अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले का अयोजन बिहार के कारीगरों के लिए फायदेमंद : सिद्दिकी

trade-fair-good-for-worker-abdul-bari-siddqui
पटना 21 अप्रैल, बिहार के वित्तमंत्री अब्दुल बारी सिद्दिकी ने अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले को राज्य के कारीगरों के लिए फायदेमंद बताया और कहा कि इससे कारीगरों को अपना हुनर प्रदर्शित करने का मौका मिलेगा। श्री सिद्दिकी ने आज यहां उद्योग एवं वाणिज्य संगठन पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज की ओर से आयोजित पांच दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले का औपचारिक उद्घाटन करते हुये कहा कि इस प्रकार के आयोजन बिहार के हुनरमंद कारीगरों के लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होंगे। इससे उन्हें न केवल अपने हुनर को प्रदर्शित करने का मौका मिलेगा बल्कि दूसरे राज्यों एवं अन्य देशों से आए कारीगरों से भी उन्हें नई जानकारियां प्राप्त होंगी। वित्तमंत्री ने अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में पीएचडी के प्रयासों की सराहना करते हुये कहा, "मुझे उम्मीद है कि पीएचडी आगे भी ऐसे आयोजन कर राज्य के औद्योगिक विकास में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन करता रहेगा। उन्होंने कहा कि उद्योगों के स्तर पर हमेशा आदान-प्रदान की प्रक्रिया जारी रहनी चाहिए। इससे दूसरे राज्यों एवं देशों में सकारात्मक संदेश जाता है कि बिहार में औद्योगिक माहौल कायम है।"



इस मौके पर पीएचडी के बिहार कमेटी के अध्यक्ष सत्यजीत सिंह ने कहा कि संगठन राज्य में स्थानीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर निर्मित उत्पादों को प्रोत्साहन देकर औद्योगिक विकास को बढ़ावा देने के उद्देश्य से पिछले चार वर्ष से राजधानी पटना में अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले का आयोजन कर रहा है। उन्होंने कहा कि अगले वर्ष से इस मेले का आयोजन गया, मुजफ्फरपुर और भागलपुर में भी करने की योजना है। श्री सिंह ने बताया कि इस मेले में 60 से अधिक स्थानीय, अंतरराज्यीय और अंतर्राष्ट्रीय स्टॉल लगाये गये हैं, जिनमें पाकिस्तान के वस्त्र, सरगोधा के सॉल्ट लैंप, मलेशिया के फव्वारे एवं फर्नीचर, अफगानिस्तान के ऑनिक्स मार्बल, थाइलैंड के डेकोर आइटम, बैंकॉक की आराम कुर्सियों के अलावा स्थानीय स्तर पर पंजाब, मुंबई, दिल्ली, इंदौर और हैदराबाद के फर्नीचर, चंडीगढ़, लखनऊ, कोलकाता, दिल्ली और गुड़गांव के वस्त्र, बिहार का प्रसिद्ध मखाना (गॉरगोनट) और जयपुर के मार्बल प्रदर्शित किये जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि व्यापार मेले के साथ ही अंतर्राष्ट्रीय फूड फेस्टिवल का भी अयोजन किया गया है। इसमें पाकिस्तान, दिल्ली, मुंबई, लखनऊ, आजमगढ़ के शाकाहारी एवं मांसाहारी व्यंजनों को प्रदर्शित किया जा रहा है।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...