स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र ने जीएसटी में छूट का स्वागत किया

health-sector-welcome-gst
नई दिल्ली , 30 जून, हेल्थ केयर एवं डायग्नास्टिक्स सेवा क्षेत्र ने माल एवं सेवा कर :जीएसटी: व्यवस्था में अपने लिए संतोष जताते हुए कहा है कि इससे इस क्षेत्र पर आथर्कि बोझ कम होगा और उपभोक्ताओं को भी इसका लाभ होगा। एसआरएज डायग्नास्टिक्स के मुख्य कार्यकारी अरिंदम हल्दर ने आज एक बयान में कहा जीएसटी का सबसे बड़ा प्रभाव होगा सरकार द्वारा एकीकृत कर प्रणाली के चलते कीमतों की विषमता में कमी, जिसका सकारात्मक असर हेल्थकेयर एवं डायग्नोस्टिक सेक्टर पर पड़ेगा। नैदानिक सेवाओं पर जीएसटी में छूट दी गई है और पहले 15 फीसदी कर अभिकर्मक :कैटिलिस्ट: और किट्स पर चुकाने का प्रावधान था,जिसमें अब जीएसटी के तहत कमी आ जाएगी। इसलिए उम्मीद की जा रही है कि स्वास्थ्य सेवाएं अब लोगों के लिए ज़्यादा किर्2398ीायती बन जाएंगी।  उन्होंने कहा कि हेल्थकेयर और डायग्नोस्टिक को सरकार ने महत्व दिया है। इस क्षेत्र का मानना है कि उसे जीएसटी में छूट देने से लोगों को चिकित्सा सेवाएं आसानी से सुलभ कराने में मदद मिलेगी तथा इससे यह निजी एवं सार्वजनिक क्षेत्र की इकाइयों के बीच का आथर्कि अंतराल दूर होगा। हल्दर ने कहा, जीएसटी में मुनाफाखोर-विरोधी उपबंध से किसी उत्पाद पर कर की दरों में कमी के साथ उपभोक्ताओं के लिए कीमतों में कमी लाना ज़रूरी है। यह कदम नवप्रवर्तन को बढ़ावा देगा क्योंकि इससे क्षेत्र पर आथर्कि बोझ कम होगा।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...