विश्व बैंक ने भारत की वृद्धि का अनुमान घटा कर 7.5 प्रतिशत किया - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 8 जून 2022

विश्व बैंक ने भारत की वृद्धि का अनुमान घटा कर 7.5 प्रतिशत किया

world-bank-reduced-india-growth
नई दिल्ली,07 जून, विश्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष के लिए भारत की आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को घटाकर 7.5 प्रतिशत कर दिया है। इससे पहले उसने भारत की 2022-23 की आर्थिक वृद्धि दर 8.7 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया था। विश्व बैंक ने वैश्विक आर्थिक संभावनाओं पर मंगलवार को अपनी रपट-ग्लोबल इकोनॉमिक प्रॉस्पेक्ट्स में कहा है कि उसने वर्तमान में मुद्रास्फीति के बढ़ते दबाव, आपूर्ति श्रृंखला में आ रही बाधाओं और भू-राजनीतिक तनावों से उत्पन्न चुनौतियों को देखते हुए भारत की वृद्धि दर के अनुमान को कम किया है। विश्व बैंक का अनुमान है कि वित्त वर्ष 2023-24 में भी भारत की वृद्धि दर 7.1 प्रतिशत रह सकती है।यह उसके पिछले अनुमान से 0.30 प्रतिशत ऊंची है। पिछला अनुमान 6.8 प्रतिशत का था। रिपोर्ट में अनुमान है कि वर्ष 2024-25 भारत के सकल घरेलू उत्पाद की वृद्धि 6.5 फीसदी रह सकती है। विश्व बैंक ने 2022 के वैश्विक अर्थव्यवस्था की वृद्धि के अनुमान को भी 4.1 प्रतिशत से घटाकर 2.9 प्रतिशत कर दिया है। विश्व बैंक ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि वैश्विक वृद्धि 2021 के 5.7 प्रतिशत से घट कर 2022 में 2.9 प्रतिशत तक आ सकती है। इस वैश्विक वित्तीय संगठन में जनवरी में 2022 की वैश्विक आर्थिक वृद्धि का अनुमान 4.1 प्रतिशत रखा था।

कोई टिप्पणी नहीं: