मुंबई पर रोमांचक जीत से पंजाब की उम्मीदें कायम

punjb-beat-mumbai-indian
मुंबई, 11 मई, किंग्स इलेवन पंजाब ने तेज गेंदबाज मोहित शर्मा के आखिरी शानदार ओवर की बदौलत मुंबई इंडियंस को सांसों को रोक देने वाले मुकाबले में गुरुवार को सात रन से हराकर आईपीएल-10 के प्ले आॅफ में पहुंचनेे की अपनी उम्मीदों को कायम रखा। पंजाब ने रिद्धिमान साहा के मात्र 55 गेंदोंं में 11 चौकों और तीन छक्कों की मदद से बने नाबाद 93 रन से तीन विकेट पर 230 रन का विशाल स्कोर बनाया। मुंबई ने लक्ष्य का बड़ी बहादुरी के साथ पीछा किया लेकिन मोहित के आखिरी ओवर ने मुंबई को छह विकेट पर 223 रन के स्कोर पर रोक दिया। पंजाब ने इस तरह 13 मैचोंं में अपनी सातवीं जीत हासिल की और अब उसके 14 अंक हो गए हैं। पंजाब तालिका में पांचवे स्थान पर है और प्ले ऑफ के लिए उसे अपना अंतिम लीग मैच जीतना होगा और साथ ही दूसरी टीमों के परिणाम तथा नेट रन रेट को भी देखना होगा। मुंबई को 13 मैचों में चौथी हार का सामना करना पड़ा, इसके बावजूद 18 अंकों के साथ उसका चोटी का स्थान बना हुआ है। पंजाब की पारी में नाबाद 93 रन बनाने वाले रिद्धिमान साहा को मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला। मुंबई के लिए लैंडल सिमंस ने 32 गेंदों में पांच चौकों और चार छक्कों की मदद से 59 रन और पार्थिव पटेल ने 23 गेंदों में सात चौकों के सहारे 38 रन बनाए। हार्दिक पांड्या ने 13 गेंदों में चार छक्के उड़ाते हुए 30 रन ठोके। कर्ण शर्मा ने छह गेंदों में 19 रन बनाए। कीरोन पोलार्ड 24 गेंदों में एक चौका और पांच छक्के उड़ाते हुए नाबाद 50 रन ठोक कर मुंबई को जीत की दहलीज पर ले आए लेकिन मोहित के आखिरी ओवर में वह बड़े शॉट खेलने से चूक गए और मुंबई को हार का सामना करना पड़ा। 



इससे पहले विकेटकीपर बल्लेबाज रिद्धिमान साहा (नाबाद 93) के शानदार अर्धशतक और मैक्सवेल (47) की तेज तर्रार पारी के दम पर किंग्स इलेवन पंजाब ने तीन विकेट पर 230 रन का विशाल स्कोर बनाया। पंजाब ने इसी के साथ इस सत्र का किसी भी टीम द्वारा एक पारी में सर्वाधिक रन बनाने का रिकार्ड भी अपने नाम कर लिया। इससे पहले दिल्ली डेयरडेविल्स ने गुजरात लायंस के विरुद्ध 214 रन बनाये थे। साहा ने मात्र 55 गेंदों में 11 चौकों तीन छक्कों की मदद से नाबाद 93 रन बनाये। वह अंत तक नाबाद रहे। अंतिम ओवर में साहा को अपना शतक पूरा करने के लिये 15 रनों की जरूरत थी और लेकिन वह आठ रन ही बना सके और 93 रनों पर नाबाद रहे। अंतिम गेंद पर अक्षर पटेल ने छक्का जड़ दिया और टीम का स्कोर तीन विकेट पर 230 पहुंचा दिया। कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ अपने पिछले मुकाबले में मिली जीत से उत्साहित पंजाब की टीम ने इस मैच में गजब की आक्रामक बल्लेबाजी का प्रदर्शन किया। पंजाब के बल्लेबाजों ने पहले ओवर में ही 13 रन ठोककर अपने तेवर जता दिये थे। ओपनर मार्टिन गुप्तिल (36) और साहा ने जोरदार शुरुआत करते हुए तेजी से रन बटोरने शुरू कर दिये। गुप्तिल साहा से तेज थे और छठे ओवर में आउट होने के पहले उन्होंने मात्र 18 गेंदों पर पांच चौकों और एक छक्के की मदद से 36 रन बना दिये। उन्हें कर्ण शर्मा ने आउट किया। गुप्तिल और साहा ने पहले विकेटट के लिये मात्र 5.3 ओवर में 68 रन जोड़ डाले। गुप्तिल के बाद बल्लेबाजी करने उतरे पंजाब के कप्तान ग्लेन मैक्सवेल ने रनगति धीमी नहीं होने दी और रनगति को बरकरार रखा। पंजाब ने दूसरे ओवर में 16 रन, चौथे ओवर में 19 रन और छठे ओवर में 11 रन जोड़े। पंजाब के पावरप्ले की समाप्ति तक 71 रन पर एक विकेट थे। पावरप्ले के बाद मैक्सवेल और आक्रामक हो गये और उन्होंने हरभजन के पारी के नौवें ओवर में तीन छक्के जड़ डाले। पंजाब की टीम ने सातवें ओवर में 14 और आठवें ओवर में 15 रन जोड़े। पंजाब के 100 रन भी इसी ओवर में पूरे हुए। मैक्सवेल पारी के 11 वें ओवर में जसप्रीत बुमराह का शिकार बने। उन्होंने 131 के स्कोर पर आउट होने से पहले मात्र 21 गेंदों पर दो चौके और पांच छक्के उड़ाते हुए 47 रन बनाये। पंजाब ने पूरे मैच में रनगति बरकरार रखी। उसने 14 वें ओवर में 14 रन, 15 वें ओवर में 12 रन , 16 वें ओवर में 17 रन , 18 वें ओवर में नौ रन जोड़े। साहा ने इसके बाद शान मार्श (25) और अक्षर पटेल (नाबाद 19) के साथ अहम भागीदारियां निभाते हुए टीम को 200 के पार पहुंचाया। मार्श ने 16 गेंद की अपनी संक्षिप्त पारी में 25 रन बनाने में दो छक्के लगाये। उन्होंने साहा के साथ तीसरे विकेट के लिये मात्र 4.2 ओवर में 52 रन जोड़े। पटेल ने 13 गेंदों में एक छक्के की मदद से 19 रन बनाये। पंजाब ने 18 वें ओवर में अपने 200 रन पूरे किये और 20 ओवर की समाप्ति पर उसका स्कोर तीन विकेट पर 230 रन था। मुंबई की तरफ से मिशेल मैकक्लेनेगन , जसप्रीत बुमराह और कर्ण शर्मा ने एक-एक विकेट लिये। 


Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...