयोग के अनुसार इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन ( ईवीएम)और पोस्टल बैलेट पेपर की गिनती के बाद ही निर्वाचन अधिकारी फॉर्म 21 ई और इंडेक्स पेपर तैयार किये जाते हैं। नतीजे आने के 15 दिन के भीतर इसे भेजने का निर्देश दिया जाता है। इसलिए बिना अंतिम आंकड़े आये, फर्जी मतदाताओं की बात नहीं रखी जा सकती।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...