जिलाधिकारी ने मृतक के परिवार से की अभद्रता - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 13 नवंबर 2019

जिलाधिकारी ने मृतक के परिवार से की अभद्रता

amethi-dm-mis-behaviong-viral-vedio
अमेठी (उप्र), 13 नवंबर, उत्तर प्रदेश के अमेठी जिले के जिलाधिकारी प्रशांत सिंह का मृतक सोनू सिंह के परिजनों से कथित अभद्रता का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है और स्थानीय लोगों ने प्रशासन की संवेदनहीनता पर नाराजगी जतायी है । वायरल वीडियो के दृश्य में जिलाधिकारी प्रशांत शर्मा आक्रोशित भीड़ के बीच मृतक सोनू सिंह के चचेरे भाई एवं पीसीएस अधिकारी सुनील सिंह का कॉलर पकड़कर खींचते हुए दिख रहे हैं । गौरतलब है कि सोनू सिंह की मंगलवार देर शाम गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी और गौरीगंज कोतवाली से महज 700 मीटर की दूरी पर मुसाफिरखाना रोड के नहर पुलिया के पास अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया था । वीडियो में जिलाधिकारी कहते दिख रहे हैं, 'रात भर से मेरे वरिष्ठ अधिकारी लगे हुए हैं। आप यह बताइए कौन से देश में, कितना भी एडवांस क्यों ना हो, क्या वहां पर मर्डर नहीं होते हैं? हम कोई भगवान तो है नहीं जो हर त्रासदी को रोक सकें। आप हमारी जगह पर होते तो क्या करते, क्या मर्डर रोक लेते । आप यही तो कहते कि रोकना तो किसी के हाथ में नहीं है।'  जिलाधिकारी ने कहा, ‘‘आप यही तो करते जो दोषी है उस पर कार्यवाही करते । अगर आपने चिन्हित कर लिया है तो बता दीजिए । अगर आपने चिन्हित नहीं किया है तो हम हर ताकत लगा देंगे । उसको चिन्हित करने के लिए जो चिन्हित हैं उनको उनके नाम पुलिस को बता दिए हैं ? क्या किसी ने यह कहा कि कार्यवाही नहीं करेंगे जो करना है करो ।’’  तब तक सोनू के बड़े भाई ने बताया कि जहां घटना घटित हुई थी वहां पर थोड़ी दूर पर ही डायल 100 पुलिस खड़ी थी। अगर चाहती तो वह पकड़ सकती थी। गोली चल रही थी । चार पांच राउंड गोली चली । इसके बावजूद उन लोगों ने पकड़ने का प्रयास नहीं किया । तब जिलाधिकारी ने कहा कि ‘‘आपने उन लोगों का नाम दे दिया है ना, पकड़ में आ जाएंगे। आप यह बताइए कि इस समय हम खड़े हैं । इस जिले का सबसे वरिष्ठ अधिकारी यहां पर खड़ा हुआ है। इतने सारे लोग खड़े हुए हैं । क्या आपको पता है? कि उस आदमी के पास कट्टा है। पता है कि नहीं , पता है, पता है, उसके पास है कि नहीं ?’’  वीडियो में साफ दिख रहा है कि इसके बाद जिलाधिकारी मृतक के बड़े भाई सुनील का पहले हाथ पकड़े और बाद में शर्ट पकड़ते हुए घसीट कर आगे ले गए और पूछते रहे पता है कि नहीं पता है ? इस पर वहां खड़े लोगों ने विरोध जताया कि आराम से बात करिए। ऐसे बात किया जाता है? तब जिलाधिकारी ने कहा पीछे रहो, पीछे रहो ,आगे मत आओ। जब दूसरे लोग बोलने लगे तब उन्होंने कहा कि आप से बात नहीं हो रही है । जब इन से हम बात कर ले तब आपसे बात करेंगे। उन्होंने अपनी समस्याओं का हवाला देते हुए पीड़ित परिवार को बताया कि पिछले कुछ समय से अयोध्या पर फैसले और सेना की रैली के कारण धारा 144 भी लगी हुई है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...