विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 16 जून

जिले में अब तक 51.7 मिमी औसत वर्षा दर्ज हुई

जिले के तहसील कार्यालयों में स्थापित वर्षामापी यंत्रो पर शुक्रवार की प्रातः आठ बजे दर्ज की गई वर्षा की जानकारी देते हुए अधीक्षक भू-अभिलेख श्रीमती सविता पटेल ने बताया कि शुक्रवार को जिले में 3.2 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है जबकि एक जून से आज दिनांक 16 जून तक 51.7 मिमी औसत वर्षा हो चुकी है। उक्त अवधि में गतवर्ष तीन मिमी औसत वर्षा हुई थी। शुक्रवार की प्रातः जिन तहसीलों में वर्षा दर्ज की गई उनमें बासौदा में 9.2 मिमी, गुलाबगंज में 16 मिमी, ग्यारसपुर में 0.3 मिमी, शेष अन्य तहसीलों मंे वर्षा नगण्य रही। अब तक तहसीलवार दर्ज की गई वर्षा तदानुसार विदिशा में 33.8 मिमी, बासौदा में 41.2 मिमी, कुरवाई में 91.5 मिमी, सिरोंज में 39 मिमी, लटेरी में 49 मिमी, ग्यारसपुर में 55.3 मिमी, गुलाबगंज में 54 मिमी, नटेरन में 50.3 मिमी, वर्षा दर्ज की गई है।


पौधरोपण तैयारियों की समीक्षा

vidisha news
कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने आज जिले में पौधरोपण के मद्देनजर की जाने वाली तैयारियों की समीक्षा की। उनके चेम्बर में हुई इस बैठक में वन संरक्षक श्री रविन्द्र सक्सेना, जिला पंचायत सीईओ श्री दीपक आर्य, उद्यान विभाग के सहायक संचालक श्री केएल व्यास, आजीविका मिशन के जिला प्रबंधक, जन अभियान परिषद की जिला समन्वयक, कृषि विभाग के अधिकारी मौजूद थे। कलेक्टर श्री सुचारी ने अधिकारियोें से कहा कि वे पौधरोपण की संख्या पर बल ना दें बल्कि पौधरोपण की गुणवत्ता और पौधे जीवित बने रहे पर जोर देें। उन्होंने बताया कि दो जुलाई से जिले में पौधरोपण कार्य शुरू हो जाएगा। इससे पहले विभागवार पौधरोपण के लिए लक्ष्यों की प्राप्ति हेतु पौधो की व्यवस्थाओं के संबंध में गहन विचार विमर्श किया। उन्होंने कहा कि सबसे पहले शासकीय नर्सरियों से पौधे खरीदने का कार्य किया जाए। इसके पश्चात यदि आवश्यकता पड़ती है तो निजी संस्थाओं से सम्पर्क किया जाए। कलेक्टर श्री सुचारी ने कहा कि हर विकासखण्ड में कम से कम दो-दो स्थलों पर पौधरोपण सुव्यवस्थित रूप से कराया जाए। ताकि बाहर से आने वाले अधिकारियों का भ्रमण उन स्थलों पर कराया जा सकें। उन्होंने स्वसहायता समूह को भी पौधरोपण की जबावदारी सौंपने की बात कही ताकि उन्हें रोजगार मिल सकें। वन संरक्षक श्री सक्सेना ने बताया कि वन विभाग और कार्पोेरेशन के माध्यम से 32 लाख पौधे विभिन्न प्रजाति के रोपित किए जाएंगे। इसके लिए विभाग के माध्यम से तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा चुका है। उन्होंने बताया कि वन भूमि क्षेत्रों में गडढे खनन करने का कार्य हो चुका है। वही मिट्टी और खाद की व्यवस्थाओं के साथ-साथ पौधो की उपलब्धता सुनिश्चित की गई है।  जिला पंचायत सीईओ श्री दीपक आर्य ने बताया कि ग्रामीण विकास विभाग के माध्यम से हर पंचायत में कम से कम तीन-तीन सौ पौधे रोपित करने का लक्ष्य तय किया गया है। रोपित पौधे जीवित बने रहे इसके लिए उनकी देखभाल हेतु तैनात होने वाले कर्मचारियों को मनरेगा के माध्यम से मजदूरी भुगतान करने की प्रक्रिया भी क्रियान्वित की जाएगी। इसी प्रकार जन अभियान परिषद के द्वारा बताया गया कि उनकी ग्राम प्रस्फुटन समितियों के माध्यम से पचास हजार पौधे रोपित किए जाएंगे। 

विद्यार्थियों से छात्रावास हेतु आवेदन आमंत्रित

पिछडा वर्ग तथा अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के द्वारा जिला मुख्यालय पर पिछडा वर्ग के छात्रों हेतु सौ सीटर एवं छात्राओं के लिए पचास सीटर पोस्ट मैट्रिक छात्रावास संचालित किए जा रहे है। पिछडा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के सहायक संचालक ने बताया कि इन छात्रावासों में रहने हेतु संबंधित वर्ग के छात्र-छात्राओं से आवेदन आमंत्रित किए गए है। इच्छुक विद्यार्थी 15 जुलाई तक आवेदन प्राप्त कर सकते है और भरे हुए आवेदन 20 जुलाई तक आवश्यक दस्तावेंजो के साथ जमा कर सकते है। छात्राओं के लिए पिछडा वर्ग की कन्या पोस्ट मैट्रिक छात्रावास ईदगाह चैराहा विदिशा में तथा बालक पोस्ट मैट्रिक छात्रावास जज काॅलोनी पानी की टंकी के पास टीलाखेडी में संचालित की जा रही है। ततसंबंध में अन्य विस्तृत जानकारी के लिए संबंधित छात्रावास के अधीक्षक से सम्पर्क कर प्राप्त की जा सकती है।


सेलफोन सर्विसिंग प्रशिक्षण का आयोजन

ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान विदिशा के द्वारा एनआरएलएम योजना के तहत गरीबी रेखा के नीचे जीवनयापन करने वाले परिवारों के युवक-युवतियों को स्वरोजगार से जोड़ने हेतु सेलफोन सर्विसिंग प्रशिक्षण का आयोजन 21 जून से आयोजित किया गया है जो 20 जुलाई तक जारी रहेगा। ततसंबंध में अन्य विस्तृत जानकारी के लिए प्रशिक्षण संस्थान से अथवा संस्थान का मोबाइल नम्बर 9981518558 अथवा टेलीफोन नम्बर 07592-297021 पर सम्पर्क कर प्राप्त की जा सकती है।

राशन का वितरण समग्र परिवार आईडी से

जिले में नगरीय क्षेत्र के राशनकार्डधारियों को उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से 19 जून तक राशन का वितरण समग्र परिवार आईडी के माध्यम से प्रदाय करने के आदेश खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण आयुक्त डाॅ पवन कुमार शर्मा के द्वारा जारी कर दिए गए है। जिला आपूर्ति अधिकारी श्री मोहन मारू ने बताया कि आयुक्त के द्वारा जारी किए गए आदेश से संबंधितों को अवगत कराया जा चुका है। उन्होंने बताया कि माह अपै्रल से नगरीय क्षेत्र मंे संचालित उचित मूल्य दुकानों से पात्र परिवारों को वायोमैट्रिक सत्यापन के आधार पर राशन सामग्री वितरण का कार्य प्रारंभ किया गया है। माह जून में यूआईडीएआई द्वारा आधार प्रमाणीकरण की प्रक्रिया में परिवर्तन करने के कारण डीएसके डिजीटल सेवा प्रदत्त तदानुार पीओएस मशीन साफ्टवेयर में परिवर्तन करने में समय लगने के कारण आधार आधारित राशन वितरण में कठिनाईयां आ रही है को ध्यानगत रखते हुए उपभोक्ताओ को समय पर राशन की उपलब्धता सुनिश्चित हो को ध्यानगत रखते हुए आयुक्त द्वारा आदेश प्रसारित किए गए है। श्री मारू ने निकाय क्षेत्र को उचित मूल्य दुकानों के संचालकों को निर्देशित किया है कि वास्तविक हितग्राहियों को ही राशन सामग्री का वितरण किया गया है। 

राज्यमंत्री श्री मीणा द्वारा जनसुनवाई आज

उद्यानिकी तथा खाद्य प्रसंस्करण (स्वतंत्र प्रभार) वन, राज्यमंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा के द्वारा शमशाबाद विधानसभा क्षेत्र की दोनो तहसीलो में प्रत्येक शनिवार को जनसुनवाई के माध्यम से आमजनों की समस्याओं से अवगत होकर उनका निराकरण किया जा रहा है। राज्यमंत्री श्री मीणा के द्वारा शनिवार की प्रातः 11 बजे से नटेरन जनपद पंचायत के सभागार कक्ष में तथा दोपहर दो बजे से शमशाबाद के फाॅरेस्ट रेस्ट हाउस में जनसुनवाई आहूत की है।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...