राहुल पर हमले के मामले में भाजपा नेता गिरफ्तार, कांग्रेस का धरना समाप्त

attack-on-rahul-bjp-leader-arrested-congress-ends-dharana
अहमदाबाद/धानेरा, 05 अगस्त, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की गाडी पर पर कल गुजरात के बाढग्रस्त बनासकांठा जिले के धानेरा शहर में पत्थर से हुए सनसनीखेज हमले के सिलसिले में आज आखिरकार इस मामले में पहले से ही हिरासत में लिये गये मुख्य आरोपी तथा सत्तारूढ भाजपा की युवा इकाई (भाजपुमो) के एक प्रमुख स्थानीय नेता जयेश दरजी उर्फ अनिल राठौड को विधिवत गिरफ्तार कर लिया गया। इसके साथ ही कांग्रेस ने धानेरा थाने पर कल से जारी अपना 18 घंटे का लंबा धरना समाप्त कर दिया। पुलिस ने तीन अन्य आरोपियों भाजयुमो धानेरा शहर अध्यक्ष मोदसिंह राव तथा भाजपा किसान मोर्चा के जिला अध्यक्ष तथा धानेरा कृषि बाजार उत्पाद समिति यानी एपीएमसी के चेयरमैन भगवान पटेल और गुजरात राज्य कृषि बोर्ड के निदेशक मुकेश ठाकर के खिलाफ दी गयी कांग्रेस की शिकायत की जांच कर कार्रवाई का भी आश्वासन दिया है। श्री दरजी बनासकांठा जिला भाजयुमो के सचिव हैं। कल श्री गांधी के बाढग्रस्त बनासकांठा के एकदिवसीय दौरे के दौरान तथा धानेरा के लाल चौक पर सभा के बाद हेलीपैड की ओर जाते समय हुए पथराव के समय उनके साथ मौजूद रहे गुजरात कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अर्जुन मोढवाडिया, जो पुलिस कार्रवाई के लिए धानेरा में हुए पार्टी धरने की अगुवाई कर रहे थे, ने यूनीवार्ता को बताया कि पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 332 (लोकसेवक को डराने आदि से संबंधित) के तहत मामला दर्ज किया है। हमने हत्या के प्रयास से जुडी धारा 307 और आपराधिक षडयंत्र 120 बी को लगाने की भी मांग की थी। पुलिस ने विस्तृत छानबीन और कार्रवाई का आश्वासन दिया है। श्री मोढवाडिया ने कहा कि हजारो लोगों की भीड ने देखा था कि पत्थर भाजपा नेता दरजी ने ही मारा है। पुलिस की उपस्थिति से वह बच गया नहीं तो भीड उसकी बुरी हालत कर देती। अगर हमने दबाव नहीं बनाया होता तो पुलिस किसी अन्य को खडा कर दोष उस के सिर पर मढ देती। उन्होंने कहा कि श्री गांधी से आज उनकी बात हुई है और उन्होंने अब इस मामले की जगह बाढग्रस्त क्षेत्रों में राहत कार्य पर ध्यान देने का आग्रह किया है। उक्त हमले में श्री गांधी जिस निजी फार्च्यूनर गाडी में सवारी कर रहे थे उसका पिछला शीशा चकनाचूर हो गया था तथा एसपीजी का एक जवान मामूली तौर पर चोटिल भी हो गया था। पुलिस ने बताया कि श्री दरजी को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस मामले में विधि विज्ञान प्रयोगशाला (एफएसएल)के विशेषज्ञों ने घटनास्थल का दौरा भी किया। मामले की विस्तृत छानबीन की जा रही है। ज्ञातव्य है कि मुख्यमंत्री ने इस मामले की उच्चस्तरीय जांच अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक मोहन झा को सौंपी है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...