सोनिया, राहुल ने चीन के लोगों से पैसे लिए हैं : नड्डा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 18 अगस्त 2020

सोनिया, राहुल ने चीन के लोगों से पैसे लिए हैं : नड्डा

sonia-rqahul-take-fund-to-china-naddaa
नयी दिल्ली 17 अगस्त, वैश्विक महामारी कोविड-19 के संसाधन जुटाने में जनता के सहयोग के लिए गठित पीएम-केयर्स फंड के मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने सोमवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और उनकी मां सोनिया गांधी पर जोरदार हमला बोलते हुए आरोप लगाया कि दोनों ने चीन के लोगों से पैसे लिए हैं। श्री गांधी के पीएम केयर्स कोष को लेकर उठाए सवालों पर जमकर निशाना साधते हुए श्री नड्डा ने आज कई ट्वीट किये। उन्होंने लिखा,“जब अक्षमता के युवराज लेख को पढ़े बिना उसे साझा करते हैं तो ऐसा ही होता है। दूसरी आरटीआई के बारे में जानने के लिए आरटीआई फाइल की गई थी और आपने दुर्भावना से पारदर्शिता पर हमला बता दिया। यह स्वाभाविक है क्योंकि आपका जीवन पूरी तरह फर्जी खबरें फैलाने पर टिका हुआ है।” उन्होंने कहा आगे लिखा,“आपके परिवार की संदिग्ध विरासत में पीएमएनआरएफ में स्थायी जगह हड़पना और फिर इसके पैसों को अपने पारिवारिक न्यासों में भेजना शामिल है। आपने और आपकी मां ने हमारे राष्ट्रीय हितों को नुकसान पहुंचाने के लिए चीन से पैसे लिए। क्या कोई इससे भी नीचे जा सकता है?” श्री नड्डा यहीं नहीं रुके और श्री गांधी को हारा हुए इंसान बताते हुए कहा,“पूरे देश का प्रधानमंत्री और उनके कामों में पूरा भरोसा है। पीएम केयर्स को जिस तरह का अपार समर्थन मिला है उससे भी यह विश्वास और झलकता है। आप हारे हुए इंसान हैं और केवल फर्जी खबरें ही फैला सकते हैं जबकि पूरा देश कोविड-19 के खिलाफ जंग में शामिल है।” श्री गांधी ने एक खबर को ट्वीट करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला किया था। उन्होंने कहा था,“पीएमकेयर्स फॉर राइट टु इम्प्रोबिटी। अर्थात प्रधानमंत्री बेईमानों के अधिकार की चिंता करते हैं। इस समाचार के अनुसार प्रधानमंत्री कार्यालय ने पीएम केयर्स फंड से संबंधित आरटीआई का जवाब देने से इनकार कर दिया।”

कोई टिप्पणी नहीं: