Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा । हृदय राखि कौशलपुर राजा।। -- मंगल भवन अमंगल हारी। द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी ।। -- सब नर करहिं परस्पर प्रीति । चलहिं स्वधर्म निरत श्रुतिनीति ।। -- तेहि अवसर सुनि शिव धनु भंगा । आयउ भृगुकुल कमल पतंगा।। -- राजिव नयन धरैधनु सायक । भगत विपत्ति भंजनु सुखदायक।। -- अनुचित बहुत कहेउं अग्याता । छमहु क्षमा मंदिर दोउ भ्राता।। -- हरि अनन्त हरि कथा अनन्ता। कहहि सुनहि बहुविधि सब संता। -- साधक नाम जपहिं लय लाएं। होहिं सिद्ध अनिमादिक पाएं।। -- अतिथि पूज्य प्रियतम पुरारि के । कामद धन दारिद्र दवारिके।।

देश

बिहार

झारखण्ड

Recent Posts

View More

बुधवार, 26 जून 2024

बेहद अमीर व्यक्तियों पर कर लगाने से हर साल $250 बिलियन जुटाए जा सकते हैं : G20

पटना : जन सुराज को लेकर प्रशांत किशोर का बड़ा दावा

विशेष : संसद में गूंजा इमरजेंसी की क्रूरता, बौखलाएं कांग्रेसी

पटना : राहुल के नेतृत्व में देश देखेगा विपक्ष का नया तेवर : डा अखिलेश

पटना : पुल गिरने की लगातार घटनाएं संगठित भ्रष्टाचार की ओर करती हैं इशारा : माले

भारत के भारी उद्योगों के एमिशन को 2030 तक 17% कम कर सकते हैं रिन्यूबल एनर्जी स्रोत

वाराणसी : काशी विश्वनाथ मंदिर के पूर्व महंत कुलपति तिवारी नहीं रहे

भदोही : शार्ट सर्किट से स्पिनिंग मिल में लगी आग, करोड़ों की वूल जलकर खाक

वाराणसी : कैंसर से जूझ रहे नौ साल का बच्चा बना एक दिन का एडीजी जोन

पटना : आपातकाल और राजनैतिक परिस्थिति विषय पर परिचर्चा