बिहार : संजीत सिंघानिया की मौत पर पारस समेत निजी अस्पतालों के खिलाफ फूटा गुस्सा

  • निकाला कैंडल मार्च, पी॰जी॰ हाॅस्टल में श्रद्धांजलि सभा आयोजित, कल पीयू सिनेट हाॅल गेट पर 12ः00 बजे होगी संकल्प सभा।

aisf-protest-paras-hospital
पटना। पटना वि॰वि॰ के रिसर्च स्काॅलर व गोल्ड मेडलिस्ट संजीत सिंघानिया की पारस हाॅस्पीटल में असमय मौत से गुस्साए छात्रों ने आज पटना वि॰वि॰ गेट से कारगिल चैक तक प्रतिरोध स्वरूप कैंडल मार्च निकाला। छात्रों के गुस्से के केन्द्र में पारस समेत निजी अस्पताल थे। छात्रों ने मरीजों के शोषण, लूट एवं मौत के जिम्मेवार निजी अस्पतालों को बन्द कर सरकारी अस्पतालों मंे अच्छी सुविधा की मांग की। साथ ही, हत्यारों को कड़ी से कड़ी सजा व स्वास्थ्य मंत्री से इस्तिफे की मांग भी की। कारगिल चैक पर एक सभा आयोजित की गई जिसके माध्यम से तत्काल मामले में मुख्यमंत्री से हस्तक्षेप की मांग की गई। सभा के माध्यम से वक्ताओं ने कहा कि मौजूदा शोषणकारी व्यवस्था में निजी अस्पताल मरीजों के मौत के सौदागर बने हुए हैं। यथाशीघ्र इस मामले में मुख्यमंत्री यदि हस्तक्षेप नहीं करते हैं तो आने वाले दिनों में खास कर पटना एवं बिहार की सड़कों पर छात्रों के आक्रोश का सामना करना पड़ेगा। कल पटना वि॰वि॰ सिनेट हाॅल द्वार पर संजीत सिंघानिया के श्रद्धांजलि एवं आगामी रणनीति को लेकर 12ः00 बजे दिन में संकल्प सभा भी की जाएगी। सभा की अध्यक्षता सुशील कुमार ने की। सभा को गौतम आनंद, बबलू सम्राट, धीरज सिंह यादव, डाॅ॰ सतीश कुमार, संतोष यादव, अंशुमान, राॅकी यादव, रणजीत यादव, विद्यानंद विधाता, राहुल यादव, आलोक आशीष, लव-कुश, विनीत यादव, अमित रस्तोगी, मंजीत आनन्द साहू, अखिलेश कुमार, मंगल राज, सुनील समेत दर्जनों छात्र संगठनों के प्रतिनिधियों एवं शिक्षकों ने संबोधित किया। इससे पूर्व रानी घाट स्थित पीजी छात्रावास में संजीत सिंघानिया को छात्रों ने श्रद्धांजलि स्वरूप 2 मिनट का मौन भी रखा, जिसमें पटना लाॅ काॅलेज के प्राचार्य डाॅ॰ राकेश वर्मा, प्रो॰ वाई॰के॰ वर्मा ने भी हिस्सा लिया।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...