मध्यप्रदेश पंजाबी साहित्य परिषद् ने ग्वालियर की डॉ नीलम महेंद्र को सामानित किया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 13 नवंबर 2019

मध्यप्रदेश पंजाबी साहित्य परिषद् ने ग्वालियर की डॉ नीलम महेंद्र को सामानित किया

neelam-mahendra-honored
गुरुनानक देव जी के 550 वें प्रकाश पर्व के उपलक्ष्य पर भोपाल के हमीदिया रोड गुरुद्वारे में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मत्था टेका और सर्वधर्म समभाव के लिए अरदास की। इस अवसर पर प्रदेश के जनसंपर्क मंत्री श्री पी सी शर्मा द्वारा देश की सुप्रसिद्ध लेखिकाओं में शामिल ग्वालियर की डॉ नीलम महेंद्र को एक शील्ड और 21000 ₹ की राशि भेंट कर सम्मानित किया गया। पंजाबी साहित्य परिषद के तत्वावधान में आयोजित इस कार्यक्रम में डॉ नीलम महेंद्र को अपने लेखों के माध्यम से गुरुनानक देव की सीखों को जनसामान्य तक पहुंचाने में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए सम्मानित किया गया।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...