विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 17 जून

ग्रामीणों की समस्याआंे को सुना राज्यमंत्री ने प्रवेशोत्सव आयोजन में शामिल हुए

vidisha news
उद्यानिकी तथा खाद्य प्रसंस्करण (स्वतंत्र प्रभार) वन, राज्यमंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा ने आज शमशाबाद विधानसभा क्षेत्र में दो स्थलों पर जनसुनवाई के माध्यम से ग्रामीणजनों से रू-ब-रू हुए और उनकी व्यक्तिगत, सार्वजनिक समस्याओं को सुनने के उपरांत निराकरण कारगर पहल उनके द्वारा कराई गई है। राज्यमंत्री श्री मीणा शमशाबाद के हाई स्कूल परिसर में आयोजित प्रवेशोत्सव कार्यक्रम में भी शामिल हुए यहां उन्होंने नवप्रवेशीय बच्चों का तिलक लगाकर स्वागत किया और उन्हें पाठ्यपुस्तकें प्रदाय की। कार्यक्रम के दौरान श्री मीणा ने कहा कि मध्यप्रदेश का हर बच्चा शिक्षित हो इसके लिए राज्य सरकार द्वारा हर संभव प्रयास किए जा रहे है। पहले की अपेक्षा अब स्कूलों की संख्याओं में वृद्वि की गई है ताकि गांव में ही बच्चों को प्राथमिक शिक्षा की प्राप्ति सुगमता से हो सकें। शिक्षा के प्रति बच्चों का रूझान बढे इसके लिए सरकार द्वारा अनेक योजनाएं संचालित की जा रही है। प्रदेश में बारहवीं तक की शिक्षा पूर्ण निःशुल्क मुहैया कराई जा रही है वही बारहवीं में 75 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले विद्यार्थियों की उच्च शिक्षा का भी खर्च सरकार वहन करेंगी। राज्यमंत्री श्री मीणा ने बच्चों के अभिभावकों से कहा कि वे अपने बच्चों को हर रोज स्कूल जरूर भेजे। शासकीय स्कूलों में भी शैक्षणिक सुधार परलिक्षित हो रहे है। राज्य की बोर्ड परीक्षाओं में अधिकांश बच्चे ग्रामीण् क्षेत्रो के ही मैरिट में है। उन्होंने बच्चों से कहा कि वे पूरा ध्यान पढ़ाई में लगाए। इससे पहले जिला शिक्षा अधिकारी ने स्कूल चले हम अभियान के उद्वेश्यों को रेखांकित किया। कार्यक्रम स्थल पर डीपीसी श्री सुरेश खाण्डेकर समेत अन्य अधिकारी व विद्यालयीन शिक्षकगण तथा बच्चे मौजूद थे। नटेरन के जनपद पंचायत सभागार कक्ष में राज्यमंत्री द्वारा आहूत की गई जनसुनवाई कार्यक्रम में अधिकांश आवेदन खाद, बीज की उपलब्धता के प्राप्त हुए। ततसंबंध में कृषि विभाग के अधिकारियों को आवश्यक निर्देश राज्यमंत्री द्वारा दिए गए है उन्होंने कहा कि क्षेत्र में खाद, बीज के वितरण में किसी भी प्रकार का संकट ना आए के पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित किए जाए। बीपीएल सूची में नाम जोडे जाने के आवेदनों के मामले में एसडीएम श्री मकसूद अहमद ने आवेदकों को अवगत कराया कि परीक्षण के उपरांत सुपात्रों के नाम बीपीएल सूची में जोडे जाने की कार्यवाही की जाएगी। राज्यमंत्री श्री मीणा ने ग्राम गुरोद मंे नदी के पास के मंदिर के समीप चबूतरा निर्माण हेतु एक लाख रूपए, ग्राम खैरई की हनुमान मंदिर समिति को सोलह हजार रूपए राशि के चेक विधायकनिधि से स्वीकृति के उपरांत प्रदाय किए। इसी प्रकार शमशाबाद के फाॅरेस्ट रेस्ट हाउस मंे भी राज्यमंत्री द्वारा जनसुनवाई के माध्यम से आमजनों की समस्याओं को सुना। यहां मुख्यतः वन भूमि पर काबिज ने भू-अधिकार पत्र दिलाए जाने, बीपीएल सूची में नाम जोडे़ जाने के अलावा व्यक्तिगत कार्यो हेेतु आर्थिक सहायता मुहैया कराए जाने के प्राप्त हुए थे। राज्यमंत्री श्री मीणा ने प्राप्त कुल 48 आवेदनों पर संबंधित विभागों के अधिकारियों को कार्यवाही कर आगामी जनसुनवाई में निराकरण से अवगत कराने के निर्देश दिए है। जनसुनवाई के दौरान एसडीएम श्री आरडीएस अग्निवंशी, तहसीलदार श्री इसरार खान समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी, स्थानीय जनप्रतिनिधिगण, ग्रामीणजन मौजूद थे।


जिले में अब तक 67 मिमी औसत वर्षा दर्ज हुई

जिले के तहसील कार्यालयों में स्थापित वर्षामापी यंत्रो पर शनिवार की प्रातः आठ बजे दर्ज की गई वर्षा की जानकारी देते हुए अधीक्षक भू-अभिलेख श्रीमती सविता पटेल ने बताया कि शनिवार को जिले में 15.2 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है जबकि एक जून से आज दिनांक 17 जून तक 67 मिमी औसत वर्षा हो चुकी है। उक्त अवधि में गतवर्ष 4.9 मिमी औसत वर्षा हुई थी। शनिवार की प्रातः जिन तहसीलों में वर्षा दर्ज की गई उनमें विदिशा में 39.1 मिमी, कुरवाई में 5.8 मिमी, सिरोंज में 18 मिमी, लटेरी मंे पांच मिमी, ग्यारसपुर में में एक मिमी, गुलाबगंज में 35 मिमी, नटेरन में 18 मिमी वर्षा दर्ज की गई है जबकि बासौदा में वर्षा नगण्य रही। 

मानोरा मेला तैयारियों की समीक्षा आज

कलेक्टर श्री अनिल सुचारी के द्वारा मानोरा मेला के आयोजन पूर्व की जाने वाली तैयारियों को अंतिम रूप देने के उद्वेश्य से समीक्षा बैठक रविवार 18 जून को मानोरा के सामुदायिक भवन मंें प्रातः 11 बजे से आयोजित की गई है कि जानकारी देते हुए मेला के नोड्ल अधिकारी एवं एसडीएम श्री मनोज कुमार वर्मा ने बताया कि कलेक्टर महोदय द्वारा पूर्व में की गई समीक्षा में जिन-जिन विभागों को जो-जो जिम्मेदारियां सौपी गई थी उनका क्रियान्वयन की अद्यतन स्थिति से अवगत होने के उद्वेश्य से उक्त बैठक आयोजित की गई है। मेला नोड्ल अधिकारी ने समस्त विभागों के जिलाधिकारियों, खण्ड स्तरीय अधिकारियों से कहा कि विभगीय तैयारियों की समुचित जानकारियों सहित बैठक में उपस्थित हो। 


उपार्जन केन्द्र पर आज 13 क्ंिवटल मूंग की खरीदी हुई

राज्य सरकार द्वारा दलहन फसलों के उपार्जन कार्य हेतु समर्थन मूल्य जारी किया गया है जिसमें प्रत्येक दलहन जिन्स के लिए बोनस राशि 425 रूपए प्रति क्ंिवटल के मान से समर्थन मूल्य में शामिल है। जिले में समर्थन मूल्य पर दलहनी फसलों का खरीदी कार्य तीस जून तक विपणन सहकारी संस्थाओं के माध्यम से किया जाएगा। जिला विपणन अधिकारी श्री नीरज भार्गव ने बताया कि विदिशा कृषि उपज मंडी में आज शनिवार को एक किसान के द्वारा समर्थन मूल्य पर 13 क्ंिवटल मूंग एफएक्यू क्वालिटी की बिक्री की गई है। दलहनी फसलों का उपार्जन कार्य हेतु एफएक्यू क्वालिटी के संबंध में जारी किए गए निर्देशों का हवाला देते हुए श्री भार्गव ने बताया कि नमी 12 प्रतिशत, अन्य दाले तीन प्रतिशत, सुकडा हुआ तीन प्रतिशत, घुन एवं टूटा हुआ क्रमशः चार-चार प्रतिशत, आंशिक क्षति तीन प्रतिशत, बाह्य पदार्थ दो प्रतिशत होने तक समर्थन मूल्य पर क्रय करने हेतु उपार्जन केन्द्रों को निर्देश प्रसारित किए जा चुके है। कलेक्टर श्री अनिल सुचारी के द्वारा जिले मे समर्थन मूल्य पर दलहनी फसलों का उपार्जन कार्य सुव्यवस्थित रूप से सम्पन्न हो इसके लिए उनके द्वारा नोड्ल अधिकारी भी नियुक्त किए गए है अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा को समस्त खरीदी कार्य का संचालन मार्गदर्शन एवं पर्यवेक्षण का दायित्व सौंपा गया है। कलेक्टर श्री सुचारी के द्वारा जिला स्तरीय निगरानी समिति का भी गठन किया गया है। अपर कलेक्टर को समिति का अध्यक्ष बनाया गया है इसके अलावा सात अन्य सदस्यों को भी शामिल किया गया है। इसी प्रकार खरीदी केन्द्रों में गुणवत्ता हेतु आकस्मिक निरीक्षण के लिए कलेक्टर द्वारा अनुविभाग स्तर पर निरीक्षण दल भी गठित किए गए है। जिला आपूर्ति अधिकारी श्री मोहन मारू ने बताया कि जिले में समर्थन मूल्य पर मूंग खरीदी कार्य विदिशा और बासौदा की कृषि उपज मंडी मंे किया जाएगा। मंूग का समर्थन मूल्य 5225 रूपए प्रति क्ंिवटल है। उड़द खरीदी कार्य बासौदा की कृषि उपज मंडी में ही होगा। उडद का समर्थन मूल्य पांच हजार रूपए प्रति क्ंिवटल घोषित किया गया है इसी प्रकार अरहर (तूअर) खरीदी कार्य शमशाबाद कृषि उपज मंडी में किया जाएगा। अरहर का समर्थन मूल्य पांच हजार पचास रूपए है।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...