मुख्य विपक्षी राजद का विधानसभा में सृजन घोटाले को लेकर हंगामा

rjd-roar-in-assembly-on-srijan-scam
पटना 22 अगस्त, बिहार विधानसभा में मुख्य विपक्षी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने सृजन घोटाला मामले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के त्यागपत्र दिये जाने की मांग को लेकर आज भारी शोरगुल और नारेबाजी की जिसके कारण कार्यवाही को भोजनावकाश तक के लिए स्थगित कर दी गयी । विधानसभा की कार्यवाही शुरू होते ही राजद के वरिष्ठ नेता अब्दुलबारी सिद्दीकी ने भागलपुर में हुए सृजन घोटाला मामले को उठाते हुए सभाध्यक्ष विजय कुमार चौधरी से अनुरोध किया कि उनकी पार्टी ने इस पर कार्यस्थगन की सूचना दी है जिसे स्वीकार कर चर्चा करायी जानी चाहिए । इस पर सभाध्यक्ष ने कहा कि प्रश्नकाल का पहला प्रश्न ही सृजन मामले को लेकर है और इस पर सरकार का जवाब भी होगा। श्री सिद्दीकी ने कहा कि सृजन घोटाला एक अति महत्वपूर्ण मामला है जिसकी चर्चा बिहार और देश के अन्य भागों में भी हो रही है । उन्होंने कहा कि ऐसे महत्वपूर्ण मामले पर सदन में तुरंत चर्चा करायी जानी चाहिए । इसी दौरान राजद के सदस्य शोरगुल और नारेबाजी करते हुए सदन के बीच में आ गये ।शोरगुल के बीच ही उर्जा मंत्री विजेन्द्र प्रसाद यादव ने कहा कि प्रश्नकाल का प्रथम प्रश्न तो इस मामले को लेकर है हीं इसके अलावा इस पर एक ध्यानाकर्षण सूचना भी है जिसपर सरकार जवाब देगी ।


उर्जा मंत्री ने कहा कि प्रश्नकाल को बाधित किये बिना ही विपक्ष इस मामले पर सरकार से जो भी पूछना है ,पूछ सकती है और इसका जवाब भी सरकार देने को तैयार है । उन्होंने विपक्ष से सदन को सुचारू रूप से चलाये जाने में सहयोग दिये जाने का अनुरोध करते हुए कहा कि सरकार इस मामले पर संवेदनशील है और विपक्ष के हर सवाल का जवाब दिया जायेगा । इस पर श्री सिद्दीकी ने कहा कि सृजन घोटाले में गिरफ्तार किये गये सरकारी कर्मचारी महेश मंडल की मौत हो गयी है । उन्होंने कहा कि यह एक गंभीर मामला है और मध्य प्रदेश के व्यापम घोटाले में भी इसी तरह की मौत होती रही है । उन्होंने आरोप लगाया कि जिस प्रकार व्यापम घोटाले में साक्ष्य को दबाने की कोशिश की गयी उसी तरह का प्रयास सृजन घोटाले में भी किया जा रहा है । सभाध्यक्ष के बार-बार अनुरोध किये जाने पर भी राजद सदस्य सदन के बीच इस मामले को लेकर नारेबाजी करते रहे । सदन को अव्यवस्थित होते देख सभाध्यक्ष ने कार्यवाही को भोजनावकाश तक के लिए स्थगित कर दी । 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...