सृजन घोटाला मामले में रालोसपा के पूर्व नेता के घर छापा

raid-in-srijan-on-rlsp-leader
भागलपुर 21 अगस्त, बिहार में भागलपुर के बहुचर्चित करोड़ों रुपये के सृजन घोटाला मामले में जांच की जिम्मेवारी संभाल रही आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) के साथ ही विशेष जांच दल (एसआईटी) ने आज राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के निलंबित नेता अभिषेक कुमार उर्फ दीपक वर्मा एवं कपड़ा व्यवसायी पी. के. घोष के ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की। वरीय पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार ने यहां बताया कि जिले के सबौर और भीखनपुर स्थित श्री कुमार और श्री घोष के आवास पर संयुक्त टीम ने एक साथ छापेमारी कर इससे जुड़े कई महत्वपूर्ण दस्तावेज जब्त की। हालांकि छापेमारी के दौरान दोनों के अपने ठिकानों पर नहीं रहने के कारण पुलिस उन्हें गिरफ्तार नहीं कर सकी। श्री कुमार ने बताया कि सरकारी राशि के अवैध हस्तांतरण एवं गबन मामले में गिरफ्तार सुपौल के जिला सहकारिता पदाधिकारी पंकज झा समेत सहकारिता से जुड़े छह लोगों को आज जेल भेज दिया गया। उल्लेखनीय है कि 870.88 करोड़ रुपये की सरकारी राशि के अवैध हस्तांतरण एवं गबन मामले में अबतक कुल 18 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी, जिनमें भागलपुर के जिला कल्याण पदाधिकारी एवं सुपौल के जिला सहकारिता पदाधिकारी सहित कुल छह सरकारी कर्मी, भागलपुर के बैंक ऑफ बड़ौदा एवं इंडियन बैंक के दो प्रबंधक सहित कुल आठ बैंककर्मी तथा सृजन के प्रबंधक एवं दो अन्य और एक चालक शामिल है। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...