बिहार में सत्तारुढ़ महागठबंधन में कोई संकट नहीं: तारिक अनवर

tariq-anwar
पटना 03 जुलाई, पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के बिहार के कटिहार से सांसद तारिक अनवर ने आज कहा कि प्रदेश में सत्तारुढ़ महागठबंधन में किसी तरह का कोई संकट नहीं है और गठबंधन में खींचा-तानी बनी रहती है । श्री अनवर ने दिल्ली रवाना होने से पूर्व यहां पार्टी के प्रदेश कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि महागठबंधन में शामिल राष्ट्रीय जनता दल (राजद) , जनता दल यूनाइटेड (जदयू) और कांग्रेस में से यदि कोई पार्टी अलग होती है तो उसके लिए यह आत्मघाती कदम साबित होगा । हालांकि उन्होंने कहा कि महागठबंधन में कोई संकट नहीं है । राकांपा सांसद ने कहा कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में शामिल शिवसेना भी केन्द्र सरकार और प्रधानमंत्री के खिलाफ बयान देता है लेकिन बावजूद इसके वह गठबंधन में बना हुआ है । गठबंधन में खीचा-तानी होना कोई बड़ी बात नहीं है , यह चलता रहता है । 


श्री अनवर ने कहा कि गठबंधन को सुचारु रुप से चलाने के लिए एक समन्वय समिति होनी चाहिए जिससे किसी तरह की संशय होने पर घटक दल आपस में राय मशविरा कर सके । उन्होंने कहा कि गठबंधन में किसी तरह के संशय होने पर समन्वय समिति इस पर विचार कर सकती है और इससे विवाद का समधान निकाला जा सकता है । राकांपा सांसद ने एक सवाल के जवाब में कहा कि बिहार में जद यू के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के राजग के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार एवं बिहार के पूर्व राज्यपाल रामनाथ कोविंद का समर्थन करने से महागठबंधन में कोई असर नहीं पड़ेगा । उन्होंने कहा कि श्री कुमार राजग में थे तब उन्होंने कांग्रेस की ओर से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बनाये गये प्रणव मुखर्जी को समर्थन किया था । श्री अनवर ने एक अन्य सवाल के जवाब में कहा कि केन्द्र की भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) नीत मोदी सरकार बिना सोंचे समझे फैसला ले रही है। एक तरफ अवैध बूचड़खाने को बंद किया जा रहा है तो दूसरी ओर लाईसेंस दिया जा रहा है । अवैध बूचड़ खाना को बंद किया जाना उचित है लेकिन इसके नाम पर एक जाति विशेष को निशाना बनाना गलत है । 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...