झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 26 अगस्त

आज  होगा ऐतिहासिक सहायक अध्यापको का महा सम्मेलन
  • प्रदेष के मंत्रीस्तरीय पदाधिकारियों द्वारा दिया जावेगा मार्गदर्षन

झाबुआ । राज्य सहायक अध्यापक संघ के  कार्यकारी प्रान्ताध्यक्ष तेजनारायण द्विवेदी ने जानकारी देते हुए बताया कि आज स्थानीय पैलेस गार्डन में प्रदेश भर के सहायक अध्यापकों एवं गुरूजियों का विशाल सम्मेलन आयोजित किया जारहा है । जिसमें प्रदेश सरकार के प्रतिनिधियों के रूप  में श्री सुलतालसिंह शेखावत, केबिनेट मत्री दर्जा प्राप्त, श्री शिव चैबे, केबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त ,श्री रमेश शर्मा राज्य मंत्री दर्जा प्राप्त एवं श्री केपी सिंह प्रदेश महामंत्री भारतीय मजदूर संघ विशेष रूप से सम्मेलन में सहभागी होकर  अपना मार्ग दर्शन प्रदान करेगें । जिले के विधायक शांतिलाल बिलवाल, कलसिंह भाबर एवं सुश्री निर्मला भूरिया एवं संगठन के संरक्षक शैलेष दुबे द्वारा भी सम्मेलन में शिरकत की जाकर गुरूजियों एवं अध्यापको को संबोधित किया जावेगा । श्री द्विवेदी ने बताया कि इस ऐतिहासिक सम्मेलन को लेकर प्रदेश के केबिनेट मंत्री नरोत्तम मिश्र से भी राजधानी मे जाकर उनसे सॅम्मेलन में सहभागी होने के लिये अनुरोध किया गया है उन्होने भी अपनी सहमति प्रदान की है  । श्री द्विवेदी ने बताया कि पूरे संभाग से प्रतिनिधियों एवं संगठन के पदाधिकारियों का आगमन होना शुरू हो गया है तथा आज 27 अगस्त को प्रातः 10 बजे से दीप प्रज्वलन एवं मांसरस्वती जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण के साथ ही विशाल सम्मेलन का आगाज होगा जिसमे सहायक अध्यापकों कास स्वयं को जागृत करके शिक्षा के गुणवत्ता में मानकता लाने के साथ ही सहायक अध्यापकों को उनके नियुक्ति दिनांक से ही वरिष्ठता का लाभ दिये जाने के बारे में आगन्तुक अतिथियों से मांग की जाकर प्रदेश सरकार से सहायक अध्यापकों की मांगो को पूरा करने के लिये अनुरोध किया जावेगा । प्रदेश भर से 3 हजार से अधिक लोगों के इस ऐतिहासिक सम्मेलन में समुह चर्चा करके भी निष्कर्ष निकाले जावेगें तथा इससे राज्य सरकार एवं प्रदेश के शिक्षा मंत्री को अवगत किया जावेगा । श्री द्विवेदी के अनुसार आदिवासी अंचल में होने वाले इस ऐतिहासिक संभाग स्तरीय सम्मेलन की सभी तेयारिया पूरी जा चुकी है तथा आगन्तुक अतिथियों के लिये संगठन स्तर से व्यापक व्यवस्था की जाचुकी है । संगठन के  प्रकाश पालिवाल, सोैरभ पो रवाल, बहादूर भूरिया, उदय बिलवाल, आशा राठौर, जिलाध्यक्ष सोह नसिंह नलवाल आदि ने इस सम्मेलन को सफल बनाने के लिये  सभी से सहयोग की अपील की है ।


वाल्किमी समाज के सदस्य अम्बाजी की पैदल यात्रा पर रवाना

jhabua news
झाबुआ । स्थानीय वाल्मिकी समाज के दस सदस्य शुक्रवार को गुजरात के पवित्र तीर्थ अम्बाजी की पहली बार पैदल यात्रा पर नगर के धार्मिक स्थलों के दर्शन वंदन कर रवाना हुए । वाल्मिकी समाज के इन सदस्यों ने संकल्प लिया था कि वे  गुजरात में बिराजित मां अम्बाजी के दर्शन के लिये पैदल ही रवाना होगें । 10 सदस्य जिसमे महिलायें भी शामील है के द्वारा नगर के गणेश मंदिर, शंकर मंदिर, शनि मंदिर एवं बस स्टेंड स्थित अम्बाजी के मंदिर पर दर्शन करने के बाद ढोल ढमाकों के साथ प्रस्थान किया । इन पैदल तीर्थ यात्रियों का नगर के सभी समाजजनों द्वारा पुष्पमालायें पहिना कर स्वागत किया गया तथा उन्हे उपहार प्रदान कर मां अम्बाजी से जिले एवं प्रदेश तथा देश की खुशहाली के लिये प्रार्थना करने का अनुरोध किया । पैदल यात्रियो ने अपने बडे बुजुर्गो के पांव छू कर सफल यात्रा के लिये आशीर्वाद भी प्राप्त किया ।

शनि मंदिर में बिराजे गणेश जी, प्रतिदिन हो रहे धार्मिक आयोजन

झाबुआ । श्री विश्वशांति नवग्रह शनि मंदिर में राठौर समाज द्वारा धुमधाम से गणेशोत्सव मनाया जारहा है । गणेश चतुर्थी के पासवन अवसर पर शनि मंदिर में समाज द्वारा श्री गणेश जी की प्रतिमा प्रतिष्ठित की गई । पण्डित द्विजेन्द्र व्यास द्वारा विधि विधान से कैलाश चन्द्र लच्छीराम राठौर से विघ्नहर्ता की पूजा अनुष्ठान करवाया गया तथा आरती कर प्रसादी के रूप मे लड्डूओं का वितरण किया गया । प्रतिदिन मंदिर प्रात 8 बजेक एवं सायंकाल 8-30 बजे भगवान गणेश की आरती की जावेगी तथा प्रसादी वितरण होगा । मूर्ति स्थापना के अवसर पर समाज के  अध्यक्ष कैलाश राठौर, शांतिलाल राठौर जितेन्द्र राठौर, कमलेश राठौर, दिनेश राठौर, प्रकाश राठौर, राजकमल राठौर, रामचन्द्र राठौर, कीर्तिश राठौर, हेमेन्द्र राठौर, रणछोड राठौर, संस्कार राठौर, पण्डित राधेश्याम जोशी सहित समाज के गणमान्यजन एवं महिला तथा बच्चे  बडी तादात मे उपस्थित रहे ।

स्पर्धा के दूसरे दिन हुए कई रोमांचक मैच, राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों ने किए उत्कृष्ट प्रदर्षन

झाबुआ। मप्र टेबल टेनिस एसोसिएषन द्वारा आयोजित टेबल टेनिस प्रतियोगिता में स्पर्धा के दूसरे दिन कई रोमांचक मैच हुए। जिसमें प्रतियोगिता मंे भाग लेने आए राष्ट्रीय एवं अंर्तराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियांे ने अपने खेल का प्रदर्षन कर दर्षकों को रोमांचित कर दिया। स्पर्धा के द्वितीय दिन का शुभारंभ जिला सलाहकार मंडल (डीपीए) के अध्यक्ष एवं वरिष्ठ रोटेरियन यषवंत भंडारी ने किया। मप्र टेबल टेनिस एसोसिएषन द्वारा आयोजित इस स्पर्धा के प्रमुख निर्णायक संजय मिश्रा द्वारा श्री भंडारी का पुष्पमालाओं से स्वागत किया गया और साथ ही प्रदेष के उदयमान खिलाड़ी प्रथम बाथम एवं आषीष शर्मा का परिचय करवाते हुए उन दोनो के मध्य खेले गए मैच का शुभारंभ किया। टेबल टेनिस एसोसिएषन के सचिव जितेन्द्रंिसह सोलंकी ने बताया कि इस स्पर्धा में अंर्तराष्ट्रीय स्तर की प्रसिद्ध टेटे खिलाड़ी अनुषा कुटम्बले एवं राष्ट्रीय स्तर पर 20 से अधिक रेकिंग स्पर्धा जीतने वाले मप्र के चेंपियन इमरान खान भोपाल भी स्पर्धा में भाग लेकर अन्य खिलाड़ियों के लिए आदर्ष बने हुए है। श्री भंडारी ने टूर्नामेंट के आयोजन पर आयोजकों को बधाई देते हुए कहा कि मप्र स्तर के रेकिंग टूर्नामेंट का आयोजन झाबुआ में होना इस बात का प्रतीक है कि हमारे इस जिले में टेबल टेनिस की असीम संभावनाएं है एवं टेटे में उदयमान खिलाड़ी इस जिले में तैयार हो रहे है। आपने कहा कि झाबुआ जिले के 12 खिलाड़ी इस स्पर्धा में भाग ले रहे है, जो जिले के खिलाड़ियों के लिए एक शुभ संकेत है। फोटो 001 -ः मैच के दौरान जिला सलाहकार मंडल (डीपीए) के अध्यक्ष यषवंत भंडारी प्रमुख निर्णायक संजय मिश्रा एवं प्रतिभाषाली टेटे खिलाड़ी प्रथम बाथम तथा आभाष शर्मा से परिचय प्राप्त करते हुए। साथ है सचिव जितेन्द्रसिंह सोलंकी एवं स्पर्धा के सूत्रधार मनोज पाठक।

देश के कानून एवं संविधान का ज्ञान होना जरूरी है -ः न्यायाधीष श्री मालवीय
  • महिलाओं को आगे बढ़ने के कई अवसर है -ः न्यायाधीष श्री अग्रवाल

झाबुआ। माननीय जिला एवं सत्र न्यायाधीष तथा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष अषोककुमार तिवारी के आदेषानुसार शनिवार को प्रातः 12 बजे स्थानीय संयुक्त कन्या पोस्ट मेट्रीक छात्रावास क्रमांक 01 एवं पोस्ट मेट्रीक छात्रावास में जिला विधिक साक्षरता षिविर का आयोजन न्यायाधीष श्री राधाकिषन मालवीय, श्री दीपककुमार अग्रवाल, ट्रेनी न्यायाधीष अभिजीतसिंह वास्कले, वरिष्ठ सदस्य यषवंत भंडारी, जयेन्द्र बैरागी तथा जिला विधिक सहायता अधिकारी सिमोन सुलिया के आतिथ्य मंे किया गया। षिविर में मुख्य रूप से मौलिक कर्तव्य, षिक्षा के मूल अधिकारों, एंटी रेगिंग विधियां, हिंसा के विरूद्ध बाल अधिकार संरक्षण, यातायात नियमों, दैनिक जीवन में उपयोगी सामान्य विधिक जानकारियों आदि के बारे में उपस्थित छात्राओं को अतिथियों द्वारा अवगत करवाया गया। सर्वप्रथम ट्रेनी न्यायाधीष श्री अभिजीतसिंह ने षिक्षा के मूल अधिकार के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि प्रत्येक बालक एवं बालिकाओं को षिक्षा के मूल अधिकार के अंतर्गत षिक्षा पाने के अधिकार की गारंटी अधिनियम के माध्यम से दी गई है। हमारा यह प्रयास होना चाहिए कि देष का कोई भी बच्चा अनपढ़ या षिक्षा से रहित नहीं रहे। विधिक सेवा अधिकारी सिमोन सुलिया ने विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा उपलब्ध सुविधाओं एवं योजनाओं की जानकारी देते हुए कहा कि प्राधिकरण के माध्यम से प्रत्येक पात्र नागरिक को निःषुल्क न्यायिक सलाह एवं अधिवक्ता नियुक्त करने की व्यवस्था है।


महिलाओं में आ रहीं जागरूकता
न्यायाधीष श्री दीपककुमार अग्रवाल ने अपने ओजस्वी व्यक्तव्य में छात्राओं को समझाते हुए कहा कि भारतीय संविधान में जो मौलिक अधिकार दिए है। उसके अंतर्गत महिलाओं को समानता का अधिकार विषेष रूप से दिया गया है। जिसके अंतर्गत महिला सषक्तिकरण के माध्यम से कई योजनाओं के साथ महिलाओं की सषक्त भागीदारी सुनिष्चित की गई है। जिसके कारण महिलाओं मंे जागरूकता आ रहीं है तथा वे देष में कई महत्वपूर्ण पदों पर नेतृत्व कर रहीं है।

महिलाएं देष की सेवा एवं नेतृत्व कर रहंी है
प्रमुख वक्ता श्री भंडारी ने अपने ओजस्वी उद्बोधन में कहा कि समय के साथ हमारे देष में कई परिवर्तन हो रहे है। जिसमें सबसे बड़ा परिवर्तन महिलाओं का हर क्षेत्र में आगे बढ़ना है। विभिन्न अधिनियमों एवं योजनाओं के माध्यम से आज महिलाएं पुरूषों के समकक्ष हो गई है तथा कई संवैधानिक पदों पर आसीन होकर देष की सेवा एवं नेतृत्व कर रहीं है। झाबुआ जिले के बारे में आपने चर्चा करते हुए कहा कि यहां की षिक्षित आदिवासी महिलाओं के लिए हर क्षेत्र में असीम संभावनाएं है। आपको अपने जीवन का एक ध्येय एवं उद्देष्य लेकर आगे बढ़ना है। आप निष्चित रूप से सफलता की कई आयाम को प्राप्त कर सकेंगे।

जीवन में कभी भी निराष नहीं होना चाहिए
मुख्य अतिथि श्री राधाकिषन मालवीय ने अपने सारगर्भित व्यक्तव्य में कहा कि मुझे इस बात की खुषी है कि इस क्षेत्र की बालिकाएं अब उच्च षिक्षा की ओर अग्रसर हो रहीं है। जिसका परिणाम है कि आपकी इतनी बड़ी संख्या में यहां उपस्थिति है। आपने कहा कि आपको अपने विषय के अध्ययन के साथ प्रतिदिन समाचार-पत्रों का भी रीडिंग करना चाहिए। जिससे देष में हो रहीं विभिन्न घटनाओं की जानकारी हो, क्योकि आने वाले समय में जब किसी काॅम्पीटिषन में भाग लेंगे, तब आपको देष मंे घटित हो रहीं विषेष घटनाओं के संबंध में ज्ञान होना आवष्यक है। आपने बालिकाओं को समझाते हुए कहा कि जीवन में कभी भी निराष नहीं होना है। असफलता ही सफलता की प्रथम सीढ़ी है। साक्षरता षिविर का संचालन वरिष्ठ सदस्य जयेन्द्र बैरागी ने किया एवं आभार अधीक्षिका अनिता मेड़ा ने माना। इस अवसर पर दोनो छात्रावास में अध्ययनरत छात्राएं बड़ी संख्या में उपस्थित थी।

रानापुर में सकंल्प से सिद्धि कार्यक्रम का आयोजन हुआ, गाॅव के विकास के लिए सरपंचो ने लिया संकल्प

jhabua news
झाबुआ । शासन के निर्देशानुसार भारत छोडो आंदोलन की 75 वी वर्ष गांठ पर न्यू इण्डिया मंथनः संकल्प से सिद्धि कार्यक्रम का आयोजन आज 26 अगस्त को रानापुर जनपद में आयोजित किया गया। कार्यक्रम में पंचायतराज संस्थाओ के निर्वाचित जन प्रतिनिधियो का सम्मेलन आयोजित कर न्यू इण्डिया मंथन का संकल्प करवाया गया। कार्यक्रम में, कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना, सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमना भिडे, अतिरिक्त सीईओ श्री वास्कले, जनपद सीईओ रानापुर श्री रघुवंशी एवं पंचायत राज संस्थाओ के निर्वाचित जनप्रतिनिधि उपस्थित थे। कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने गाॅव का विकास करने के लिए सरपंचों से कहा कि सरपंच प्रत्येक गाॅव के प्रत्येक घर एवं प्रत्येक किसान के यहां बिजली पहंुचाये, हर परिवार के पास शुद्ध पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित करे। गाॅव को खुले में शौच से मुक्त करने के लिए प्रत्येक घर में शौचालय निर्माण करवाये। गाॅव को कीचड मुक्त करने हेतु सडक निर्माण करवाये, गाॅव में शत-प्रतिशत साक्षरता के लिए पहल करे। बच्चो का शत-प्रतिशत टीकाकरण सुनिश्चित करे। हर जरूरत मंद को आवास, खाद्यान्न एवं सामाजिक पेंशन का लाभ दिलवाये, गाॅव के सभी व्यक्तियों के बैंक खाते खुलवाये हर खेत तक पानी पहंुचाने को प्राथमिकता दे। झाबुआ जनपद में न्यू इण्डिया मंथन कार्यक्रम का आयोजन 28 अगस्त को एवं थांदला में 30 अगस्त को किया जाएगा।

कृषि विज्ञान केन्द्र में हुआ न्यू इण्डिया मंथन कार्यक्रम

झाबुआ । कृषि विज्ञान केन्द्र झाबुआ में आज न्यू इण्डिया मंथन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए क्षेत्रीय सांसद श्री कांतिलाल भूरिया ने कहा कि खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिए किसान की उपज का मूल्य निर्धारित होना चाहिए, ताकि फसल की कम ज्यादा उपज से किसान को फसल के दाम गिरने से नुकसान नहीं उठाना पडें। शासन की योजनाओं का लाभ हर जरूरत मंद किसान को मिलना चाहिए, इसके लिए मैदानी अफसर ईमानदारी से काम करे। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राज्यसभा सदस्य श्री मेघराज जैन ने कहा कि किसानो के खेत की मिट्टी की जांच कर उन्हें उसी अनुसार उर्वरक का उपयोग करने के लिए सलाह दे, किसानो को प्रेरित करे कि वे अपनी हर फसल का बीमा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में करवाये। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने कहा किसान संकल्प करे कि वे अपनी आय को दोगुना करने के लिए सरकार के प्रयासों के साथ-साथ अपने प्रयास भी शत-प्रतिशत करेगे। कार्यक्रम में कृषि वैज्ञानिक श्री मौर्य ने किसान कल्याण के लिए किसानो को संकल्प दिलाया। कार्यक्रम में स्वागत भाषण जिला समन्वयक कृषि विज्ञान केन्द्र श्री तोमर ने दिया। श्री तोमर ने कार्यक्रम की रूपरेखा बताते हुए किसानो को अन्य लाभकारी जानकारी दी। कार्यक्रम में कृषि महाविद्यालय इन्दौर की छात्राओं ने नाटक, एवं नृत्य की प्रस्तुति भी दी। कार्यक्रम में परियोजना समन्वयक आत्मा श्री नर्गेश रायकवार सहित जनप्रतिनिधि एवं बडी संख्या में किसान उपस्थित थे।

उत्खनिपट्टा पर आपत्ति हो, तो 15 दिवस के भीतर दर्ज करे

झाबुआ । जिला खनिज अधिकारी देविका परमार ने बताया कि आवेदक श्री दिनेश परमार पिता श्री रतनसिंह परमार निवासी खेडा अंधारवाड तहसील रानापुर जिला झाबुआ द्वारा ग्राम खेडा अंधारवाड पटवारी हल्का नं. 11 तहसील रानापुर जिला झाबुआ की भूमि का उत्खनिपटटा प्राप्त करने हेतु 25 अगस्त 2017 को आवेदन दिया है। क्षैत्र के किसी व्यक्ति को कोई आपत्ति हो तो सूचना प्रकाशन दिनांक 25 अगस्त से 15 दिवस के भीतर खनिज कार्यालय में स्वयं उपस्थित होकर मय प्रमाण के प्रस्तुत करे। निर्धारित अवधि पश्चात प्राप्त आपत्ति पर किसी प्रकार का विचार नहीं किया जावेगा।

कलेक्टर ने नवागांव स्कूल में किया बच्चों से संवाद
  • मुख्यमंत्री ने शिक्षको एवं बच्चो को किया संबोधित
  • पंजीकृत वालेन्टियरो ने किया स्कूलो में पहूंच कर बच्चो से संवाद

jhabua news
झाबुआ । मिल बांचे मध्यप्रदेश कार्यक्रम का प्रथम चरण आज 26 अगस्त 2017 शनिवार को आयोजित किया गया। स्कूल के लिए पंजीकृत वालेन्टियरो ने स्कूल में बच्चो से संवाद किया। कलेक्टर आशीष सक्सेना ने मीडिल स्कूल नवागांव, पुलिस अधीक्षक महेशचन्द्र जैन ने प्राथमिक स्कूल रंगपुरा में, सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमना भिडे ने मीडिल स्कूल ढेकल बडी में बच्चों से संवाद किया एवं अन्य अधिकारी तथा जन प्रतिनिधि भी स्कूलों में पहुॅचे तथा बच्चों से संवाद किया।

रेडियो एवं दूरदर्शन पर मुख्यमंत्री श्री चैहान ने किया संबोधित
मिल बांचे कार्यक्रम के तहत प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चोैहान द्वारा बच्चों शिक्षको एवं शाला प्रबंधन समिति के सदस्यों को शैक्षणिक गुणवत्ता सुधार हेतु रेडियो एवं दूरदर्शन के माध्यम से संबोधित किया गया। ग्राम नवांगांव के मीडिल स्कूल में कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने जिले एवं जिले में खेल प्रतिस्पर्धा में भाग लेने आये। प्रदेश के अन्य जिलो के खिलाडियों को पुष्पहार पहनाकर एवं प्रतीक चिन्ह भेंट कर स्वागत किया। प्रदेश के अन्य जिलों खिलाडियों ने बच्चों को अपने प्रयासों एवं अनुभव के बारे में बताते हुए खेल एवं शिक्षा के क्षेत्र में शत-प्रतिशत मेहनत करने हेतु प्रेरित किया। कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने स्कूली बच्चों को काॅपी पेन्सिल, रबर, शापनर एवं टाॅफी भेंट करते हुए कहा कि बच्चों बस इन वस्तुओं का आप ईमानदारी सें सही दिशा में उपयोग करोगे तो भविष्य में हर व्यक्ति आपके सम्मान में ताली बजायेगा और जिस तरह से आज हमने यहां उत्कृष्ट खिलाडियों को सम्मानित किया है आपका भी मंच पर सम्मान होगा। आप भी कडी मेहनत कर पढाई करो जो खेल आपको अच्छा लगता है उसे खूब खेलो एवं यदि आपके परिवार के सदस्य भी साक्षर ना हो, तो उन्हें भी पढाये। साक्षरता से इंसान का अपना भला-बुरा देखने का दृष्टि कोण बढ जाता है, जिससे वह ठगने वाले लोगो से बच सकता है। बालिकाओं को 18 वर्ष से कम उम्र में विवाह नहीं करने एवं पढाई पूरी करने का सकंल्प दिलाया, कार्यक्रम में डीपीसी सर्वशिक्षा अभियान सहित जनप्रतिनिधि एवं शिक्षक उपस्थित थे।

जिला स्तरीय डायग्नोस्टिक टीम ने फसलो का किया निरीक्षण

jhabua news
झाबुआ । खरीफ मौसम की फसलों पर निरंतर निगरानी के उद्देष्य से जिला स्तरीय डायग्नोस्टिक टीम जिसमें कृषि विज्ञान केन्द्र झाबुआ के वैज्ञानिक डाॅ. नरेन्द्र कुमावत कार्यालयीन सहायक संचालक कृषि एस.एस. रावत एवं विकासखण्ड स्तरीय मैदानी अमला शामिल है। डायग्नोस्टिक टीम द्वारा दिनांक 25.08.2017 को विकासखण्ड रामा के ग्राम रूपारेल, छापरी ग्रामों का भ्रमण किया गया। ग्राम रूपारेल के कृषक श्री राजू-सोमला, पारसिंह-खीमा, नजरू-नाना एवं मानसिंह-दोलिया के खेतों मे लगी सोयाबीन फसलों का अवलोकन किया गया। टीम द्वारा फसल अवलोकन के दौरान सोयाबीन फसल में कही-कही पीलापन देखा गया। टीम द्वारा कृषकों को रोग नियंत्रण हेतु अनुसंषित पौध संरक्षण औषधि का छिड़काव करने की सलाह दी गई। साथ ही ग्राम छापरी के कृषक श्री मकना भूरिया, मानसिंह-दोलिया के खेतों में लगी उर्द की फसल का अवलोकन किया गया। फसल अवलोकन के दौरान उर्द फसल में कही-कही पीला मोजेक वायरस से प्रभावित पौधे देखे गये, मौके पर ही कृषकों को रोग नियंत्रण हेतु उचित सलाह दी गई। विकासखण्ड राणापुर के ग्रामों भूरीमाटी, बन क्षैत्र का दल द्वारा भ्रमण किया गया। भ्रमण के दौरान अद्यतन फसलों की अच्छी स्थिति देखी गई। विकासखण्ड झाबुआ के ग्राम फूलधावड़ी का दल द्वारा भ्रमण किया गया। भ्रमण के दौरान कृषक श्री लिमजी-बूचा के खेत में लगी कपास फसल का अवलोकन किया गया। फसल के पौधे पीलापन लिये हुए पत्ते सिकुड़े हुए तथा पौधे के निचले व उपरी भाग की पत्तियां सूखने लगी है। कृषि वैज्ञानिक डाॅ. नरेन्द्र कुमावत द्वारा कपास फसल में बेक्टीरियल ब्लाईट (जीवाणु अंगमारी) रोग के लक्षण प्रतीत होने पर नियंत्रण हेतु काॅपर आक्सीक्लोराईट व स्ट्रेप्टोसाइक्लीन दवाओं का उचित घोल बनाकर छिड़काव करने की सलाह दी गई। डायग्नोस्टिक टीम द्वारा कृषकों को खरीफ मौसम की फसलों में कीट व्याधियों/रोग के प्रकोप होने पर नियंत्रण हेतु सुझाव दिये गये कि कपास फसल मे रसचुसक कीटों का प्रकोप होने पर एसिफेट 50: ़ इमिडाक्लोरप्रिड का 40 ग्राम प्रति स्प्रेयर पंप के मान से उचित घोल बनाकर छिडकाव करें। कपास फसल मे रसचुसक कीटों के नियंत्रण के हेतु 10 दिवस के अंतराल से थायोमिथोक्सीन 5 ग्राम प्रति स्प्रेयर पम्प से उचित घोल बनाकर छिडकाव करें। कपास की फसलों में फ्यूजेरियम विल्ट का प्रकोप होने पर कार्बेन्डेजिम $ मेन्कोजेब 50 ग्राम प्रति स्पेयर पम्प के मान से छिड़काव करें। कपास फसल फ्यूजेरियम विल्ट से प्रभावित पौधों की वृद्धि हेतु 50 ग्राम यूरिया प्रति स्पेयर पम्प के मान से छिड़काव करें। कपास फसल में बेक्टीरियल ब्लाईट (जीवाणु अंगमारी) रोग का प्रकोप होने पर काॅपर आक्सीक्लोराईट तीन ग्राम प्रतिलीटर पानी में तथा स्ट्रेप्टोसाइक्लीन दो ग्राम प्रति स्प्रेयर पम्प का उचित घोल बनाकर छिड़काव करें। कपास फसल मे वायरस से प्रभावित पौधों को उखाड कर नष्ट कर देवें। सोयाबीन फसल में गर्डल बीटल का प्रकोप होने पर प्रोफेनोफाॅस 50 ईसी 60 मि.ली. या ट्रायजोफाॅस 30 मि.ली. प्रति स्प्रेयर पंप के मान से उचित घोल बनाकर छिडकाव करें। सोयाबीन फसल में पीला मोजेक बीमारी होने पर ग्रसित पौधों को उखाड कर नष्ट कर देवे। अन्य पौधों पर रोग फैलाने वाले रोग वाहक कीटों के नियंत्रण हेतु बीटासायफ्लूथ्रीन$इमिडाक्लोरप्रिड 350 मि.ली. प्रति हैक्टेयर का 500 लीटर पानी में घोल बनाकर छिडकाव करें। फसल की नियमित निगरानी रखें।

परीक्षा केन्द्र निर्धारण हेतु पालक शिक्षक एवं छात्रों से सुझाव प्राप्त करने हेतु स्कूलो में होगी बैठक

झाबुआ । शिक्षा मण्डल द्वारा वर्ष 2017-18 की हाईस्कूल एवं हायर सेकेण्डरी परीक्षाओं के आयोजन हेतु परीक्षा केन्द्र में पालक शिक्षक एवं छात्रों से सुझाव प्राप्त किए जाने तथा प्रस्तावित परीक्षा केन्द्रो का प्रकाशन करते हुए दावें/आपत्तियाॅ प्राप्त करने हेतु पूर्व से निर्धारित परीक्षा केन्द्र पर बैठक आयोजित करने हेतु निर्देश जारी किये गये है। साथ ही प्रायवेट परीक्षा केन्द्रो हेतु अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मुख्यकार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत/खण्ड शिक्षा अधिकारी विकासखण्ड की उपस्थिति में बैठक रखने हेतु निर्देश प्रसारित किये गये है।
इस संबंध में कार्यवाही पूर्ण करते हुऐ पालन प्रतिवेदन के साथ दावे/आपत्तियां 30 अगस्त 2017 तक सहायक आयुक्त आदिवासी विकास कार्यालय को भेजने हेतु सहायक आयुक्त श्री गणेश भाभर ने परीक्षा केन्द्र बनने वाले स्कूलों के प्राचार्यो को निर्देशित किया है। 

सामुदायिक भवन डी.आर.पी.लाईन में 27 अगस्त को अल्पसंख्यक आयोग सदस्य सिंघी करेगे जन संवाद

झाबुआ । श्री सुनील सिंघी सदस्य अल्पसंख्यक आयोग 27 अगस्त को अपरान्ह 3.00 बजे से डी.आर.पी. लाईन झाबुआ स्थित सामुदायिक भवन में जनसुनवाई एवं जनसंवाद करेगे।

खेत पर शोच करने गई महिला के साथ हुआ बलात्कार
      
झाबुआ।  फरि. नेे बताया कि वह अपने घर से कालिया अमलियार के खेत के पास शोच करने गयी थी तब वहाॅ पर आरोपी गलिया पिता गवजी सिंगाड व मुन्ना पिता गलिया सिंगाड निवासीगण कुकडीपाडा के आये जिनमें से आरोपी मुन्ना ने फरि. के साथ जबरन खोटाकाम (बलात्कार) किया। प्रकरण में थाना थांदला में अपराध क्रमांक 410/17 धारा 376(डी) भादवि का प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

दुर्घटना के दो अपराध पंजीबद्ध

झाबुआ । फरि. दोलसिंग पिता धीरजी मुणिया उम्र 33 साल निवासी दोलतपुरा ने बताया कि आरोपी मोटर सायकल चालक सरवन निवासी हरिनगर ने तेज गति व लावरवाही पूर्वक मो.सा. को चलाकर लाया ओर मांगीलाल की मोटर सायकल को पिछे से टक्कर मारकर चोंट पहुचायी। प्रकरण में थाना थांदला में अपराध क्रंमाक 409/17 धारा 279,337 भादवि. का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। आरोपी मो.सा. एमपी-45 एमके-4410 के चालक ने तेज गती व लापरवाही पूर्वक मो.सा. को चलाकर लाया व फरि. अमनसिंह पिता वरसिंह डामोर उम्र 27 साल निवासी बावडीमाफी की मोटर सायकल को टक्कर मार कर चोट पहुंचायी। प्रकरण में थाना रानापुर में अपराध क्रंमाक 392/17 धारा 279,337 भादवि. का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

तालाब मे डुबने मे बच्चे की मोत
     
झाबुआ । विष्णु पिता मोहन राठौर उम्र 06 साल निवासी आमलीपठार की तालाब के पानी में डुबने से मृत्यु हो गई। थाना मेघनगर में में मर्ग क्रमांक 37/2017 धारा 174 जा.फौ. की कायमी की गयी।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...