बिहार : 'आइकॉनिक वीक' के पांचवें दिन कई कार्यक्रम - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 27 अगस्त 2021

बिहार : 'आइकॉनिक वीक' के पांचवें दिन कई कार्यक्रम

icon-week-programe-bihar
पटना, 27 अगस्त, आज़ादी के 75वें वर्ष के अवसर पर देश भर में 'आज़ादी का अमृत महोत्सव'  के तहत है सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा 'आइकॉनिक वीक' मनाया जा रहा है। 'आइकॉनिक वीक' के पांचवें दिन आज रीजनल आउटरीच ब्यूरो,पटना के पंजीकृत सांस्कृतिक दलों द्वारा राज्य के 10 स्थानों पर स्वतंत्रता संग्राम व स्वतंत्रता सेनानियों से जुड़े कार्यक्रम आयोजित किये गए।  महोत्सव के तहत सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के फ़ील्ड आउटरीच ब्यूरो सीतामढ़ी  ने राजकीयकृत कमला बालिका उच्च विद्यालय में चित्रांकन प्रतियोगिता व तिरंगा यात्रा  का आयोजन किया। इसका शुभारंभ स्वतंत्रता सेनानी राम प्रताप यादव की प्रतिमा पर माल्यार्पण से किया गया।  इस अवसर पर लोक कला मंच, मधुबनी द्वारा देशभक्ति से प्रेरित सांस्कृतिक कार्यक्रम किया गया। गया जिले में जनजागृति कला मंच के कलाकारों ने टेकारी प्रखंड के संढ़ा गांव में आज़ादी के अमृत महोत्सव पर कार्यक्रम किया। अररिया जिले के फारबिसगंज प्रखंड स्थित टेढ़ी मुसहरी में  पंजीकृत दल रंग प्रभात,पटना  के कलाकारों ने  आज़ादी से जुड़े नाटक 'आज़ादी के दीवाने बाबू कुँवर सिंह' का मंचन किया।साथ ही बच्चों के लिए प्रश्नोत्तरी व पेन्टिंग प्रतियोगिता  भी की गई। भोजपुरी लोक गीत बिरहा, बक्सर के कलाकारों द्वारा पटना जिले के नौबतपुर प्रखंड के त्रिभुवन हाई स्कूल में ‘भारत की आज़ादी’  संगीतमय कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया।आजादी का अमृत महोत्सव का आयोजन नौबतपुर प्रखंड के त्रिभुवन उच्च विद्यालय नौबतपुर में किया गया। इस दौरान लोक गायिका लक्ष्मी प्रियदर्शी ने राष्ट्रीय एकता पर आधारित शानदार गीतों की प्रस्तुति की। वहीं स्वतंत्रता सेनानी स्वगीय वाल्मीकि मणि की पत्नी  सह सेवा निवृत्त शिक्षिका श्रीमती कामिनी कुमारी मणि को टीम द्वारा सम्मानित भी किया गया। उधर भागलपुर के नाथनगर प्रखंड में कमल संगीतालय, पटना के सांस्कृतिक दल द्वारा गीत-संगीत व नुक्कड़ नाटक के जरिये लोगों को आज़ादी के अमृत महोत्सव का संदेश दिया गया।  भोजपुर के सदर प्रखंड आरा में संगीत संगम, पटना के कलाकारों ने आजादी का  अमृत महोत्सव पर आधारित  गीत एवं नृत्य नाटिका प्रस्तुत किया। दरभंगा में जहाँगीर कव्वाल दल ने उर्दू बाजार प्रखंड सदर दरभंगा प्रखंड के उर्दू बाज़ार में आजादी का अमृत महोत्सव पर  कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया। इसी तरह पटना के सांस्कृतिक दल सवेरा के कलाकारों ने जमुई जिले के जमुई प्रखंड में, सुरांगण ने मुजफ्फरपुर के बंदरा प्रखंड में और आपसदारी कला मंच ने खगड़िया के सदर खगड़िया प्रखंड में अपने अपने कार्यक्रम किये। इस 'आइकॉनिक वीक' के दौरान सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय का रीजनल आउटरीच ब्यूरो, पटना बिहार के 13 ज़िलों में 75 जगहों पर आज़ादी महोत्सव के कार्यक्रम आयोजित कर रहा है।कार्यक्रमों का ये सिलसिला 29 अगस्त, 2021 तक चलेगा। इसके अतिरिक्त 'आइकॉनिक वीक' के तहत भोजपुर के आरा में 28 अगस्त को मुख्य कार्यक्रम होगा और 4 अन्य स्थानों पर भी बड़े कार्यक्रम किये जायेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: