मधुबनी प्रशासन की हलचल (23 जून)

जेंडर एलायंस कार्यक्रम का उद्घाटन

मधुबनी, 23 जून; आज जिला पदाधिकारी, मधुबनी, श्री शीर्षत कपिल अशोक  ने ग्राम विकास परिषद, राॅटी के परिसर में जेंडर एलायंस के दरभंगा प्रमण्डलीय कार्यक्रम का उद्घाटन दीप प्रज्वलित कर लिया। कार्यक्रम का आयोजन ग्राम विकास परिषद, मधुबनी द्वारा अपने 30 वें स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में किया गया था। अपने उदघाटन भाषण में जिला पदाधिकारी ने कहा कि बिहार मंें युवा आबादी काफी अधिक है। प्रजनन दर अधिक रहने के कारण युवाओं की संख्या अभी और बढेगी। युवाओं में आधी आबादी महिलाओं की है। जब तक बिहार की महिलाएं स्वस्थ और षिक्षित नहीं होंगी, तब तक बिहार समृद्व नहीं होगा। इसलिए भारत भी समृद्व नहीं होगा। महिला के अषिक्षित रहने पर पूरा परिवार अषिक्षित रह जाता है। 18 वर्ष से कम उम्र में लडकियों की शादी हो जाने पर उसकी पढाई पूरी होने की संभावना घट जाती है। इसलिए जेंडर एलांयस कार्यक्रम के द्वारा यदि महिलाओं की षादी की न्यूनतम उम्र 21 साल कराने का प्रयास किया जा रहा है तो यह सराहनीय है। उन्होंने कहा कि कम उम्र में विवाह के चलते बिहार की लगभग 13 प्रतिषत किषोरियां 19 वर्ष के अंदर माॅ बन जाती है। फलतः राज्य में मातृ मृत्यु दर, षिषु मृत्यु दर, कुल प्रजनन दर विपरीत रूप से प्रभावित होता है।  जेंडर एलायंस कार्यक्रम का एक उद्वेष्य दहेज प्रथा को पूर्णतः समाप्त कराना भी है। हमें खुषी है कि बिहार सरकार दहेज प्रथा को समाप्त करने के लिए जल्द ही कार्यक्रम प्रारंभ करने जा रही है। महिलाआंे को समृद्व और सषक्त बनाने में जिला प्रषासन मधुबनी, जेंडर एलायंस कार्यक्रम के साथ हर सहयोग को तैयार है। उन्होंने इस कार्यक्रम को अनुमंडल, गाॅव स्तर तक ले जाने का अनुरोध आयोजकों से किया। आज के कार्यक्रम की अध्यक्षता सखी संस्था की सचिव श्रीमति सुमन सिंह ने की। जेंडर एलायंस बिहार के नागरिक समाज का एक ऐसा गठबंधन है जो समाज में लैगिक समानता लाने के लिए प्रयासरत है। इस कार्यक्रम से बिहार के 234 स्वंय सेवी संस्थान, षिक्षकगण, पत्रकार सामाजिक कार्यकत्र्ता जुड चुके है। संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या नियंत्रण कार्यक्रम और बिहार बाॅलेन्टरी हेल्थ एसोसिएषन मिलकर इस कार्यक्रम को चला रहे है। श्री षष्टीनाथ झा इस कार्यक्रम के मधुबनी जिला के प्रभारी है। 


कटाव निरोधी कार्य का निरीक्षण 

madhubani-dm-news
मधुबनी, 23 जून; जिला पदाधिकारी, मधुबनी, श्री शीर्षत कपिल अशोक ने मधेपुर अंचल के बकुआ गाॅव में कटाव निरोधी कार्य का निरीक्षण किया। यह कार्य कार्यपालक अभियंता, बाढ नियंत्रण प्रमंडल झंझारपुर-2 द्वारा कराया गया है। निरीक्षण में जिला पदाधिकारी ने पाया कि कार्योपरांत भी कुछ जगह पर कोषी ने कटाव किया है। जिला पदाधिकारी ने उन जगहों पर सात दिन के अंदर पुनः कटाव निरोधी कार्य कराने का निदेष कार्यपालक अभियंता को दिया। उन्होंने गाॅव के लोगों को आष्वस्त किया कि बकुआ स्थित स्वास्थ्य उप केंन्द्र में सप्ताह में एक दिन चिकित्सक आकर लोगों का इलाज करेंगे। जिला पदाधिकारी ने मधेपुर बीडीओ को निदेष दिया कि वे गाॅव में स्वास्थ्य, षिक्षा आदि की स्थिति पर उन्हें प्रतिवेदन दें। बकुआ से लौटने के क्रम में रहमानी चैक, बेल्थी पर जिला पदाधिकारी का कारवां रूका। पुल बनकर तैयार था, किन्तु पहुॅच पथ बनना बाकी था। उन्होंने ग्रामीणों को आष्वस्त किया कि शीध्र ही पहुॅच पथ बनवा दिया जाएगा। ए.एस.पी. झंझारपुर, एस.डी.ओ. झंझारपुर, बी.डी.ओ. मधेपुर, कार्यपालक अभियंता बाढ नियंत्रण प्रमंडल झंझारपुर-2 आदि भी इस अवसर पर उपस्थित थे।   
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...