झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 21 अगस्त

कल्पसूत्र का अक्षरषः श्रवण करने से मोक्ष सूुख प्राप्त होता है-आचार्य देवेष ऋषभचन्द्रसूरीजी
  • आज धुम धाम एवं भक्ति भाव से मनायेगें जन्म कल्याणक पर्व

jhabua news
झाबुआ । जिस प्रकार मंत्रों में पंच परमेष्ठी नवकार, तीर्थो में शत्रुंजय तीर्थ, दानों में अभयदान,राजाओ मे श्रीरामचन्द्रजी, धनुर्धरों  में अर्जुन, गायो में कामधेनु, और ज्ञान में कैवल्यज्ञान सर्वश्रेष्ठ है वैसे ही सब पर्वो मेें पर्यूषण पर्व को श्रेष्ठ जानना चाहिये । जेसे दुध का सार दही,एवं दही का सार घी है उसी प्रकार सभी शास्त्रों का सारभूत श्री कल्पसूत्र है । उक्त उदगार पर्यूषण पर्व के चैथे दिन सोमवार को श्री ऋषभदेव बावन जिनालय पर कल्पसूत्र का वाचन करते हुए गच्छाधिपति आचार्य श्री ऋषभचन्द्रसूरीजी मसा ने व्यक्त किये । आचार्यश्री ने शास्त्र का वाचन करते हुए कहा कि कल्पसूत्र को अक्षरशः श्रवण करने वाला जीव आठ भवों के अन्दर निश्चित रूप से  मोक्ष सुख को प्राप्त करता है एवं इस भव में सुख संपत्ति प्राप्त करता है । उन्होने आगे कहा कि  युग प्रधान आचार्य भद्रबाहू स्वामीजी ने 14 पूर्वो में से 9 वें पूर्व के दशाश्रुतस्कंध के आठवें अध्याय के रूप में कल्पसूत्र की रचना की इसमे श्री महावीरस्वामी,श्री आदिनाथ भ्रवान, पाश्र्वनाथजी ,नेमिनाथ जी भगवान के चारित्र के वर्णन के साथ ही साधु समाचारी एवं विशिष्ठ आचार्यो का वर्णन है । आचार्य श्री ने सोमवार को  अट्ठम तप की महत्ता बताते हुए नागकेतू की कथा का दृष्टान्त देते हुए कहा कि 10 प्रकार के साधु केि आचार एवं छः आरो का वर्णन किया गया है । प्रवचन में बडी संख्या में समाजजन श्रावक श्राविकायें उपस्थित थे ।


कल्पसूत्र को बहोराया-
श्री संघ के रिंकू रूनवाल ने बताया कि सोमवार को कल्पसूत्र का वाचन प्रारंभ हुआ । वाचन के पूर्व सूत्र बोहराने के लाभार्थी संतोष चिराग नाकोडा परिवार के निवासस्थान पर चतुर्विध संघ एवं समाजजन पहूंचे प्रातः 7-30 बजे उनके निवास सेमुनि श्री रजतचन्द्रविजय जी मसा की निश्रा में कल्पसूत्र को सिर पर रख कर बैंड बाजों के साथ बधाते हुए बावन जिनालय पहूंचे वहा जिनालय की तीन प्रदक्षिणा देकर आचार्य को सूत्र बोहराया गया । धर्मचन्द्र ज्ञानचंद मेहता परिवार द्वारा प्रथम वाक्षेपपूजा सूत्र की की गई । श्री संघ के संजय काठी, यशवंत भंडारी, महेन्द्रजी राजवाडवाले एवं दिलीपकुमार संघवी  द्वारा शास्त्र की पूजा की गई । आरती का लाभ संतोषकुमार नाकोड द्वारा लिया गया ।

चुंदडी का उपवास किया -
रिंकूरूनवाल के अनुसार पूर्व के चैथे दिन सैकडो श्राविकाओं ने उपवास एकासना कर माता त्रिशलारानी बन कर भगवान महावीर के जन्म के पूर्व देखे गये 14 सपनो के अनुसार भगवानकी माताजी बन कर स्वप्नाजी को बधाया ।

14 सपनाजी को लेकर पानाजी का जुलुस निकला
माता त्रिशला बनी श्राविकाओं द्वारा श्री कल्पसूत्र पानाजी सहित 14 स्वप्नाजी को सिर पर लेकर बधाया गया । पानाजी का जुलुस दोपहर 3 बजे बावन जिनालय से निकला जिसमें सभी श्राविकायें माता त्रिशला बन चुदंडी की साडी में एक जेसी वेशभूषा में थी ।जुलुस पुनः जिनालय पहूंचा जहां मंगलगीत गाये गये ।

जन्म कल्याणक का वाचन आज
श्री संघ के अभय धारीवाल के अनुसार कल्पसूत्र के वाचप के अन्तर्गत महावीर स्वामी का जन्म वाचन महोत्सव मनाया जावेगा । दोपहर 2 बजे से कार्यक्रम प्रारंभ होगा एवं 3 बजे आचार्य श्री ऋषभचन्द्रसूरीजी मसा द्वारा जन्म कल्याणक वाचन किया जावेगा । जन्मोत्सव के प्श्चात भगवान की भव्य रथयात्रा निकाली जायेगी जो कि शहर के प्रमुख मार्गो से होते हुए पुनः जिनालय पहूुंचेगी जहां पर प्रभूजी कीक आरती के प्श्चात श्री आदिनाथ राजेन्द्र पारमार्थिक ट्रस्ट द्वारा स्वामी वात्सल्य किया जावेगा ।श्रीमती ष्यामुबेन रूनवाल परिवार द्वारा पंजीरी का वितरण किया जावेगा ।

ये कर रहे है सिद्धीतप की तपस्या-
चातुर्मास के दौरान सिद्धीतप की कठिन तपस्या में मुनि जीतचन्द्रविजय जी मसा, साध्वी श्री अनुभवादृष्टाजी, धर्मचन्द्र मेहता द्वारा चैसठ पहरी पोषध व्रत के साथ की जारही है ।चतुर्विद संघ की 75 श्रावक श्राविकाओं द्वारा कठिन सिद्धीतप की तपस्या की जारही है । श्रीमती कांताबाई चाण्डालिया द्वारा आयंबिल के साथ 2 माह का पोषधव्रत किया जारहा है  वही दिलीप संघवी, श्रंयाश मेहता, आशोक कोठारी द्वारा मासक्षमण की तपस्या में 26 वे उपवास के पच्चाखाण लिये गये  मंजु जैन द्वारा चत्तारी तप किया जारहा है ।

सांसद ने लिया आचार्यश्री का आषीर्वाद-
रतलाम झाबुआ के सांसद कांतिलाल भूरिया ने सोमवार को श्री ऋषभदेव जीनालय मे बिराजित आचार्य देवेश ऋषभचन्द्रसूरीजी मसा का दर्शन वंदन कर उनसे आध्यात्मिक चर्चा के साथ ही मंदिरजी के दर्शन का लाभ भी उठाया गया ।उन्होने सभी साधु मंडलो की सुखसाता भी पुछी ।

राहू मायावी ग्रह की माया में आने वाले 18 माह - आचार्य ऋषभचन्द्रसूरि

jhabua news
झाबुआ । स्थानीय बावन जिनालय मे चातुर्मास हेतु बिराजित दादा गुरुदेव की पाटपरम्परा के अष्ठम पटधर आचार्यदेवेश श्रीमद्विजय ऋषभचन्द्रसूरीश्वरजी म.सा. ने 20 अगस्त  को भविष्यवाणी करते हुये कहा कि मायावी ग्रह राहू कर्क राशि में आज से प्रवेश कर रहा है । राहू मायावी ग्रह की माया में आने वाले आगामी 18 माह 20 अगस्त 2017 से 6 मार्च 2019 तक में जो घटनाऐं घटना सम्भावित है उसकी भविष्यवाणी झाबुआ चातुर्मास में करते हुऐ कहा कि कर्क राशि में होने वाला मायावी ग्रह राहू का गोचर एवं केतु ग्रह का भ्रमण मकर राशि में हो रहा है जिससे मध्यप्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र, बिहार, बंगाल और चीन, पाकिस्तान एवं रुस पर इसका प्रभाव पड़ता है । घनगोर वृष्टि आतंकवात, प्राकृतिक विपदा, अज्ञात रोगों के कारण परेशानी व राजनितिक वातावरण में बदलाव लाता है । जल तत्व कर्क राशि अति वर्षा के संकेत है । हर तरफ मंदी से व्यापार सोच समझकर करना चाहिये । मायावी ग्रह राहू के गोचर का राशि पर क्या प्रभाव पड़ेगा ? आचार्यश्री ने आगे बताया कि 22 सितम्बर 2017 से 10 फरवरी 2018 तक कालसर्प योग बन रहा है । यह एक विशेष संयोग है । जो की सुखद और दुखद घटना की रचना करेगा । यह योग न्यायालयीन फैसलों से जनता के हितों की रक्षा करेगा और इन फैसलों से राजनितिक प्रभावित होगें । दूर्घटना के दौर बढेगें । आतंकवादी हमले बढेगें । सीमा पर तैनात जवानों को बहुत सावधानी बरतना होगी । इन 18 महीनों में अनेक आर्थिक उतार- चढाव आयेगें । देश की मूद्रा का मुल्यांकन बढेगा । भद्रबाहु सहिता, भृगु सहिता अनुसार 20 अगस्त  को मायावी ग्रह राहू कर्क राशि एवं केतु मकर राशि में गोचर करेगा ।


जिले में अब तक कुल 629.8 मि.मी. औसत वर्शा दर्ज, 24 घण्टो में कुल 39.2 मि.मी. वर्षा दर्ज

झाबुआ । अधीक्षक भू-अभिलेख झाबुआ ने बताया कि जिले में 1 जून से आज दिनांक तक कुल 629.8 मि.मी. औसत वर्शा हो चुकी है। जिले में विगत 24 घण्टों के दौरान औसत 39.2 मि.मी. वर्शा दर्ज की गई। विगत 24 घण्टो में झाबुआ तहसील में 40.0 मि.मी., थांदला तहसील में 48.7 मि.मी., रानापुर में 40.0 मि.मी., मेघनगर में 35.0 मि.मी., पेटलावद में 32.2 मि.मी.,रामा में 40.0 मि.मी. वर्शा दर्ज की गई है।

साक्षर भारत योजनान्तर्गत परीक्षा संपन्न, 2 हजार परीक्षा केन्द्रो पर 20 हजार ने दी परीक्षा

jhabua news
झाबुआ । प्रौढ शिक्षा प्रभारी श्री सिकरवार ने बताया कि साक्षर भारत योजनान्तर्गत नवसाक्षरों के मूल्यांकन हेतु 20 अगस्त 2017 को प्रातः 10.00 बजे से शाम 5.00 बजे तक परीक्षा आयोजित की गई। जिले मे 2 हजार परीक्षा केन्द्रो पर 20 हजार नवसाक्षरों ने परीक्षा दी। परीक्षा केन्द्र पंचायत भवन/प्रौढ शिक्षा केन्द्र/सरकारी स्कूल में बनाये गये एवं शासकीय स्कूल के प्रधान अध्यापक को परीक्षा केन्द्र प्रभारी और परीक्षा के आयोजन के साथ जुडी समस्त गतिविधियों के निर्वहन का उत्तरदायित्व सौंपा गया। परीक्षा केन्द्र कक्ष में पर्यवेक्षण कार्य केन्द्र प्रभारी,अन्य शिक्षक, आंगनवाडी कार्यकत्र्ता, आशा तथा पंचायत सचिव जैसे व्यक्तियों की सहायता से करवाया गया। प्रत्येक 20 शिक्षार्थी पर एक पर्यवेक्षक ,20 से अधिक किन्तु 40 से कम शिक्षार्थी पर 2 पर्यवेक्षक द्वारा निरीक्षण कर परीक्षा का संपादन करवाया गया।

गुम मोबाईल जप्त कर पुलीस ने लोटाए

jhabua news
झाबुआ । आज दिनांक 21-08-2017 को पुलिस अधीक्षक कार्यालय की ‘‘ट्रेस मोबाइल सेल‘‘ द्वारा विगत दिनों में 09 आवेदकों श्री विजय मेड़ा पिता भूरू मेडा, उम्र 18 वर्ष नि. कल्मोढ़ा, दिनंाक 08.08.2017 को पारा में गुम कु. विजया पंवार पिता स्व.श्री राकेश पंवार, उम्र 18 श्री मोहन सिंह सोलंकी पिता स्व. श्री पन्नालाल वर्ष, नि. कालीदास मार्ग झाबुआ, अक्टूबर 2016 को पारा में गुम सोलंकी, उम्र 52 वर्ष, निवासी कल्याणपुरा, तीन माह पहले कल्याणपुरा में गुम श्री अमजद खान पिता श्री अकसार खान, उम्र 35 वर्ष, निवासी टीचर्स काॅलोनी झाबुआ, दिनांक 01.04.2017 को झाबुआ में गुम श्री जगन्नाथ पिता श्री गोमदसिंह, उम्र 45 वर्ष, निवासी रम्भापुर, दिनांक 03.06.2017 को रम्भापुर में गुम श्री दिनेश पालीवाल पिता चुन्नीलाल पालीवाल, उम्र 38 वर्ष, निवासी चैतन्य मार्ग झाबुआ, दिनांक 05.03.2017 को सब्जी मंडी में गुम श्री आशीष पिता श्री रवि कुमार व्यास, निवासी लक्ष्मी नगर झाबुआ, उम्र 50 वर्ष, दिनंाक 24.09.2016 को इंदौर में गुम श्री हेमंत चावड़ा, निवासी कडोद कला तहसील बदनावर जिला धार, दिनांक 16.10.2016 को गुम श्री प्रवीण सिंह राणावत, निवासी रानापुर, दिनांक 02.04.2016   गुम मोबाइल ट्रेस कर पुलिस अधीक्षक झाबुआ, श्री महेश चंद जैन द्वारा कार्यालय में बुलाकर उन्हें ससम्मान प्रदान किये गये। इसके अतिरिक्त निम्न 04 आवेदकों 1. पप्पू पिता नानसिंग राणा, निवासी पेटलावद, 2. श्री नरेश पिता नंदलाल पाटीदार, निवासी सूतरेटी, 3. श्री महेश पिता अमृतलाल यादव, निवासी मेघनगर, 4. श्री जितेन्द्र सिंह पिता लक्ष्मण सिंह रावत के मोबाइल भी पुलिस द्वारा खोज लिये गये है। अनुरोध है कि आफिस में आकर ले जाये।

नकदी सहीत आभुषण की चोरी
      
फरि. राजाराम पिता लालु चारेल उम्र 38 साल निवासी रतांबा हाल मुकाम रायपुरिया तलावपाडा ने बताया कि अज्ञात 04 बदमाश मेरे घर के पीछे का दरवाजा खोलकर अंदर घूसे व अलमारी का नकुचा तोड़कर सोने चांदी के आभूषण व एक नोकिया कंपनी मोबाईल जिसमें एयरटेल सिम नं. 9893911829 लगी तथा नगदी 27,000रू. चुराकर ले गया। प्रकरण में थाना रायपुरिया में अपराध क्रंमाक 280/17 धारा 457,380 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

जहरीली दवाई पीने से मोत
    
झाबुआ।  राकेश पिता जालू अमलियार उम्र 26 साल निवासी सजेली मालजी सात की जहरीली दवाई पीने से मृत्यु हो गई। थाना मेघनगर में में मर्ग क्रमांक 34/2017 धारा 174 जा.फौ. की कायमी की गयी।

घायल की उपचार के दोरान मोत
     
झाबुआ ।  दिलीप पिता चमना पंजल निवासी नौगांवा की एक्सीडेंट में आयी चोटों के कारण ईलाज के दौरान मृत्यु हो गई। थाना मेघनगर में मर्ग क्रमांक 35/2017 धारा 174 जाफौ की कायमी की गयी।

भाई को राखी बाधंने गई बहु लापता
    
झाबुआ । फरि. रणछोड़ पिता फकीरचंद राठौर उम्र 68 साल निवासी रानापुर ने बताया कि मेरी बहू पदमा पति स्व. हंसराज राठौर घर से राखी बांधने जावरा जाने का कहकर गई थी जो बिना बताये कही चली गई। प्रकरण में थाना रानापुर में गुम इंसान क्रंमाक 46/17 कि कायमी कि गयी।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...