सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 29 जुलाई

ग्रामीण विकास विभाग की योजनाओं में रूचि न लेने पर सीईओ इछावर के विरूद्ध विभागीय जांच के दिये निर्देश
  • ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा बैठक में कलेक्टर ने दिये निर्देश

sehore news
जिला पंचायत सभाकक्ष मंे आयोजित ग्रामीण विकास विभाग अंतर्गत संचालित योजनाओं की समीक्षा बैठक में कलेक्टर श्री तरूण पिथौडे ने प्रधानमंत्री आवास योजना मंे हितग्राहियों की प्रथम द्वितीय एवं तृतीय किश्त समय पर जारी न करने, मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास मिशन में वांछित लक्ष्य की पूर्ति न करने एवं मुख्यालय मंे निवास न करने पर लापरवाही एवं उदासीनता पाये जाने पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत इछावर श्री संजीत श्रीवास्तव के विरूद्ध विभागीय जांच की कार्यवाही कर अपर मुख्य सचिव को पत्र भेजने के निर्देश मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डाॅ0 केदारसिंह को दिये। अगले एक माह मंे बनेंगे 8326 आवास- प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा करते हुऐ कलेक्टर ने निर्देश जारी किये कि 03 दिवस मंे प्रथम किश्त प्राप्त हितग्राहियों को द्वितीय किश्त जारी करते हुऐ 8326 हितग्राहियों का आवास 31 अगस्त तक पूर्ण कराया जाए। जिन हितग्राहियों को प्रथम किश्त प्राप्त हो चुकी है उन्हे तीन दिवस मंे द्वितीय किश्त तथा द्वितीय किश्त प्राप्त हिग्राहियों को तृतीय किश्त प्रदान करते हुऐ जिले को प्राप्त लक्ष्य 12747 आवास को 31 अगस्त तक शतप्रतिशत पूर्ण कराया जाए। उपयंत्री मनरेगा एवं ग्राम रोजगार सहायक फोटो अपलोड करने तथा लेआउट डालने की कार्यवाही शतप्रतिशत पूर्ण करें। गुणवत्तायुक्त कार्य के लिये सहायक यंत्री जिम्मेदार होंगे। ऐसा न करने पर सहायक यंत्री, उपयंत्री के वेतन से नो वर्क नो पे के सिद्धान्त पर वेतन कटौती की कार्यवाही की जावेगी। 

काम न करने वालों की होगी छटनी - कलेक्टर तरूण पिथौडे ने मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत को निर्देशित किया कि उपयंत्री, सहायक यंत्री, एपीओ, एडीईओ, पीसीओ, तथा ग्राम रोजगार सहायक के साथ संबंधित अमले की कार्यवार समीक्षा करें। ऐसे अधिकारी / कर्मचारी जिनकी प्रगति लगातार निराशाजनक है उन्हे पद से प्रथक करने की कार्यवाही की जाए। 

ग्राम पंचायतों में करें रात्री विश्राम - प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम, सांसद आदर्श ग्राम एवं शतप्रतिशत गरीबी उन्मूलन वाले लक्षित ग्रामों मंे उपयंत्री एक दिन छोडकर रात्री विश्राम करेंगे। जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ग्राम पंचायत सचिव के माध्यम से रात्री विश्राम की जानकारी प्राप्त कर प्रत्येक टी एल बैठक में प्रतिवेदन देंगे। साथ ही निर्देशित किया गया कि उपयंत्री उक्त ग्रामों में आवास योजनाओं सहित शतप्रतिशत निर्माण कार्य दो माह तक पूर्ण कर सीसी जारी करेंगे। सांसद आदर्श ग्राम बांया, जहानपुर एवं लोहापठार के प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राहियों के आवास का लेआउट, फोटो अपलोड एवं किश्त जारी करने की कार्यवाही तीन दिवस में पूर्ण की जाए। 

महिला स्वसहायता समूह बनायेंगे गणवेश - शासकीय शालाओं में छात्र छात्राओं के लिये प्रदाय की जाने वाली गणवेश की राशि से स्वसहायता समूह गणवेश तैयार करने का कार्य करेंगे। एनआरएलएम के प्रभारी अधिकारी को कलेक्टर ने निर्देशित किया कि डी पी सी एवं जिला शिक्षा अधिकारी के समन्वय स्थापित कर सक्रीय स्वसहायता समूह का चिन्हांकन करते हुऐ उन्हे प्रशिक्षण दिलाकर सिलाई का कार्य शीघ्र दिया जाऐ। साथ ही सक्रीय समूहों को मुंख्यमंत्री स्वरोजगार, आर्थिक कल्याण एवं दीन दयाल स्वरोजगार योजना से जोडकर पालकों को प्रोत्साहित करते हुऐ लाभान्वित करने का कार्य 15 अगस्त तक किया जावे। 

लंबित भुगतान हुआ तो कटेगा वेतन - कलेक्टर श्री तरूण पिथौडे ने समस्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत को निर्देशित किया कि 15 दिवस की समय सीमा मंे मस्टर रोल का भुगतान न होने के कारण का समुचित आंकलन करते हुऐ जिम्मेदार ग्राम रोजगार सहायक, उपयंत्री, सहायक यंत्री, एपीओ एवं जनपद सीईओ के वेतन से महात्मा गांधी नरेगा के निर्देशानुसार वेतन कटौती कर दण्डात्मक कार्यवाही करते हुऐ प्रतिवेदन प्रस्तुत करें। 15 दिवस मंे इस वित्तीय वर्ष के पूर्व के समस्त स्वीकृत एवं प्रगतिरत् कार्यों की 15 दिवस मंे मूल्यांकन कर पूर्णता प्रमाण पत्र जारी करते हुऐ पोर्टल मंे प्रविष्टि दर्ज कराने की जिम्मेदारी सहायक यंत्री की होगी। प्रत्येक ग्राम पंचायत स्थल चयन कर एक तालाब, खेल मैदान, शांतिधाम, निर्मल नीर, पंचायत भवन, आंगनवाडी भवन बनाने के लिये नियमानुसार कार्यवाही प्रारंभ की जाए, जिन ग्राम पंचायतों मंे भूमि उपलब्ध नही है, उन ग्राम पंचायतों की सूची तैयार कर शीघ्र प्रस्तुत करें। महात्मा गांधी नरेगा अंतर्गत निर्मित की गई सुदूर ग्राम सम्पर्क सडक की जांच कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा को करने के निर्देश कलेक्टर ने दिये, उन्होने कहा कि जिन सडकों मंे रोलिंग एवं डब्ल्यू बी एम का कार्य नही किया गया है, उनकी जांच कर संबंधित सहायक यंत्री एवं उपयंत्री के विरूद्ध शासकीय राशि का गबन करने का मामला दर्ज कराया जाए। 

पीसी एक्ट के तहत होगी भ्रष्टाचारियों पर कार्यवाही - कलेक्टर श्री तरूण पिथौडे ने समीक्षा बैठक मंे चेतावनी देते हुऐ कहा कि भ्रष्टाचार किसी भी स्तर पर माफ नही किया जाएगा। योजनाओं का लाभ देने मंे की गई देरी भी भ्रष्टाचार की श्रेणी मंे मानी जावेगी। शासन की योजनाओं मंे किसी भी प्रकार के भ्रष्टाचार की सूचना ग्रामीणजन सीधा कलेक्टर अथवा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत का करेंगे। सूचना देने वाले का नाम एवं आवेदन पूर्णतः गोपनीय रखा जावेगा, साथ ही जांच उपरांत शिकायत सही पाये जाने पर संबंधित अधिकारी /कर्मचारी के विरूद्ध पद से प्रथक करने के साथ ही भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत कार्यवाही भी की जा सकती है।


अब आंगनवाडी एवं शालाओं तक होगी सीसी रोड - कलेक्टर श्री तरूण पिथौडे ने कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा को निर्देशित किया कि प्रत्येक ग्राम में सडकों का नक्शा तैयार किया जाए, जिसमें खराब सडक को लाल रंग से, ग्रेवल रोड को पीले रंग से एवं अच्छी सडक को हरे रंग से चिन्हांकित किया जाए, साथ ही प्रत्येक शाला, छात्रावास एवं आंगनवाडी तक पक्का पहुंच मार्ग बनाये जाने के लिये सर्वेक्षण कर कार्य किया जावे। समीक्षा बैठक में कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा के साथ समस्त प्रभारी अधिकारी, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, सहायक यंत्री, उपयंत्री, एपीओ बैठक में उपस्थित हुऐ। 

महात्मा गांधी नरेगा अंतर्गत 31 जुलाई से प्रारंभ होगा पौध रक्षकों का प्रशिक्षण

मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डाॅ0 केदारसिंह ने 02 जुलाई 2017 को आयोजित वृहद वृक्षारोपण अभियान अंतर्गत लगाये गये पौधों को संरक्षित करने के लिये पौध रक्षकों के प्रशिक्षण की तिथियां जारी की है। 31 जुलाई 2017 को जनपद पंचायत सीहोर आष्टा, एवं इछावर के सभाकक्ष मंे महात्मा गांधी नरेगा एवं उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों द्वारा प्रशिक्षण प्रदान किया जाऐगा। 01.08.2017 को जनपद पंचायत नसरूल्लागंज एवं बुधनी मंे पौध रक्षकों का प्रशिक्षण आयोजित किया गया है। संबंधित जनपद पंचायत के ए पी ओ को निर्देशित किया गया है कि चिन्हित पौध रक्षकों को सूचित करते हुऐ प्रशिक्षण मिलाने की कार्यवाही करना सुनिश्चित करें। 

विश्व स्तनपान सप्ताह का आयोजन एक अगस्त से

आगामी 1 अगस्त,2017 से विश्व स्तनपान सप्ताह का आयोजन किया गया है। इस सप्ताह का उद्देश्य शिशु एवं बाल्यकालीन आहार संबंधी व्यवहारों को बढ़ावा देने हेतु बहुस्तरीय साझेदारी से विभिन्न सामुदायिक वर्गों को सम्मिलित कर हुए नीतिगत रूपरेखा तैयार करना तथा स्तनपान संबंधी सामुदायिक जागरूकता लाना है।भारत सरकार द्वारा स्तनपान केन्द्रित गतिविधियों पर सघन कार्रवाई हेतु “ माँ कार्यक्रम यथा मां का असीम आर्शीवाद” कार्य के उद्देश्यों की प्राप्ति हेतु विकासखण्ड एवं ग्राम स्तर पर 1 अगस्त,2017 से विश्व स्तनपान सप्ताह का आयोजन किया गया है। ग्राम आरोग्य केन्द्र स्तर पर 31 जुलाई,2017  को स्तनपान जागरूकता रैली का आयोजन होगा, जबकि एक अगस्त 2017 को मंगल दिवसध्ग्राम स्वास्थ्य पोषण दिवस का आयोजन किया गया है। 2 से 7 अगस्त, 2017 के मध्य आशा द्वारा मातृ सहयोगिनी समूहों में गर्भवती व धात्री महिलाओं से चर्चा की जाएगी।

जिला पंचायत स्थायी समिति स्वास्थ्य विभाग की बैठक संपन्न 

sehore news
सभापति स्थायी समिति स्वास्थ्य,महिला एवं बाल विकास श्रीमती बबीता सिंह की अध्यक्षता में विभागाीय समीक्षा बैठक आज कार्यालय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के कक्ष में संपन्न हुई।  सभापति श्रीमती बबीता सिंह की अध्यक्षता में आयोजित उक्त बैठक में समिति के सदस्य तथा जिला पंचायत के सदस्य श्री हरीसिंह देवड़ा, श्री अंबाराम मालवीय, श्री राजेष गौर, सांसद प्रतिनिधि   श्री विनोद सिंह सिसोदिया उपस्थित थे। बैठक में स्वास्थ्य,महिला एवं बाल विकास विभाग के माह अपैे्रल से जून-2017 तक के प्रथम क्वाटर के लक्ष्य एवं उपलब्धि की समीक्षा की गई। बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी तथा समिति के सचिव डाॅ.आर.के.गुप्ता, जिला परिवार कल्याण अधिकारी डाॅ.डी.आर.अहिरवार, जिला कुष्ठ नियंत्रण अधिकारी डाॅ.आनंद शर्मा, सहायक संचालक महिला एवं बाल विकास श्रीमती सुष्मिता, जिला टीबी नियंत्रण एवं आरबीएस के नोडल अधिकारी डाॅ.पदमाकर त्रिपाठी, जिला टीकाकरण अधिकारी डाॅ.एम.के.चंदेल, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.टीआर उईके, जिला मलेरिया अधिकारी श्रीमती क्षमा बर्वे, जिला अंधत्व निवारण अधिकारी डाॅ.व्ही.के.उईके, बीएमओ आष्टा डाॅ. प्रवीर गुप्ता, बीएमओ श्यामपुर डाॅ. एच.पी.सिंह, सहायक खाद एवं औषधि अधिकारी सुश्री रीता शुक्ला, जिला एपीडियोमीलाॅजिस्ट सुश्री रूचिरा उईके, उप जिला मीडिया अधिकारी सुश्री उषा अवस्थी, जिला मीडिया सलाहकार श्री शैलेष कुमार, जिला मूल्यांकन अधिकारी श्री निलेष गर्ग, जिला आरबीएसके समन्वय सुश्री दीनू शर्मा, सहित अन्य विभागीय अधिकारी कर्मचारी बैठक मेें उपस्थित थे। बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी तथा समिति के सचिव डाॅ.आर.के.गुप्ता ने बताया कि आयोजित बैठक में खाद एवं औषधि प्रषासन की समीक्षा के दौरान जिले के समस्त शहरी क्षेत्रों मेें होटल एवं रेस्टारेंट की जांच करने के निर्देष बैठक में उपस्थित सहायक खाद एवं औषधि अधिकारी सुश्री रीता शुक्ला को दिए गए । समिति के सदस्यों ने कहा कि अधिकतर होटल एवं रेस्टारेंट में खाद्यान सामग्री सफाई युक्त नहीं रहती जिससे बीमारी फैलने की अत्यधिक संभावना है। सहायक संचालक महिला एवं बाल विकास विभाग श्रीमती सुष्मिता को निर्देषित किया गया कि जिले के कई आंगनबाडी केन्द्रों पर बच्चों को गुणवत्तापूर्वक मध्यान्ह भोजन नहीं खिलाया जा रहा है जिससे उनका स्वास्थ्य खराब होने की संभावना है। सहायक संचालक द्वारा बताया गया कि जिले की सभी आंगनबाडी केन्द्रों का जनप्रतिनिधियों द्वारा भी आकस्मिक निरीक्षण कर वस्तुस्थिति से अवगत कराए जाने का प्रावधान है गुणवत्ता विहीन सामग्री खिलाई जा रही है तो इसकी जांच कराकर संबंधित आंगनबाडी कार्यकर्ता अथवस स्व सहायकता समूह के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी। सभापति ने जिले के समस्त जनप्रतिनिधियों को आंगनबाडियों का निरीक्षण किए जाने हेतु सूचित किए जाने के संबंध में निर्देषित किया गया। जिला अंधत्व निवारण अधिकारी को प्रायवेट स्कूलों में भी अध्ययनरत छात्रों के आंखों की जांच किए जाने हेतु निर्देषित किया गया। बैठक में राष्ट्रीय परिवार कल्याण कार्यक्रम, टीबी नियंत्रण, अंधत्व निवारण, मलेरिया, डेंगू की रोकथाम एवं सावधानी, एड्स नियंत्रण कार्यक्रम, राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रम, आईडीएसपी, कुष्ठ नियंत्रण कार्यक्रम से संबंधित प्रस्तुतीकरण संबंधित नोडल अधिकारियों द्वारा समिति के समक्ष प्रस्तुत किया गया।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...