स्वामी चंडीगढ़ मामले में दाखिल करेंगे जनहित याचिका

swami-will-file-pil-in-chandigarh-case
नयी दिल्ली,07अगस्त, भारतीय जनता पार्टी के सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा है कि वह हरियाणा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बाला के पुत्र विकास बराला के एक आईएएस अधिकारी की पुत्री का पीछा करने के मामले में चंड़ीगढ़ में जनहित याचिका दायर करेंगे। डा़ स्वामी ने आज एक ट्वीट में कहा “नशे में धुत दो गुंडों द्वारा एक आईएएस अधिकारी की पुत्री को अगवा करने की कोशिश के मामले में मैं अपने सहयोगी वकील एपी जग्गा की ओर से चंड़ीगढ़ में जनहित याचिका दायर करूंगा। ’ युवती का पीछा करने के मामले में विकास बराला को उसके एक साथी समेत गिरफ्तार किया गया था लेकिन बाद में दोनों को जमानत पर रिहा कर दिया गया। इस घटना से हरियाणा की भाजपा सरकार परेशानी में घिर गई है और पार्टी को कांग्रेस का तीखा हमला झेलना पड़ रहा है। हालांकि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का कहना है कि श्री सुभाष बराला का इस घटना से कोई लेना देना नहीं है लेकिन विपक्षी कांग्रेस ने उनका इस्तीफा मांगा है। श्री खट्टर ने कहा कि यदि दोष सिद्ध हो जाता है तो आरोपियों को सजा जरूरी मिलेगी यह उनका वादा है। आईएएस अधिकारी विरेन्द्र कुंडु की पुत्री वर्णिका कुंडु का आरोप है कि विकास और उसके दोस्त आशीष ने शुक्रवार की रात गाड़ी से उसका काफी दूर तक पीछा किया था और उसे अगवा करने की कोशिश की थी लेकिन वह किसी तरह बचकर पुलिस तक पहुंच गई। वर्णिका के अनुसार 26 तारीख की रात को जब वह चंडीगढ़ के सेक्टर नाै से पंचकुला अपने घर जा रही थी तभी बीच रास्ते में सेक्टर 26 के पास विकास बराला ने अपने एक साथी के साथ मिलकर कार से उसका पीछा करना शुरु कर दिया था। वह डरकर अपनी गाड़ी तेज दौड़ाती रही। दोनों आरोपियों ने कई बार उसकी गाड़ी को राेकने की कोशिश भी की थी। पीड़िता के पिता ने उनकी बेटी की मदद करने के लिए चंडीगढ़ पुलिस का आभार जताया है और लोगों से महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों के खिलाफ खड़े होने की अपील की है। इस बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस घटना की कड़ी निंदा करते हुए अारोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने आज एक ट्वीट में कहा “ जिन लोगों ने वर्णिका का पीछा किया उन्हें सख्त सजा मिलनी चाहिए भले ही वह कितनी भी ऊंची पहुंच वाले क्यों न हो। अन्यथा कानून पर से लोगों का विश्वास उठ जाएगा।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...