विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 28 जून

पेंशनधारी अपनी समस्याओं को कभी भी बताएं : अपर कलेक्टर

vidisha news
अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा की अध्यक्षता में जिला पेंशन फोरम समिति की बैठक आज कलेक्टेªट के सभाकक्ष में हुई। उन्होंने पेंशनधारियों से कहा कि वे समिति की बैठक का इंतजार ना करें। अपनी व्यक्तिगत और सार्वजनिक समस्याओं को कभी भी आकर अथवा मोबाइल पर बता सकते है। अपर कलेक्टर श्री वर्मा ने कहा कि शासन के मापदण्ड अनुसार पेंशनधारियों को दी जाने वाली सुविधाएं समय पर मिले का प्रयास संयुक्त रूप से किया जाए। उन्होंने कहा कि पेंशनधारियों के लिए स्वास्थ्य परीक्षण हेतु विशेष शिविर का आयोजन के अलावा जिला चिकित्सालय में पृथक से लाइन लगाने की आवश्यकता इन्हें ना पडे़ का विशेष ध्यान रखा जाए।अपर कलेक्टर श्री वर्मा ने जिला पेंशन अधिकारी श्री अर्जुन सिंह को निर्देश दिए कि बैठक में शामिल होने वाले एजेण्डा की जानकारी पेंशनधारियों को पूर्व में हो वही संबंधित विभागों के जिलाधिकारी भी बैठक में समुचित जानकारियों सहित मौजूद रहंे। पेंशनधारियों ने अपनी मांगयुक्त पत्र अपर कलेक्टर को सौंपते हुए बताया कि बैंक और बिजली बिल जमा करने के लिए पेंशनधारियों को पृथक से व्यवस्था कराई जाए। लीड बैंक आफीसर ने पेंशनधारियों से आग्रह किया कि वे एटीएम जरूर प्राप्त करें ताकि अनावश्यक बिलम्बता से बच सकें। उन्होंने बताया कि यदि किसी पेंशनधारी का खाता एसबीआई की किसी शाखा में है तो एसबीआई की शाखाआंे से एक माह में पांच बार व अन्य बैंको के एटीएम से तीन बार में राशि निकालने पर किसी भी प्रकार की राशि की कटौत्री सेवा शुल्क के रूप में नही की जाएगी। जिला आयुष अधिकारी ने बताया कि आयुष विभाग के द्वारा गतवर्ष विशेष शिविर का आयोजन किया गया था जिसमेें 87 पेंशनधारियों को 14 हजार 934 रूपए मूल्य की दवाईयां निजी मेडीकल स्टोरो से क्रय कर उपलब्ध कराई गई थी। शासन द्वारा इस वर्ष के लिए 25 हजार रूपए की राशि आवंटित की गई हैै विभाग के द्वारा पेंशनधारियों के लिए शीघ्र ही पुनः शिविर आयोजित किया जाएगा। 


सुझाव
पेंशनधारियों द्वारा सुझाव दिया गया कि उपभोक्ता के घरो मंे लगे मीटर की रिडिंग हर माह ली जाए जिसकी जानकारी पूर्वानुसार घरों पर रहने वाले कार्डो पर अंकित की जाए ताकि उपभोक्ता को भी पता रहे कि इस माह कितनी यूनिट की खपत हुई है। उन्होंने बताया कि लगातार दो माह एवरेज बिल देने के बाद तीसरे माह की रिडिंग ली जाती है जो अधिक स्लेप वाली दर में शामिल हो जाती है इस कारण से उपभोक्ता को अधिक राशि देना पड़ रही है। पूर्व बैठक मंे लिए गए निर्णयों के पालन प्रतिवेदन का वाचन किया गया जिसमें मुख्य रूप से प्राथमिक शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय हांसुआ से सेवानिवृत्त हुए सहायक शिक्षक श्री प्रकाश सपे्र द्वारा अब तक पेंशन प्रपत्रों पर हस्ताक्षर नही करने के कारणों को जाना गया। वही पेंशनधारियों से आग्रह किया गया कि वे श्री सपे्र को समझाएं ताकि उनकी पेंशन प्रक्रिया के प्रपत्रों की कार्यवाही पूरी हो सकें। बैठक में बताया गया कि पेंशन के 23 लंबित प्र्रकरणों में से 18 का निराकरण किया जा चुका है शेष पांच विभिन्न कारणों से लंबित है जिसमें मुख्य रूप से अधिक भुगतान वसूली के कारण विभाग में लंबित होना पाया गया है। आज हुई बैठक में बताया गया कि अन्य कारणों से 11 प्रकरण लंबित है जिसमें से सात पंजीकृत और चार अपंजीकृत शामिल है। वही न्यायालयों में तथा विभागीय जांच के कुल 36 प्रकरण लंबित है जिसमंे से 29 न्यायालयीन, पांच विभागीय व तीन लोकायुक्त के प्रकरण शामिल है। अपर कलेक्टर श्री वर्मा ने विभागीय जांच के प्रकरणों को शीघ्रतिशीघ्र निराकृत करने के निर्देश संबंधित विभागों के अधिकारियों को दिए है। बैठक मंे जिला पेंशन फोरम समिति के पदाधिकारी समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

सहकारी संस्थाएं छह माह के भीतर विवरणियां प्रस्तुत करें

सहकारी संस्थाएं के उप पंजीयक श्री एके सिंह ने जिले में कार्यरत सभी सहकारी संस्थाओं को सूचनाएं संप्रेषित की है कि प्रत्येक सोसायटी ऐसे समस्त अभिलेख एवं जानकारियां तथा विवरण जिनका संपरीक्षित किया जाना है के लेखा विवरण एवं अन्य प्रावधानित विवरणियां वित्तीय वर्ष की समाप्ति के छह माह के भीतर अनिवार्यतः प्रस्तुत करें। सहकारिता एवं पंजीयक सहकारी संस्थाओं के आयुक्त द्वारा अंकेक्षक के लिए जारी निर्देशो का हवाला देते हुए श्री सिंह ने बताया कि प्रत्येक सोसायटी के लेखा वर्ष समाप्ति के दिनांक से तीन माह की अवधि में अर्थात 30 जून तक संस्था के वित्तीय पत्रक प्रभारी अंकेक्षक को प्रस्तुत करेंगे। अधिनियमों के प्रावधानों के तहत जिस भी सहकारी समिति के द्वारा प्रावधानों का पालन नही किया जाएगा उनके ऊपर शास्ति अधिरोपित करने की कार्यवाही की जाएगी। 

जिले में अब तक 141.2 मिमी औसत वर्षा दर्ज हुई

जिले के तहसील कार्यालयों में स्थापित वर्षामापी यंत्रो पर बुधवार की प्रातः आठ बजे दर्ज की गई वर्षा की जानकारी देते हुए अधीक्षक भू-अभिलेख श्रीमती सविता पटेल ने बताया कि बुधवार को जिले में 22.8 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है जबकि एक जून से आज दिनांक 28 जून तक 141.2 मिमी औसत वर्षा हो चुकी है। उक्त अवधि में गतवर्ष 89.2 मिमी औसत वर्षा हुई थी। जबकि जिले की सामान्य वर्षा 1075.2 मिमी है। बुधवार की प्रातः जिन तहसीलों में वर्षा दर्ज की गई है तदानुसार विदिशा में 25.1 मिमी, बासौदा में 23.6 मिमी, सिरोंज में पांच मिमी, लटेरी मंे आठ मिमी, ग्यारसपुर में 27 मिमी, गुलाबगंज में 46 मिमी और नटेरन में 48 मिमी वर्षा दर्ज की गई है। इसके अलावा कुरवाई तहसील में वर्षा नगण्य रही।


मानोरा मेले में नषामुक्ति षिविर एवं प्रदर्षनी संपन्न
  • समाजसेवी संस्था अजन्ता ललित कला एवं समाज कल्याण समिति ने किया आयोजन

vidisha news
विदिषा-27 जून 2017/अन्तर्राष्ट्रीय नषा निरोधक दिवस 26 जून के अवसर पर सामाजिक संस्था अजन्ता ललित कला एवं समाज कल्याण समिति द्वारा श्री जगन्नाथधाम मानोरा मेले में नषामुक्ति षिविर एवं प्रदर्षनी का आयोजन किया गया। इस अवसर पर संस्था के कार्यकर्ताओं ने नषे से पीड़ित व्यक्तियों के उपचार हेतु सर्वेक्षण भी किया। काउन्सलर शारदा शर्मा, कीर्ति शर्मा ने नषे की लत को छोड़ कर ईष्वर में लगन लगाने एवं अपने पारिवारिक-सामाजिक दायित्वों का निर्वहन करने हेतु व्यक्तिगत परामर्ष भी प्रदान किया। संस्था अध्यक्ष श्रीमती इन्दिरा शर्मा ने कहा कि नषा एक सामाजिक बुराई है, जिसे सभी को मिलकर समाप्त करना होगा। दृढ़ संकल्प से ही नषे पर काबू पाया जा सकता है। नषे का प्रचलन रोकने हेतु शासन के साथ समाज की भागीदारी भी अत्यावष्यक है। इस अवसर पर बड़ी संख्या में मेले में उपस्थित श्रद्धालुओं ने नषामुक्ति प्रदर्षनी का अवलोकन कर संस्था के प्रयासों की सराहना की। संस्था की सामाजिक कार्यकर्ता वर्षा वैरागी एचएस कुषवाह, लता शर्मा ने कार्यक्रम का सफल संयोजन किया। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...