प्रवर्तन निदेशालय के समक्ष पेश हुए वीरभद्र

virbhadra-appeares-before-ed
नयी दिल्ली, 20 अप्रैल, कालेधन को वैध बनाने के मामले में हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह आज यहां प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष पेश हुए, प्रवर्तन निदेशालय ने श्री सिंह को आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में धन शोधन निरोधक कानून के तहत उन पर दर्ज मुकदमें के सिलसिले में 13 अप्रैल को पेश होने का आदेश दिया था लेकिन किसी कारण वश उस दिन पेशी नहीं हो पाने के कारण उन्हें 20 अप्रैल के पहले हाजिर होने का समन जारी किया गया था। ईडी की ओर से यह कार्रवाई केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के उस कदम के बाद उठायी गई, जिसमें वीरभद्र सिंह के खिलाफ गलत तरीके से 6.03 करोड़ रूपये जुटाने के आरोप में मार्च में आरोप पत्र दाखिल किया गया था। ईडी इस मामले में वीरभद्र सिंह की पत्नी प्रतिभा सिंह और उनके बेट विक्रमादित्य से पहले ही पूछताछ कर चुका है। ईडी ने अप्रैल के पहले हफ्ते में मनी लांड्रिंग के मामले में वीरभद्र सिंह का 27.29 करोड़ रूपये का फॉर्महाउस कुर्क भी कर लिया था। श्री सिंह पर साल 2009 से 2012 के दौरान केंद्रीय मंत्री रहते हुए 6.03 करोड़ की संपत्ति अवैध तरीके से खरीदने का आरोप लगा है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...