गुजरात पर हंगामे से नहीं चली राज्यसभा

rs-adjourned-for-day-over-gujarat-mla-poaching-issue
नयी दिल्ली 28 जुलाई,  गुजरात में कांग्रेस के एक विधायक के कथित अपहरण के मुद्दे को लेकर हुए जबरदस्त हंगामे के कारण राज्यसभा में आज कोई कामकाज नहीं हो सका। सदन की कार्यवाही शुरू होते ही कांग्रेस ने आरोप लगाया कि गुजरात में भारतीय जनता पार्टी के इशारे पर पुलिस ने उसके एक विधायक का अपहरण किया और एक पुलिस अधिकारी ने इस विधायक को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष से मिलवाने की बात कही। इसके बाद विपक्ष और सत्ता पक्ष सदस्यों ने एक दूसरे पर आरोप लगाने शुरू कर दिए जिससे सदन में भारी शाेरगुल और हंगामा शुरू हाे गया। इसके चलते शून्यकाल और प्रश्नकाल नहीं हो सका। हंगामे के कारण सदन की कार्यवाही चार बार के स्थगन के बाद अंतत: दिनभर के लिए स्थगित कर दी गयी। हंगामे के कारण शून्यकाल में पहले 10 मिनट के लिए और उसके बाद 12 बजे तक के लिए सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी गयी। जब प्रश्नकाल शुरू हुआ तो कांग्रेसी सदस्यों ने फिर हंगामा शुरू कर दिया और ‘लोकतंत्र की हत्या’ के नारे लगाने लगे, जिससे प्रश्नकाल नहीं चल सका। प्रश्नकाल के दौरान सदन की कार्यवाही दो बार स्थगित की गयी। कांग्रेस के उप नेता आनंद शर्मा ने शून्यकाल में व्यवस्था का प्रश्न उठाते हुये कहा कि गुजरात में सत्तारूढ़ भाजपा के इशारे पर एक पुलिस अधिकारी ने अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित विधानसभा सीट व्यारा से कांग्रेस के विधायक पूनाभाई गावित का अपहरण कर लिया है। विपक्ष के नेता गुलामा नबी आजाद ने कहा कि राज्य में राज्यसभा के लिए होने वाले चुनाव को देखते हुए इस विधायक को अगवा किया गया है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...