नवाज शरीफ से पनामा पेपर्स मामले में हुई पूछताछ

nawaz-sharif-questioned-in-panama-papers-case
इस्लामाबाद, 15 जून, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से पनामा पेपर्स मामले की जांच के लिए गठित संयुक्त जांच दल (जेआईटी) ने उन पर तथा उनके परिवार पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों के संबंध में आज लगभग दो घंटे तक पूछताछ की। पाकिस्तान के राजनीतिक इतिहास में यह पहला माैका है जब किसी प्रधानमंत्री को जांच एजेंसी का सामना करना पड़ा है। श्री शरीफ पूर्वाह्न करीब 11 बजे जांच दल के समक्ष उपस्थित हुए और उनसे लगभग दो घंटे तक पूछताछ हुई। श्री शरीफ जब जेआईटी के कार्यालय पहुंचे, उनके साथ उनके भाई शाहबाज और उनके एक पुत्र भी थे। पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने गत अप्रैल में भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर श्री शरीफ को पद से हटाये जाने संबंधी विपक्षी दलों की याचिका यह कहते हुये खारिज कर दी थी कि इस मामले में उनके(श्री शरीफ) खिलाफ पर्याप्त साक्ष्य नहीं है ,लेकिन अदालत ने मामले की विस्तृत जांच के आदेश दिये थे और इसके लिए जेआईटी का गठन किया था। पाकिस्तानी अखबार डॉन ने बताया कि पूछताछ के बाद जेआईटी कार्यालय से बाहर निकल कर श्री शरीफ ने संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा, “मेरे वित्तीय दस्तावेज सुप्रीम कोर्ट समेत सभी संबंधित संस्थानों में जमा हैं और आज मैंने उन्हें जेआईटी में भी जमा करा दिया।” उन्होंने कहा कि इन आरोपों का प्रधानमंत्री के तौर पर कार्यकाल पूरा करने से कोई लेना-देना नहीं है और ये भ्रष्टाचार के आरोप नहीं हैं। श्री शरीफ ने कहा कि उन पर और उनके परिवार पर निजी स्तर पर आरोप लगाये गये हैं। उन्होंने कहा “मैं पंजाब का मुख्यमंत्री था और प्रधानमंत्री के तौर पर भी यह मेरा तीसरा कार्यकाल है लेकिन मेरे खिलाफ कभी भी वित्तीय भ्रष्टाचार का कोई आरोप नहीं लगा। श्री शरीफ ने कहा “मैंने खुद को और अपने परिवार को हर किस्म की कार्रवाई के लिए सामने रखा है। मैंने हर तरह के वित्तीय लेन-देन का ब्योरा उपलब्ध करा दिया है। यहां तक कि मेरे जन्म से पहले के भी लेन-देन का ब्योरा संबंधित संस्थानों को सौंप दिया गया है।” प्रधानमंत्री ने आगामी आम चुनावों को लेकर अपने विरोधियों को चेतावनी देते हुए कहा कि लोगों को नहीं भूलना चाहिए कि अगले वर्ष इससे बड़ी जेआईटी का गठन होना है जिसमें 20 करोड़ लोग यह निर्णय लेंगे कि उनके देश के हित में किसने काम किया है। उन्होंने कहा “हम अपने विरोधियों को विकास का पहिया उल्टा नहीं घुमाने देंगे और देश की जनता हमें 2013 की तुलना में अधिक मत से जिताएगी।”
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...