स्टार्टअप में शत प्रतिशत एफडीआई को मंजूरी

100-fdi-sanctioned-in-startup
नयी दिल्ली 28 अगस्त, केंद्र सरकार ने आज ‘समग्र विदेशी प्रत्यक्ष निवेश’ (एफडीआई) नीति दस्तावेज जारी किया जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के महत्वकांक्षी अभियान ‘स्टार्टअप’ में शत प्रतिशत विदेशी निवेश को मंजूरी दी गयी। केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्याेग मंत्रालय ने यहां समग्र एफडीअाई दस्तावेज जारी करते हुए कहा कि स्टार्टअप में विदेशी उद्यम पूंजी निवेशक 100 प्रतिशत तक निवेश कर सकते हैं। लगभग 115 पेज के इस दस्तावेज में कहा गया है कि स्टारअप पूंजी के बदले में शेयर, शेयर बाजार से जुड़े बांड और ऋण पत्र विदेशी उद्यम पूंजी निवेशकों को जारी कर सकते हैं। इस दस्तावेज में पिछले साल के दौरान एफडीआई नीति में किए गए सभी संशोधन शामिल किए गए हैं। इसके अलावा दस्तावेज में साफ किया गया है कि नागरिक उड्डयन क्षेत्र में एफडीआई के लिए बदल गए नियम सार्वजनिक क्षेत्र की विमानन कंपनी एयर इंडिया पर लागू नहीं होंगे। दस्तावेज के अनुसार सरकार ने नागरिक उड्डयन क्षेत्र में 49 प्रतिशत एफडीआई को मंजूरी दी है लेकिन यह प्रावधान एयर इंडिया लिमिटेड पर लागू नहीं होगा। स्टार्टअप पूंजी जुटाने के लिए भारत के बाहर रहने वाले लोगों को परिवर्तनीय बांड जारी कर सकते हैं। हालांकि इसके कुछ शर्तो का उल्लेख किया गया है। पाकिस्तान और बंगलादेश के नागरिकों को छोड़कर कोई भी विदेशी को एक बार में 25 लाख रुपए तक के परिवर्तनीय बांड बेचे जा सकते हैं। आैद्योगिक नीति एवं विकास विभाग द्वारा तैयार किए गए इस दस्तावेज अनिवासी भारतीय को भी परिवर्तनीय बांड खरीदने की अनुमति दी गयी है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...