बली का बकरा नहीं , सिद्धांत की रक्षा के लिये लड़ रही हूँ राष्ट्रपति चुनाव : मीरा कुमार

fight-for-idiology-meira-kumar
पटना 08 जुलाई, राष्ट्रपति चुनाव के लिये 17 विपक्षी दलों की उम्मीदवार एवं पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार ने आज कहा कि वह कोई बली का बकरा नहीं ,बल्कि दलितों और गरीबों के हितों की रक्षा तथा देश में बढ़ते साम्प्रदायिकता को रोकने की विचारधारा के लिये चुनाव लड़ रही हैं । श्रीमती कुमार ने राष्ट्रपति चुनाव के लिये बिहार के तीन दिवसीय दौरा के बाद रांची रवाना होने से पूर्व यहां कांग्रेस मुख्यालय सदाकत आश्रम में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी के नेतृत्व में 17 विपक्षी दलों ने उन्हें राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया है जो आसान बात नहीं है । उन्होंने कहा कि वह कोई बली का बकरा नहीं बल्कि दलितों एवं गरीबों के हितों की रक्षा तथा देश में बढ़ते साम्प्रदायिकता को रोकने की विचारधारा के आधार पर चुनाव लड़ रही हैं । कांग्रेस नेता ने कहा कि 17 विपक्षी दलों का एक साथ आना बड़ी बात है और ये सभी दल साम्प्रदायिकता को रोकने के लिये प्रतिबद्ध हैं । उन्होंने कहा कि देश में जब भी साम्प्रदायिकता की लहर फैली है तो उसे बिहार में ही रोका गया है और उन्हें उम्मीद है कि यहां के लोग इस तरह की भूमिका आगे भी निभायेंगे । 


श्रीमती कुमार ने बिहार से अपनी लगाव की चर्चा करते हुए कहा कि इसी राज्य में उनका जन्म हुआ और यहीं उनका विवाह भी हुआ । उन्होंने कहा कि बिहार के लोग स्वभाव से ही अपने धर्म का सम्मान करने के साथ -साथ दूसरे के धर्म का भी सम्मान करते रहे हैं । उन्होंने कहा कि समाज में जातिवाद कैंसर की तरह फैला है जिसे समाप्त किया  जाना आवश्यक है ।  कांग्रेस नेता ने कहा कि उन्होंने राष्ट्रपति चुनाव में समर्थन के लिये मतदाता मंडल के सभी मतदाताओं को पत्र लिखा है । उन्हें उम्मीद है कि मतदाता अंतरात्मा की आवाज पर अपना मत देकर गरीबों और शोषितों के हितों की रक्षा करने वाले सिद्धांत को विजयी बनायेंगे । उन्होंने राष्ट्रीय जनता दल(राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव से मुलाकात नहीं होने के संबंध में पूछे जाने पर कहा कि वह उनसे लगातार सम्पर्क में रहती हैं । श्रीमती कुमार ने कहा कि श्री यादव साम्प्रदायिक शक्तियों से हमेशा लड़ते रहे हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें खुशी है कि श्री यादव उनके समर्थन में पूरी शक्ति से खड़े हैं । मुख्यमंत्री एवं जनता दल यूनाइटेड(जदयू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार से मुलाकात नहीं होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि वह राष्ट्रपति चुनाव के लिये मतदाता मंडल के सभी मतदाताओं को पत्र लिखकर समर्थन मांग चुकी हैं । 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...