बिहार : पुलिस प्रशासनिक व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त किया जाए : मीना तिवारी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 15 सितंबर 2022

बिहार : पुलिस प्रशासनिक व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त किया जाए : मीना तिवारी

bihar-news-bjp
पटना . बिहार भाजपा के  राज्य अध्यक्ष द्वारा बिहार में एंटी रोमियो स्क्वायड बनाने की मांग का ऐपवा ने विरोध किया है.भाजपा द्वारा बिहार में एंटी रोमियो स्क्वायड बनाने की मांग का विरोध करते हुए ऐपवा की राष्ट्रीय महासचिव मीना तिवारी ने कहा है कि जायसवाल जी को पता होना चाहिए कि उत्तर प्रदेश में अपने पहले कार्यकाल में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एंटी रोमियो स्क्वायड बनाया था लेकिन यह महिलाओं के उत्पीड़न का ही स्क्वायड बन गया था जिसकी भारी आलोचना हुई और अब अपने दूसरे कार्यकाल में योगी जी उस स्क्वाड का नाम भी नहीं लेते. मीना तिवारी ने कहा कि बिहार में महिला उत्पीड़न पर अंकुश लगाने के लिए जरूरी है कि वर्तमान पुलिस प्रशासनिक व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त किया जाए. साथ ही ऐसे अपराधियों को राजनीतिक संरक्षण मिलना बंद हो और समाज में  महिला विरोधी मानसिकता को बदलने के लिए माहौल बनाया जाए. लेकिन यह काम भाजपा से नहीं होने वाला है. भाजपा द्वारा ऐसे अपराधियों को संरक्षण मिलता रहा है. बिहार की महिलाएं भूली नहीं हैं कि अपने विधायक बलात्कारी राजकिशोर केसरी का भाजपा ने महिमामंडन किया था. बलात्कारी आसाराम बापू और रामरहीम का इनके राष्ट्रीय नेता न केवल पैर छूते रहे हैं बल्कि उन्हें बचाने का हर संभव प्रयास करते रहे हैं. बिहार में 2020 से भाजपा सरकार में थी लेकिन दो वर्षो में यहां महिला आयोग का पुनर्गठन करने की कोशिश नहीं की गई और आयोग के अध्यक्ष का पद रिक्त रहा. महिलाओं के खिलाफ बढ़ रहे अपराध को रोकने के लिए जरूरी है कि महिलाओं के संविधान प्रदत्त अधिकारों का सम्मान किया जाए इसलिए मनुस्मृति के अनुसार देश चलाने की मंशा रखने वाले भाजपा  आरएसएस के लोगों द्वारा महिलाओं के सम्मान और अधिकार की बात हास्यास्पद है. बता दें, उत्तर प्रदेश में इस समय सीएम योगी के निर्देश पर पुलिस जगह-जगह एंटी रोमियो अभियान चला कर छेड़छाड़ करने वाले मनचलों पर शिकंजा कस रही है. इस अभियान के तहत एंटी रोमियो दस्ते की महिला सिपाही सादे कपड़ों में घूमकर भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर मनचलों की पहचान करके उन पर एक्शन लेती हैं.

कोई टिप्पणी नहीं: