पत्थरों और काले झंडों से पीछे नहीं हटूंगा : राहुल गांधी

will-not-go-back-feard-stones-and-black-flags-rahul
नयी दिल्ली, 04 अगस्त, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज कहा कि वह सत्य को समझते हैं इसलिए पत्थरबाजी और काले झंडों से डरने की बजाए पूरी ताकत के साथ लोगों की मदद करेंगे, गुजरात के बाढ़ प्रभावित बनासकांठा जिले का दौरा करने गए गए कांग्रेस उपाध्यक्ष के वाहन पर धानेरा शहर में पत्थर फेंकने और काले झंडे दिखाए जाने के बाद श्री गांधी कहा कि उनको रोकने के लिए जो भी प्रयास हों, वह उनसे डरने और पीछे हटने वाले नहीं है। इस हमले में पत्थर लगने से श्री गांधी के वाहन का शीशा टूट गया था। इस दौरान उन्हें काले झंडे भी दिखाए गए। श्री गांधी ने ट्वीट किया “नरेंद्र मोदी जी के नारों से, काले झंडों से और पत्थरों से हम पीछे हटने वाले नहीं हैं। हम अपनी पूरी ताकत लोगों की मदद करने में लगाएंगे। सत्य को जो पहचानता है और सच को समझता है उसे डरने की कोई ज़रुरत नहीं है, महात्मा गांधी ने हमें यही सिखाया है।” इससे पहले पार्टी के वरिष्ठ नेता हुसैन दलवई तथा वरिष्ठ प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने हमले की घटना को लोकतांत्रिक मूल्यों के विरुद्ध बताते हुए इसकी कड़ी निंदा करते हुए दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की। पार्टी ने कहा कि यह हमला भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने किया है। भाजपा कार्यकर्ताओं के हौसले बुलंद हैं और उन्हें लगता है कि इस तरह के हमलों से उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होगी। पार्टी ने इसे निजी अधिकारों पर हमला करार दिया और कहा कि गुजरात में बाढ़ के कारण दो सौ लोगों की मौत हुई है जिनमें सबसे ज्यादा 70 लोग बनासकांठा में मारे गए हैं और इसीलिए श्री गांधी बाढ़ पीड़ितों की सुध लेने गए थे। युवक कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पार्टी उपाध्यक्ष पर हुए हमले के विरोध में यहां प्रदर्शन किया और मोदी सरकार के खिलाफ नारे लगाए। इस बीच केंद्रीय मंंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता प्रकाश जावडेकर ने श्री गांधी के वाहन पर हुए पथराव में पार्टी कार्यकर्ताओं के शामिल होेने के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया कि भाजपा ‘पथराव नहीं परास्त ’करती है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...