दार्जिलिंग हिल्स में तनाव जारी, सुरक्षा व्यवस्था कड़ी

tense-situation-prevailing-in-darjeeling-hills-gorkha-activists-to-rally-with-bodies-human-chain-from-darj-to-siliguri
दार्जिलिंग / सिलीगुड़ी 08 जुलाई, पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग हिल्स में कथित रूप से तीन गोरखा कार्यकर्ताओं की मौत और सरकारी संपत्तियों को जलाये जाने की घटना के एक दिन बाद समूचे क्षेत्र में तनाव की स्थिति बनी हुई है। इस बीच गोरखा कार्यकर्ताओं के आज प्रस्तावित दार्जिलिंग से सिलीगुड़ी तक करीब 80 किमी मानव श्रृंखला बनाये जाने के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गयी है। गोरखा जनमुक्ति माेर्चा(जीजेएम) और गोरखा नेशनल लिबरेशन फ्रंट(जीएनएलएफ) ने दावा किया है कि सोनादा और चौकबाजार में सुरक्षाबलों की गोलीबारी में तीन युवकों तुसी भूटिया, समीर गुरंग और सूरज सुंदास की मौत हुई है जबकि राज्य सरकार ने सुरक्षाबलों द्वारा किसी प्रकार की गोलीबारी की घटना से इंकार किया है। जीजेएम के सहायक सचिव विनय तमांग ने कहा कि गोलीबारी के शिकार युवकों के शवों को लेकर चौकबाजार से रैली निकाली जायेगी और उसके बाद लेबोंग से सिलीगुड़ी तक मानव श्रृंखला बना कर विरोध प्रदर्शन किया जायेगा। इससे पहले शुक्रवार की रात करीब 23.00 बजे तुसी की मौत के बाद गोरखा कार्यकर्ताओं ने शनिवार को चौबाजार में प्रदर्शन किया और यूनेस्को द्वारा संरक्षित टॉय ट्रेन के सोनादा रेलवे स्टेशन सहित सरकारी संस्थानों में आग लगा दी। प्रदर्शनकारियों ने कुर्सियोंग में अनुमंडलीय अधिकारी कार्यालय, गोरुबथान में रेंज कार्यालय और दो पुलिस के वाहनों में आग लगा दी। इसके अलावा कलिम्पोंग में नियोरा रेंज अावास और कार्यालय तथा मिरिक में एक यातायात पुलिस चौकी में भी आगजनी की घटना को अंजाम दिया गया।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...