राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के 11 जिलों में धारा 144 लागू

144-in-delhi
नयी दिल्ली, 25 अगस्त, राष्ट्रीय राजधानी में सुरक्षा के मद्देनजर 13 में से 11 जिलों में आज धारा 144 लगायी गयी है। सुरक्षा के मद्देनजर सभी जिलों के पुलिस उपायुक्त अपने-अपने इलाके में रात में गश्त करेंगे ताकि कोई अप्रिय घटना को टाला जा सके। इसके अलावा सभी सहायक पुलिस आयुक्त एसीपी और थाना प्रभारी भी अपने-अपने इलाकों में रातभर गश्त करेंगे। दिल्ली पुलिस के जनसंपर्क अधिकारी मधुर वर्मा ने यहां पुलिस मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन में कहा कि डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को यौन शोषण मामले में पंचकूला की केन्द्रीय जांच ब्यूरो(सीबीआई) की विशेष अदालत द्वारा आज दोषी ठहराए जाने के बाद उनके समर्थक हरियाणा तथा पंजाब में हिंसा पर उतारू हो गये। इन राज्यों में हिंसा की स्थिति को देखते हुए सुरक्षा करणों से उत्तरी तथा मध्य दिल्ली जिलों को छोड़कर सभी 11 जिलों में धारा 144 लगा दी गयी है। श्री वर्मा ने कहा कि राजधानी में हिंसा की मामूली घटनाएं हुई हैं जिनमें कुछ बसों में आग लगाने की कोशिश की गयी है। उन्होंने कहा निषेधाज्ञा के तहत चार से अधिक लोगों के एक स्थान पर एकत्र होने की अनुमति नहीं होगी। श्री वर्मा ने बताया कि दिल्ली के कुछ इलाकों में आगजनी की घटनाओं को देखते हुए सुरक्षा बढ़ा दी गयी है। यहां से अब तक पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है जिनकी गिरफ्तारी बदरपुर तथा ख्याला इलाके से हुई। आगजनी की कुछ छिटपुट घटनाओं के अलावा स्थिति सामान्य है। उन्होंने कहा कि अगले आदेश तक राजधानी में निषेधाज्ञा लागू रहेगी। वरिष्ठ अधिकारियों के द्वारा हालात की समीक्षा करने के बाद आगे निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सुरक्षा के मद्देनजर सभी जिलों के पुलिस उपायुक्त अपने-अपने इलाके में रात में गश्त करेंगे ताकि कोई अप्रिय घटना को टाला जा सके। इसके अलावा सभी एसीपी और एसएचओ भी अपने-अपने इलाकों में रातभर गश्त करेंगे। दिल्ली पुलिस के अनुसार अदालत के आज अाने वाले फैसले के मद्देनजर हिंसा की आंशका को देखते हुए हरियाणा से लगे दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र में एहतियात के तौर पर पहले से ही हाई अलर्ट जारी कर दिया गया था। इसके बावजूद राम रहीम के समर्थकों ने दिल्ली के आनंद विहार, शाहदरा और मंगोलपुरी इलाकों में तोड़फोड़ और अागजनी की और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाया। पुलिस के अनुसार डेरा समर्थकों ने आनंद विहार रेलवे स्टेशन पर रीवा एक्सप्रेस के दो खाली डिब्बों को आग लगी दी। उत्तर रेलवे के प्रवक्ता नीरज शर्मा ने बताया कि इस घटना को देखते हुए राजधानी के सभी स्टेशनों पर सुरक्षा कड़ी कर दी गयी है। जहांगीरपुरी के बाबू जगजीवन राम अस्पताल के निकट एक बस में आग लगाए जाने की भी खबर है। उत्तर पूर्वी दिल्ली के नंदनगरी क्षेत्र में मंडोली फ्लाईओवर के पास भी डीटीसी की दो बसों को आग के हवाले कर दिया गया। राजधानी से लगे उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में एक बस में आगजनी किए जाने की खबर है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्लीवासियों से शांति बनाए रखने की अपील की है। पुलिस ने कहा है कि राजधानी में कानून व्यवस्था की स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है और कहीं लोगों की भीड़ इकट्ठा नहीं हो रही है। मेट्रो स्टेशनों पर भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है। इस बीच,दिल्ली से हरियाणा जाने वाली सभी बसों को सुरक्षा कारणों से रद्द कर दिया गया है और दिल्ली से सटे गाजियाबाद में जिला प्रशासन ने कल स्कूलों और काॅलेजों को बंद रखने के आदेश दिए हैं। उल्लेखनीय है कि डेरा सच्चा सौदा प्रमुख को सीबीआई की विशेष अदालत द्वारा यौन शोषण मामले में दोषी ठहराये जाने के बाद फैली हिंसा में अबतक 30 लोगों को मारे जाने की सूचना है। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...